लगाव और प्यार के बीच में क्या अंतर है?...


play
user

महेश हिन्दू

विधार्थी

1:49

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार भाई और बहनों लगाओ प्रेम में अंतर स्पष्ट करो तो ऐसा है कि आप उदाहरण के तौर पर मानिए जिस प्रकार से 2014 से माननीय प्रधानमंत्री मोदी जी के प्रति लोगों का लगाव वर्दी दर वर्दी तेजी से बढ़ रहा है उसका एक बड़ा प्रमुख कारण है उनकी नीतियां और उनके कार्य करने की प्रगति और जो प्रेम है वह कुछ ही लोगों या सीमित मात्रा में है जो बहुत ही नजदीकी और बहुत ही अपने चाहने वाले और हम जिसे चाहते हैं और वह हमें भी चाहते हैं उनसे प्रेम किया जाता है जैसे मां एक अपने बेटे से प्यार करती है बेटा अपनी मां से प्यार करता है वह मां बेटा दोनों ही आपस में प्रेम के कारण बंदे में अगर बेटा कुछ भी गलती कर दे भविष्य में तो मां अपने बेटे की उस गलती को स्वीकार कर लेती है लेकिन प्रेम टूटता नहीं लेकिन जो लगाव है जिस प्रकार मैंने मोदी जी का उदाहरण दिया है वह अपनी नीतियों में थोड़ा परिवर्तन करते हैं संशोधन करते हैं या बदलाव करते हैं तो उससे क्या है लोगों का मोदी जी के प्रति जो लगा वह टूट सकता है इस पर यही अंतर है धन्यवाद

namaskar bhai aur BA hnon lagao prem mein antar spasht karo toh aisa hai ki aap udaharan ke taur par maniye jis prakar se 2014 se mananiya pradhanmantri modi ji ke prati logo ka lagav wardi dar wardi teji se BA dh raha hai uska ek BA da pramukh karan hai unki nitiyan aur unke karya karne ki pragati aur jo prem hai vaah kuch hi logo ya simit matra mein hai jo BA hut hi najdiki aur BA hut hi apne chahne waale aur hum jise chahte hai aur vaah hamein bhi chahte hai unse prem kiya jata hai jaise maa ek apne bete se pyar karti hai beta apni maa se pyar karta hai vaah maa beta dono hi aapas mein prem ke karan BA nde mein agar beta kuch bhi galti kar de bhavishya mein toh maa apne bete ki us galti ko sweekar kar leti hai lekin prem tootata nahi lekin jo lagav hai jis prakar maine modi ji ka udaharan diya hai vaah apni nitiyon mein thoda parivartan karte hai sanshodhan karte hai ya BA dlav karte hai toh usse kya hai logo ka modi ji ke prati jo laga vaah toot sakta hai is par yahi antar hai dhanyavad

नमस्कार भाई और बहनों लगाओ प्रेम में अंतर स्पष्ट करो तो ऐसा है कि आप उदाहरण के तौर पर मानिए

Romanized Version
Likes  21  Dislikes    views  614
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Rinku Kumar Meena

managing director (MD)life expert hindi writer tourist guides writing self employed मैं चाहता हूं हर व्यक्ति को अपने जीवन में खुश रहने का पूरा अधिकार है चाहे वह लड़का या लड़की और वह जो चाहे कर सकती अपनी लाइफ से उसका भी अधिकार होना चाहिए और मैं चाहता हूं लड़कियां भी अपना जीवन पूरी तरीके से खुश हो कर दिया चाहे वह अपने परिवार में हो या ससुराल में विश्वास करता हूं

0:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखी मैं तुम्हें अपनी सिंपल मौसम समझाना चाहूं तो लगा ओपन को लगा बहुत सारे लोगों से हो सकता है और क्या तो ऐसे ही आदमी से होता है यही होता है तो लगाओ खत्म हो सकता है किसी व्यक्ति को पसंद करते हैं या लगाव करते हैं तो उसका रीज़न होता है जैसे ओरिजिन खत्म होता है या कुछ बदलाव करता है वह खत्म हो सकता है प्यार होता है वही होता है व्यक्ति को पसंद करते हैं तो अगर उसमें कोई भी आता है तो अपनों को उसके साथ स्वीकार कर लेते हैं

dekhi main tumhe apni simple mausam samajhana chahu toh laga open ko laga BA hut saare logo se ho sakta hai aur kya toh aise hi aadmi se hota hai yahi hota hai toh lagao khatam ho sakta hai kisi vyakti ko pasand karte hai ya lagav karte hai toh uska region hota hai jaise origin khatam hota hai ya kuch BA dlav karta hai vaah khatam ho sakta hai pyar hota hai wahi hota hai vyakti ko pasand karte hai toh agar usme koi bhi aata hai toh apnon ko uske saath sweekar kar lete hain

