प्रतिनिधि लोकतंत्र कि धारणा बताएं?...


user

Alok

Engineer

1:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रस्तुत प्रश्न है मित्रों प्रतिनिधि लोकतंत्र की धार ना बताए तो प्रतिनिधि लोकतंत्र की धार ना आधुनिक लोकतंत्र की कोई ऐसी सुनिश्चित सर्वमान्य परिभाषा नहीं की जा सकती है जो इस शब्द के पीछे छुपे हुए संपूर्ण इतिहास तथा अर्थ को अपने में समाहित करती हो भिन्न-भिन्न युगों में विभिन्न विचारकों ने इसकी अलग-अलग परिभाषाएं की है परंतु यह सर्वदा स्वीकार किया गया है कि लोकतंत्र व्यवस्था वह है जिसमें जनता की संप्रभुता हो जनता का क्या अर्थ है संप्रभुता कैसी हो और कैसे संभव हो यह सब विवादास्पद विषय रहे हैं फिर भी जहां तक लोकतंत्र की परिभाषा का प्रश्न है अब्राहम लिंकन की परिभाषा लोकतंत्र जनता का जनता के लिए और जनता द्वारा शासन प्रमाणिक मानी जाती है लोकतंत्र में जनता ही सत्ताधारी होती है उसकी अनुमति से ही शासन पता है उसकी प्रकृति ही शासन का एकमात्र लक्ष्य माना जाता है परंतु लोकतंत्र केवल एक विशेष प्रकार की शासन प्रणाली ही नहीं वरन एक विशेष प्रकार के राजनीतिक संगठन सामाजिक संगठन आर्थिक व्यवस्था तथा एक नैतिक एवं मानसिक भावना का नाम है लोकतंत्र जीवन का समुद्र दर्शन है जिसकी व्यापक परिधि में मानव के सभी पहलुओं आ जाते हैं धन्यवाद

prastut prashna hai mitron pratinidhi loktantra ki dhar na bataye toh pratinidhi loktantra ki dhar na aadhunik loktantra ki koi aisi sunishchit sarvmanya paribhasha nahi ki ja sakti hai jo is shabd ke peeche chhupe hue sampurna itihas tatha arth ko apne mein samahit karti ho bhinn bhinn yugon mein vibhinn vicharakon ne iski alag alag paribhashayen ki hai parantu yah sarvada sweekar kiya gaya hai ki loktantra vyavastha vaah hai jisme janta ki samprabhuta ho janta ka kya arth hai samprabhuta kaisi ho aur kaise sambhav ho yah sab vivadaspad vishay rahe hain phir bhi jaha tak loktantra ki paribhasha ka prashna hai abraham lincoln ki paribhasha loktantra janta ka janta ke liye aur janta dwara shasan pramanik maani jaati hai loktantra mein janta hi sattadhari hoti hai uski anumati se hi shasan pata hai uski prakriti hi shasan ka ekmatra lakshya mana jata hai parantu loktantra keval ek vishesh prakar ki shasan pranali hi nahi WREN ek vishesh prakar ke raajnitik sangathan samajik sangathan aarthik vyavastha tatha ek naitik evam mansik bhavna ka naam hai loktantra jeevan ka samudra darshan hai jiski vyapak paridhi mein manav ke sabhi pahaluwon aa jaate hain dhanyavad

प्रस्तुत प्रश्न है मित्रों प्रतिनिधि लोकतंत्र की धार ना बताए तो प्रतिनिधि लोकतंत्र की धार

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  136
KooApp_icon
WhatsApp_icon
2 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!