UPSC से सम्बंधित किताबें बताइए?...


user

Nita Nayyar

Writer ,Motivational Speaker, Social Worker n Counseller.

0:43
Play

Likes  91  Dislikes    views  1481
WhatsApp_icon
5 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Dr. P. N. Jha

TOPPERS IAS app. Sr.Facuty, IAS Coaching.

3:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यूपीएससी से संबंधित किताबों की जानकारी को लेकर इसके लिए सामान्य अध्ययन के पेपर होता है जो प्रारंभिक परीक्षा और मुख्य परीक्षा से संबंधित होते हैं उसके लिए आप सबसे पहले तो एक काम करिएगा कि जो एनसीईआरटी होती है छठी से लेकर 12वीं तक की एनसीईआरटी सबसे पहले खत्म कर ध्यान रखेगा एनसीईआरटी इसको पंचवर्षीय योजना बनाकर मत पढ़िए गा सारी की सारी एनसीईआरटी आपकी मैक्सिमम एक से डेढ़ महीने के अंदर में कंप्लीट हो जानी चाहिए अगर आप ज्यादा समय लेते हैं तो फिर वह वेस्टेज ऑफ टाइम पूरी हो जाती है तब उसके बाद विषय की किताब उठाकर पढ़ना प्रारंभ करें जैसे अंदर में राज्य व्यवस्था को लेकर लक्ष्मीकांत की बुक आती है कची आप उसको पढ़िए फिर उसके बाद 19 मिक्स के अंदर में जो अर्थव्यवस्था है उसका निर्णय रमेश सिंह की किताब आती है आप उसको पढ़ सकते हैं भूगोल में खुलल की किताब आती है आप उसको देख सकते हैं और कई सारे और विषय है जिसको आप एक बार थोड़ा सा गूगल भी करेंगे तो भी आपको कई किताबों के नाम जो होंगे वह पता चल जाएंगे केंद्र में क्रॉनिकल वालों की किताब आती है आप उसको पढ़िए और जो प्रश्न आते हैं आपके सामान्य अध्ययन में वह समकालीन विषयों से जुड़कर ज्यादा तो जो किताबें हैं उनसे आप एक फंडामेंटल कॉन्सेप्ट जो होता है वह तो आप शेयर कर सकते हैं लेकिन जो समकालीन चीजें होती हैं या जो कंटेंपरेरी टॉपिक्स होते हैं जिसमें अधिकांश क्वेश्चन जो आते हैं उनके लिए आपको अच्छे न्यूज़पेपर जो होगा या उसकी समरी आजकल इंटरनेट पर मिल जाती हैं आप उसको फॉलो करिए तो मेरा सब यही है कि आप ज्यादा से ज्यादा एनसीईआरटी पर फोकस करिए और कुछ बेसिक किताबें जो होती हैं आप उनको खरीद लीजिए उसके बाद हर चीज को करंट अफेयर के साथ कनेक्ट करके पढ़ने का प्रयास करें अपना सिलेबस सामने रखी जो भी सामान्य अध्यन का प्रारंभिक परीक्षा का और मुख्य परीक्षा का आपस का सिलेबस सामने रखी है और हर टॉपिक से रिलेटेड आप मैक्सिमम मुख्य परीक्षा के लिए मैं बता रहा हूं आपकी जो भी कोई टॉपिक है सबसे पहले उसके अर्थ को समझिए और फिर उसके बाद प्रत्येक टॉपिक पर हद से हद दो पन्ने कायत्रॉस बना लीजिए क्योंकि आप ध्यान रखिएगा आप का सामान्य अध्ययन के अंदर में जो प्रश्न आते हैं वह डेढ़ सौ शब्द के उत्तर लिख की मांग पर होते हैं ढाई सौ शब्द की मांगते होते हैं इसलिए आपको नोट सुशील स्तर के बनाने हैं ताकि आप एग्जाम में उसको लिख सकते तो हर एक टॉपिक को आप पढ़िए और हर टॉपिक से संबंधित डेढ़ डेढ़ से दो पन्ने का अपना नोट्स बना लीजिए और जो भी उस टॉपिक से संबंधित समकालीन मुद्दे होते हैं या जिनको समकालीन विषयों के साथ जोड़ा जा सकता है उसके साथ अपने नोट्स बनाते चलिए किताबें जरूर पढ़िए किताबों से अच्छा ज्ञान मिलता है लेकिन ध्यान रखेगा किताबें एग्जाम के टाइम में रिवाइज नहीं हो पाती आपके अपने नोट्स ही होते हैं इसलिए आप कम से कम शुरुआत के 1 + भेजना कल एनसीआरटी पढ़िए फिर उसके बाद एक बेसिक बेसिक किताबें उठा कर आप अपने नोट्स बनाने पर आराम करिए सिलेबस को सामने रखते हुए प्रीवियस ईयर क्वेश्चन जो उनको सामने रखते हैं फिर उसके बाद जो भी समकालीन विषय होते हैं उनको अपने नोट्स के अंदर में ऐड करते चलिए अब दिखेगा क्षेत्र 7 महीने के अंदर में ही आपके सिलेबस कोई पकड़ बन जाएगी आपको पर विगत वर्षों के प्रश्न भी समझ में आने लगेंगे और साथ ही साथ आपको खुद पर भी कॉन्फिडेंस आने लगेगा

