चाय पीने से आपके शरीर को क्या नुकसान हो सकते हैं?...


user

Radha Mohan

Yoga & Naturopathy Expert

5:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार दोस्तों कैसे हैं चाय पीने से आपके शरीर को क्या नुकसान हो सकते हैं उसमें बहुत से नुकसान हो सकते हैं चाय पीने के इस की लिस्ट बहुत लंबी हो सकती है परंतु इसके नुकसान के हम थोड़ी देर बाद में बात करेंगे पहले हम थोड़ा सा यह जान लेते हैं कि जो लोग चाय का फेवर लेते हैं जो लोग चाय के पक्ष में हैं उन्हें इस चाय के क्या फायदे ही नजर आते हैं दोस्तों जब भी चाय पीते हैं तो हमें यह लगता है कि थोड़ी देर के लिए हमारा जो माइंड है को रिलैक्स हो गया है मूड अच्छा हो गया है और हमारा शरीर शिथिल हो गया इसको आराम मिला है परंतु दोस्त कुछ ही समय के लिए होता है और यह इसलिए होता दोस्तों की इसमें कुछ ऐसे उत्तेजक तत्व होते हैं जो हमारे जब हम पीते हैं को तो कुछ देर के लिए हमारे जो मूड है दोस्तों को stimu-let होता है हो जाता है हमारे जो नर्वस सिस्टम है दोस्तों उन्हें यह लगता है कि हमें बहुत आराम मिल रहा है आपने जैसे मान लीजिए आप किसी काम में लगे हुए आप थक गए हैं और फिर आपने चाय पी ली है तो उसे थोड़ा आपको रिलैक्स लगेगा कि हां आपको आराम मिला है परंतु यह दोस्तों कुछ ही समय के लिए होता है कुछ देर बाद में दोस्तों क्या होता जमीन का असर खत्म होता तो जब चाय हमारे स्टमक में पहुंचती है तो फिर दोस्तों यह अपना असर दिखाना शुरू कर देती है अब दोस्तों हम जानते हैं कि से क्या-क्या नुकसान होते हैं दोस्तों जब यह हमारे स्टमक में पहुंचते हैं तो यहां पर एसिडिटी क्रिएट कर देती है एसिड जब दोस्तों बनती है तो इससे हमारे जो टाइप हो जाता है इनडाइजेशन की प्रॉब्लम हो जाती है ऐसा होने से दोस्तों हमारे गैस्टिक प्रॉब्लम ठीक हो जाती है गैस बनना स्टार्ट हो जाती है दोस्तों हमारा पूरा शरीर का जो चक्र है जो नेचुरल जो हीलिंग पावर है वह दोस्तों गड़बड़ा जाती है उसे क्या होता है दोस्तों आपने हमेशा ही देखा भी होगा कि जब भी गैस्टिक प्रॉब्लम हुई तो दोस्तों आपका सिर भी चक्कर आने लगता है सिर दर्द हो जाता है आंखों में दर्द हो जाता है तो दोस्तों यह सब सारी चीजें होती है गैस बनने की वजह से और गैस बनने के पीछे सबसे बड़ा प्रमुख कारण दोस्तों चाय भी होती है तो जब आप चाय का सेवन करते हैं तो जो हमने जो कुछ भी खाना खाया है क्योंकि डाइजेशन की प्रॉब्लम गड़बड़ा जाएगी इनडाइजेशन होगा तो दोस्तों इससे क्या होगा कि जो हमारे टॉप्सिस जो शरीर से बाहर निकल जाने चाहिए वह दोस्तों हमारे हाथों में फंसे रह जाते हैं क्योंकि प्रॉपर डाइजेशन होता नहीं है जब चाय पहुंचते तो पूरा का पूरा डाइजेशन सिस्टम खराब कर देती है तो दोस्तों होता क्या है कि जितने भी टॉक्सिंस है जितने भी खराब अवयव हैं वह सारे हमारे आंखों के अंदर पड़े रह जाते हैं उनका निष्कासन नहीं हो पाता और दोस्तों ऐसा होता है तो आंखों का जो स्वास्थ्य खराब होता है उनकी जो लेर है अंदर के दोस्तों उसमें बहुत सारा जो है जमावड़ा