मोदी और योगी मुस्लिम हिन्दू का मुद्दा उठाकर क्या साबित करना चाहते हैं?...


user

Bhaskar Saurabh

Politics Follower | Engineer

1:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नरेंद्र मोदी और योगी आदित्यनाथ दोनों ही भारतीय जनता पार्टी के नेता हैं और भारतीय जनता पार्टी शुरू से ही हिंदुत्व की राजनीति करती आई है कई बार हमने देखा है कि योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश के अलग-अलग सरकारी विभागों के दफ्तरों को भगवा रंग से रंगने की कोशिश की है और बहुत सारे ऑफिस इसको तो उन्होंने रंग भी दिया है तो उनकी यही कोशिश रहती है कि हिंदू धर्म के लोगों को अपनी पार्टी की ओर आकर्षित करें ताकि हिंदू वोट बैंक उनकी पक्ष में आ सकें यह सभी को पता है कि हमारे देश में हिंदू सबसे ज्यादा संख्या में हैं यानी कि बहुसंख्यक हिंदू हैं और वह यही कोशिश कर रहे हैं नरेंद्र मोदी और योगी आदित्यनाथ या फिर भारतीय जनता पार्टी के अन्य नेता की हिंदू वोट बैंक को पूरी तरह से भारतीय जनता पार्टी के पक्ष में कर लिया जाए इसके अलावा जब उन्हें ऐसा लगने लगता है कि किसी क्षेत्र में मुस्लिम समुदाय ज्यादा संख्या में हैं तो वह फिर मुस्लिमों की बात करने लग भारतीय जनता पार्टी मुस्लिमों की हक की लड़ाई लड़ती है और बाकी पार्टी ऐसा नहीं करती तो यह सब दिखाता है कि नरेंद्र मोदी योगी आदित्यनाथ या फिर भारतीय जनता पार्टी के अलग-अलग जो नेता हैं वह हिंदू और मुस्लिम धर्म के लोगों को आपस में बांट रहे हैं और धर्म की राजनीति से भी बाज नहीं आते हैं तो इस तरह की राजनीति बिल्कुल गलत है और किसी भी नेता को या फिर किसी भी पार्टी को इस तरह से धर्म की राजनीति नहीं करनी चाहिए और लोगों को यह सारी चीजें समझ कर ही सही लीडर को वोट करना चाहिए

narendra modi aur yogi adityanath dono hi bharatiya janta party ke neta hain aur bharatiya janta party shuru se hi hindutv ki raajneeti karti I hai kai baar humne dekha hai ki yogi adityanath ne uttar pradesh ke alag alag sarkari vibhagon ke daftaron ko bhagva rang se rangane ki koshish ki hai aur bahut saare office isko toh unhone rang bhi diya hai toh unki yahi koshish rehti hai ki hindu dharm ke logo ko apni party ki aur aakarshit kare taki hindu vote bank unki paksh mein aa sake yah sabhi ko pata hai ki hamare desh mein hindu sabse zyada sankhya mein hain yani ki bahusankhyak hindu hain aur vaah yahi koshish kar rahe hain narendra modi aur yogi adityanath ya phir bharatiya janta party ke anya neta ki hindu vote bank ko puri tarah se bharatiya janta party ke paksh mein kar liya jaaye iske alava jab unhe aisa lagne lagta hai ki kisi kshetra mein muslim samuday zyada sankhya mein hain toh vaah phir muslimo ki baat karne lag bharatiya janta party muslimo ki haq ki ladai ladati hai aur baki party aisa nahi karti toh yah sab dikhaata hai ki narendra modi yogi adityanath ya phir bharatiya janta party ke alag alag jo neta hain vaah hindu aur muslim dharm ke logo ko aapas mein baant rahe hain aur dharm ki raajneeti se bhi baaj nahi aate hain toh is tarah ki raajneeti bilkul galat hai aur kisi bhi neta ko ya phir kisi bhi party ko is tarah se dharm ki raajneeti nahi karni chahiye aur logo ko yah saree cheezen samajh kar hi sahi leader ko vote karna chahiye

नरेंद्र मोदी और योगी आदित्यनाथ दोनों ही भारतीय जनता पार्टी के नेता हैं और भारतीय जनता पार्

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  111
KooApp_icon
WhatsApp_icon
5 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!