समरूप समाज किसे कहते हैं?...


user

RAZIBUL ISLAM KHAN

Teacher- 10 Years experience in colleges as a assistant professor

0:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

समरूप समाज किसे कहते हैं देखे समाज का और था है खेती कारण हिंदी व्याकरण में समास का शाब्दिक अर्थ होता है छोटा रूप जॉब फॉर दो यह दो से अधिक शब्दों से मिलकर जो नया और छोटा शब्द बनता है उस शब्द को हिंदी में समास कहते हैं यह दूसरे शब्दों में असमर्थ हो रिया है जिसके धारा हिंदी में कम से कम शब्दों में अधिक से अधिक अर्थ प्रकट किया जाता है

samroop samaj kise kehte hain dekhe samaj ka aur tha hai kheti karan hindi vyakaran mein samaas ka shabdik arth hota hai chota roop job for do yah do se adhik shabdon se milkar jo naya aur chota shabd banta hai us shabd ko hindi mein samaas kehte hain yah dusre shabdon mein asamarth ho riya hai jiske dhara hindi mein kam se kam shabdon mein adhik se adhik arth prakat kiya jata hai

समरूप समाज किसे कहते हैं देखे समाज का और था है खेती कारण हिंदी व्याकरण में समास का शाब्दिक

Romanized Version
Likes  124  Dislikes    views  1854
KooApp_icon
WhatsApp_icon
1 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!