भगवान शंकर के माता पिता कौन थे?...


user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भगवान शंकर के माता पिता कौन थे यह सृष्टि सदा शिव भगवान जो कण-कण में व्याप्त हैं और परा शक्ति अंबा के द्वारा भी जिन्होंने विष्णु ब्रह्मा और शंकर की उत्पत्ति सदाशिव और परा शक्ति अंबा शंकर के माता-पिता जय श्री कृष्णा जय शिव शंकर भोलेनाथ

bhagwan shankar ke mata pita kaun the yah shrishti sada shiv bhagwan jo kan kan mein vyapt hain aur para shakti amba ke dwara bhi jinhone vishnu brahma aur shankar ki utpatti sadashiv aur para shakti amba shankar ke mata pita jai shri krishna jai shiv shankar bholenaath

भगवान शंकर के माता पिता कौन थे यह सृष्टि सदा शिव भगवान जो कण-कण में व्याप्त हैं और परा शक्

Romanized Version
Likes  31  Dislikes    views  317
WhatsApp_icon
8 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Bk soni

Rajyoga Teacher

1:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रश्न बहुत अच्छा है कि भगवान शंकर के माता पिता कौन पहले यह तो जाना जरूरी है कि क्या भगवान शंकर है शंकर का तीसरा खुलता है तो विनाश के कारण प्रतीक है से बताते हैं तो विनाशकारी भगवान बोल सकते हैं और वह तो दे ही गुणों वाला मनुष्य है जैसे कि दुनिया में बोलते हैं ब्राह्मण देवता ही नामा विष्णु देवता नमः शंकर देवता नमः शिव परमात्मा ही नमक और एक और बात आती है शिव परमात्मा है और शंकर देवता है तुमको तो भगवान बोल नहीं सकते और फिर शंकर जी के सामने शिवलिंग दिखाते हैं तो कोई अपनी प्रतिमा तो खुद पूजा नहीं कर सकता ना कोई अपना फोटो तो कुछ पूजा नहीं कर सकता है माना शिव और शंकर अलग है शिव निराकार है संकरा कारी देवता है और शिव शिव शक्ति लेकर शंकर क्या किया अपने अंदर शक्ति लिया शक्ति सा बाबा जो देव देवता के रूप में शंकर गाया गया है गाया जाता है इसलिए शंकर का मात पिता शिव परमात्मा है और भी अधिक जानकारी के लिए हमारे और भी ऑडियो सुन सकते हैं

prashna bahut accha hai ki bhagwan shankar ke mata pita kaun pehle yah toh jana zaroori hai ki kya bhagwan shankar hai shankar ka teesra khulta hai toh vinash ke karan prateek hai se batatey hain toh vinashkari bhagwan bol sakte hain aur vaah toh de hi gunon vala manushya hai jaise ki duniya mein bolte hain brahman devta hi nama vishnu devta namah shankar devta namah shiv paramatma hi namak aur ek aur baat aati hai shiv paramatma hai aur shankar devta hai tumko toh bhagwan bol nahi sakte aur phir shankar ji ke saamne shivling dikhate hain toh koi apni pratima toh khud puja nahi kar sakta na koi apna photo toh kuch puja nahi kar sakta hai mana shiv aur shankar alag hai shiv nirakaar hai sankara kaari devta hai aur shiv shiv shakti lekar shankar kya kiya apne andar shakti liya shakti sa baba jo dev devta ke roop mein shankar gaaya gaya hai gaaya jata hai isliye shankar ka maat pita shiv paramatma hai aur bhi adhik jaankari ke liye hamare aur bhi audio sun sakte hain

प्रश्न बहुत अच्छा है कि भगवान शंकर के माता पिता कौन पहले यह तो जाना जरूरी है कि क्या भगवान

Romanized Version
Likes  47  Dislikes    views  968
WhatsApp_icon
user

Ghanshyamvan

मंदिर सेवा

0:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेके शिव की महिमा शिव शंकर भगवान श्री कृष्ण कहते हैं शास्त्रों में लिखा है कि विष्णु भगवान के नाभि कमल से ब्रह्मा जी की उत्पत्ति और ब्रह्मा जी के मस्तक सकती है शर्मा जी के मस्तक से शंकर की उत्पत्ति और इरफान शंकर के माता-पिता आप सरस्वती अभिमन्यु कर सकते हैं और दादा-दादी को बाबा सेवा जन्मा है शिव शंकर की उत्पत्ति शास्त्रों के लिए

leke shiv ki mahima shiv shankar bhagwan shri krishna kehte hain shastron mein likha hai ki vishnu bhagwan ke nabhi kamal se brahma ji ki utpatti aur brahma ji ke mastak sakti hai sharma ji ke mastak se shankar ki utpatti aur irfan shankar ke mata pita aap saraswati abhimanyu kar sakte hain aur dada dadi ko baba seva janma hai shiv shankar ki utpatti shastron ke liye

लेके शिव की महिमा शिव शंकर भगवान श्री कृष्ण कहते हैं शास्त्रों में लिखा है कि विष्णु भगवान

Romanized Version
Likes  69  Dislikes    views  1266
WhatsApp_icon
user

RAJNISH SINGH

Teacher/Singer/Business.. What'sAp .7491907565

0:27
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो एवरीवन आपका क्वेश्चन है कि भगवान शंकर के माता पिता कौन थे देखिए भगवान शंकर आदि देव है ठीक है कि भगवान स्वयं आए हैं और यहां पर जो यह पूरा ब्रह्मांड इन्हें की कृपा से सब हुआ है ठीक है चल रहा है सबसे पहले भगवान शंकर आए थे ठीक है नहीं है जैसे

hello everyone aapka question hai ki bhagwan shankar ke mata pita kaun the dekhiye bhagwan shankar aadi dev hai theek hai ki bhagwan swayam aaye hain aur yahan par jo yah pura brahmaand inhen ki kripa se sab hua hai theek hai chal raha hai sabse pehle bhagwan shankar aaye the theek hai nahi hai jaise