उनका जम जाता है तो उसका खराब पदार्थों का जिनकी वहां पर किसी प्रकार की कोई आवश्यकता नहीं है उधर से जब यह लंबे समय तक चलता रहता हो तो कोलाइटिस नमक एक बीमारी हो जाती है जो बड़ी आंतों से संबंधित होती है यह बहुत ही बड़ा प्रमुख कारण है कि चाय पीने से इस प्रकार की बीमारी भी हो जाती है और कई बार यह देखा भी गया कि जब इसकी जब इंटेंसिटी बढ़ती है बहुत अधिक चाय का सेवन किया जाता है बिना कुछ सोचे समझे तो दोस्तों कई बार जो है तो यह हमारे हाथों पर बहुत बड़ा दुष्प्रभाव डालती है फिर दोस्तों बात करते हैं कि जब हम चाय पीते हैं तो इस्तेमाल कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ जाता है कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ता है तो दोस्तों इससे हमारा जो हार्ट की प्रॉब्लम आने स्टार्ट हो जाती है हार्ट डिजीज आ जाती है ब्लॉकेज हो जाते हैं और कई बार बाईपास अर्जित कई प्रकार के हमें सर जी भी करवानी पड़ सकती है दूसरा इसका कारण होता दोस्तों जब कोलेस्ट्रॉल बढ़ता है तो इसे मारी डायबिटीज बीमारी हो जाती है ब्लड में शुगर का लेवल जो दोस्तों पड़ जाता है यह सारी चीजें होती दोस्तों कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर जो फंक्शन है दोस्तों को खराब हो जाते हैं जो हमारी जो पैंक्रियाज है उसका जो नेचुरल वर्किंग प्रोसेस गड़बड़ा जाता है तो कोलेस्ट्रोल बढ़ने से बहुत सारी प्रॉब्लम स्टार्ट हो जाती हमारे शरीर में और हमारे लिए सारे अंग हैं वह दोस्तों पर एक बहुत ही बुरा बुरा दुष्प्रभाव पर पड़ता है चाय पीने से दोस्तों हमारी स्किन पर बहुत बुरा फर्क पड़ता है जो इसकी इन जोधपुर चमक S3 की बुक खत्म हो जाती है स्किन में ड्राइनेस आना स्टार्ट हो जाती है तो चाय पीने से हमारी जो आईसाइट है उस पर भी दुष्प्रभाव पड़ता है क्योंकि दोस्तों चाय में कुछ ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो लंबे समय तक जैसे यदि उनका इस्तेमाल किया जाता है तो दोस्तों जो हमारी नेचुरल योर आईसाइट है उस पर उसको भी दोस्तों यह भी करती रहती है दिनोंदिन जैसे हम इसका लंबे समय तक इस्तेमाल करते रहते हैं और एक सबसे बड़ा जो दोस्तों नुकसान वही होता है कि जो लोग खाली पेट चाय पीते हैं उन्हें तो दोस्तों उसके बहुत ही ज्यादा नुकसान उठाने पड़ते हैं स्टमक में दोस्तों सूजन आ जाती है अल्सर तक पैदा हो जाता दोस्तों जब आप खाली पेट चाय का इस्तेमाल करते हैं तो दोस्तों से नुकसान है इसके पीने से किस प्रकार का फायदा नहीं है कि आपका मूड फ्रेश हो गया है माइंड फ्रेश हो गया है शरीर में आराम मिला है परंतु दोस्तों इसको चाहे कोई ना हमारे लिए किसी भी हालत में सही नहीं है कृपया आप चाय को अपने जीवन से निकाल आप इसकी जगह ग्रीन टी आप ले सकते हैं या फिर एक आयुर्वेदिक चाय आप बनाकर पी सकते हैं मेरे एक प्रश्न मैंने आपको का सवाल का जो जवाब भी दिया है तो उसे मैंने बताया है कि किस तरह से आप आयुर्वेदिक चाय बनाकर और पी सकते हैं उससे आपको फायदा होगा दोस्तों किसी प्रकार का कोई नुकसान नहीं होगा धन्यवाद

