क्या इंडिया ही एक ऐसा कंट्री है जहां जाति धर्म के इलेक्शन होते है?...


play
user

Rahul Bharat

राजनैतिक विश्लेषक

1:59

Likes  88  Dislikes    views  3127
WhatsApp_icon
8 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Awdhesh Singh

Former IRS, Top Quora Writer, IAS Educator

1:11
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं यह कहना तो बड़ा मुश्किल है जो केवल भारत के अंदर ही जो है वह जाति और धर्म का इस्तेमाल होता है मैं समझता हूं कि कहीं ना कहीं तो है वह धर्म का इस्तेमाल सारे देशों में होता है और अलग-अलग जो देश में है उन्हें बुद्धि अलग-अलग होते हैं लेकिन इस तरीके के जो जाति से रिलेटेड यार इससे रिलेटेड जो होते हैं वह मुद्दे तो हर जगह हावी रहता है जैसे कि अगर आप अमेरिका की बात करें तो अमेरिका में जाति का मुद्दा हो सकता नहीं हो लेकिन वहां पर जो रियल जो चुराते हैं जैसे ब्लैक वर्सेस वाइट या फिर एशियन या फिर आपके जो हैं वह इंडियन क्रिकेट से रिलेटेड जो चीज है वह भी रहते हैं और बहुत ही ज्यादा करते हैं उन लोगों को डिवाइड कर देते हैं अलग-अलग पार्ट में और उस तरीके से वह एक धड को अपनी तरफ खींचने हैं तो इसलिए जो डिवाइड एंड रूल की पॉलिसी है यह पूरे विश्व में होती है लेकिन भारत में कुछ ज्यादा पर अनु मालूम कितनी जातियां हैं न मालूम कितने धर्म है और इस वजह से लोगों को डिवाइड करना आसान है और लोग पढ़े-लिखे नहीं है इसलिए आसानी से इन पॉलिटिशंस के चक्कर में भी आ जाते हैं

main yeh kehna to bada mushkil hai jo kewal bharat ke andar hi jo hai wah jati aur dharm ka istemal hota hai main samajhata hoon ki kahin na kahin to hai wah dharm ka istemal sare deshon mein hota hai aur alag alag jo desh mein hai unhen buddhi alag alag hote hain lekin is tarike ke jo jati se related yaar isse related jo hote hain wah mudde to har jagah havi rehta hai jaise ki agar aap america ki baat karen to america mein jati ka mudda ho sakta nahi ho lekin wahan par jo real jo churaate hain jaise black vs white ya phir asian ya phir aapke jo hain wah indian cricket se related jo cheez hai wah bhi rehte hain aur bahut hi jyada karte hain un logon ko divide kar dete hain alag alag part mein aur us tarike se wah ek dhad ko apni taraf kheenchne hain to isliye jo divide end rule ki policy hai yeh poore vishwa mein hoti hai lekin bharat mein kuch jyada par anu maloom kitni jatiyaan hain n maloom kitne dharm hai aur is wajah se logon ko divide karna aasan hai aur log padhe likhe nahi hai isliye aasani se in politicians ke chakkar mein bhi aa jaate hain

मैं यह कहना तो बड़ा मुश्किल है जो केवल भारत के अंदर ही जो है वह जाति और धर्म का इस्तेमाल ह

Romanized Version
Likes  38  Dislikes    views  1911
WhatsApp_icon
user

Vivek Shukla

Life coach

0:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नितिन में तो पूरी तरह से नहीं कह सकता कि इंडिया ही एकमात्र ऐसा देश है कि कि और भी देश है जहां पर के जात धर्म है लेकिन सबसे ज्यादा यह भ्रष्टाचार जातिवाद इंडिया में ही पाया जाता है कि इंडिया की सबसे ज्यादा प्रॉब्लम यूपी सबसे बड़ी समस्या यह भी है एक जातिवाद क्योंकि जहां पर दंगे या फिर धर्म के नाम पर दंगे जाट के नाम पर दंगे हमेशा होते रहते हैं इससे गृह युद्ध का खतरा हमेशा बना रहता है फिर समाज हमेशा आतंकित रहता कि कब किस जात के लोग या फिर किस धर्म के लोग आतंकित हो जाएं और एक दूसरे को काटमार करने में दिक्कत में हूं सकता कि फिर बिंदिया के विकास में बहुत ही ज्यादा औरत है वैसे और भी देश है यह नहीं कह सकता लेकिन जहां तक सबसे ज्यादा भारत ही ऐसा सौ परसेंट इससे ग्रसित है या फिर यह समझ ले कि भारत की एक बहुत ही कुरूप की तरह ग्रहण गाए जा रहा है जिसके लिए सुधार यूपी जनता को जागरुक होने की बहुत ही आवश्यकता है वो के बाद फ्रेंड

