लाइट घर्षण किसे कहते हैं?...


user

RAZIBUL ISLAM KHAN

Teacher- 10 Years experience in colleges as a assistant professor

2:11
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अग्रसेन की जगह दिखी भाषा नहीं है वह फल है जिसके कारण तो अलग-अलग वस्तुओं के बीच प्रतिरोध बालक प्रणा होता है जो एक दूसरे के संपर्क में खींचने का विरोध करता है उससे ही कर्कन कहते हैं अर्थात यदि आप किसी स्थित ठोस वस्तु पर कोई दूसरी ठोस वस्तु रखी जाती है दोनों समर्थन पृष्ठों एक दूसरे को स्पष्ट करती है तो इस दशा में दूसरी वस्तु को पहले आ वस्तु पर है खिसकने के लिए बाल लगाना पड़ता है इस सवाल का मान 1 सेना से कम होने पर दूसरी वस्तु पहले वस्तु पर नहीं सकती है इससे यह साफ होता है कि दोनों वस्तुओं के संपर्क खोल एक बल गति के विपरीत दिशा में उत्पन्न हो जाता है जो दूसरी वस्तु की गोदी में विरोध करता है इस विरुद्ध पॉल को घर्षण कहता है इसके कोई उदाहरण दर्शन के कारण मनुष्य एवं जीव जंतु सतत पता चल पाता है या मोटर गाड़ी का टायर बनाया जाता है जिससे आकर्षण में वृद्धि होती है और फिसलने की संभावना कम होता है मोटर गाड़ी के ब्रेक लगाने के लिए दर्शन ही जिम्मेदार होता है

agrasen ki jagah dikhi bhasha nahi hai vaah fal hai jiske karan toh alag alag vastuon ke beech pratirodh BA lak prana hota hai jo ek dusre ke sampark mein kheenchne ka virodh karta hai usse hi karkan kehte hai arthat yadi aap kisi sthit thos vastu par koi dusri thos vastu rakhi jaati hai dono samarthan prishton ek dusre ko spasht karti hai toh is dasha mein dusri vastu ko pehle aa vastu par hai khiskne ke liye BA al lagana padta hai is sawaal ka maan 1 sena se kam hone par dusri vastu pehle vastu par nahi sakti hai isse yah saaf hota hai ki dono vastuon ke sampark khol ek BA l gati ke viprit disha mein utpann ho jata hai jo dusri vastu ki godi mein virodh karta hai is viruddh paul ko gharshan kahata hai iske koi udaharan darshan ke karan manushya evam jeev jantu satat pata chal pata hai ya motor gaadi ka tyre BA naya jata hai jisse aakarshan mein vriddhi hoti hai aur fisalane ki sambhavna kam hota hai motor gaadi ke break lagane ke liye darshan hi zimmedar hota hai

अग्रसेन की जगह दिखी भाषा नहीं है वह फल है जिसके कारण तो अलग-अलग वस्तुओं के बीच प्रतिरोध बा

Romanized Version
Likes  101  Dislikes    views  1797
KooApp_icon
WhatsApp_icon
1 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!