क्या 2019 तक श्री राम मंदिर बनना चाहिए?...


play
user

साकेत कुमार

Senior Software Developer

2:00

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए के दो पहलू हैं पहलाद धार्मिक प्रदूषण राजनीतिक मैं राजनीति में जाना नहीं चाहता मैं धार्मिकता पर बात करना चाहता हूं मुझे मंदिर वही चाहिए आपको अच्छा लगे आपको अच्छा ना लगे मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता आपने बहुत संख्या को के धार्मिक स्वाभिमान का बहुत परीक्षा ले लिया और आपको भी पता कि जब आप ज्यादा परीक्षा लेते हैं तो क्या होता है आप चाहते हैं कि वहां पर मंदिर इसलिए ना बने कि दंगे हो जाएंगे मैं कहता हूं कि तुम क्यों हो जाएंगे किसको इस बात से समस्या है कि हम प्रभु राम के जन्म स्थान पर एक मंदिर बनाते हैं और उनकी समस्या है किस के मन में गंदगी है मेरे मन में तो गंदगी नहीं है राम का जन्म स्थान है और मैं तो मंदिर बना लूंगा वहां पर आपको समस्या क्यों है किस बात की समस्या है अगर आप की मस्जिद कहां पर थी भी तो किसी खास से कभी तो थी नहीं और यह बात तो साबित की मंदिर तोड़कर बनाई गई थी इतना को दुख इस बात का है और यह और जो लोग यह बोलते हैं कि आप अस्पताल बना लो स्कूल बना लो मैं कहता हूं भैया एक काम करो अपने घर का प्लांट दे दो उसके ऊपर हम बना लेंगे क्योंकि राम मंदिर इस देश की अस्मिता और देश की इज्जत का सवाल है सिर्फ दुनिया को दिखाने के लिए कि हम धर्मनिरपेक्ष हैं हम गुलामी के हम तो को संभाल कर रखें यह मुझे नहीं जाता वह जो मस्जिद थी जो मंदिर को तोड़कर बनाई गई थी वह एक अच्छे हृदय से नहीं बनाई गई थी वैसे कलम को को मैं सम्मान नहीं कर सकता सिंपल सी बात

dekhie ke do pahaloo hain pahalad dharmik pradushan raajnitik main rajneeti mein jana nahi chahta main dharmikata par baat karna chahta hoon mujhe mandir wahi chahiye aapko accha lage aapko accha na lage mujhe koi fark nahi padta aapne bahut sankhya ko ke dharmik swabhiman ka bahut pariksha le liya aur aapko bhi pata ki jab aap zyada pariksha lete hain toh kya hota hai aap chahte hain ki wahan par mandir isliye na bane ki dange ho jaenge main kahata hoon ki tum kyon ho jaenge kisko is baat se samasya hai ki hum prabhu ram ke janam sthan par ek mandir banate hain aur unki samasya hai kis ke man mein gandagi hai mere man mein toh gandagi nahi hai ram ka janam sthan hai aur main toh mandir bana lunga wahan par aapko samasya kyon hai kis baat ki samasya hai agar aap ki masjid kahaan par thi bhi toh kisi khas se kabhi toh thi nahi aur yeh baat toh saabit ki mandir todkar banai gayi thi itna ko dukh is baat ka hai aur yeh aur jo log yeh bolte hain ki aap aspatal bana lo school bana lo main kahata hoon bhaiya ek kaam karo apne ghar ka plant de do uske upar hum bana lenge kyonki ram mandir is desh ki asmita aur desh ki izzat ka sawal hai sirf duniya ko dikhane ke liye ki hum dharmanirapeksh hain hum gulami ke hum toh ko sambhaal kar rakhen yeh mujhe nahi jata wah jo masjid thi jo mandir ko todkar banai gayi thi wah ek acche hriday se nahi banai gayi thi waise kalam ko ko main sammaan nahi kar sakta simple si baat

देखिए के दो पहलू हैं पहलाद धार्मिक प्रदूषण राजनीतिक मैं राजनीति में जाना नहीं चाहता मैं धा

Romanized Version
Likes  63  Dislikes    views  932
WhatsApp_icon
19 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Awdhesh Singh

Former IRS, Top Quora Writer, IAS Educator

0:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए मैं इस बात की बिल्कुल समर्थन में नहीं हूं कि राम मंदिर को बनाना ही चाहिए राम मंदिर जो है अगर बनाया जाए और उससे जो है इस देश की जो हमारी जो धर्मनिरपेक्ष छवि है उसका हमेशा कृपा इस करना पड़े तो मैं समझता हूं कि यह बहुत ही गलत बात होगी मैं समझता हूं कि हमें जो है वह सुप्रीम कोर्ट के जजमेंट का इंतजार करना चाहिए और सुप्रीम कोर्ट की जो जजमेंट हो उसी के हिसाब से अगर वहां पर मंदिर बन सकता है तो मंदिर बनाना चाहिए क्योंकि मैं इस बात की संभावना बहुत कम देखता हूं कि दोनों धर्मों के जो आचार्य हैं या गुरु है या मौलवी साहब बैठ करके इस समस्या का समाधान निकाल पाएंगे और एक कौंसिल जबलपुर कर पाएंगे राम मंदिर बनाने के लिए एक ही विकल्प बचता है कि हम सुप्रीम कोर्ट का जजमेंट का इंतजार कर उसके बाद ही मैं वहां पर मंदिर बनाएं

dekhie main is baat ki bilkul samarthan mein nahi hoon ki ram mandir ko banana hi chahiye ram mandir jo hai agar banaya jaye aur usse jo hai is desh ki jo hamari jo dharmanirapeksh chawi hai uska hamesha kripa is karna pade to main samajhata hoon ki yeh bahut hi galat baat hogi main samajhata hoon ki hume jo hai wah supreme court ke judgement ka intejar karna chahiye aur supreme court ki jo judgement ho ussi ke hisab se agar wahan par mandir ban sakta hai to mandir banana chahiye kyonki main is baat ki sambhavna bahut kum dekhta hoon ki dono dharmon ke jo acharya hain ya guru hai ya molvi sahab baith karke is samasya ka samadhan nikal paenge aur ek council jabalpur kar paenge ram mandir banane ke liye ek hi vikalp bachta hai ki hum supreme court ka judgement ka intejar kar uske baad hi main wahan par mandir banaye

