एग्रीकल्चर इकोनॉमिक्स क्या है?...


user

Janhwee Mall

Teacher (B.com)

1:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एग्रीकल्चर इकोनॉमिक्स में हम यह करते हैं कि जो भी एग्रीकल्चर है उसमें इन तकनीकों का प्रयोग करें कि अधिकतम उत्पादन कर सके और अधिकतम लाभ या में संतुष्टि प्राप्त हो सके एग्जांपल के तौर पर 1:00 बजे के दो खेत में लगा दिया जाता है और उसमें कार्य करने के लिए उसमें पुरानी तकनीक से खेती की जाती है और एक जो दूसरी बीवी का खेत है उसमें क्या किया जाता है कोना मिक्सचर इकोनॉमिक्स तकनीक से खेती की जाती है उसमें नए नए तकनीक को अपनाया जाते हैं जो भी नवाचार या जो भी उस पौधे के लाभ है और उसमें दो ही अप्लाई काम करते हैं लेकिन वह अपनी को 94 के साथ रहते हैं तो आप और पता देखेंगे कि और जब लास्ट में उसका परिणाम आएगा तो वह बेचारा वर्कर्स थे उनकी लागत ज्यादा आ जाएगी लेकिन उत्पादन में ज्यादा कॉमेडी a111u नवाचार को लेकर नहीं चले अजब इकोनॉमिक्स हम एग्रीकलचर इकोनॉमिक्स को लेकर चलते हैं तो हम नवाचार और हम उस पर उत्पादन कैसे अधिकतम कर सके उन चीजों का इस्तेमाल करते हैं हम अध्ययन करते कि कैसे किया जाए तो वहां पर हम देखेंगे कि वहां मारा उत्पादन जो है परिणाम तो आएगा ज्यादा है कि उसके मुकाबले तो यह दोनों में डिफेंस बताता है कि एग्रीकल्चर इकोनामिक हमें उत्पादन कैसे तकनीक के माध्यम से कैसे करना है कि हम सिम संसाधन में अधिक से अधिक उत्पादन कर सकें

agriculture economics me hum yah karte hain ki jo bhi agriculture hai usme in taknikon ka prayog kare ki adhiktam utpadan kar sake aur adhiktam labh ya me santushti prapt ho sake example ke taur par 1 00 baje ke do khet me laga diya jata hai aur usme karya karne ke liye usme purani taknik se kheti ki jaati hai aur ek jo dusri biwi ka khet hai usme kya kiya jata hai kona mixture economics taknik se kheti ki jaati hai usme naye naye taknik ko apnaya jaate hain jo bhi navachar ya jo bhi us paudhe ke labh hai aur usme do hi apply kaam karte hain lekin vaah apni ko 94 ke saath rehte hain toh aap aur pata dekhenge ki aur jab last me uska parinam aayega toh vaah bechaara workers the unki laagat zyada aa jayegi lekin utpadan me zyada comedy a111u navachar ko lekar nahi chale ajab economics hum egrikalachar economics ko lekar chalte hain toh hum navachar aur hum us par utpadan kaise adhiktam kar sake un chijon ka istemal karte hain hum adhyayan karte ki kaise kiya jaaye toh wahan par hum dekhenge ki wahan mara utpadan jo hai parinam toh aayega zyada hai ki uske muqable toh yah dono me defence batata hai ki agriculture economic hamein utpadan kaise taknik ke madhyam se kaise karna hai ki hum sim sansadhan me adhik se adhik utpadan kar sake

एग्रीकल्चर इकोनॉमिक्स में हम यह करते हैं कि जो भी एग्रीकल्चर है उसमें इन तकनीकों का प्रयोग

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  89
KooApp_icon
WhatsApp_icon
5 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!