namaskar doston kaise hain chai peene se aapke sharir ko kya nuksan ho sakte hain usme bahut se nuksan ho sakte hain chai peene ke is ki list bahut lambi ho sakti hai parantu iske nuksan ke hum thodi der baad mein baat karenge pehle hum thoda sa yah jaan lete hain ki jo log chai ka favour lete hain jo log chai ke paksh mein hain unhe is chai ke kya fayde hi nazar aate hain doston jab bhi chai peete hain toh hamein yah lagta hai ki thodi der ke liye hamara jo mind hai ko relax ho gaya hai mood accha ho gaya hai aur hamara sharir shithil ho gaya isko aaram mila hai parantu dost kuch hi samay ke liye hota hai aur yah isliye hota doston ki isme kuch aise uttejak tatva hote hain jo hamare jab hum peete hain ko toh kuch der ke liye hamare jo mood hai doston ko stimu let hota hai ho jata hai hamare jo nervous system hai doston unhe yah lagta hai ki hamein bahut aaram mil raha hai aapne jaise maan lijiye aap kisi kaam mein lage hue aap thak gaye hain aur phir aapne chai p li hai toh use thoda aapko relax lagega ki haan aapko aaram mila hai parantu yah doston kuch hi samay ke liye hota hai kuch der baad mein doston kya hota jameen ka asar khatam hota toh jab chai hamare stomach mein pohchti hai toh phir doston yah apna asar dikhana shuru kar deti hai ab doston hum jante hain ki se kya kya nuksan hote hain doston jab yah hamare stomach mein pahunchate hain toh yahan par acidity create kar deti hai acid jab doston banti hai toh isse hamare jo type ho jata hai inadaijeshan ki problem ho jaati hai aisa hone se doston hamare gastic problem theek ho jaati hai gas bana start ho jaati hai doston hamara pura sharir ka jo chakra hai jo natural jo healing power hai vaah doston gadbada jaati hai use kya hota hai doston aapne hamesha hi dekha bhi hoga ki jab bhi gastic problem hui toh doston aapka sir bhi chakkar aane lagta hai sir dard ho jata hai aankho mein dard ho jata hai toh doston yah sab saree cheezen hoti hai gas banne ki wajah se aur gas banne ke peeche sabse bada pramukh karan doston chai bhi hoti hai toh jab aap chai ka seven karte hain toh jo humne jo kuch bhi khana khaya hai kyonki digestion ki problem gadbada jayegi inadaijeshan hoga toh doston isse kya hoga ki jo hamare tapsis jo sharir se bahar nikal jaane chahiye vaah doston hamare hathon mein fanse reh jaate hain kyonki proper digestion hota nahi hai jab chai pahunchate toh pura ka pura digestion system kharab kar deti hai toh doston hota kya hai ki jitne bhi taksins hai jitne bhi kharab avyav hain vaah saare hamare aankho ke andar pade reh jaate hain unka nishkasan nahi ho pata aur doston aisa hota hai toh aankho ka jo swasthya kharab hota hai unki jo ler hai andar ke doston usme bahut saara jo hai jamavada unka jam jata hai toh uska kharab padarthon ka jinki wahan par kisi prakar ki koi avashyakta nahi hai udhar se jab yah lambe samay tak chalta rehta ho toh kolaitis namak ek bimari ho jaati hai jo badi anton se sambandhit hoti hai yah bahut hi bada pramukh karan hai ki chai peene se is prakar ki bimari bhi ho jaati hai aur kai baar yah dekha bhi gaya ki jab iski jab intention badhti hai bahut adhik chai ka seven kiya jata hai bina kuch soche samjhe toh doston kai baar jo hai toh yah hamare hathon par bahut bada dushprabhav daalti hai phir doston baat karte hain ki jab hum chai peete hain toh istemal cholesterol level badh jata hai cholesterol level badhta hai toh doston isse hamara jo heart ki problem aane start ho jaati hai heart disease aa jaati hai blockage ho jaate hain aur kai baar bypaas arjit kai prakar ke hamein sir ji bhi karvani pad sakti hai doosra iska karan hota doston jab cholesterol badhta hai toh ise mari diabetes bimari ho jaati hai blood mein sugar ka level jo doston pad jata hai yah saree cheezen hoti doston cholesterol badhne par jo function hai doston ko kharab ho jaate hain jo hamari jo pancreas hai uska jo natural working process gadbada jata hai toh cholestrol badhne se bahut saree problem start ho jaati hamare sharir mein aur hamare liye saare ang hain vaah doston par ek bahut hi bura bura dushprabhav par padta hai chai peene se doston hamari skin par bahut bura fark padta hai jo iski in jodhpur chamak S3 ki book khatam ho jaati hai skin mein draines aana start ho jaati hai toh chai peene se hamari jo aisait hai us par bhi dushprabhav padta hai kyonki doston chai mein kuch aise tatva paye jaate hain jo lambe samay tak jaise yadi unka istemal kiya jata hai toh doston jo hamari natural your aisait hai us par usko bhi doston yah bhi karti rehti hai dinondin jaise hum iska lambe samay tak istemal karte rehte hain aur ek sabse bada jo doston nuksan wahi hota hai ki jo log khaali pet chai peete hain unhe toh doston uske bahut hi zyada nuksan uthane padte hain stomach mein doston sujan aa jaati hai Ulcer tak paida ho jata doston jab aap khaali pet chai ka istemal karte hain toh doston se nuksan hai iske peene se kis prakar ka fayda nahi hai ki aapka mood fresh ho gaya hai mind fresh ho gaya hai sharir mein aaram mila hai parantu doston isko chahen koi na hamare liye kisi bhi halat mein sahi nahi hai kripya aap chai ko apne jeevan se nikaal aap iski jagah green T aap le sakte hain ya phir ek ayurvedic chai aap banakar p sakte hain mere ek prashna maine aapko ka sawaal ka jo jawab bhi diya hai toh use maine bataya hai ki kis tarah se aap ayurvedic chai banakar aur p sakte hain usse aapko fayda hoga doston kisi prakar ka koi nuksan nahi hoga dhanyavad

नमस्कार दोस्तों कैसे हैं चाय पीने से आपके शरीर को क्या नुकसान हो सकते हैं उसमें बहुत से नु

Romanized Version
Likes  113  Dislikes    views  851
KooApp_icon
WhatsApp_icon
2 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!