जब किसी से प्यार हो जाता हैं तो उसके सीवा और कुछ भी नहीं सूझता, ऐसा क्यों?...


user

Bablu kumar gupta

Business Owner

0:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जब किसी से प्यार होता तो उसके सिवा कुछ नहीं दिखाई देता है यह और सुना भी ऐसा ही चाहिए लेकिन यह नहीं देने का मतलब किसी लड़की से प्यार करे कोई लड़की किसी लड़के से लड़की के लड़के को लड़की के रिलेशन से बढ़कर कुछ नहीं दिखाई देने का मतलब इसलिए उस रिलेशंस को वर्कर हमसे निदेशक से क्या लाभ है दूसरे रिलेशन पढ़ने की जरूरत फ्यूचर प्लानिंग देखते थे

jab kisi se pyar hota toh uske siva kuch nahi dikhai deta hai yah aur suna bhi aisa hi chahiye lekin yah nahi dene ka matlab kisi ladki se pyar kare koi ladki kisi ladke se ladki ke ladke ko ladki ke relation se badhkar kuch nahi dikhai dene ka matlab isliye us rileshans ko worker humse nideshak se kya labh hai dusre relation padhne ki zarurat future planning dekhte the

जब किसी से प्यार होता तो उसके सिवा कुछ नहीं दिखाई देता है यह और सुना भी ऐसा ही चाहिए लेकिन

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  82
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आइब्रो में हुए जोर आपको बताऊं कुछ इंटरेस्टिंग टैक्स्लव के बारे में तो आज वॉइस नोट में पूछा मुझसे जब किसी से प्यार हो जाता है तो उस उसके सिवा किसी और कुछ भी सोचता नहीं ऐसा क्यों दूर जब आप किसी से प्यार करते हो ना तो कुछ अलग ही फीलिंग आती है ऐसा क्यों जब दो आत्माओं का मिलन होता है तो इंसान एक दूसरे की केयर करने लग जाता है एंड वाचिंग अबाउट जैसे किसी की क्या करने लगते हैं ना तो उसके ही ध्यान में जब आप किसी से प्यार करते हो जब आपके दिल में कोई फस जाता है तो उसे आप इतना प्यार करते हो क्या हद से भी ज्यादा तो इसके लिए आप जैसे सोचने के दो आत्माओं का मेरी भरोसा तो भरोसा जैसे हम किसी पर ट्रेस करते हैं उसे हम सब कुछ बता सकते हैं उस अपने आप को दुख में रखकर उसे खुश रखना उसे ही प्यार कहते हैं और 29 दिन वही है क्योंकि जैसे एक मां होती है अपनी औलाद के लिए वैसे ही उसके लिए आपकी जिंदगी में उसके बढ़कर कोई नहीं है तो इसलिए कुछ समझ में नहीं आता और जब दिल से प्यार होता है ना तो मोहब्बत कुछ भी पा सकते हैं तो इसलिए दूर थैंक यू वेरी मच

eyebrow me hue jor aapko bataun kuch interesting taikslav ke bare me toh aaj voice note me poocha mujhse jab kisi se pyar ho jata hai toh us uske siva kisi aur kuch bhi sochta nahi aisa kyon dur jab aap kisi se pyar karte ho na toh kuch alag hi feeling aati hai aisa kyon jab do atmaon ka milan hota hai toh insaan ek dusre ki care karne lag jata hai and vaching about jaise kisi ki kya karne lagte hain na toh uske hi dhyan me jab aap kisi se pyar karte ho jab aapke dil me koi fas jata hai toh use aap itna pyar karte ho kya had se bhi zyada toh iske liye aap jaise sochne ke do atmaon ka meri bharosa toh bharosa jaise hum kisi par trays karte hain use hum sab kuch bata sakte hain us apne aap ko dukh me rakhakar use khush rakhna use hi pyar kehte hain aur 29 din wahi hai kyonki jaise ek maa hoti hai apni aulad ke liye waise hi uske liye aapki zindagi me uske badhkar koi nahi hai toh isliye kuch samajh me nahi aata aur jab dil se pyar hota hai na toh mohabbat kuch bhi paa sakte hain toh isliye dur thank you very match

आइब्रो में हुए जोर आपको बताऊं कुछ इंटरेस्टिंग टैक्स्लव के बारे में तो आज वॉइस नोट में पूछा

