प्राणायाम करने के फ़ायदे?...


user
4:25
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हरि ओम नमस्कार क्या आपने प्राणायाम करने के फायदे प्राणायाम के फायदे से पहले हम उसके अर्थ को समझना होगा प्राणायाम अगर हम कसम दीक्षित करते हैं तो प्राण जमा आयाम प्राणायाम प्राणायाम करने वाला शुक्रिया प्राण का विस्तार करने वाला प्राण पर हमारा नियंत्रण और उसको हम अपने हिसाब से विस्तारित रूप में अपने शरीर में उसको प्राणायाम कहा जाता है क्योंकि प्राणायाम जब भी हम करते हैं तो उसका हमारे जीवन पर बहुत ही ज्यादा प्रभाव पड़ता सबसे ज्यादा प्रभात तुम्हारा पड़ता है जी सकता द बेनिफिट हम भी मिलता है वह हमारे मन को मिलता है क्योंकि मन ही एक ऐसा कारक है जो हमारे शरीर को चुना था हमारी बुद्धि तुम पर यदि हम लगाम लगाते हैं तो हमारे पूरा शरीर एक कंट्रोल में आ जाता है हमारा मन दुखी मन एक ऐसा कारक है जो कभी भी एक जगह नहीं हो सकता वह हर मिनट में चेंज होता रहता है तुम मन पर हमारे यदि हमें लगानी लगानी है तुम्हें प्राणायाम का अभ्यास करना अत्यावश्यक फायदा इसका प्राणायाम करें कि जब भी हम प्राणायाम का अभ्यास करते हैं तो एक तो हम हमारी झुंड नियंत्रण सकती है अपने आप पर वह उतर जाती है साथ ही साथ दृढ़ इच्छाशक्ति पार है वह बहुत ही अच्छी हो जाती है कि हम यदि यह चाय तो हम उसको करने का संकल्प ले सकते क्योंकि हम हमारे प्राण शक्ति को हमारे संपूर्ण शरीर में बच्चे लिखकर वितरण करता है तो प्राणायाम का सबसे बड़ा फायदा यह है कि वह मरे साथ ही साथ वह आपके अंदर एक अलग ही ऊंचा को लेकर आता है कि आप किसी भी कार्य को पूर्ण रूप से सजग कर सकते हैं उतना ही मुश्किल और दूसरी बात कि यदि आप बहुत ही ज्यादा एक ऐसी स्थिति में है कि जिस से बाहर नहीं निकल पा रहे हैं बहुत मुश्किल प्राणायाम का अभ्यास करते हैं तो खुद ब खुद उन बुराइयों से उस स्थिति से आराम से निकल जाएंगे बिना की प्राणायाम इतनी ज्यादा प्रभाव कारी होते हमारे जीवन में उनका प्रभाव अति आवश्यक है और करना तो और भी आवश्यक है तो प्राणायाम का फायदा करने से पहले अध्यक्ष प्राणायाम के अभ्यास पर ध्यान देंगे तो थोड़ा सा तो खुद ब खुद महसूस करेंगे बचाए कहीं से जानने की फिर पूछ क्या करेंगे तो वह ज्यादा जानकारी नहीं है उसको करके आप देखिए किसी चीज करके नहीं देखेंगे अब तक नहीं कर सकते ऐसी ऐसी जीवनशैली है जिसे हम अपने जीवन में जब तक अपनाएंगे नहीं हमें उसका प्रभाव नहीं महसूस सकता चाहे वो किसी के पास नहीं करेंगे हमें उसका प्रभाव कभी महसूस ना करें और कैरियर मतलब उसको धैर्य से करना एक या 2 दिन की और फिर बस नहीं एक-दो दिन में प्राणायाम नहीं होता शालू साला को करना पड़ता है उसका निरंतर सेवा करते हैं तो आपको उसका प्रभाव में सोचता है यह तो है हम तो आपको बहुत ही ना मिलेगा जब आप आएंगे यही बोला है सुदेश निरंतर सतारा से तुरंत क्या आपका अभ्यास कितना अच्छा होगा आपको निरंतर उसका रिजल्ट मिलेगा और भविष्य में शरीर में क्या प्रभाव पड़ा

hari om namaskar kya aapne pranayaam karne ke fayde pranayaam ke fayde se pehle hum uske arth ko samajhna hoga pranayaam agar hum kasam dixit karte hain toh praan jama aayam pranayaam pranayaam karne vala shukriya praan ka vistaar karne vala praan par hamara niyantran aur usko hum apne hisab se vistarit roop me apne sharir me usko pranayaam kaha jata hai kyonki pranayaam jab bhi hum karte hain toh uska hamare jeevan par bahut hi zyada prabhav padta sabse zyada prabhat tumhara padta hai ji sakta the benefit hum bhi milta hai vaah hamare man ko milta hai kyonki man hi ek aisa kaarak hai jo hamare sharir ko chuna tha hamari buddhi tum par yadi hum lagaam lagate hain toh hamare pura sharir ek control me aa jata hai hamara man dukhi man ek aisa kaarak hai jo kabhi bhi ek jagah nahi ho sakta vaah har minute me change hota rehta hai tum man par hamare yadi hamein lagani lagani hai tumhe pranayaam ka abhyas karna atyavashak fayda iska pranayaam kare ki jab bhi hum pranayaam ka abhyas karte hain toh ek toh hum hamari jhund niyantran sakti hai apne aap par vaah utar jaati hai saath hi saath dridh ichchhaashakti par hai vaah bahut hi achi ho jaati hai ki hum yadi yah chai toh hum usko karne ka sankalp le sakte kyonki hum hamare praan shakti ko hamare sampurna sharir me bacche likhkar vitaran karta hai toh pranayaam ka sabse bada fayda yah hai ki vaah mare saath hi saath vaah aapke andar ek alag hi uncha ko lekar aata hai ki aap kisi bhi karya ko purn roop se sajag kar sakte hain utana hi mushkil aur dusri baat ki yadi aap bahut hi zyada ek aisi sthiti me hai ki jis se bahar nahi nikal paa rahe hain bahut mushkil pranayaam ka abhyas karte hain toh khud bsp khud un buraiyon se us sthiti se aaram se nikal jaenge bina ki pranayaam itni zyada prabhav kaari hote hamare jeevan me unka prabhav ati aavashyak hai aur karna toh aur bhi aavashyak hai toh pranayaam ka fayda karne se pehle adhyaksh pranayaam ke abhyas par dhyan denge toh thoda sa toh khud bsp khud mehsus karenge bachaye kahin se jaanne ki phir puch kya karenge toh vaah zyada jaankari nahi hai usko karke aap dekhiye kisi cheez karke nahi dekhenge ab tak nahi kar sakte aisi aisi jeevan shaili hai jise hum apne jeevan me jab tak apanaenge nahi hamein uska prabhav nahi mehsus sakta chahen vo kisi ke paas nahi karenge hamein uska prabhav kabhi mehsus na kare aur carrier matlab usko dhairya se karna ek ya 2 din ki aur phir bus nahi ek do din me pranayaam nahi hota shalu sala ko karna padta hai uska nirantar seva karte hain toh aapko uska prabhav me sochta hai yah toh hai hum toh aapko bahut hi na milega jab aap aayenge yahi bola hai sudesh nirantar satara se turant kya aapka abhyas kitna accha hoga aapko nirantar uska result milega aur bhavishya me sharir me kya prabhav pada

हरि ओम नमस्कार क्या आपने प्राणायाम करने के फायदे प्राणायाम के फायदे से पहले हम उसके अर्थ क

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  112
KooApp_icon
WhatsApp_icon
30 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!