देखिए मैं इस बात की बिल्कुल समर्थन में नहीं हूं कि राम मंदिर को बनाना ही चाहिए राम मंदिर ज

Romanized Version
Likes  36  Dislikes    views  1050
WhatsApp_icon
user

Chandraprakash Joshi

Ex-AGM RBI & CEO@ixamBee.com

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पहली चीज में यह कहना चाहूंगा कि मंदिर बनाने का अर्थ क्या होता है मंदिर में आने का प्रपोज होता है हम भगवान को पूजते हैं मंदिर में एक बात यह है कि अयोध्या में अगर जिस जगह पर राम मंदिर बनाने की बात है तो वहां पर अपने से क्या हमको राम मिलेंगे हमारे सारे ग्रंथ और दुनिया के सारे धार्मिक ग्रंथ में हर जगह है किस बात की तो दोस्तों बात यह है कि मुद्दा केवल राजनीति का है वहां जो भी हुआ उसमें कितना सही है कितना गलत है अगर हम उस पर आज चर्चा को पीछे छोड़ दें और हम आगे देखें कि हम राम को कहीं भी पा सकते हैं हम बिना मंदिर बनाए भी भगवान को पूछ सकते हैं और भगवान को पा सकते हैं कण-कण में है राम तो हमें मंदिर बनाने की कोई जरूरत नहीं है मंदिर बनाने के चक्कर में कुछ दंगे फसाद ही होंगे और कुछ हजारों करोड रुपए का नुकसान हो जाएगा अच्छा होगा कि उस पैसे का इस्तेमाल करके हम अच्छे स्कूल बना ले हम अच्छे हॉस्पिटल्स बना लें हम लाखों लोगों को कुछ सुविधाएं दे पाए गए हम रोड बना ले हम मंदिर और मूर्तियां बना कर क्या हासिल कर रहे हैं लोगों के वोट और आम आदमी इस चीज में हमेशा बहुत ज्यादा पार्टिसिपेट करता है इस मुद्दों को ज्यादा समझना चाहता है बजाय इसके कि पैसे का सही इस्तेमाल कहां होना चाहिए तो मंदिर बनाने की आवश्यकता है और न मंदिर बनना चाहिए कि मंदिर तो हमारे अंदर है हमारे घर घर में मंदिर है हमारे देश में मंदिरों की कोई कमी नहीं है

pehli cheez mein yeh kehna chahunga ki mandir banane ka arth kya hota hai mandir mein aane ka propose hota hai hum bhagwan ko pujte hain mandir mein ek baat yeh hai ki ayodhya mein agar jis jagah par ram mandir banane ki baat hai toh wahan par apne se kya hamko ram milenge hamare saare granth aur duniya ke saare dharmik granth mein har jagah hai kis baat ki toh doston baat yeh hai ki mudda keval rajneeti ka hai wahan jo bhi hua usmein kitna sahi hai kitna galat hai agar hum us par aaj charcha ko peeche chhod dein aur hum aage dekhen ki hum ram ko kahin bhi pa sakte hain hum bina mandir banaye bhi bhagwan ko poochh sakte hain aur bhagwan ko pa sakte hain kan kan mein hai ram toh humein mandir banane ki koi zaroorat nahi hai mandir banane ke chakkar mein kuch dange fasad hi honge aur kuch hazaron crore rupaye ka nuksan ho jayega accha hoga ki us paise ka istemal karke hum acche school bana le hum acche hospitals bana lein hum laakhon logon ko kuch suvidhayen de paye gaye hum road bana le hum mandir aur murtiya bana kar kya hasil kar rahe hain logon ke vote aur aam aadmi is cheez mein hamesha bahut zyada participate karta hai is muddon ko zyada samajhna chahta hai bajay iske ki paise ka sahi istemal kahaan hona chahiye toh mandir banane ki avashyakta hai aur na mandir banana chahiye ki mandir toh hamare andar hai hamare ghar ghar mein mandir hai hamare desh mein mandiro ki koi kami nahi hai

पहली चीज में यह कहना चाहूंगा कि मंदिर बनाने का अर्थ क्या होता है मंदिर में आने का प्रपोज ह

Romanized Version
Likes  85  Dislikes    views  1596
WhatsApp_icon
user

Vimla Bidawatka

Spiritual Thinker

1:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप का सवाल है कि 2019 तक श्री राम मंदिर बनना चाहिए तुम मेरे ख्याल से राम मंदिर से जरूरी देश में और बहुत सी समस्याएं हैं उनका हल होना चाहिए मंदिर बनना कोई जरूरी नहीं है मंदिर और मस्जिद दोनों बनाकर क्या होगा तो सबसे जरूरी है कि जो बहुत ज्यादा समस्याएं हैं पढ़ाई की यूनिवर्सिटी की मेडिकल की हॉस्पिटल वगैरह नहीं है अच्छे यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर नहीं है यह सब समस्याएं किसानों की समस्याएं हैं यह हल होना चाहिए मंदिर कोई बनना जरूरी नहीं है मंदिर बनने से किसका फायदा होगा अगर जिनको सच्ची भक्ति है वह तो घर में ही घर ही मंदिर है उनके लिए वहां मंदिर बनना कोई जरूरी नहीं है तो यह तो एक पॉलिटिकल यीशु बनना चाहिए नहीं बनना चाहिए भावनाएं भड़काने का काम है और कुछ नहीं है तो मंदिर से जरूरी बहुत सारी ऐसी समस्याएं हैं जिनके ऊपर हमारे प्रधानमंत्री जी देश में जो भी ऊंचे पद पर बैठे हैं उन्हें ध्यान देना बहुत जरूरी है जनता को भी ऐसे ही झूठे वादों पर की मंदिर बनाना है ऐसे सबसे ऊंचे उठकर कुछ काफी आगे सोचना चाहिए थैंक यू

