कबीरदास ने किस का विरोध किया?...


user

S Bajpay

Yoga Expert | Beautician & Gharelu Nuskhe Expert

1:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए अपने प्रश्न किया कबीर दास ने इसका विरोध किया तो मैं आपको बताना चाहूंगा कबीर दास जी ने पाखंड का विरोध किया अंधविश्वास का विरोध किया सामाजिक कुरीतियों पर उसकी हिंदुओं के पाखंड पर और अंधविश्वास पर उन्होंने किस तरह प्रहार किया की माला तो कर में फिरे जीभ मेरे मुंह में और मनवा तू चौदस पर है यह तो सुनना है अर्थात हिंदू लोग का के माला तो उनके हाथ में घूम रही है जी मुंह में कर रही है जीतू चाल कर रहे हैं मंत्र का और लेकिन मन तो है मस्तिष्क जो है वह दसों दिशाओं में हजारों दिशा में दौड़ रहा है कर रहा है यह तो प्रभु की भक्ति नहीं है तुम भक्ति का यह तो सही तरीका नहीं है इसी तरह उन्होंने मुस्लिमों की कंकर पत्थर जोड़ के मस्जिद लई चिनाय और ताकत का परचम मूला बांग दे क्या बहरा हुआ खुदाय पाकर पाकर जोड़कर मस्जिद तो आपने बना ली और उस पर चढ़कर मुल्ला जो है अजान दी रहा है जोर-जोर से चिल्ला के बांध दी रहा है क्या अल्लाह खुदा बहरा हो गया है जो इतनी जोर से बोलना पड़ रहा है खुद का अंधविश्वास और कुरीतियों का विरोध किया वह अपने समय के एक महान संत यही आपके प्रश्न का उत्तर

dekhiye apne prashna kiya kabir das ne iska virodh kiya toh main aapko batana chahunga kabir das ji ne pakhand ka virodh kiya andhavishvas ka virodh kiya samajik kuritiyon par uski hinduon ke pakhand par aur andhavishvas par unhone kis tarah prahaar kiya ki mala toh kar me fire jeebh mere mooh me aur manva tu chaudas par hai yah toh sunana hai arthat hindu log ka ke mala toh unke hath me ghum rahi hai ji mooh me kar rahi hai jeetu chaal kar rahe hain mantra ka aur lekin man toh hai mastishk jo hai vaah deso dishaon me hazaro disha me daudh raha hai kar raha hai yah toh prabhu ki bhakti nahi hai tum bhakti ka yah toh sahi tarika nahi hai isi tarah unhone muslimo ki kankar patthar jod ke masjid lai chinay aur takat ka parcham moola bang de kya behra hua khuday pakar pakar jodkar masjid toh aapne bana li aur us par chadhakar mulla jo hai ajaan di raha hai jor jor se chilla ke bandh di raha hai kya allah khuda behra ho gaya hai jo itni jor se bolna pad raha hai khud ka andhavishvas aur kuritiyon ka virodh kiya vaah apne samay ke ek mahaan sant yahi aapke prashna ka uttar

देखिए अपने प्रश्न किया कबीर दास ने इसका विरोध किया तो मैं आपको बताना चाहूंगा कबीर दास जी न

Romanized Version
Likes  462  Dislikes    views  5663
KooApp_icon
WhatsApp_icon
2 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

Related Searches:
kabir das ji ne pahle pad mein kin ka virodh kiya hai ; कबीर दास जी ने पहले पद में किन का विरोध किया है ; kabir das ji ne pahle padh mein kin ka virodh kiya hai ; kabir das ji ne pahle pad mein kin ka virodh kiya ; kabir das ji ne pahle pad mein kis ka virodh kiya hai ; कबीर दास जी ने पहले पद में किन का विरोध किया ; kabir das ji ne pahle padh mein kis ka virodh kiya hai ; kabir das ji ne pahle padh mein kin ka virodh kiya ; kabir das ji ne pahle pad mein kin ka virodh kiya tha ; कबीर दास जी ने किस का विरोध किया है? ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!