दुकान चलाने का उपाय क्या हैं?...


user
1:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दोस्तों अपने सवाल किया है कि दुकान चलाने का उपाय क्या है वहां जी हां दोस्त आप ने सवाल किया है दुकान चलाने के उपाय क्या दुकान चलाने की कोई उपाय नहीं है इसी सही टाइम आपको पकड़ नहीं होगी तो उपाय हम आपको बता दें और उसको आप फॉलो करें निश्चित तौर से तो मेरा दावा है कि आपका दुकान मुझे कम चल रही है बताते चलें कि निश्चित तौर पर आप दुकान पर ज्यादा से ज्यादा होते और सही वक्त देने की दोस्तों की दिन की 11:00 बजे दुकान के लिए और रात को 1:00 बजे तक बैठे तो उससे दुकान नहीं चलेगी तो सुबह में लगभग 6:00 बजे के आसपास और दुकान खोलें और दुकान खोलने के बाद उसमें कुछ मैं अब कैसे लगाएं अगर इसमें कम पूंजी लगाए हुए तो उसमें थोड़ा फौजी बड़ा कुछ लाइटिंग हुई थी जो आपका है डेकोरेशन है उसको सही करें और उसके बाद उसे कुछ पैसे लगाया और उसके पैसे लगाने के बाद सब कुछ करने के बाद आपकी बात विचार पर भी निर्भर करती है कि आप की दुकान कैसे चलती है तो सबसे पहली बार कि आप अपनी दुकान में जो आए हुए ग्राहकों से सही से व्यवहार सही से पैसा इनसे रिश्ता अच्छा बनाएं ताकि आपकी दुकान में आने के बाद किसी को चाहिए कि यह सही से बात नहीं करते तो आप जरूरी है कि आप सब कुछ स्टॉल से करिए कि सब कुछ सही चले और जी हां दोस्तों टाइम भी अच्छी सुबह में पकड़ मेरे पास सब कुछ

doston apne sawaal kiya hai ki dukaan chalane ka upay kya hai wahan ji haan dost aap ne sawaal kiya hai dukaan chalane ke upay kya dukaan chalane ki koi upay nahi hai isi sahi time aapko pakad nahi hogi toh upay hum aapko bata dein aur usko aap follow karen nishchit taur se toh mera daawa hai ki aapka dukaan mujhe kam chal rahi hai batatey chalen ki nishchit taur par aap dukaan par zyada se zyada hote aur sahi waqt dene ki doston ki din ki 11 00 baje dukaan ke liye aur raat ko 1 00 baje tak baithe toh usse dukaan nahi chalegi toh subah mein lagbhag 6 00 baje ke aaspass aur dukaan kholen aur dukaan kholne ke baad usmein kuch main ab kaise lagaen agar isme kam punji lagaye hue toh usmein thoda fauji bada kuch lighting hui thi jo aapka hai decoration hai usko sahi karen aur uske baad use kuch paise lagaya aur uske paise lagane ke baad sab kuch karne ke baad aapki baat vichar par bhi nirbhar karti hai ki aap ki dukaan kaise chalti hai toh sabse pehli baar ki aap apni dukaan mein jo aaye hue grahakon se sahi se vyavhar sahi se paisa inse rishta accha banaye taki aapki dukaan mein aane ke baad kisi ko chahiye ki yah sahi se baat nahi karte toh aap zaroori hai ki aap sab kuch stall se kariye ki sab kuch sahi chale aur ji haan doston time bhi achi subah mein pakad mere paas sab kuch

दोस्तों अपने सवाल किया है कि दुकान चलाने का उपाय क्या है वहां जी हां दोस्त आप ने सवाल किया

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  280
KooApp_icon
WhatsApp_icon
3 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!