पैर में काला धागा बांधने के फायदे क्या हैं बताये?...


user
1:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पैर में काला धागा बांधने का बांधने की टीचर वैज्ञानिक कारण भी है हमारा शरीर पंचतत्व से मिलाकर मिलकर बना है या पंचतत्व है पृथ्वी वायु अग्नि जल और आकाश इनमें से मिलने वाली ऊर्जा हमारे शरीर का संचालन करती है इनसे मिलने वाले ऊर्जा से ही हम सभी सुविधाओं को प्राप्त करते हैं जब किसी इंसान की बुरी नजर हमें लगती है तब इन पांच तत्वों से मिलने वाली संबंधित सरकार में सकारात्मक ऊर्जा हम तक नहीं पहुंच पाती इसलिए गले में काला धागा बांधा जाता है दरअसल कुछ लोगों को काले धागे में भगवान के लॉकेट भी धारण करते हैं इसे बेहद शुभ माना जाता है बुरी नजर से बचने के लिए काले रंग की चीजों का इस्तेमाल किया जाता है जैसे काला टीका काला धागा काला धागा पहनने या काला टीका लगाने की परंपरा प्राचीन काल से चली आ रही है काला रंग नजर लगने वाले के काट लेता को भंग कर देता है इसके कारण नकारात्मक ऊर्जा से संबंधित व्यक्ति को प्रभावित नहीं कर पाती काला धागा नजर से तो बचाता है एक साथ ही इसमें जुड़ा है को पाए आपको मालामाल बना सकता है आप बाजार से रेशमिया सती काला धागा कमा सकते हैं

pair me kaala dhaga bandhne ka bandhne ki teacher vaigyanik karan bhi hai hamara sharir panchatatwa se milakar milkar bana hai ya panchatatwa hai prithvi vayu agni jal aur akash inmein se milne wali urja hamare sharir ka sanchalan karti hai inse milne waale urja se hi hum sabhi suvidhaon ko prapt karte hain jab kisi insaan ki buri nazar hamein lagti hai tab in paanch tatvon se milne wali sambandhit sarkar me sakaratmak urja hum tak nahi pohch pati isliye gale me kaala dhaga bandha jata hai darasal kuch logo ko kaale dhaage me bhagwan ke locate bhi dharan karte hain ise behad shubha mana jata hai buri nazar se bachne ke liye kaale rang ki chijon ka istemal kiya jata hai jaise kaala tika kaala dhaga kaala dhaga pahanne ya kaala tika lagane ki parampara prachin kaal se chali aa rahi hai kaala rang nazar lagne waale ke kaat leta ko bhang kar deta hai iske karan nakaratmak urja se sambandhit vyakti ko prabhavit nahi kar pati kaala dhaga nazar se toh bachata hai ek saath hi isme juda hai ko paye aapko malamaal bana sakta hai aap bazaar se reshmiya sati kaala dhaga kama sakte hain

पैर में काला धागा बांधने का बांधने की टीचर वैज्ञानिक कारण भी है हमारा शरीर पंचतत्व से मिला

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  140
KooApp_icon
WhatsApp_icon
4 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!