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  64
WhatsApp_icon
user
2:09
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है जब किसी से प्यार हो जाता है तो उसके सिवा और कुछ भी नहीं सोचता ऐसा क्यों देखें आपके सवाल का जवाब अनुभव के आधार पर ही दिया जा सकता है क्योंकि जिनको भी मोहब्बत हुई है या प्यार हुआ है आप प्रेम कहीं तो उनको क्या होता है कि जिन से भी उनको प्रेम होता जैसे माता-पिता को अपने बच्चों से प्रेम होता है तो उनको अपने बच्चों के सिवा और कुछ नहीं सूझता उनकी जो इंटेंशन होती है वह हंड्रेड परसेंट अपने बच्चों पर होती है ऐसे ही एक युवावस्था में जैसे आपको किसी लड़की से प्रेम हो जाता है तो आपके जो मानसिकता है वह सारा उसकी केयर करने की तरफ रहती है उसने खाना खाया या नहीं खाया अभी क्या कर रही होंगी अभी वह पढ़ रहे होंगे या और कुछ है वॉकिंग करने गए हैं घर में है घर में तो क्या कर रहे हो ऐसे क्या होता है कि आपके माइंड में और कुछ नहीं आता है यह ऐसा ही है जैसे आप मान लीजिए ड्राइव कर रहे हैं ड्राइव करते टाइम को गाड़ी आप चला रहे हैं तो आपको पूरी इंटेंशन रोड के ऊपर आ जाती है आपको कैसे ट्रेन लेना है कि सिग्नल पर रोक नहीं गाड़ी का गेट चेंज करना है तो आपका हंड्रेड परसेंट जिस काम के ऊपर भी आप आ जाते हैं तो उसके बाद आपको दूसरा काम नहीं सूझता आपको गाड़ी चलाते टाइम मुझे याद नहीं आएगा कि नहीं घर पर खाना क्या बना है मैं खाऊंगा नहीं खाऊंगा ए मेरा दोस्त क्या कर रहा होगा नहीं ऐसा कोई विचार नहीं आता क्योंकि आप हंड्रेड परसेंट उसके ऊपर ओके सो गए हैं ड्राइविंग के ऊपर ऐसा ही हमें प्रेम में होता है जब आप किसी भी का चीज नहीं अभी किसी भी व्यक्ति के जिससे आपका प्रेम है उसके ऊपर आप हंड्रेड परसेंट फोकस हो जाते हैं तो आपके उसके अलावा कोई भी चीज नहीं सुनती है यह चीज आपकी लाइफ में हर रोज होती है जिस चीज पर भी आप हंड्रेड परसेंट फोकस कर लेते हैं तो उसके सिवा कोई और कुछ सूझता ही नहीं यार मी लाइफ को खुद देख लीजिए एक बार आप खुद एक्सपीरियंस आफ कर चुके होंगे इस चीज को तो आपको जवाब ऑटोमेटिक लिख मिल जाएगा

aapka sawaal hai jab kisi se pyar ho jata hai toh uske siva aur kuch bhi nahi sochta aisa kyon dekhen aapke sawaal ka jawab anubhav ke aadhar par hi diya ja sakta hai kyonki jinako bhi mohabbat hui hai ya pyar hua hai aap prem kahin toh unko kya hota hai ki jin se bhi unko prem hota jaise mata pita ko apne baccho se prem hota hai toh unko apne baccho ke siva aur kuch nahi soojhtaa unki jo intention hoti hai vaah hundred percent apne baccho par hoti hai aise hi ek yuvavastha mein jaise aapko kisi ladki se prem ho jata hai toh aapke jo mansikta hai vaah saara uski care karne ki taraf rehti hai usne khana khaya ya nahi khaya abhi kya kar rahi hongi abhi vaah padh rahe honge ya aur kuch hai walking karne gaye hain ghar mein hai ghar mein toh kya kar rahe ho aise kya hota hai ki aapke mind mein aur kuch nahi aata hai yah aisa hi hai jaise aap maan lijiye drive kar rahe hain drive karte time ko gaadi aap chala rahe hain toh aapko puri intention road ke upar aa jaati hai aapko kaise train lena hai ki signal par rok nahi gaadi ka gate change karna hai toh aapka hundred percent jis kaam ke upar bhi aap aa jaate hain toh uske baad aapko doosra kaam nahi soojhtaa aapko gaadi chalte time mujhe yaad nahi aayega ki nahi ghar par khana kya bana hai khaunga nahi khaunga a mera dost kya kar raha hoga nahi aisa koi vichar nahi aata kyonki aap hundred percent uske upar ok so gaye hain driving ke upar aisa hi hamein prem mein hota hai jab aap kisi bhi ka cheez nahi abhi kisi bhi vyakti ke jisse aapka prem hai uske upar aap hundred percent focus ho jaate hain toh aapke uske alava koi bhi cheez nahi sunti hai yah cheez aapki life mein har roj hoti hai jis cheez par bhi aap hundred percent focus kar lete hain toh uske siva koi aur kuch soojhtaa hi nahi yaar me life ko khud dekh lijiye ek baar aap khud experience of kar chuke honge is cheez ko toh aapko jawab Automatic likh mil jaega

आपका सवाल है जब किसी से प्यार हो जाता है तो उसके सिवा और कुछ भी नहीं सोचता ऐसा क्यों देखें

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  48
WhatsApp_icon
user

Mantosh

Student

0:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जब पता नहीं प्यार होता तो बहुत अच्छा लगता है आपको कभी किसी की बात अच्छी नहीं लगेगी लेकिन हम लोगों को आप को यह बात समझना जरूरी है कि हमें अपना फोकस है पढ़ाई कर यार नौकरी का जो भी ध्यान देना चाहिए और प्यार को टाइम देना चाहिए तभी ऐसा क्वेश्चन नहीं है

jab pata nahi pyar hota toh bahut accha lagta hai aapko kabhi kisi ki baat achi nahi lagegi lekin hum logo ko aap ko yah baat samajhna zaroori hai ki hamein apna focus hai padhai kar yaar naukri ka jo bhi dhyan dena chahiye aur pyar ko time dena chahiye tabhi aisa question nahi hai

जब पता नहीं प्यार होता तो बहुत अच्छा लगता है आपको कभी किसी की बात अच्छी नहीं लगेगी लेकिन ह

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  115
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!