भारत के संविधान के बारे में संक्षिप्त रूप में बताएँ ँ?...


play
user

Ashok Sharma

Worker for Akhil Bharat Hindu Mahasabha

1:13

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सविधान के बारे में तो आप ही संविधान के अंदर अभी इस टाइम तो बहुत सारे संशोधन पुराना लेकर चल रहे आप जातिवाद का आप ही लेकर चल रहे हैं अभी sc-st का इतना करो ना कि नौकरियों के अंदर यह उन्होंने दिखाइए बहुत ज्यादा गलत है अब इनको एजुकेशन के नीचे से उठाने के अंदर उनकी बेसिक एजुकेशन इन की अच्छी कर रही थी अब आपकी भी कोई बच्चा जो है जिसके द्वारा जो है वो जो पैदा करता है आभूषण सरदारशहर के दरिया पीर की धारा 370 है

samvidhan ke bare mein toh aap hi samvidhan ke andar abhi is time toh bahut saare sanshodhan purana lekar chal rahe aap jaatiwad ka aap hi lekar chal rahe hain abhi sc st ka itna karo na ki naukriyon ke andar yah unhone dikhaaiye bahut zyada galat hai ab inko education ke niche se uthane ke andar unki basic education in ki achi kar rahi thi ab aapki bhi koi baccha jo hai jiske dwara jo hai vo jo paida karta hai aabhusan sardarshahr ke dariya pir ki dhara 370 hai

सविधान के बारे में तो आप ही संविधान के अंदर अभी इस टाइम तो बहुत सारे संशोधन पुराना लेकर चल

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  234
WhatsApp_icon
10 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Parvez Khan

Journalist

1:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारा संविधान जो है इसको ध्यान में रखकर बनाया गया है दुआओं का देश है जहां पर विश्वास है हमें एकता के सूत्र में बांधा है उसके अंदर कई अधिकार है नागरिकों को दिए गए हैं जो अपने आप में और दूसरे देशों के संविधान की तरफ अगर जाए उसमें कई तरह की कोई ऐसी चीज है जिसमें लोगों के मौलिक अधिकार तक नहीं हो लेकिन हमारा संविधान में क्या बोलते हैं सरकार चुनने का अधिकार देता है हम जो चाहते हैं कि इस समय की सरकार हम सुन सकते हैं और अगर कोई सही तरह से काम नहीं करता है तो हम उसको चेंज कर सकते हैं इसके अलावा संविधान में कमाल करते हैं करते हैं

hamara samvidhan jo hai isko dhyan mein rakhakar banaya gaya hai duaaon ka desh hai jaha par vishwas hai hamein ekta ke sutra mein bandha hai uske andar kai adhikaar hai nagriko ko diye gaye hain jo apne aap mein aur dusre deshon ke samvidhan ki taraf agar jaaye usme kai tarah ki koi aisi cheez hai jisme logo ke maulik adhikaar tak nahi ho lekin hamara samvidhan mein kya bolte hain sarkar chunane ka adhikaar deta hai hum jo chahte hain ki is samay ki sarkar hum sun sakte hain aur agar koi sahi tarah se kaam nahi karta hai toh hum usko change kar sakte hain iske alava samvidhan mein kamaal karte hain karte hain

हमारा संविधान जो है इसको ध्यान में रखकर बनाया गया है दुआओं का देश है जहां पर विश्वास है हम

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  136
WhatsApp_icon
user

Avneesh Kumar

Journalist

0:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

26 जनवरी 1950 को लागू हुआ था संविधान है मोदी का अधिकार है इतना हमारे हमारे देश का कानून है कि सब कुछ यह है और उसके बारे में बताओ फिर तुम्हारा बता दूंगा उसके लिए

26 january 1950 ko laagu hua tha samvidhan hai modi ka adhikaar hai itna hamare hamare desh ka kanoon hai ki sab kuch yah hai aur uske bare mein batao phir tumhara bata dunga uske liye

26 जनवरी 1950 को लागू हुआ था संविधान है मोदी का अधिकार है इतना हमारे हमारे देश का कानून है

