क्या अंग्रेजी मीडिया में अभी भी हिंदी मीडिया की तुलना में अधिक गुंजाइश है?...


user

Sanjeev Jain

Journalist, Editor, Businessman

1:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इंग्लिश मीडियम पेपर एंड देयर लैंग्वेज स्टेटस इंग्लिश न्यूज़ पेपर टुडे लाइफ इन इंग्लिश न्यूज पेपर तो हर शहर में जो कांटेक्ट लेते हैं जिससे आपको काम खत्म हुआ बनाना इंग्लिश में टोटल आइस स्केटिंग

english medium paper and there language status english news paper today life in english news paper toh har shehar mein jo Contact lete hain jisse aapko kaam khatam hua banana english mein total ice skating

इंग्लिश मीडियम पेपर एंड देयर लैंग्वेज स्टेटस इंग्लिश न्यूज़ पेपर टुडे लाइफ इन इंग्लिश न्यू

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  212
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Hasan sir

Teacher

0:53
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां बिल्कुल गुंजाइश है और जैसा कि आप जानते हैं कि जो भी लोग कामयाब हुए हैं जितनी भी लोगों ने पोस्ट बढ़िया आईएएस पीसीएस स्कॉलर टीचर लीटर और इतनी बड़ी-बड़ी पोस्टों पर है उनके जमाने में तो इंग्लिश मीडियम यानी सीबीएससी बोर्ड का चलन उतना ज्यादा नहीं था यह तो अभी 15 साल 10 साल पहले इतना ज्यादा इंग्लिश मीडियम किए डिमांड हो गई है नंदा हिंदी मीडियम में रहकर भी लोगों ने बहुत सारी पोस्ट और बहुत सारे जवाब मेडल जीते हैं और बहुत कुछ कर दिखाया है वह तो आपके टैलेंट के ऊपर आपकी पढ़ाई के ऊपर होता है

ji haan bilkul gunjaiesh hai aur jaisa ki aap jante hain ki jo bhi log kamyab hue hain jitni bhi logo ne post badhiya IAS pcs scholar teacher litre aur itni badi badi poston par hai unke jamane me toh english medium yani CBSE board ka chalan utana zyada nahi tha yah toh abhi 15 saal 10 saal pehle itna zyada english medium kiye demand ho gayi hai nanda hindi medium me rahkar bhi logo ne bahut saari post aur bahut saare jawab medal jeete hain aur bahut kuch kar dikhaya hai vaah toh aapke talent ke upar aapki padhai ke upar hota hai

जी हां बिल्कुल गुंजाइश है और जैसा कि आप जानते हैं कि जो भी लोग कामयाब हुए हैं जितनी भी लोग

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  64
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!