मैं सुन्दर नहीं हूँ, सब लोग सुन्दर चेहरे से ही दोस्ती और बात करना चाहते हैं,उसी को तवज्जो दी जाती है, बताइए मैं ऐसे में कैसे खुद को हीन भावना से दूर रखूं?...


user

S Bajpay

Yoga Expert | Beautician & Gharelu Nuskhe Expert

1:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए आपकी राम राम जी की जी की आपके प्रश्न के उत्तर में मैं यही कहूंगा की सुंदरता को ईश्वर की ओर से देन है कुछ सुंदर होता है कोई सुंदर होता है बुरी तरह के लोग होते ही बुलाऊंगा इंप्रेशन हुआ फीचर्स लिया शासकों की या साधारण शिक्षित होंगी बाप सुंदरता जो ईश्वर की देन है उसको लेकर बहुत कंप्रेस न पालें जिंदगी में दो ही लोगों की कदर होती है तो ही प्रकार के लोगों के अंदर होती है या तो सुंदर होते हैं देखने सुंदर मनोहर होते हैं मनमोहक होती हैं या जो सफल होती है अब आपके व सुंदरता नहीं छोड़ना आपको इससे मधु रखा है कोई चिंता की बात नहीं किसी लायक बनाए अब सक्सेसफुल हो जीवन में अपने कैरियर में अच्छी स्टडी करें अच्छी तरह से मेहनत करके ध्यान से समय का उपयोग करते हो इतना क्लियर बनाएं जब आप सफल होंगी तो आपकी सुंदरता है या कम सुंदरता है वह आपकी सफलता के पीछे हट जाए लोग आपको सफल जब देखेंगे तो आपकी सुंदरता की भूल को भूल जाएंगे और जो लोग आज आपको देख कर मुंह विच काफी हैं वही आपके पीछे आएंगे वही आपकी प्रशंसा करें इसलिए आप किसी तरह की चिंता ना करें तुरंत ईश्वर का दिया हुआ है अपने अंदर अपने को सफल अपने को सफल बनाएं

dekhiye aapki ram ram ji ki ji ki aapke prashna ke uttar me main yahi kahunga ki sundarta ko ishwar ki aur se then hai kuch sundar hota hai koi sundar hota hai buri tarah ke log hote hi bulaunga impression hua features liya shaasakon ki ya sadhaaran shikshit hongi baap sundarta jo ishwar ki then hai usko lekar bahut compress na palen zindagi me do hi logo ki kadar hoti hai toh hi prakar ke logo ke andar hoti hai ya toh sundar hote hain dekhne sundar manohar hote hain manamohak hoti hain ya jo safal hoti hai ab aapke va sundarta nahi chhodna aapko isse madhu rakha hai koi chinta ki baat nahi kisi layak banaye ab successful ho jeevan me apne carrier me achi study kare achi tarah se mehnat karke dhyan se samay ka upyog karte ho itna clear banaye jab aap safal hongi toh aapki sundarta hai ya kam sundarta hai vaah aapki safalta ke peeche hut jaaye log aapko safal jab dekhenge toh aapki sundarta ki bhool ko bhool jaenge aur jo log aaj aapko dekh kar mooh which kaafi hain wahi aapke peeche aayenge wahi aapki prashansa kare isliye aap kisi tarah ki chinta na kare turant ishwar ka diya hua hai apne andar apne ko safal apne ko safal banaye

देखिए आपकी राम राम जी की जी की आपके प्रश्न के उत्तर में मैं यही कहूंगा की सुंदरता को ईश्वर

Romanized Version
Likes  407  Dislikes    views  4576
KooApp_icon
WhatsApp_icon
30 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!