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  111
WhatsApp_icon
user
0:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत का हमारा जो संविधान है वह अपना डॉक्टर बी आर अंबेडकर ओके जाओ साथियों संविधान कमेटी थी उनके द्वारा जो लिखा गया है 26 को अपने देश में लागू हो चुका है उसमें है जो कोई भी हमारी पालिका है वह चल रही है तो रही बनके पॉलिटिक्स नेम इन वर्ल्ड कार होते हैं वह उसकी ट्रू हमें मिले चाहे वह कपड़ा पहनने का हो चाहे वह जीने का और चाहे किसी के खिलाफ बोलने का और अभिव्यक्ति के अधिकार को संविधान के कोडिंग है तो उसी की बात

bharat ka hamara jo samvidhan hai vaah apna doctor be R ambedkar ok jao sathiyo samvidhan committee thi unke dwara jo likha gaya hai 26 ko apne desh mein laagu ho chuka hai usme hai jo koi bhi hamari palika hai vaah chal rahi hai toh rahi banke politics name in world car hote hain vaah uski TRUE hamein mile chahen vaah kapda pahanne ka ho chahen vaah jeene ka aur chahen kisi ke khilaf bolne ka aur abhivyakti ke adhikaar ko samvidhan ke coding hai toh usi ki baat

भारत का हमारा जो संविधान है वह अपना डॉक्टर बी आर अंबेडकर ओके जाओ साथियों संविधान कमेटी थी

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  66
WhatsApp_icon
user

Rajesh Khokhar

Journalist

0:23
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत का संविधान भीमराव अंबेडकर जी ने बनाया 26 जनवरी को लागू हुआ था जिसमें हर आदमी को बहुत सारे अधिकार दिए गए हैं हम अधिकारी को अगर सही से प्रयोग किया जाए तो जैसे अभी आपने पहले आजादी वाली बात हुई थी तो सारी आजादी आपको मिल सकती है लेकिन आप उसे सही से प्रयोग नहीं करोगे तो भी हो सकता है

bharat ka samvidhan bhimrao ambedkar ji ne banaya 26 january ko laagu hua tha jisme har aadmi ko bahut saare adhikaar diye gaye hain hum adhikari ko agar sahi se prayog kiya jaaye toh jaise abhi aapne pehle azadi wali baat hui thi toh saari azadi aapko mil sakti hai lekin aap use sahi se prayog nahi karoge toh bhi ho sakta hai

भारत का संविधान भीमराव अंबेडकर जी ने बनाया 26 जनवरी को लागू हुआ था जिसमें हर आदमी को बहुत

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  100
WhatsApp_icon
user
0:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए भारत का जो संविधान है वह डॉक्टर बी आर अंबेडकर ने 26 जनवरी 1950 के लिए लागू किया और वो उसमें सभी के लिए क्या है हिंदू मुस्लिम और जैन और बौद्ध विषय पारसियों कोई भी हो चाहे पुरुष वर्ग के वचन महिला भक्तों सभी के लिए समानता का समान रूप से अधिकार दिए गए सारे अधिकार दिए गए हैं उसमें कोई भेदभाव नहीं है लेकिन लोग संविधान के नहीं मानते नहीं है अगर सही रूप से 1 दिन के लिए विदेश में पूरी तरीके से संविधान लागू कर दिया जाए तो हमारी नजर में तो यह है कि देश में कहीं भी अत्याचार भ्रष्टाचार जैसी कोई अपराधिक मामले नहीं होंगे

dekhiye bharat ka jo samvidhan hai vaah doctor be R ambedkar ne 26 january 1950 ke liye laagu kiya aur vo usme sabhi ke liye kya hai hindu muslim aur jain aur Baudh vishay parsiyon koi bhi ho chahen purush varg ke vachan mahila bhakton sabhi ke liye samanata ka saman roop se adhikaar diye gaye saare adhikaar diye gaye hain usme koi bhedbhav nahi hai lekin log samvidhan ke nahi maante nahi hai agar sahi roop se 1 din ke liye videsh mein puri tarike se samvidhan laagu kar diya jaaye toh hamari nazar mein toh yah hai ki desh mein kahin bhi atyachar bhrashtachar jaisi koi apradhik mamle nahi honge

देखिए भारत का जो संविधान है वह डॉक्टर बी आर अंबेडकर ने 26 जनवरी 1950 के लिए लागू किया और व

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  44
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

