विरोधी पार्टी की भूमिका का वर्णन करें?...


user

Sunil Kumar Pandey

Editor & Writer

1:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार आपका प्रश्न है विरोधी पार्टी या विपक्ष की भूमिका का वर्णन करिए लोकतंत्र प्राणी में जो चुनाव होते हैं उसमें किस दल को बहुमत प्राप्त होता है वह सरकार बनाती है और चीज दल को बहुमत ही पाप होता और विपक्ष या विरोधी पार्टी के रूप में पढ़ती है विरोधी पक्ष का अधिकार होता है सरकार की ऐसी योजनाओं पर प्रकाश डालना आलोचना करना 34 इतनी ना हो क्या ऐसी योजना है जो कि सरकार बनाना चाहती है लेकिन उनका आम लोगों को कोई फायदा ना हो इसलिए रूप में एक मजबूत विपक्ष की भूमिका अत्यंत महत्वपूर्ण है लेकिन पाया वर्तमान समय में कोई भी भी वक्त मौजूद नहीं है भाजपा सरकार सत्ता पक्ष की सबसे बड़ी थे लेकिन पाया जो कुछ कांटा रचनात्मक विरोध करना होता है आजकल सरकार की सभी योजनाओं का विरोध करता है जैसे विपक्ष विरोध करना ही अपना अधिकार समझता है जबकि यह परंपरा सही नहीं है क्या जो भी पार्टी को भी संरक्षक रूप से सरकार करें अच्छी योजनाओं के प्रश्न लेकिन जो योजनाएं अच्छी नहीं है उसकी आलोचना भी करनी चाहिए लेकिन पाया आज तक सरकार जितनी भी योजना बनाता है उसी कहीं न कहीं निकालना ही जैसे विकार हो गया तेरा में यशवंत रीत सदा की उचित नहीं है धन्यवाद

namaskar aapka prashna hai virodhi party ya vipaksh ki bhumika ka varnan kariye loktantra prani me jo chunav hote hain usme kis dal ko bahumat prapt hota hai vaah sarkar banati hai aur cheez dal ko bahumat hi paap hota aur vipaksh ya virodhi party ke roop me padhati hai virodhi paksh ka adhikaar hota hai sarkar ki aisi yojnao par prakash dalna aalochana karna 34 itni na ho kya aisi yojana hai jo ki sarkar banana chahti hai lekin unka aam logo ko koi fayda na ho isliye roop me ek majboot vipaksh ki bhumika atyant mahatvapurna hai lekin paya vartaman samay me koi bhi bhi waqt maujud nahi hai bhajpa sarkar satta paksh ki sabse badi the lekin paya jo kuch kanta rachnatmak virodh karna hota hai aajkal sarkar ki sabhi yojnao ka virodh karta hai jaise vipaksh virodh karna hi apna adhikaar samajhata hai jabki yah parampara sahi nahi hai kya jo bhi party ko bhi sanrakshak roop se sarkar kare achi yojnao ke prashna lekin jo yojanaye achi nahi hai uski aalochana bhi karni chahiye lekin paya aaj tak sarkar jitni bhi yojana banata hai usi kahin na kahin nikalna hi jaise vikar ho gaya tera me yashvant reet sada ki uchit nahi hai dhanyavad

नमस्कार आपका प्रश्न है विरोधी पार्टी या विपक्ष की भूमिका का वर्णन करिए लोकतंत्र प्राणी में

Romanized Version
Likes  165  Dislikes    views  1004
KooApp_icon
WhatsApp_icon
3 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!