बचपन के दौरान अपने अपने माता-पिता से कौन से रहस्य छुपाए थे?...


user

Swati

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

1:11
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अमित जी बचपन के द्वार में तो माता-पिता से सब कोई सब बातें छुपाते हैं बहुत सारी बातें छुपाते हैं से महीने में छुपाई होगी मुझे किसी डेंट जो याद आ रहा है वह यह कि एक बार मैं और मेरे कुछ फ्रेंड हम घर पर खेल रहे थे हम कहां पर छोड़े थे थर्ड पर्सन में होंगे तो हम TV पर देख रहे थे कि कोई किसी के बाल काट रहा था और हम सब उसे देख कितना टाइम से बाहर हो गए कि हम मैंने कैसी लगी और मैंने अपना एक फ्रेंड था वह मुझसे एक कविता उसके बाल काटती है और एक शिक्षक पाटन बन गया उसके बारे में वह बहुत ही ज्यादा बिगड़ लग रहा था तो जो मुस्लिम पालते बड़े-बड़े वह तो हमने उठाकर फेंक दिए पर छोटे-छोटे बाल तो वहां तो पापा गिर गए थे तो जब उसको देखा उसके मम्मा ने तो बहुत गुस्सा है उन्होंने बोला कि किसने किया कैसे किया तो हमसे किसी ने भी नहीं बोला कि हमने किया ना ही उसने कुछ बताया तुझे घर पर आए उन्होंने देखा फालतू समझ तो गए बट मैंने उस बात से कभी हां नहीं बोला मैंने कभी माना ही नहीं की यह बात मैंने कहा था तो वह एक बहुत पुरानी साइंस एजेंडा जो मैंने अपने फ्रेंड से छुपाया था

amit ji bachpan ke dwar mein toh mata pita se sab koi sab batein chhupaate hain bahut saree batein chhupaate hain se mahine mein chupai hogi mujhe kisi dent jo yaad aa raha hai vaah yah ki ek baar main aur mere kuch friend hum ghar par khel rahe the hum kahaan par chode the third person mein honge toh hum TV par dekh rahe the ki koi kisi ke baal kaat raha tha aur hum sab use dekh kitna time se bahar ho gaye ki hum maine kaisi lagi aur maine apna ek friend tha vaah mujhse ek kavita uske baal katatee hai aur ek shikshak patan ban gaya uske bare mein vaah bahut hi zyada bigad lag raha tha toh jo muslim palate bade bade vaah toh humne uthaakar fenk diye par chhote chhote baal toh wahan toh papa gir gaye the toh jab usko dekha uske mumma ne toh bahut gussa hai unhone bola ki kisne kiya kaise kiya toh humse kisi ne bhi nahi bola ki humne kiya na hi usne kuch bataya tujhe ghar par aaye unhone dekha faltu samajh toh gaye but maine us baat se kabhi haan nahi bola maine kabhi mana hi nahi ki yah baat maine kaha tha toh vaah ek bahut purani science agenda jo maine apne friend se chupaya tha

अमित जी बचपन के द्वार में तो माता-पिता से सब कोई सब बातें छुपाते हैं बहुत सारी बातें छुपात

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  113
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Shubham

Software Engineer in IBM

1:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विकी बचपन में ऐसे कई सारे राज है जो मैं अपने मम्मी पापा से छुपाया है हालांकि यहां पर मैं 12 राशि की बात करता हूं जैसे बचपन में क्या कहते हैं हम लोग जो कुमार और घरवालों को झूठ बोलते थे कि हम लोग कोचिंग में ही है कई बार ऐसा हुआ है और कोचिंग के शर्त है अगर हम काम सही से नहीं करते जब लफ्जों होमवर्क बहुत देते थे तो वह हमारे घर पर कॉल लगाया करते थे तुझे मैंने कोचिंग चेंज की तो मुझे पता था पहले से ही कि वह घर पर नहीं दिया मैंने एक अपनी फ्रेंड का नंबर डाल दिया था और चाहिए जब भी ऐसा लगता था कि आजकल घर पर कॉल करने वाले हैं फिर मैंने काम नहीं किया मैंने पहले ही बोला था कि वह बात कर ले पापा उनके तो ऐसा ही होता था वह सबको यही लगता है कि मैं सही बोल रहा हूं तो यह भी मैं अपने मम्मी पापा से छुपाता था और कई बार ज्यादा दागी पेरेंट्स मीटिंग होती थी तो सेकंड सैटरडे पर पेरेंट्स मीटिंग होती थी और घर पर मैं बोलता ही नहीं था कि आज पेरेंट्स मीटिंग है तो कई बार ऐसा भी हुआ है तू ऐसे भी सारे छोटे से राज है जो मैंने अपने मम्मी पापा से छुपाया

vicky bachpan mein aise kai saare raj hai jo main apne mummy papa se chupaya hai halaki yahan par main 12 rashi ki baat karta hoon jaise bachpan mein kya kehte hain hum log jo kumar aur gharwaalon ko jhuth bolte the ki hum log coaching mein hi hai kai baar aisa hua hai aur coaching ke sart hai agar hum kaam sahi se nahi karte jab lafjon homework bahut dete the toh vaah hamare ghar par call lagaya karte the tujhe maine coaching change ki toh mujhe pata tha pehle se hi ki vaah ghar par nahi diya maine ek apni friend ka number daal diya tha aur chahiye jab bhi aisa lagta tha ki aajkal ghar par call karne waale hain phir maine kaam nahi kiya maine pehle hi bola tha ki vaah baat kar le papa unke toh aisa hi hota tha vaah sabko yahi lagta hai ki main sahi bol raha hoon toh yah bhi main apne mummy papa se chhupata tha aur kai baar zyada daagi parents meeting hoti thi toh second saturday par parents meeting hoti thi aur ghar par main bolta hi nahi tha ki aaj parents meeting hai toh kai baar aisa bhi hua hai tu aise bhi saare chote se raj hai jo maine apne mummy papa se chupaya