upsc se sambandhit kitabon ki jaankari ko lekar iske liye samanya adhyayan ke paper hota hai jo prarambhik pariksha aur mukhya pariksha se sambandhit hote hain uske liye aap sabse pehle toh ek kaam kariega ki jo ncert hoti hai chathi se lekar vi tak ki ncert sabse pehle khatam kar dhyan rakhega ncert isko panchvarshiya yojana banakar mat padhiye jaayega saree ki saree ncert aapki maximum ek se dedh mahine ke andar mein complete ho jani chahiye agar aap zyada samay lete hain toh phir vaah wastage of time puri ho jaati hai tab uske baad vishay ki kitab uthaakar padhna prarambh kare jaise andar mein rajya vyavastha ko lekar lakshmikant ki book aati hai kachi aap usko padhiye phir uske baad 19 mix ke andar mein jo arthavyavastha hai uska nirnay ramesh Singh ki kitab aati hai aap usko padh sakte hain bhugol mein khulal ki kitab aati hai aap usko dekh sakte hain aur kai saare aur vishay hai jisko aap ek baar thoda sa google bhi karenge toh bhi aapko kai kitabon ke naam jo honge vaah pata chal jaenge kendra mein chronicle walon ki kitab aati hai aap usko padhiye aur jo prashna aate hain aapke samanya adhyayan mein vaah samkalin vishyon se judakar zyada toh jo kitaben hain unse aap ek fundamental concept jo hota hai vaah toh aap share kar sakte hain lekin jo samkalin cheezen hoti hain ya jo contemporary topics hote hain jisme adhikaansh question jo aate hain unke liye aapko acche Newspaper jo hoga ya uski summary aajkal internet par mil jaati hain aap usko follow kariye toh mera sab yahi hai ki aap zyada se zyada ncert par focus kariye aur kuch basic kitaben jo hoti hain aap unko kharid lijiye uske baad har cheez ko current affair ke saath connect karke padhne ka prayas kare apna syllabus saamne rakhi jo bhi samanya adhyan ka prarambhik pariksha ka aur mukhya pariksha ka aapas ka syllabus saamne rakhi hai aur har topic se related aap maximum mukhya pariksha ke liye main bata raha hoon aapki jo bhi koi topic hai sabse pehle uske arth ko samjhiye aur phir uske baad pratyek topic par had se had do panne kayatras bana lijiye kyonki aap dhyan rakhiega aap ka samanya adhyayan ke andar mein jo prashna aate hain vaah dedh sau shabd ke uttar likh ki maang par hote hain dhai sau shabd ki mangate hote hain isliye aapko note sushil sthar ke banane hain taki aap exam mein usko likh sakte toh har ek topic ko aap padhiye aur har topic se sambandhit dedh dedh se do panne ka apna notes bana lijiye aur jo bhi us topic se sambandhit samkalin mudde hote hain ya jinako samkalin vishyon ke saath joda ja sakta hai uske saath apne notes banate chaliye kitaben zaroor padhiye kitabon se accha gyaan milta hai lekin dhyan rakhega kitaben exam ke time mein revise nahi ho pati aapke apne notes hi hote hain isliye aap kam se kam shuruat ke 1 bhejna kal ncert padhiye phir uske baad ek basic basic kitaben utha kar aap apne notes banane par aaram kariye syllabus ko saamne rakhte hue previous year question jo unko saamne rakhte hain phir uske baad jo bhi samkalin vishay hote hain unko apne notes ke andar mein aid karte chaliye ab dikhega kshetra 7 mahine ke andar mein hi aapke syllabus koi pakad ban jayegi aapko par vigat varshon ke prashna bhi samajh mein aane lagenge aur saath hi saath aapko khud par bhi confidence aane lagega

