प्रश्न कुंडली किसे कहते हैं?...


user

Dr. Mahesh Mohan Jha

Asst. Professor,Astrologer,Author

0:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार आपका प्रश्न है प्रश्न कुंडली किसे कहते हैं पहले आपको यह जान लेना होगा जन्म कुंडली बनाने के लिए जातक का जन्म तिथि जन्म समय और जन्म स्थान होना जरूरी होता और जिस जातक के पास यह उपलब्ध नहीं होता है तो ज्योति प्रश्न कुंडली बनाते हैं प्रश्न कुंडली के लिए जिस समय जातक व्यक्ति के पास आता है और प्रश्न करता है उसी समय का तिथि समय और स्थान को मानकर एक कुंडली का निर्माण किया जाता है जिसे प्रश्न कुंडली करते हैं धन्यवाद

namaskar aapka prashna hai prashna kundali kise kehte hain pehle aapko yah jaan lena hoga janam kundali banane ke liye jatak ka janam tithi janam samay aur janam sthan hona zaroori hota aur jis jatak ke paas yah uplabdh nahi hota hai toh jyoti prashna kundali banate hain prashna kundali ke liye jis samay jatak vyakti ke paas aata hai aur prashna karta hai usi samay ka tithi samay aur sthan ko maankar ek kundali ka nirmaan kiya jata hai jise prashna kundali karte hain dhanyavad

नमस्कार आपका प्रश्न है प्रश्न कुंडली किसे कहते हैं पहले आपको यह जान लेना होगा जन्म कुंडली

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  126
WhatsApp_icon
5 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रश्न कुंडली किसे कहते हैं ठीक है अभी जो आप प्रश्न कर रहे हैं उसकी भी कुंडली बनी है तो प्रश्न कुंडली का जो प्राथमिक जो उत्तर हो गया तो वह यही है कि किसी व्यक्ति के पास में गिर जन्मपत्रिका है या नहीं है पर वह काफी समय से कोई प्रश्न लेकर अपने मन में मतलब उसके मन में वह देखना है और उसको मतलब ऐसा लगता है कि मेरे मन में कोई ऐसी चीज है जो मुझे किसी से पूछ नहीं चाहिए तो फिर वह ज्योतिष के पास में जाता है या ज्योतिष का फोन करता है तो उस समय की जो प्रश्न कुंडली बनती है उस समय का टाइम डालता है और ग्रहों का जो गोचर होता है वही प्रश्न कुंडली है आज जो बालक जन्मा है उसका समय क्या हुआ उसकी कुंडली होगी और आज अभी आपके मन में क्या अभी क्या प्रश्न चल रहा है हर समय अलग-अलग कुंडली का अलग-अलग समय में अलग-अलग तरह से प्रश्न कुंडली होती है प्रश्न कुंडली के माध्यम से ऐसी ऐसी चीजें देखी जा सकती जन्मपत्रिका में मतलब उसकी सोच को देखने पड़ते फोड़ता उसे देखना पड़ता है क्योंकि व्यक्ति की सोच को चौथे भाव से चंद्रमा से देखा जाता है उसकी लग्नेश के आधार पड़ता है क्या देता परंतु अगर एक व्यक्ति अगर फ्रिक्वेंटली किसी को ज्योतिष को अगर प्रश्न ज्ञाता को प्रश्न कुंडली विशेषज्ञ को फोन करके बोलता तो उसके मन में क्या है वह भी वह बता सकता है प्रश्न कुंडली ज्यादातर गुम हुए व्यक्तियों के लिए जो गर्ग खो गए हैं जो व्यक्ति अपने घर को छोड़कर चले गए हैं नाराज हो गए हैं या उन्होंने कोई गलत कदम उठा लिया तो उसके लिए करते हैं कोई व्यस्त उसने कहीं रखकर खो दी है कब मिल जाएगी कोई गाड़ी गुम हो गई है उसका कोई गांव में ज्यादातर एक प्रश्न कुंडली का बहुत पुराने रूप से यूज होता था जिसमें उसका पशु किस दिशा में गया तो यह भी बता दिया जाएगा उसे यह भी पता चल जाएगा वह मिलेगी या नहीं मिलेगी सोना खो गए हैं चोरी तो नहीं हो जाएगी या मैं जिसके बारे में सोच रहा हूं वह व्यक्ति कैसा अन्य अन्य आदि आदि प्रश्नों का उत्तर प्रश्न विशेषज्ञ बता सकता आप हम से भी संपर्क करके अपनी प्रश्न कुंडली के बारे में पूछ सकते हैं मेरे फोन नंबर मेरे प्रोफाइल के अंदर दे रखे फिर भी मैं बता देता हूं मैं पंडित श्रीराम शर्मा जोधपुर से 603201 जय शंकर हर हर महादेव