विकी बचपन में ऐसे कई सारे राज है जो मैं अपने मम्मी पापा से छुपाया है हालांकि यहां पर मैं 1

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  109
WhatsApp_icon
user

Sachin Bharadwaj

Faculty - Mathematics

0:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां तुम्हें बताऊं मैं शायद नाइंथ क्लास में था यह नाइंथ क्लास में था तुम्हें एक बार मेरे साथ रुकते तो मैंने ऐसी न्यूज़ को देखा था वह स्मोकिंग करते हो तो मैंने कोई मौका कर लिया था और शायद मैंने घर पर गया था लेकिन किसी ने पहचान नहीं पाया उस चीज को मैंने आज दिन तक राज ही रखा मेरे घरवाले यही सोचता है कि मैं स्मोकिंग नहीं करता हूं तो महसूस कर लेता हूं तो ऐसा राज्य जो मैंने कभी नहीं बताया वह कोशिश करता हूं कि कभी हम को पता भी ना चले

haan tumhe bataun main shayad ninth class mein tha yah ninth class mein tha tumhe ek baar mere saath rukte toh maine aisi news ko dekha tha vaah smoking karte ho toh maine koi mauka kar liya tha aur shayad maine ghar par gaya tha lekin kisi ne pehchaan nahi paya us cheez ko maine aaj din tak raj hi rakha mere gharwale yahi sochta hai ki main smoking nahi karta hoon toh mehsus kar leta hoon toh aisa rajya jo maine kabhi nahi bataya vaah koshish karta hoon ki kabhi hum ko pata bhi na chale

हां तुम्हें बताऊं मैं शायद नाइंथ क्लास में था यह नाइंथ क्लास में था तुम्हें एक बार मेरे सा

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  161
WhatsApp_icon
play
user

Vatsal

Engineering Student

1:15

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने जो प्रश्न पूछा उसमें कंडीशन रिस्ट्रिक्टेड हो गया नहीं बचपन के दौरान कौन से बात छुपाई थी हालांकि हम जीने वाली उम्र होती है उसमें तो ऐसी तमाम बातें होती हैं हम झुकाते हैं और बचपन के दौरान भी निश्चित तौर पर हर बच्चे के जीवन में ऐसी कई घटनाएं होती हैं छोटी-छोटी शरारतों के रूप में वह होती है जो कि वह छुपाते हैं छुपाने का कारण होता है एक बार जो हमें महसूस होता है कि शायद हमें डाटा मार पड़े बताएं तो बहुत छोटी छोटी चीजें हो सकती है जैसे कि अपने पेरेंट्स के पर्स में से पैसे चुराना हो निश्चित तौर पर हर कोई करता है बचपन में कभी न कभी किसी न किसी रूप में कभी ना किसी की आंख यह दूसरी चीज खाकर आए हो किसी के साथ कुछ खाकर आया कुछ शरारत कि हमने स्कूल में लगे हमने बताया ना होवे स्टोर को छुट्टी मारना हो यह छोटी-छोटी शरारते होती है यह बचपन में हो जाते हैं 16 निश्चित तौर पर आप कई बार गलत संगत में पड़ जाते हैं वह बातें छुपाते हैं या कई बार और रिलेशनशिप प्यार हो गए दिवाली सिचुएशन में पड़ जाते हैं तो निश्चित तौर पर ऐसी बातें छुपाते हैं मारधाड़

aapne jo prashna poocha usme condition registered ho gaya nahi bachpan ke dauran kaunsi baat chupai thi halaki hum jeene wali umr hoti hai usme toh aisi tamaam batein hoti hain hum jhukate hain aur bachpan ke dauran bhi nishchit taur par har bacche ke jeevan mein aisi kai ghatnaye hoti hain choti choti shararaton ke roop mein vaah hoti hai jo ki vaah chhupaate hain chhupaane ka karan hota hai ek baar jo hamein mehsus hota hai ki shayad hamein data maar pade bataye toh bahut choti choti cheezen ho sakti hai jaise ki apne parents ke purse mein se paise churana ho nishchit taur par har koi karta hai bachpan mein kabhi na kabhi kisi na kisi roop mein kabhi na kisi ki aankh yah dusri cheez khakar aaye ho kisi ke saath kuch khakar aaya kuch shararat ki humne school mein lage humne bataya na hove store ko chhutti marna ho yah choti choti shararate hoti hai yah bachpan mein ho jaate hain 16 nishchit taur par aap kai baar galat sangat mein pad jaate hain vaah batein chhupaate hain ya kai baar aur Relationship pyar ho gaye diwali situation mein pad jaate hain toh nishchit taur par aisi batein chhupaate hain mardhad

आपने जो प्रश्न पूछा उसमें कंडीशन रिस्ट्रिक्टेड हो गया नहीं बचपन के दौरान कौन से बात छुपाई

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  103
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
mata pita ko shish jhukate ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!