aap ka sawal hai ki 2019 tak shri ram mandir banana chahiye tum mere khayal se ram mandir se zaroori desh mein aur bahut si samasyaen hain unka hal hona chahiye mandir banana koi zaroori nahi hai mandir aur masjid dono banakar kya hoga to sabse zaroori hai ki jo bahut jyada samasyaen hain padhai ki university ki medical ki hospital vagairah nahi hai acche university mein professor nahi hai yeh sab samasyaen kisano ki samasyaen hain yeh hal hona chahiye mandir koi banana zaroori nahi hai mandir banane se kiska fayda hoga agar jinako sachhi bhakti hai wah to ghar mein hi ghar hi mandir hai unke liye wahan mandir banana koi zaroori nahi hai to yeh to ek political yeshu banana chahiye nahi banana chahiye bhavanae bhadkaane ka kaam hai aur kuch nahi hai to mandir se zaroori bahut saree aisi samasyaen hain jinke upar hamare pradhanmantri ji desh mein jo bhi unche pad par baithey hain unhen dhyan dena bahut zaroori hai janta ko bhi aise hi jhuthe vaado par ki mandir banana hai aise sabse unche uthakar kuch kafi aage sochna chahiye thank you

आप का सवाल है कि 2019 तक श्री राम मंदिर बनना चाहिए तुम मेरे ख्याल से राम मंदिर से जरूरी दे

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  162
WhatsApp_icon
user
0:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

2019 तक राम मंदिर नहीं बनेगा क्योंकि इस साल राम जन्म भूमि का फैसला ही आया है

2019 tak ram mandir nahi banega kyonki is saal ram janam bhoomi ka faisla hi aaya hai

2019 तक राम मंदिर नहीं बनेगा क्योंकि इस साल राम जन्म भूमि का फैसला ही आया है

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  116
WhatsApp_icon
user

Ayush kumar dubey

Actor, Singer, Artist and C E O of (A S S G) Motiviational Speker Lover Of Nation INDIA

0:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो आई एम आयुष कुमार दुबे आपका प्रश्न है क्या 2019 तक राम मंदिर बनना चाहिए देखिए बनने का काम जारी है जल्दी मंदिर तैयार हो जाएगा जय हिंद जय श्री राम

hello I imei aayush kumar dubey aapka prashna hai kya 2019 tak ram mandir banna chahiye dekhiye banne ka kaam jaari hai jaldi mandir taiyar ho jaega jai hind jai shri ram

हेलो आई एम आयुष कुमार दुबे आपका प्रश्न है क्या 2019 तक राम मंदिर बनना चाहिए देखिए बनने का

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  197
WhatsApp_icon
user

MonuTiwari

Little Businessman And Motivational Teacher

0:31
Play

Likes  41  Dislikes    views  654
WhatsApp_icon
user
0:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इस सवाल के जवाब में मैं यही कहना चाहूंगा कि हमारे यहां बहुत ही प्रचलित मुहावरा है कि मैं की औकात नहीं हो राम की दुहाई तो जहां पर बनना चाहिए वहां पर तो उन्होंने कुछ किया नहीं अब चले श्रीनगर में और पाकिस्तान में मंदिर बनवाने और मैं आपको यकीन के साथ कहता हूं कि चुनाव तकलीफ पूरे देश में मंदिर मस्जिद ई में विदेशों में भी बनाएंगे वह चुनाव खत्म होने के बाद से फिर ढाक के तीन पात आपके सामने देखने को मिलेगा

is sawal ke jawab mein main yahi kehna chahunga ki hamare yahan bahut hi prachalit muhavara hai ki main ki aukat nahi ho ram ki duhai toh jahan par banana chahiye wahan par toh unhone kuch kiya nahi ab chale srinagar mein aur pakistan mein mandir banwane aur main aapko yakin ke saath kahata hoon ki chunav takleef poore desh mein mandir masjid ee mein videshon mein bhi banayenge wah chunav khatam hone ke baad se phir dhaak ke teen pat aapke saamne dekhne ko milega

इस सवाल के जवाब में मैं यही कहना चाहूंगा कि हमारे यहां बहुत ही प्रचलित मुहावरा है कि मैं क

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  344
WhatsApp_icon
user

Arpit Shukla

स्वयं मे डूबा | Entrepreneur

1:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए यूं ही प्रश्न है कि तू बहुत लंबे अरसे से चलना है क्या राम मंदिर बनना चाहिए और अगर हम अभी की सरकार जो भाजपा की है कृष की बात करें तो उसने अपने 2014 के अपने में नष्ट हुए कहा था कि मंदिर बना है पर इसकी संभावनाएं शायद अगर इसको हम एक एजुकेशन वाले पाठ में देखें तो संभावना साथ बात करने को कभी भी यह मामला सुप्रीम कोर्ट में अटका हुआ है और और दोनों पक्ष हिंदू मुस्लिम के बीच 2019 तक श्री राम मंदिर का पन्ना शायद मुश्किल ही लग रहा है लेकिन झज्जर से उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री जी योगी जी ने कहा कि राम मंदिर बनाने के लिए पूरा वह चाहते हैं लेकिन राम मंदिर में सभी समुदायों की सर्वसम्मति को बेहतर हुआ था कि हम अपने समाज में स्थापित कर सके और मंदिर मस्जिद बनाने का उद्देश्य समाज में देश में अष्टमी एक शांति की स्थापना कर सकें और अपने कार्यों को एकदम उद्देश्य होता है बनना चाहिए

dekhie yun hi prashna hai ki tu bahut lambe ARSHE se chalna hai kya ram mandir banana chahiye aur agar hum abhi ki sarkar jo bhajpa ki hai krish ki baat karein toh usne apne 2014 ke apne mein nasht hue kaha tha ki mandir bana hai par iski sambhavnayen shayad agar isko hum ek education wale path mein dekhen toh sambhavna saath baat karne ko kabhi bhi yeh maamla supreme court mein ataka hua hai aur aur dono paksh hindu muslim ke beech 2019 tak shri ram mandir ka panna shayad mushkil hi lag raha hai lekin jhajjar se uttar pradesh ke mukhyamantri ji yogi ji ne kaha ki ram mandir banane ke liye pura wah chahte hain lekin ram mandir mein sabhi samudayo ki sarwasammati ko behtar hua tha ki hum apne samaaj mein sthapit kar sake aur mandir masjid banane ka uddeshya samaaj mein desh mein ashtami ek shanti ki sthapana kar sakein aur apne kaaryon ko ekdam uddeshya hota hai banana chahiye