डिस्क राइमिंग देशभक्तों चंद्रशेखर का ताकत मिलती है हर इंसान के लिहाज से हर धर्म के संप्रदाय के लिहाज से दूसरे देशों को देखते हुए उनके कमजोरियों को अलग रखते उनके ताकतों के साथ योग के हुए हिंदुस्तान के संविधान की संरचना हिंदुस्तान का संविधान

disk rhyming deshabhakton chandrashekhar ka takat milti hai har insaan ke lihaj se har dharm ke sampraday ke lihaj se dusre deshon ko dekhte hue unke kamzoriyo ko alag rakhte unke takaton ke saath yog ke hue Hindustan ke samvidhan ki sanrachna Hindustan ka samvidhan

डिस्क राइमिंग देशभक्तों चंद्रशेखर का ताकत मिलती है हर इंसान के लिहाज से हर धर्म के संप्रदा

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  68
WhatsApp_icon
user

Balwan Singh

Journalist

0:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरा भारत का सविधान बीएससी के साथ एक गरीब आदमी के साथ लड़ाई होगी उसका दुरुपयोग कर

mera bharat ka samvidhan bsc ke saath ek garib aadmi ke saath ladai hogi uska durupyog kar

मेरा भारत का सविधान बीएससी के साथ एक गरीब आदमी के साथ लड़ाई होगी उसका दुरुपयोग कर

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  81
WhatsApp_icon
user
0:11
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जब आपको बता दूं कि भारत का संविधान सबसे बड़ा लिखा हुआ संविधान में भारत के संविधान को डॉक्टर भीमराव अंबेडकर जी ने लिखा था और भारत का संविधान 26 जनवरी 1950 को लागू किया गया था

jab aapko bata doon ki bharat ka samvidhan sabse bada likha hua samvidhan mein bharat ke samvidhan ko doctor bhimrao ambedkar ji ne likha tha aur bharat ka samvidhan 26 january 1950 ko laagu kiya gaya tha

जब आपको बता दूं कि भारत का संविधान सबसे बड़ा लिखा हुआ संविधान में भारत के संविधान को डॉक्ट

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  164
WhatsApp_icon
user

Preetisingh

Junior Volunteer

1:06
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत का संविधान भारत का सर्वोच्च विधान है जो संविधान सभा द्वारा 26 नवंबर 1949 को पारित हुआ था तथा 26 जनवरी 1950 से प्रभावी हुआ यह दिन भारत के संविधान दिवस के रूप में घोषित किया गया है जबकि 26 जनवरी को का दिन जीता भारत में गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता है भारत का संविधान विश्व के किसी भी घर तांत्रिक देश का सबसे लंबा लिखित संविधान भारत का संविधान के वर्तमान समय में कुल 395 अनुच्छेद तथा 12 अनुसूचियां है और यह 22 भागों में विभाजित है परंतु इसके निर्माण के समय में जो 22 भागों में विभाजित और इसमें केवल 8 अनुसूचियां थी संविधान में सरकार के संसदीय व्यवस्था की गई है जिसके समर्थन दिया है केंद्रीय कार्यपालिका का संवैधानिक प्रमुख राष्ट्रपति है भारत के संविधान की धारा 279 के अनुसार केंद्रीय मंत्रिपरिषद में राष्ट्रपति बता दो सदन है राज्यसभा तथा लोगों को लोगों का सदन लोकसभा के नाम से भी जाना जाता है

bharat ka samvidhan bharat ka sarvoch vidhan hai jo samvidhan sabha dwara 26 november 1949 ko paarit hua tha tatha 26 january 1950 se prabhavi hua yah din bharat ke samvidhan divas ke roop mein ghoshit kiya gaya hai jabki 26 january ko ka din jita bharat mein gantantra divas ke roop mein manaya jata hai bharat ka samvidhan vishwa ke kisi bhi ghar tantrika desh ka sabse lamba likhit samvidhan bharat ka samvidhan ke vartaman samay mein kul 395 anuched tatha 12 anusuchiyan hai aur yah 22 bhaagon mein vibhajit hai parantu iske nirmaan ke samay mein jo 22 bhaagon mein vibhajit aur isme keval 8 anusuchiyan thi samvidhan mein sarkar ke sansadiya vyavastha ki gayi hai jiske samarthan diya hai kendriya karyapalika ka samvaidhanik pramukh rashtrapati hai bharat ke samvidhan ki dhara 279 ke anusaar kendriya mantriparishad mein rashtrapati bata do sadan hai rajya sabha tatha logo ko logo ka sadan lok sabha ke naam se bhi jana jata hai

भारत का संविधान भारत का सर्वोच्च विधान है जो संविधान सभा द्वारा 26 नवंबर 1949 को पारित हुआ

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!