देखी मैं तुम्हें अपनी सिंपल मौसम समझाना चाहूं तो लगा ओपन को लगा बहुत सारे लोगों से हो सकता

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  134
WhatsApp_icon
user

Shubham

Software Engineer in IBM

1:10
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लगा बहुत प्यार के बीच में क्या अंतर है क्योंकि यह कैसा क्वेश्चन है जिसमें लोग काफी कंफ्यूज रहते हैं एग्जांपल ऑफ फ्लॉवर्स ट्रेक्टर आपको बहुत अच्छा लग रहा है तो आप क्या करूं को तोड़कर अपने पास रख लो अगर आपको बहुत पसंद करता हूं अगर आपको पसंद है तो आप क्या करोगे मतलब आप क्या करूं और उसकी खूबसूरती बरकरार रहे तो यही होता है डिप्रेशन और लगा कि अगर आप किसी से अट्रेक्ट तो आप यह चाहते हो कि वह आपके साथ रहे क्योंकि आप खुश है अपनी हैप्पीनेस के लिए आपको यह चाहिए कि वह आपके साथ रहे लेकिन अगर आप किसी से ट्रू लव करते हो तो आप बताओगे कि वह हमेशा खुश रहता हूं प्यार में

laga BA hut pyar ke beech mein kya antar hai kyonki yah kaisa question hai jisme log kaafi confuse rehte hai example of flowers tractor aapko BA hut accha lag raha hai toh aap kya karu ko todkar apne paas rakh lo agar aapko BA hut pasand karta hoon agar aapko pasand hai toh aap kya karoge matlab aap kya karu aur uski khoobsoorti BA rkaraar rahe toh yahi hota hai depression aur laga ki agar aap kisi se atrekt toh aap yah chahte ho ki vaah aapke saath rahe kyonki aap khush hai apni Happiness ke liye aapko yah chahiye ki vaah aapke saath rahe lekin agar aap kisi se TRUE love karte ho toh aap BA taoge ki vaah hamesha khush rehta hoon pyar mein

लगा बहुत प्यार के बीच में क्या अंतर है क्योंकि यह कैसा क्वेश्चन है जिसमें लोग काफी कंफ्यूज

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  113
WhatsApp_icon
user

Rajsi

Sports Commentator & Reporter

0:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे सबसे अंतर बहुत बहुत ही कम है और वह अंतर है कि जो हमसे आपको प्यार करते हैं उनके बारे में दिन भर सोचते हैं आप उनसे इधर आप दिमाग में कुछ नहीं चलता है जो कि तुमसे लगाव होता है उनसे थोड़ी देर का ही होता है आपने पूरा दिन उनके आगे पीछे नहीं दे सकते लहसुन से आपका लगाव होता है आप उनके आसपास रह सकते हैं लेकिन आप उनके लिए किसी और के आसपास ना रही है जरूरी नहीं अभी कहीं पर आप संजय को जाता है जब आप किसी से प्यार करते हैं तो आप उनके आस-पास ही रहना पसंद करते हैं तो यह डिफेंस रागावर प्यार में

mere sabse antar BA hut BA hut hi kam hai aur vaah antar hai ki jo humse aapko pyar karte hai unke BA re mein din bhar sochte hai aap unse idhar aap dimag mein kuch nahi chalta hai jo ki tumse lagav hota hai unse thodi der ka hi hota hai aapne pura din unke aage peeche nahi de sakte lehsun se aapka lagav hota hai aap unke aaspass reh sakte hai lekin aap unke liye kisi aur ke aaspass na rahi hai zaroori nahi abhi kahin par aap sanjay ko jata hai jab aap kisi se pyar karte hai toh aap unke aas paas hi rehna pasand karte hai toh yah defence ragavar pyar mein

मेरे सबसे अंतर बहुत बहुत ही कम है और वह अंतर है कि जो हमसे आपको प्यार करते हैं उनके बारे म

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  181
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
प्यार के बीच में ; की तरह और प्यार के बीच का अंतर ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!