देखिए यूं ही प्रश्न है कि तू बहुत लंबे अरसे से चलना है क्या राम मंदिर बनना चाहिए और अगर हम

Romanized Version
Likes  25  Dislikes    views  562
WhatsApp_icon
user

Prakhar Srivastava

IAS Aspirant

1:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए अगर आप मुझसे यह प्रश्न पूछेंगे तो मैं यह कहूंगा कि बिल्कुल मंदिर बनना चाहिए लेकिन उसके बाद में दो-तीन बातें और कहूंगा कि मंदिर क्यों बनना चाहिए मंदिर इसलिए बनना चाहिए क्योंकि दुनिया भर में दो-तीन जगह है जो भी धार्मिक रूप से आस्था के रूप में मानी जाती हैं अन्य अन्य धर्मों की उन जगहों पर उनके धार्मिक स्थल स्थापित हैं और एग्जांपल सऊदी अरब में मक्का में जो मस्जिद है उनके मुस्लिमों के लिए है इसी तरह से ईसा मसीह का जहां जन्म माना जाता है वहां पर उनका तीर्थ स्थल है तो जब हिंदुओं की आस्था यह कह दिया में राम पैदा हुए थे तो वहां मंदिर बनना चाहिए तो इसलिए बनना चाहिए दूसरा इसलिए क्योंकि अगर मंदिर नहीं बनेगा तो यह राजनीति ऊंची राजनीति जो है कुछ दलों की मंदिरों में सिर की अपने अपने लिए वह चलती रहेगी और से देश का नुकसान है क्योंकि हनी मुद्दे हमारे सामने नहीं आ पाते अगर एक बार मंदिर बन जाएगा तो फिर मंदिर का जो मुद्दा है राजनीति में वह खत्म हो जाएगा और उसके बाद इन को साफ राजनीति के लिए मजबूर होना पड़ेगा जनता के मुद्दे पर बात करने के लिए मजबूर होना पड़ेगा और यही हमारे देश की मांग है यह लोगों की मांग है कि धार्मिक राजनीति का दौर खत्म हो और एक सामाजिक मुद्दों को लेकर की राजनीति हो जो देश में समस्या है उन पर बसे हो उन पर चर्चा और मन नीतियां बने और वह लागू की जाए तो मंदिर का मुद्दा मेरे हिसाब मेरे हिसाब से मंदिर का मुद्दा जल्द से जल्द खत्म होना चाहिए और इसलिए मन बहुत आवश्यक है

dekhie agar aap mujhse yeh prashna puchhenge toh main yeh kahunga ki bilkul mandir banana chahiye lekin uske baad mein do teen batein aur kahunga ki mandir kyon banana chahiye mandir isliye banana chahiye kyonki duniya bhar mein do teen jagah hai jo bhi dharmik roop se astha ke roop mein maani jati hain anya anya dharmon ki un jagahon par unke dharmik sthal sthapit hain aur example saudi arab mein makka mein jo masjid hai unke muslimo ke liye hai isi tarah se isa masih ka jahan janam mana jata hai wahan par unka tirth sthal hai toh jab hinduon ki astha yeh keh diya mein ram paida hue the toh wahan mandir banana chahiye toh isliye banana chahiye doosra isliye kyonki agar mandir nahi banega toh yeh rajneeti unchi rajneeti jo hai kuch dalon ki mandiro mein sir ki apne apne liye wah chalti rahegi aur se desh ka nuksan hai kyonki honey mudde hamare saamne nahi aa paate agar ek baar mandir ban jayega toh phir mandir ka jo mudda hai rajneeti mein wah khatam ho jayega aur uske baad in ko saaf rajneeti ke liye majboor hona padega janta ke mudde par baat karne ke liye majboor hona padega aur yahi hamare desh ki maang hai yeh logon ki maang hai ki dharmik rajneeti ka daur khatam ho aur ek samajik muddon ko lekar ki rajneeti ho jo desh mein samasya hai un par base ho un par charcha aur man nitiyan bane aur wah laagu ki jaye toh mandir ka mudda mere hisab mere hisab se mandir ka mudda jald se jald khatam hona chahiye aur isliye man bahut aavashyak hai

देखिए अगर आप मुझसे यह प्रश्न पूछेंगे तो मैं यह कहूंगा कि बिल्कुल मंदिर बनना चाहिए लेकिन उस

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  287
WhatsApp_icon
user

Gyaani Woman lekhika 📚👩

Lekhika Hoon Suchai Likhti Hoo

0:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या होगा मंदिर और मस्जिद बनाकर सबसे बड़ा सवाल तो यह है क्या होगा इतना पैसा हम मंदिर और मस्जिद में फेंकते हैं उसमें पैसे से हम गरीबों की मदद क्यों नहीं करते अगर हम चाहते हैं या फिर हम चाहे तो गरीबी मिटा सकते हैं लेकिन हम सब लोगों की सोच मंदिर बनेगा या मस्जिद बनेगा मैं तो चाहे कुछ भी ना बने कुछ भी नहीं मैंने तो कोई ऐसी चीज बनाई जा सके काम है जो गरीबी मिटा सके भूख मिटा सके नहीं है किसी के पास टाइम बस मंदिर बनना है मस्जिद बनना है कि भगवान ने कहा इस स्थान पर मेरा मंदिर जाने से भगवान को कोई प्रॉब्लम नहीं है तो हम क्यों बार-बार बीच में आ जाते हैं यह क्यों होते को लेकर कि मंदिर बनेगा या मस्जिद बनेगा यही तो सबसे बड़ी कमी है कि हमारा देश आगे होकर भी आगे नहीं है

kya hoga mandir aur masjid banakar sabse bada sawal to yeh hai kya hoga itna paisa hum mandir aur masjid mein phenkate hain usamen paise se hum garibon ki madad kyun nahi karte agar hum chahte hain ya phir hum chahe to garibi mita sakte hain lekin hum sab logon ki soch mandir banega ya masjid banega main to chahe kuch bhi na bane kuch bhi nahi maine to koi aisi cheez banai ja sake kaam hai jo garibi mita sake bhukh mita sake nahi hai kisi ke paas time bus mandir banana hai masjid banana hai ki bhagwan ne kaha is sthan par mera mandir jaane se bhagwan ko koi problem nahi hai to hum kyun baar baar beech mein aa jaate hain yeh kyun hote ko lekar ki mandir banega ya masjid banega yahi to sabse badi kami hai ki hamara desh aage hokar bhi aage nahi hai