prashna kundali kise kehte hain theek hai abhi jo aap prashna kar rahe hain uski bhi kundali bani hai toh prashna kundali ka jo prathmik jo uttar ho gaya toh vaah yahi hai ki kisi vyakti ke paas me gir janmapatrika hai ya nahi hai par vaah kaafi samay se koi prashna lekar apne man me matlab uske man me vaah dekhna hai aur usko matlab aisa lagta hai ki mere man me koi aisi cheez hai jo mujhe kisi se puch nahi chahiye toh phir vaah jyotish ke paas me jata hai ya jyotish ka phone karta hai toh us samay ki jo prashna kundali banti hai us samay ka time dalta hai aur grahon ka jo gochar hota hai wahi prashna kundali hai aaj jo balak janma hai uska samay kya hua uski kundali hogi aur aaj abhi aapke man me kya abhi kya prashna chal raha hai har samay alag alag kundali ka alag alag samay me alag alag tarah se prashna kundali hoti hai prashna kundali ke madhyam se aisi aisi cheezen dekhi ja sakti janmapatrika me matlab uski soch ko dekhne padate fodta use dekhna padta hai kyonki vyakti ki soch ko chauthe bhav se chandrama se dekha jata hai uski lagnesh ke aadhar padta hai kya deta parantu agar ek vyakti agar frikwentali kisi ko jyotish ko agar prashna gyaata ko prashna kundali visheshagya ko phone karke bolta toh uske man me kya hai vaah bhi vaah bata sakta hai prashna kundali jyadatar gum hue vyaktiyon ke liye jo garg kho gaye hain jo vyakti apne ghar ko chhodkar chale gaye hain naaraj ho gaye hain ya unhone koi galat kadam utha liya toh uske liye karte hain koi vyast usne kahin rakhakar kho di hai kab mil jayegi koi gaadi gum ho gayi hai uska koi gaon me jyadatar ek prashna kundali ka bahut purane roop se use hota tha jisme uska pashu kis disha me gaya toh yah bhi bata diya jaega use yah bhi pata chal jaega vaah milegi ya nahi milegi sona kho gaye hain chori toh nahi ho jayegi ya main jiske bare me soch raha hoon vaah vyakti kaisa anya anya aadi aadi prashnon ka uttar prashna visheshagya bata sakta aap hum se bhi sampark karke apni prashna kundali ke bare me puch sakte hain mere phone number mere profile ke andar de rakhe phir bhi main bata deta hoon main pandit shriram sharma jodhpur se 603201 jai shankar har har mahadev

प्रश्न कुंडली किसे कहते हैं ठीक है अभी जो आप प्रश्न कर रहे हैं उसकी भी कुंडली बनी है तो प्

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  150
WhatsApp_icon
user

आचार्य चन्दन धर द्विवेदी (गुरू जी)

