प्यार करके नाम को पछतावा क्यों होता है?...


user

Nikhil Ranjan

HoD - NIELIT

0:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न प्यार करके नाम को पछतावा क्यों होता है तो देखे कई बार आप प्यार में पढ़ते हैं और प्यार के बाद आप अपने रिसेशन में चोटी के बढ़ते हैं चोर भी करता है और वहां पर कई बार इससे किसी चीज में आती है कि आपको लगता है कि आपने जो डिसीजन लिया है वह गलत हो गया है या आपके अपने पार्टनर से बन नहीं रही है तो वहां पर आपको कुछ आता कई बार पछतावा भी होता है मैं शुभकामनाएं आपके साथ हैं धन्यवाद

aapka prashna pyar karke naam ko pachtava kyon hota hai toh dekhe kai baar aap pyar mein padhte hain aur pyar ke baad aap apne resation mein choti ke badhte hain chor bhi karta hai aur wahan par kai baar isse kisi cheez mein aati hai ki aapko lagta hai ki aapne jo decision liya hai vaah galat ho gaya hai ya aapke apne partner se ban nahi rahi hai toh wahan par aapko kuch aata kai baar pachtava bhi hota hai subhkamnaayain aapke saath hain dhanyavad

आपका प्रश्न प्यार करके नाम को पछतावा क्यों होता है तो देखे कई बार आप प्यार में पढ़ते हैं औ

Romanized Version
Likes  636  Dislikes    views  3982
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दोस्तों आपका क्वेश्चन है प्यार के नाम को पछताते क्यों है लेकर दोस्तों कोई भी आदमी प्यार विश्वास कर ले गई यकीन कर लेते हैं फिर वह हमारे यकीन को तोड़ देता है या हमसे झूठ बोलकर कुछ हमारे फायदा के लिए वह कुछ करता है या कुछ पाने के लिए कुछ और हम सबका भरोसा तोड़ देता है तुम्हें पता होता है गुस्सा आता है किस पर यकीन किया इसलिए मैं बहुत पछतावा होता है

doston aapka question hai pyar ke naam ko pachtate kyon hai lekar doston koi bhi aadmi pyar vishwas kar le gayi yakin kar lete hain phir vaah hamare yakin ko tod deta hai ya humse jhuth bolkar kuch hamare fayda ke liye vaah kuch karta hai ya kuch paane ke liye kuch aur hum sabka bharosa tod deta hai tumhe pata hota hai gussa aata hai kis par yakin kiya isliye main bahut pachtava hota hai

दोस्तों आपका क्वेश्चन है प्यार के नाम को पछताते क्यों है लेकर दोस्तों कोई भी आदमी प्यार वि

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  95
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्यार करके पछतावा क्यों होता है प्यार करके पछतावा इसलिए पहले उसी को तो तुमने हासिल कर ली है उसके साथ मौज मस्ती किए सेक्स की है उसके साथ बाद मुझे बाल बच्चे पैदा हो उसके जीवन में हर एक की सब को बुलाना आपके पास मनु 5 सदस्य हैं बाल बच्चे हुए उनकी सब की परवरिश की जिम्मेदारी आपके ऊपर हो जाती है पूरा खर्चा अंतिम करिए इसलिए आप दुखी है जैसे कि मैं लेकिन कभी हिम्मत नहीं आ नीचे आना बजे मेरे पास जब तक है सांसों में जब तक हम उनकी फरवरी करेंगे इस दुनिया में भेजा है जिसको उसकी चिंता उसको है हम करते हैं प्यार अच्छी बात है हमने तो कभी प्यार ही नहीं किया ना मैं तो मेरे पास कोई गर्लफ्रेंड है ना बहुत है मैं अकेला जीता हूं शान से शान से रहता हूं ऐसी जिंदगी है मैं शादीशुदा हूं यह मेरी इच्छा होती मैं घर चला जाता हूं बाकी किसी के साथ हो काम नहीं करता हूं और इच्छा भी होती है तो क्या करूं कोई राजी नहीं है किसको बगरू में क्या मुझे जेल जाना है ऐसा काम मैं करता ही नहीं करूंगा क्योंकि मुझे मेरे परिवार का मेरे ऊपर बोझ है अगर कुछ हो जाएगा मुझे उनकी देखभाल कम करें उनको परवरिश के लिए इतना सारा खर्चा है वह कौन उठाया था इसलिए मैं ऐसा काम नहीं करूंगा तुझे प्यार करे या ना करे मेरे पास पैसे नहीं किसी को मिटाने के आने के लिए दोस्ती करनी है मेरे से जो शरीर से मैं वह कर सकता हूं बाकी मैं किसी और क्या मदद करूंगा मेरे पास कुछ नहीं है जो तुम्हारे पास तो मेरे पास है

pyar karke pachtava kyon hota hai pyar karke pachtava isliye pehle usi ko toh tumne hasil kar li hai uske saath mauj masti kiye sex ki hai uske saath baad mujhe baal bacche paida ho uske jeevan mein har ek ki sab ko bulana aapke paas manu 5 sadasya hain baal bacche hue unki sab ki parvarish ki jimmedari aapke upar ho jaati hai pura kharcha antim kariye isliye aap dukhi hai jaise ki main lekin kabhi himmat nahi aa niche aana baje mere paas jab tak hai shanson mein jab tak hum unki february karenge is duniya mein bheja hai jisko uski chinta usko hai hum karte hain pyar achi baat hai humne toh kabhi pyar hi nahi kiya na main toh mere paas koi girlfriend hai na bahut hai akela jita hoon shan se shan se rehta hoon aisi zindagi hai shaadishuda hoon yah meri iccha hoti main ghar chala jata hoon baki kisi ke saath ho kaam nahi karta hoon aur iccha bhi hoti hai toh kya karu koi raji nahi hai kisko bagaroo mein kya mujhe jail jana hai aisa kaam main karta hi nahi karunga kyonki mujhe mere parivar ka mere upar bojh hai agar kuch ho jaega mujhe unki dekhbhal kam kare unko parvarish ke liye itna saara kharcha hai vaah kaun uthaya tha isliye main aisa kaam nahi karunga tujhe pyar kare ya na kare mere paas paise nahi kisi ko mitne ke aane ke liye dosti karni hai mere se jo sharir se main vaah kar sakta hoon baki main kisi aur kya madad karunga mere paas kuch nahi hai jo tumhare paas toh mere paas hai

प्यार करके पछतावा क्यों होता है प्यार करके पछतावा इसलिए पहले उसी को तो तुमने हासिल कर ली ह

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  126
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!