क्या होगा मंदिर और मस्जिद बनाकर सबसे बड़ा सवाल तो यह है क्या होगा इतना पैसा हम मंदिर और म

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  115
WhatsApp_icon
user

Praveen keer

Businessman

0:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां राम मंदिर बनना तो चाहिए पर सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार बनना चाहिए ना कि उनके आदेशों का उल्लंघन करते हुए बनाएगा मेरे हिसाब से 2019 तक राम मंदिर बनेगा राम मंदिर बनने में भी कुछ समय और लगेगा मुझे बनता है विवादों से जुड़ा हुआ है इसलिए इसमें कुछ टाइम लगेगा

haan ram mandir banana toh chahiye par supreme court ke aadesh ke anusaar banana chahiye na ki unke aadesho ka ullanghan karte hue bnayega mere hisab se 2019 tak ram mandir banega ram mandir banne mein bhi kuch samay aur lagega mujhe banta hai vivadon se juda hua hai isliye ismein kuch time lagega

हां राम मंदिर बनना तो चाहिए पर सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार बनना चाहिए ना कि उनके आदेशो

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  364
WhatsApp_icon
user

madhukar

आध्यात्मिक एव करियर

0:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

डीजे राम मंदिर वाला जो आप इस सवाल पूछा 2019 में श्री राम मंदिर बनना चाहिए कि मैं तो यह कहना चाहूंगा की आस्था का विषय है मंदिर तो आज से कई साल पहले बन जाना चाहिए था पर किसी की आस्था के लिए दूसरे की आस्था को बात करना भी वह सही नहीं है जहां तक मुझे लगता है यह समझौते से अगर बने तो ज्यादा अच्छा कोर्ट कचहरी में आज तक मुझे लगता कि दिल से किसी का हल निकलता है पर मैं अपनी न्यायालयों का भी सम्मान करता हूं और मैं चाहूंगा कि वह दोनों की भावनाओं को देखते हुए हिंदू और मुस्लिम पक्ष की भावना को देखते हुए दोनों ही बनाएं या फिर कोई ऐसा हल निकालें जिससे कि किसी की भावना को आहत ना हो तो राम मंदिर बनना चाहिए

DJ ram mandir vala jo aap is sawal puchha 2019 mein shri ram mandir banana chahiye ki main toh yeh kehna chahunga ki astha ka vishay hai mandir toh aaj se kai saal pehle ban jana chahiye tha par kisi ki astha ke liye dusre ki astha ko baat karna bhi wah sahi nahi hai jahan tak mujhe lagta hai yeh samjhaute se agar bane toh zyada accha court kachahari mein aaj tak mujhe lagta ki dil se kisi ka hal nikalta hai par main apni nyayalayon ka bhi sammaan karta hoon aur main chahunga ki wah dono ki bhavnao ko dekhte hue hindu aur muslim paksh ki bhavna ko dekhte hue dono hi banaye ya phir koi aisa hal nikalein jisse ki kisi ki bhavna ko aahat na ho toh ram mandir banana chahiye

डीजे राम मंदिर वाला जो आप इस सवाल पूछा 2019 में श्री राम मंदिर बनना चाहिए कि मैं तो यह कहन

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  323
WhatsApp_icon
user

Abdul Khalid Khan (Raj)

Actormodelmotivationalspeaker

1:57
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए सबसे पहले तो मैं यह कहूंगा कि आपका सवाल बहुत ही अच्छा है के 2019 तक श्री राम मंदिर का निर्माण हो जाना चाहिए या है लेकिन मैं इसके किस कहूंगा के 2019 तो क्या 2019 तक ना मंदिर वहां पर बनना चाहिए और ना ही मस्जिद वहां पर बननी चाहिए इसका रीजन यह है कि आज हमारे हिंदुस्तान को ना मंदिर की जरूरत है ना मस्जिद की जरूरत है हमारे हिंदुस्तान को जरूरत है तो सिर्फ एक ही स्कूल कॉलेज और यूनिवर्सिटी की जरूरत है आज हिंदुस्तान के पीछे देखा जाता है आज जो हिंदुस्तान में जो इस तरह की चीजें देखी जा रही है आए दिन दंगे हो रहे हैं तो उसका रिटर्न सिर्फ यही है कि हिंदुस्तान 10 जो होते ना छुट्टियों की तरह धर्मों के पीछे लगा पड़ा जो चीज धर्मों में नहीं है वह चीज फॉलो कर रहा है बस इन्हीं चीजों में अपना टाइम वेस्ट कर रहा है यह बहन के गाली नहीं देना चाहता है बेटी सॉरी बट में इतना कहूंगा कि राजनीति में मत जाओ खाली 21 को देखो क्या इंसानियत क्या चीज है सबसे बड़ा धर्म इंसान का है इंसानियत है बस हम नहीं चला रहे धर्मों के लोगों ने धंधा खोल रखे नहीं तो किसी भी धर्म में इस तरह की चीजें नहीं लिखे हुए किसी भी धर्म की किताब में यह नहीं लिखा हुआ है किसी का दिल दुखा है या किसी को मारे किसी को काट हैं किसी की बहन बेटी के साथ खिलवाड़ करें तुम मैं सिर्फ इतना कहूंगा कि ना हमें मंदिर की जरूरत है ना मस्जिद की हमें जरूरत है एक ऐसी चीज की जिससे पूरा हिंदुस्तान लाभ उठाएं