nitin mein toh puri tarah se nahi keh sakta ki india hi ekmatra aisa desh hai ki ki aur bhi desh hai jahan par ke jaat dharam hai lekin sabse zyada yeh bhrashtachar jaatiwad india mein hi paya jata hai ki india ki sabse zyada problem up sabse badi samasya yeh bhi hai ek jaatiwad kyonki jahan par dange ya phir dharam ke naam par dange jaat ke naam par dange hamesha hote rehte hain isse grah yudh ka khatra hamesha bana rehta hai phir samaaj hamesha atankit rehta ki kab kis jaat ke log ya phir kis dharam ke log atankit ho jayen aur ek dusre ko katmar karne mein dikkat mein hoon sakta ki phir bindiya ke vikas mein bahut hi zyada aurat hai waise aur bhi desh hai yeh nahi keh sakta lekin jahan tak sabse zyada bharat hi aisa sau percent isse grasit hai ya phir yeh samajh le ki bharat ki ek bahut hi kurup ki tarah grahan gaay ja raha hai jiske liye sudhaar up janta ko jagaruk hone ki bahut hi avashyakta hai vo ke baad friend

नितिन में तो पूरी तरह से नहीं कह सकता कि इंडिया ही एकमात्र ऐसा देश है कि कि और भी देश है ज

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  13
WhatsApp_icon
user

Vikas Singh

Political Analyst

1:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप का सवाल है क्या इंडिया यह कैसा कंट्री है जहां जाति धर्म के इलेक्शन होते हैं मैं आपको बताना चाहता हूं ऐसा बिल्कुल नहीं है बहुत सारी कंट्री में जाति धर्म के आधार पर इलेक्शन होता है क्योंकि जो दूसरे देशों से जो दूसरे देशों में जाते हैं वहां पर जॉब करते हैं 1 दिन ऐसा आता है कि उनको वहां की नागरिकता प्राप्त होती है और एक ऐसा इलाका होता है जहां पर दूसरे देश के लोग वहां पर बस जाते हैं तो वहां पर वोट बैंक की राजनीति के लिए वहां पर उस जाति की राजनीति की जाती है तो सभी धर्मों में ऐसा होता है हमारा देश हिंदुस्तान ही एक ऐसा देश है दुनिया में जो विभिन्न नेताओं से भरा हुआ है यहां पर बहुत सारे धर्म के लोग रहते हैं यही एक ऐसा देश है जहां 8 किलोमीटर के अंतराल पर आवाज की टोन बदलती है आशा बदलती है मिंस टोन बदलती है उसकी तो उसके बाद भी यहां के हिंदू हिंदू पूरे समाज के लोगों को साथ लेकर चलते हैं उनको प्रेम देते हैं उनको इसने देते हैं देखिए मुस्लिम सिख ईसाई हिंदू सभी लोग मिलकर रहते हैं क्योंकि हिंदुत्व का मतलब यह होता है इट्स द वे ऑफ लाइफ हिंदुत्व का मतलब होता है सब को मिलाकर चलना सबको जोड़ कर चलना हिंदुत्व कभी तोड़ने का कार्य नहीं करता है हिंदुत्व कोई एक कोई एक संप्रदाय नहीं है हिंदुत्व का मतलब होता है सभी लोगों को मिला जुला कर अच्छे से प्रेम की भावना से आगे बढ़ना तो आइए हम सभी लोग मिलजुल कर कार्य करें अपना महत्वपूर्ण वोट भारतीय जनता पार्टी को दें ताकि देश तरक्की कर सके हमारा हिंदुस्तान तरक्की कर सके धन्यवाद