हेलो एवरीवन आपका क्वेश्चन है कि भगवान शंकर के माता पिता कौन थे देखिए भगवान शंकर आदि देव है

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  275
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने पूछा भगवान शंकर के माता पिता कौन है तो मैं आपको बता दूं कि भगवान शंकर और भगवान विष्णु यह सब मुझे एक ऐसी प्रकाश पुंज है जी जो कि किसी गर्व से प्रकट नहीं हुए हैं बल्कि यह ओमकार जो स्तंभ है आदि अनादि उसमें से प्रकट हुए हैं और विष्णु भगवान के नाभि कमल से ब्रह्मा जी प्रकट हुए हैं और इन लोगों के ऊपर यह सृष्टि संचालन करने के लिए संचालन का दायित्व सौंपा गया है तो यह लोग उस सृष्टि को चलाते हैं तो यह उस एक ओम के प्रकाश स्तंभ के तीन दिव्य ज्योति हैं जो कि इस पूरे ब्रह्मांड को संचालित करती हैं और अभी किसी ने कहा कि शंकर भगवान भगवान नहीं है मनुष्य ऐसा कुछ नहीं है वह योगीराज हैं और वह योग विद्या में निपुण हैं और वह संघ आरक है इसके लिए यह नहीं कह सकते कि वह इंसान है या देवता वो भगवान है क्योंकि जिस प्रकार से पालन जरूरी है पृथ्वी का और पृथ्वी का सृजन जरूरी है उसी प्रकार से संघार भी जरूरी है धनबाद

aapne poocha bhagwan shankar ke mata pita kaun hai toh main aapko bata doon ki bhagwan shankar aur bhagwan vishnu yah sab mujhe ek aisi prakash punj hai ji jo ki kisi garv se prakat nahi hue hain balki yah omkar jo stambh hai aadi anadi usme se prakat hue hain aur vishnu bhagwan ke nabhi kamal se brahma ji prakat hue hain aur in logo ke upar yah shrishti sanchalan karne ke liye sanchalan ka dayitva saupaan gaya hai toh yah log us shrishti ko chalte hain toh yah us ek om ke prakash stambh ke teen divya jyoti hain jo ki is poore brahmaand ko sanchalit karti hain aur abhi kisi ne kaha ki shankar bhagwan bhagwan nahi hai manushya aisa kuch nahi hai vaah yogiraj hain aur vaah yog vidya me nipun hain aur vaah sangh arak hai iske liye yah nahi keh sakte ki vaah insaan hai ya devta vo bhagwan hai kyonki jis prakar se palan zaroori hai prithvi ka aur prithvi ka srijan zaroori hai usi prakar se sanghar bhi zaroori hai dhanbad

आपने पूछा भगवान शंकर के माता पिता कौन है तो मैं आपको बता दूं कि भगवान शंकर और भगवान विष्णु

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  113
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमें आज तक किसी ने लगता है कि शंकर जी के माता पिता भी होते हैं लेकिन भारत में एक संत रामपाल जी आए हैं जिन्होंने बताया कि शंकर जी के माता देवी दुर्गा है और उनके पिता काल ब्रह्म है जो कि किसी को दिखाई नहीं देते और उसका वास्तविक रूप जो काल है काल रूप है अगर जो वह सबके सामने आ जाए तो इंसान उसको देख कर भी जिंदा नहीं रह सकते क्योंकि बहुत ही भयंकर रूप होता है कालका पंजाबी संत रामपाल जी बताते हैं अगर आप इस विषय में ज्यादा जानना चाहते हैं तो अवश्य देखें साधना चैनल 7:30 बजे शाम को

hamein aaj tak kisi ne lagta hai ki shankar ji ke mata pita bhi hote hain lekin bharat mein ek sant rampal ji aaye hain jinhone bataya ki shankar ji ke mata devi durga hai aur unke pita kaal Brahma hai jo ki kisi ko dikhai nahi dete aur uska vastavik roop jo kaal hai kaal roop hai agar jo vaah sabke saamne aa jaaye toh insaan usko dekh kar bhi zinda nahi reh sakte kyonki bahut hi bhayankar roop hota hai kalka punjabi sant rampal ji batatey hain agar aap is vishay mein zyada janana chahte hain toh avashya dekhen sadhna channel 7 30 baje shaam ko

हमें आज तक किसी ने लगता है कि शंकर जी के माता पिता भी होते हैं लेकिन भारत में एक संत रामपा

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  98
WhatsApp_icon
user

Dipak

Foji

0:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भगवान शिव की माता का नाम दुर्गा देवी यानी अष्टमी देवी का और भगवान शिव के पिता का नाम सदा शिवा कार्यकाल भ्रम था

bhagwan shiv ki mata ka naam durga devi yani ashtami devi ka aur bhagwan shiv ke pita ka naam sada shiva karyakal bharam tha

भगवान शिव की माता का नाम दुर्गा देवी यानी अष्टमी देवी का और भगवान शिव के पिता का नाम सदा श

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  79
WhatsApp_icon
user
0:10
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भगवान शंकर की माता दुर्गा श्री और पिता कॉल भद्र

bhagwan shankar ki mata durga shri aur pita call bhadarr

भगवान शंकर की माता दुर्गा श्री और पिता कॉल भद्र

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  153
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!