ovulation के लक्षण क्या हैं और उसका इलाज कैसे करें?...


user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न पॉपुलेशन के लक्षण क्या है और उसका इलाज कैसे करेंगे दोस्तो आपकी जानकारी के लिए बता दूं तो गुलशन नहीं होती है वह एक स्त्री होती है महीने की प्रक्रिया है और इसका कोई इलाज की जरूरत नहीं है निश्चित रूप से क्योंकि यह जो है वह जब से जो है लड़की बच्ची होती है छोटी बच्ची और जब से युवावस्था में प्रवेश करती है और जब तक वह बच्चे को जन्म दे सकती है उसकी क्षमता होती है तब तक जाएगी हर महीने वह भी रोशन आता है जो दोस्तों इस में होता क्या है कि और लड़की महिलाओं की योनि से जिंदगी का रथ जो है वह निकलते निकलते हैं और इसे आप इसको कहते हैं औरत की घर में आया फिर नशे में निश्चित रूप से आकर्षित हो जाते हैं तो बच्चे को जन्म देते और निश्चित नहीं होते तो वह जो है वह खराब हो जाते तो फिर तो यही प्रक्रिया और उसके बाद यह खत्म हो जाती है या दोस्तों तो यही इसके लक्षण है और निश्चित रूप से इसका कोई यह तो सामान्य प्रक्रिया है इसका कुछ इलाज की जरूरत नहीं है इसके में अगर देश को आने में अगर कोई गड़बड़ी होती है या कृष के दौरान जो है कुछ दर्द होता है और तू को या फिर जो है यह समय आ जाता है तो निश्चित रूप से फ्री है किसी इंसान की परेशानी का कारण है तो आपको निश्चित रूप से किसी अच्छे चिकित्सक से संपर्क लेनी चाहिए इन सब में इस तरह की अगर कोई समस्या आती है तुझे

aapka prashna population ke lakshan kya hai aur uska ilaj kaise karenge doston aapki jaankari ke liye bata doon toh gulshan nahi hoti hai vaah ek stree hoti hai mahine ki prakriya hai aur iska koi ilaj ki zarurat nahi hai nishchit roop se kyonki yah jo hai vaah jab se jo hai ladki bachi hoti hai choti bachi aur jab se yuvavastha mein pravesh karti hai aur jab tak vaah bacche ko janam de sakti hai uski kshamta hoti hai tab tak jayegi har mahine vaah bhi roshan aata hai jo doston is mein hota kya hai ki aur ladki mahilaon ki yoni se zindagi ka rath jo hai vaah nikalte nikalte hain aur ise aap isko kehte hain aurat ki ghar mein aaya phir nashe mein nishchit roop se aakarshit ho jaate hain toh bacche ko janam dete aur nishchit nahi hote toh vaah jo hai vaah kharab ho jaate toh phir toh yahi prakriya aur uske baad yah khatam ho jaati hai ya doston toh yahi iske lakshan hai aur nishchit roop se iska koi yah toh samanya prakriya hai iska kuch ilaj ki zarurat nahi hai iske mein agar desh ko aane mein agar koi gadbadi hoti hai ya krish ke dauran jo hai kuch dard hota hai aur tu ko ya phir jo hai yah samay aa jata hai toh nishchit roop se free hai kisi insaan ki pareshani ka karan hai toh aapko nishchit roop se kisi acche chikitsak se sampark leni chahiye in sab mein is tarah ki agar koi samasya aati hai tujhe

आपका प्रश्न पॉपुलेशन के लक्षण क्या है और उसका इलाज कैसे करेंगे दोस्तो आपकी जानकारी के लिए

Romanized Version
Likes  24  Dislikes    views  946
KooApp_icon
WhatsApp_icon
3 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!