यूपीएससी से संबंधित किताबों की जानकारी को लेकर इसके लिए सामान्य अध्ययन के पेपर होता है जो

Romanized Version
Likes  176  Dislikes    views  1664
WhatsApp_icon
user
0:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत की राज्य व्यवस्था आधुनिक भारत का इतिहास भूगोल एक समग्र अध्ययन सामान्य धन भारतीय अर्थव्यवस्था जीव विज्ञान विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी भारतीय इतिहास सामान्य ज्ञान सामान्य विज्ञान कला एवं संस्कृति सत्य निष्ठा अग्रेजी अनैतिकता पारिस्थितिकी एवं पर्यावरण एवं प्रौद्योगिकी भारतीय अर्थव्यवस्था का विकास मिश्र क्लास के कुछ विषय विश्व इतिहास आंतरिक सुरक्षा अंतरराष्ट्रीय संबंध करंट अफेयर

bharat ki rajya vyavastha aadhunik bharat ka itihas bhugol ek samagra adhyayan samanya dhan bharatiya arthavyavastha jeev vigyan vigyan evam praudyogiki bharatiya itihas samanya gyaan samanya vigyan kala evam sanskriti satya nishtha angreji anaitikta paristhitikee evam paryavaran evam praudyogiki bharatiya arthavyavastha ka vikas mishra class ke kuch vishay vishwa itihas aantarik suraksha antararashtriya sambandh current affair

भारत की राज्य व्यवस्था आधुनिक भारत का इतिहास भूगोल एक समग्र अध्ययन सामान्य धन भारतीय अर्थव

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  63
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यूपीएससी के लिए कला और संस्कृति के लिए नितिन सिंघानिया पॉलिटी के लिए एम लक्ष्मीकांत की बुक और अर्थव्यवस्था के लिए रमेश सिंह की और इनके लिए तो यह बुक अच्छी और बाकी

upsc ke liye kala aur sanskriti ke liye nitin singhaniya Polity ke liye M lakshmikant ki book aur arthavyavastha ke liye ramesh Singh ki aur inke liye toh yah book achi aur baki

यूपीएससी के लिए कला और संस्कृति के लिए नितिन सिंघानिया पॉलिटी के लिए एम लक्ष्मीकांत की बुक

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  115
WhatsApp_icon
user

Sunil

Teacher

0:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यदि आपको यूपीएससी की तैयारी करनी है तो आप किसी अच्छे वर्कशॉप से यूपीएससी की रहे सारी किताबें की खरीद सकते हैं इसके लिए आप करण किरण पब्लिकेशंस की किताबें खरीद सकते हैं और दूसरे पब्लिकेशन है उनकी किताबें खरीद सकते हैं

yadi aapko upsc ki taiyari karni hai toh aap kisi acche workshop se upsc ki rahe saree kitaben ki kharid sakte hain iske liye aap karan kiran pablikeshans ki kitaben kharid sakte hain aur dusre publication hai unki kitaben kharid sakte hain

यदि आपको यूपीएससी की तैयारी करनी है तो आप किसी अच्छे वर्कशॉप से यूपीएससी की रहे सारी किताब

Romanized Version
Likes  35  Dislikes    views  650
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!