वेदाचार्य,ज्योतिषाचार्य,ज्योतिषशिरोमणि,प्राणिक हीलर

1:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रश्न कुंडली किसे कहते हैं प्रश्न कुंडली यार हमारे पास मान लीजिए कोई आकर कह रहा है कि आचार्य जी हमारा लड़की का शादी कब होगा विवाह कब तक होगा तो महोदय जो हमसे प्रश्न करेंगे हमारे यजमान जो प्रश्न करेंगे उस प्रश्न के समय का जन्म कुंडली बनाई जाती है जैसे मान के चलिए अगर आज के डेट में उन्होंने प्रश्न किया और आज का डेट रहेगा और उस समय जितना कष्ट करेंगे उस समय हम देखेंगे कि मालूज उन्होंने 11:40 पर उसने क्या देखा तो 1140 और उसके बाद से अगर हो जो जगह होगा उस जगह का स्थान कहां डालेंगे अक्षांश रेखांश तिर्वा प्रश्न कुंडली तैयार है जो भी जो भी प्रश्न पूछूंगी उस प्रश्न का कुंडली बनाई जाएगी और उसने देखा जाएगा हमारे जो मुख्य प्रश्न उस प्रश्न का उत्तर चाहिए सवाल संपत्ति खरीदने के बारे में हो या विवाह के बारे में हो या नौकरी के बारे में हो या स्वास्थ्य के बारे में जो भी हम उस प्रश्न पूछने वाले के जा जन्मतिथि मां पूछने वाले के प्रश्नों का तिथि प्रश्न का समय प्रश्न के राजस्थान के अनुसार कुंडली बनाई जाती है और प्रश्न कुंडली कहलाते हैं धन्यवाद

prashna kundali kise kehte hain prashna kundali yaar hamare paas maan lijiye koi aakar keh raha hai ki aacharya ji hamara ladki ka shaadi kab hoga vivah kab tak hoga toh mahoday jo humse prashna karenge hamare yajman jo prashna karenge us prashna ke samay ka janam kundali banai jaati hai jaise maan ke chaliye agar aaj ke date me unhone prashna kiya aur aaj ka date rahega aur us samay jitna kasht karenge us samay hum dekhenge ki maluj unhone 11 40 par usne kya dekha toh 1140 aur uske baad se agar ho jo jagah hoga us jagah ka sthan kaha daalenge akshansh rekhansh tirva prashna kundali taiyar hai jo bhi jo bhi prashna puchungi us prashna ka kundali banai jayegi aur usne dekha jaega hamare jo mukhya prashna us prashna ka uttar chahiye sawaal sampatti kharidne ke bare me ho ya vivah ke bare me ho ya naukri ke bare me ho ya swasthya ke bare me jo bhi hum us prashna poochne waale ke ja janmtithi maa poochne waale ke prashnon ka tithi prashna ka samay prashna ke rajasthan ke anusaar kundali banai jaati hai aur prashna kundali kehlate hain dhanyavad

प्रश्न कुंडली किसे कहते हैं प्रश्न कुंडली यार हमारे पास मान लीजिए कोई आकर कह रहा है कि आचा

Romanized Version
Likes  46  Dislikes    views  407
WhatsApp_icon
user
0:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है कि प्रश्न कुंडली किसे कहते हैं तो आपके प्रश्न का उत्तर है कि प्रश्न कुंडली तत्कालिक समय के गोचर का नक्शा मात्र है अचानक से बैठे-बैठे मन में किसी इच्छा का जन्म हुआ इस इच्छा इस इच्छा की इच्छा का भविष्य क्या होगा इसको प्रश्न कुंडली कहा जाता है

aapka prashna hai ki prashna kundali kise kehte hain toh aapke prashna ka uttar hai ki prashna kundali tatkalik samay ke gochar ka naksha matra hai achanak se baithe baithe man mein kisi iccha ka janam hua is iccha is iccha ki iccha ka bhavishya kya hoga isko prashna kundali kaha jata hai

आपका प्रश्न है कि प्रश्न कुंडली किसे कहते हैं तो आपके प्रश्न का उत्तर है कि प्रश्न कुंडली

Romanized Version
Likes  44  Dislikes    views  877
WhatsApp_icon
user

Manish Manchanda

Lecturer Chemistry Poet & Writer

0:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कुंडली का अर्थ होता है यदि आपसे कोई प्रश्न पूछा जाता है तो आप उसका क्या जवाब देते हैं उसके अनुसार बड़ा प्रश्न कुंडली तैयार की जाती है प्रश्न कुंडली तैयार करने के बाद फिर आपका भविष्य बताता है

kundali ka arth hota hai yadi aapse koi prashna poocha jata hai toh aap uska kya jawab dete hain uske anusaar bada prashna kundali taiyar ki jaati hai prashna kundali taiyar karne ke baad phir aapka bhavishya batata hai

कुंडली का अर्थ होता है यदि आपसे कोई प्रश्न पूछा जाता है तो आप उसका क्या जवाब देते हैं उसके

Romanized Version
Likes  19  Dislikes    views  461
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!