aap ka sawal hai kya india yeh kaisa country hai jahan jati dharam ke election hote hain main aapko batana chahta hoon aisa bilkul nahi hai bahut saree country mein jati dharam ke aadhaar par election hota hai kyonki jo dusre deshon se jo dusre deshon mein jaate hain wahan par job karte hain 1 din aisa aata hai ki unko wahan ki nagarikta prapt hoti hai aur ek aisa ilaka hota hai jahan par dusre desh ke log wahan par bus jaate hain toh wahan par vote bank ki rajneeti ke liye wahan par us jati ki rajneeti ki jati hai toh sabhi dharmon mein aisa hota hai hamara desh Hindustan hi ek aisa desh hai duniya mein jo vibhinn netaon se bhara hua hai yahan par bahut saare dharam ke log rehte hain yahi ek aisa desh hai jahan 8 kilometre ke antaral par awaaz ki ton badalti hai asha badalti hai vitamins ton badalti hai uski toh uske baad bhi yahan ke hindu hindu poore samaaj ke logon ko saath lekar chalte hain unko prem dete hain unko isne dete hain dekhie muslim sikh isai hindu sabhi log milkar rehte hain kyonki hindutva ka matlab yeh hota hai its the ve of life hindutva ka matlab hota hai sab ko milakar chalna sabko jod kar chalna hindutva kabhi todne ka karya nahi karta hai hindutva koi ek koi ek sampraday nahi hai hindutva ka matlab hota hai sabhi logon ko mila " होममोबाईल ऐप्सएनआरसी असम दूसरी सूची ऑनलाइन चेक अंतिम ड्राफ्ट असमिया kar acche se prem ki bhavna se aage badhana toh aaiye hum sabhi log miljul kar karya karein apna mahatvapurna vote bharatiya janta party ko dein taki desh tarakki kar sake hamara Hindustan tarakki kar sake dhanyavad

आप का सवाल है क्या इंडिया यह कैसा कंट्री है जहां जाति धर्म के इलेक्शन होते हैं मैं आपको बत

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  434
WhatsApp_icon
user

Mehmood Alum

Law Student

0:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखने में तो ऐसा ही लग रहा है कि हमारे देश में जाति और धर्म की राजनीति कुछ ज्यादा ही हावी हो रही है हमारे देश में इलेक्शन के समय धर्म आधारित मुद्दों की बाढ़ आ जाती है और उसी आधार पर इलेक्शन लड़े और जीते जाते हैं यह हमारे देश में बहुत समय से चल रहा है और यह लगातार बढ़ता ही जा रहा है जो कि बेहद चिंता का बात है

dekhne mein toh aisa hi lag raha hai ki hamare desh mein jati aur dharam ki raajneeti kuch zyada hi haavi ho rahi hai hamare desh mein election ke samay dharam aadharit muddon ki baadh aa jaati hai aur usi aadhaar par election lade aur jeete jaate hain yah hamare desh mein bahut samay se chal raha hai aur yah lagatar badhta hi ja raha hai jo ki behad chinta ka baat hai

देखने में तो ऐसा ही लग रहा है कि हमारे देश में जाति और धर्म की राजनीति कुछ ज्यादा ही हावी

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इंडिया ही एक ऐसा देश है जहां पर जाति के नाम से वोट जाने जाते हैं ना कि उसकी गुणवत्ता देखी जाती है

india hi ek aisa desh hai jahan par jati ke naam se vote jaane jaate hain na ki uski gunavatta dekhi jati hai

इंडिया ही एक ऐसा देश है जहां पर जाति के नाम से वोट जाने जाते हैं ना कि उसकी गुणवत्ता देखी

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  21
WhatsApp_icon
user

Khan zai

Business

0:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अब तो एक ही थोड़ा चल रहा है लोग जातिवादी के नाम पर वोट मांग रहे हैं और लोग इसी बगिया पर ही वह डाल रहे हैं

ab toh ek hi thoda chal raha hai log jativadi ke naam par vote maang rahe hain aur log isi BAGIYA par hi vaah daal rahe hain

अब तो एक ही थोड़ा चल रहा है लोग जातिवादी के नाम पर वोट मांग रहे हैं और लोग इसी बगिया पर ही

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  1
WhatsApp_icon
play
user

Prince Gupta

Founder@DeoriaTimes.com

0:00

Likes  20  Dislikes    views  463
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!