dekhie sabse pehle toh main yeh kahunga ki aapka sawal bahut hi accha hai ke 2019 tak shri ram mandir ka nirmaan ho jana chahiye ya hai lekin main iske kis kahunga ke 2019 toh kya 2019 tak na mandir wahan par banana chahiye aur na hi masjid wahan par banani chahiye iska reason yeh hai ki aaj hamare Hindustan ko na mandir ki zaroorat hai na masjid ki zaroorat hai hamare Hindustan ko zaroorat hai toh sirf ek hi school college aur university ki zaroorat hai aaj Hindustan ke peeche dekha jata hai aaj jo Hindustan mein jo is tarah ki cheezen dekhi ja rahi hai aaye din dange ho rahe hain toh uska return sirf yahi hai ki Hindustan 10 jo hote na chhuttiyon ki tarah dharmon ke peeche laga pada jo cheez dharmon mein nahi hai wah cheez follow kar raha hai bus inhin chijon mein apna time west kar raha hai yeh behen ke gaali nahi dena chahta hai beti sorry but mein itna kahunga ki rajneeti mein mat jao khaali 21 ko dekho kya insaniyat kya cheez hai sabse bada dharam insaan ka hai insaniyat hai bus hum nahi chala rahe dharmon ke logon ne dhandha khol rakhe nahi toh kisi bhi dharam mein is tarah ki cheezen nahi likhe hue kisi bhi dharam ki kitab mein yeh nahi likha hua hai kisi ka dil dukha hai ya kisi ko maare kisi ko kaat hain kisi ki behen beti ke saath khilwad karein tum main sirf itna kahunga ki na humein mandir ki zaroorat hai na masjid ki humein zaroorat hai ek aisi cheez ki jisse pura Hindustan labh uthaen

देखिए सबसे पहले तो मैं यह कहूंगा कि आपका सवाल बहुत ही अच्छा है के 2019 तक श्री राम मंदिर क

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  313
WhatsApp_icon
user

Manish Singh

VOLUNTEER

0:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए राम मंदिर एक बार चुनाव फिर से अगर हो जाएंगे तो यह राम मंदिर का जो है फिर या फिर खत्म हो जाएगा यह सब रस नाराज होते हैं वह वोट पाने के लिए होते हैं वहां पर कभी भी राम मंदिर बन ही नहीं सकता क्योंकि पहले से वहां मस्जिद है और कोर्ट ने ऑर्डर पास किया है कि वह मस्जिद की और मंदिर की दोनों की संगीन है कब बनेगा तो साथ में ही दोनों बनेगा कुछ एक तोड़कर कभी भी माता मंदिर नहीं बना सकता ना ही की मस्जिद बनाया जा सकता है तो दोनों ही साथ में बनेगा वरना कुछ नहीं बनेगा यह सब जो वोट पाने के तरीके हैं सरकार के

dekhie ram mandir ek baar chunav phir se agar ho jaenge to yeh ram mandir ka jo hai phir ya phir khatam ho jayega yeh sab ras naaraj hote hain wah vote pane ke liye hote hain wahan par kabhi bhi ram mandir ban hi nahi sakta kyonki pehle se wahan masjid hai aur court ne order paas kiya hai ki wah masjid ki aur mandir ki dono ki sangeen hai kab banega to saath mein hi dono banega kuch ek todkar kabhi bhi mata mandir nahi bana sakta na hi ki masjid banaya ja sakta hai to dono hi saath mein banega varana kuch nahi banega yeh sab jo vote pane ke tarike hain sarkar ke

देखिए राम मंदिर एक बार चुनाव फिर से अगर हो जाएंगे तो यह राम मंदिर का जो है फिर या फिर खत्म

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  168
WhatsApp_icon
user

kapil Mali

Journlist

1:09
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

2019 तक श्री राम मंदिर बनना चाहिए या नहीं यह व्यक्तिगत आस्था का सवाल है कई लोग चाहते हैं कि वहां राम मंदिर बने वहीं कई लोग मस्जिद बनाने के पक्ष में भी है वहीं कुछ लोग ऐसे भी हैं जो वहां उस पूजा अस्पताल बनाना चाहते हैं जहां सख्त राजनीति की बात की जाए तो भाजपा को कांग्रेस दोनों ने ही इस मुद्दे पर अभी कुछ करने से मना कर दिया है दोनों पार्टियों का कहना है कि इस मुद्दे का फैसला सुप्रीम कोर्ट में हो जाएगा Don जहां तक कांग्रेस का सवाल है उसका कहना है सुप्रीम कोर्ट का जो भी फैसला होगा वह उसे मान्य होगा वही भाजपा का कहना है कि वह राम मंदिर जरूर बनाएगी सुप्रीम कोर्ट का फैसला राम मंदिर के पक्ष में ही आएगा या भाजपा का कहना है कि

2019 tak shri ram mandir banana chahiye ya nahi yeh vyaktigat aastha ka sawal hai kai log chahte hain ki wahan ram mandir bane wahin kai log masjid banane ke paksh mein bhi hai wahin kuch log aise bhi hain jo wahan us puja aspatal banana chahte hain jahan sakht rajneeti ki baat ki jaye to bhajpa ko congress dono ne hi is mudde par abhi kuch karne se mana kar diya hai dono partiyon ka kehna hai ki is mudde ka faisla supreme court mein ho jayega Don jahan tak congress ka sawal hai uska kehna hai supreme court ka jo bhi faisla hoga wah use manya hoga wahi bhajpa ka kehna hai ki wah ram mandir jarur banaegi supreme court ka faisla ram mandir ke paksh mein hi aayega ya bhajpa ka kehna hai ki

2019 तक श्री राम मंदिर बनना चाहिए या नहीं यह व्यक्तिगत आस्था का सवाल है कई लोग चाहते हैं क

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  181
WhatsApp_icon
user

Vatsal

Engineering Student

0:53
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यहां तक राम मंदिर के बनने के लिए तो निश्चित तौर पर राम मंदिर जल्द से जल्द बनना चाहिए लेकिन वहीं दूसरी तरफ राम मंदिर के बाद हमेशा एक राजनीति का विषय रहा है वोट हासिल करने का जरिया रहा है जब चुनाव आते हैं राम मंदिर का मुद्दा उछाल देते हैं और धर्म के नाम पर इमोशंस के नाम पर वोट हासिल करने की प्रक्रिया शुरू हो जाती है चुनाव का स्थिति और बिगड़ेगी और ज्यादा सब भाषणबाजी चलेगी हालांकि सुप्रीम कोर्ट के अंदर ही मुद्दा है और BJP ने वोट हासिल किए थे यह तय करती हो कि हम राम मंदिर बनाएंगे जल्द से जल्द लेकिन 5 साल हो चुके हैं अभी कुछ कार्यवाही नहीं हुई है तो केवल वोट के लिए इस मुद्दे को उछाला जाता है अन्यथा वह तो यही चाहते हैं यह मुद्दा ऐसी कैसी बना रहे हैं विराम मंदिर ना बने जिससे की हर चुनाव में मुद्दा उठा ले भावनाओं के संग खेले वोटिंग खत्म हो जाएगा आने वाले चुनावों के

yahan tak ram mandir ke banane ke liye to nishchit taur par ram mandir jald se jald banana chahiye lekin wahin dusri taraf ram mandir ke baad hamesha ek rajneeti ka vishay raha hai vote hasil karne ka jariya raha hai jab chunav aate hain ram mandir ka mudda uchal dete hain aur dharm ke naam par emotional ke naam par vote hasil karne ki prakriya shuru ho jati hai chunav ka sthiti aur bigdegi aur jyada sab bhashanabaji chalegi halanki supreme court ke andar hi mudda hai aur BJP ne vote hasil kiye the yeh tay karti ho ki hum ram mandir banayenge jald se jald lekin 5 saal ho chuke hain abhi kuch karyavahi nahi hui hai to kewal vote ke liye is mudde ko uchala jata hai anyatha wah to yahi chahte hain yeh mudda aisi kaisi bana rahe hain viram mandir na bane jisse ki har chunav mein mudda utha le bhavnao ke sang khele voting khatam ho jayega aane wale chunavon ke

यहां तक राम मंदिर के बनने के लिए तो निश्चित तौर पर राम मंदिर जल्द से जल्द बनना चाहिए लेकिन

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  227
WhatsApp_icon
user

Pragati

Aspiring Lawyer

1:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

2019 तक राम मंदिर बनना चाहिए नहीं बनना चाहिए यह हम आप लोग नहीं डिसाइड कर सकते हो ना ही हम बता सकते हैं क्योंकि देखें और बेशक BJP इस बात को कह रही है कि आप अगर आप उनको वोट देंगे उनका समर्थन करेंगे तो वह आपको राम मंदिर बनवा कर देंगी और कई हिंदू लोग इस बात को सच भी मान रहे हैं उनका समर्थन भी कर रहे हैं इसी वजह से कि bjp राम मंदिर बनवाएगी लेकिन यह बात बिल्कुल भी सच नहीं है कि आप अगर बीजेपी को वोट दिया जाएगा तो राम मंदिर बनवाएंगे क्योंकि राम मंदिर का फैसला जो है वह सुप्रीम कोर्ट द्वारा सुनाया जाएगा और पूरी तरह से उसका अब मुझे पैसा होगा वह सुप्रीम कोर्ट लेगा और उसमें किसी भी तरह का हस्तक्षेप बीजेपी या फिर किसी और पार्टी का नहीं रहेगा हां यह बात जरूर है कि यह लोग दबाव बना सकते हैं सुप्रीम कोर्ट पर क्या अपने फेवर में कैसे सुनाए लेकिन ना सुप्रीम कोर्ट फैसला सुनाएगा गुड इवनिंग और लॉजिकल बेसिस पर होगा और कॉन्स्टिट्यूशन के हिसाब से होगा तो सुप्रीम कोर्ट मुझे नहीं लगता कि गलत फैसला किसी भी तरह से सुनाएगा तो यह जो राम मंदिर बनना चाहिए या नहीं बनना चाहिए या फिर इसमें क्या होगा क्या नहीं होगा इस चीज का हक सिर्फ और सिर्फ सुप्रीम कोर्ट के पास है और फैसला भी सुप्रीम कोर्ट ही सुनाएगा तो हमें सिर्फ सुप्रीम कोर्ट के फैसले का इंतजार करना चाहिए और किसी भी पॉलिटिकल पार्टी के किसी भी इबादत में नहीं पड़ना चाहिए कि अगर वह कह रहे हैं कि राम मंदिर वह बनवाएंगे तो वह नहीं बनवा सकते हैं क्योंकि बेशक को सत्ता में है लेकिन ना जोक्स जुडिशरी की पावर है वह कोई भी सत्ता में रह रही सरकार उसे अपने अंदर नहीं कर सकती क्योंकि जुडिशरी कलर को अलग ऑर्गन होता है गवर्नमेंट का और वह किसी भी लेजिस्लेटिव के नीचे नहीं आता है उसको अपना फैसला सुनाने का और शेयर काम करने का पूरा पूरा हक होता है

2019 tak ram mandir banana chahiye nahi banana chahiye yeh hum aap log nahi decide kar sakte ho na hi hum bata sakte hain kyonki dekhen aur beshak BJP is baat ko keh rahi hai ki aap agar aap unko vote denge unka samarthan karenge to wah aapko ram mandir banwa kar dengi aur kai hindu log is baat ko sach bhi maan rahe hain unka samarthan bhi kar rahe hain isi wajah se ki bjp ram mandir banavaegi lekin yeh baat bilkul bhi sach nahi hai ki aap agar bjp ko vote diya jayega to ram mandir banavaenge kyonki ram mandir ka faisla jo hai wah supreme court dwara sunaya jayega aur puri tarah se uska ab mujhe paisa hoga wah supreme court lega aur usamen kisi bhi tarah ka hastakshep bjp ya phir kisi aur party ka nahi rahega haan yeh baat jarur hai ki yeh log dabaav bana sakte hain supreme court par kya apne favor mein kaise sunaye lekin na supreme court faisla sunaega good evening aur logical basis par hoga aur Constitution ke hisab se hoga to supreme court mujhe nahi lagta ki galat faisla kisi bhi tarah se sunaega to yeh jo ram mandir banana chahiye ya nahi banana chahiye ya phir isme kya hoga kya nahi hoga is cheez ka haq sirf aur sirf supreme court ke paas hai aur faisla bhi supreme court hi sunaega to hume sirf supreme court ke faisle ka intejar karna chahiye aur kisi bhi political party ke kisi bhi ibadat mein nahi padhna chahiye ki agar wah keh rahe hain ki ram mandir wah banavaenge to wah nahi banwa sakte hain kyonki beshak ko satta mein hai lekin na jokes judiciary ki power hai wah koi bhi satta mein rah rahi sarkar use apne andar nahi kar sakti kyonki judiciary color ko alag organ hota hai government ka aur wah kisi bhi legislative ke neeche nahi aata hai usko apna faisla sunaane ka aur share kaam karne ka pura pura haq hota hai

2019 तक राम मंदिर बनना चाहिए नहीं बनना चाहिए यह हम आप लोग नहीं डिसाइड कर सकते हो ना ही हम

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  269
WhatsApp_icon
user

Bhaskar Saurabh

Politics Follower | Engineer

1:57
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

2014 के लोकसभा चुनाव में नरेंद्र मोदी ने भारत की जनता से खासतौर से हिंदू धर्म मानने वाले लोगों से यह वादा किया था कि अगर भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनती है तो अयोध्या में राम मंदिर अवश्य बनवाएंगे लेकिन अभी यह मामला सुप्रीम कोर्ट में पेंडिंग पड़ा है और इस पर नतीजा आने की उम्मीद सभी लोग लगाए बैठे हैं मुस्लिमों को भी उम्मीद है कि फैसला उनके पक्ष में आए और हिंदुओं को यह लगता है कि सुप्रीम कोर्ट यह डिसीजन दे दे कि अयोध्या में राम जन्मभूमि है और वहां पर मंदिर का निर्माण करवाया जाए लेकिन 2019 के पहले मुझे नहीं लगता कि तू प्रेम कोर्ट अपना फैसला सुनाएगी क्योंकि अगर फैसला हिंदुओं के पक्ष में आता है तुलसी भारतीय जनता पार्टी को बहुत ज्यादा फायदा होने की उम्मीद है क्योंकि भारतीय जनता पार्टी का जो वोट बैंक है वह मुख्य तौर से हिंदुओं पर आधारित है क्योंकि BJP RSS की एक ऐसी संस्था मानी जाती है जो पॉलिटिक्स करती है यानी कि rss का ही एक विंग है भारतीय जनता पार्टी और RSS कट्टर हिंदूवादी संगठन है तो इस स्थिति में भारतीय जनता पार्टी को अतिरिक्त लाभ मिल सकता है और सुप्रीम कोर्ट इस चीज को भली भांति समझते हुए मुझे नहीं लगता कि लोकसभा चुनाव के पहले इस केस का डिसीजन सुनाएगी और मुझे यह भी लगता है कि यह सारी चीजें सही है कि सुप्रीम कोर्ट इस मुद्दे को अभी ऐसे ही पेंडिंग रखे रहें और जब लोकसभा चुनाव के नतीजे आ जाएं उसके बाद ही इस विषय में फैसला सुनाया जाए ताकि किसी भी तरह का दूसरी पार्टियों के साथ भेदभाव ना हो सके चाहे फैसला किसी भी पक्ष के खाते में क्यों न गिरे लेकिन मुझे लगता है कि 2019 तक इसमें फैसला नहीं आना चाहिए और राम मंदिर बनना चाहिए या फिर नहीं बनना चाहिए यह तो कोर्ट का डिसीजन ही बताएगा

2014 ke lok sabha chunav mein narendra modi ne bharat ki janta se khaastaur se hindu dharm manane wale logon se yeh vada kiya tha ki agar bhartiya janta party ki sarkar banti hai to ayodhya mein ram mandir avashya banavaenge lekin abhi yeh maamla supreme court mein pending pada hai aur is par natija aane ki ummid sabhi log lagaye baithey hain muslimo ko bhi ummid hai ki faisla unke paksh mein aaye aur hinduon ko yeh lagta hai ki supreme court yeh decision de de ki ayodhya mein ram janmbhoomi hai aur wahan par mandir ka nirman karvaya jaye lekin 2019 ke pehle mujhe nahi lagta ki tu prem court apna faisla sunaaegee kyonki agar faisla hinduon ke paksh mein aata hai tulsi bhartiya janta party ko bahut jyada fayda hone ki ummid hai kyonki bhartiya janta party ka jo vote bank hai wah mukhya taur se hinduon par aadharit hai kyonki BJP RSS ki ek aisi sanstha maani jati hai jo politics karti hai yani ki rss ka hi ek wing hai bhartiya janta party aur RSS kattar hinduvadi sangathan hai to is sthiti mein bhartiya janta party ko atirikt labh mil sakta hai aur supreme court is cheez ko bhali bhanti samajhte hue mujhe nahi lagta ki lok sabha chunav ke pehle is case ka decision sunaaegee aur mujhe yeh bhi lagta hai ki yeh saree cheezen sahi hai ki supreme court is mudde ko abhi aise hi pending rakhe rahen aur jab lok sabha chunav ke natheeje aa jayen uske baad hi is vishay mein faisla sunaya jaye taki kisi bhi tarah ka dusri partiyon ke saath bhedbhav na ho sake chahe faisla kisi bhi paksh ke khate mein kyun n gire lekin mujhe lagta hai ki 2019 tak isme faisla nahi aana chahiye aur ram mandir banana chahiye ya phir nahi banana chahiye yeh to court ka decision hi batayega

2014 के लोकसभा चुनाव में नरेंद्र मोदी ने भारत की जनता से खासतौर से हिंदू धर्म मानने वाले ल

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  291
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
राम मंदिर क्यों बनना चाहिए ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!