दुनिया का भविष्य तब बेहतर होगा जब भारत एवं चीन भरोसे के साथ मिलकर काम करें, मोदी जी ने कहा। आप क्या सोचते हैं इस बारे में?...


user

Pragati

Aspiring Lawyer

1:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां जी बिल्कुल यह बात बिल्कुल सही है कि यह दुनिया का भविष्य तभी बेहतर हो पाएगा जब भारत और चीन जो कि एशिया में है और दोनों काफी करीब है दोनों कंट्रीज तो एक साथ मिलकर काम करेंगे भरोसे के साथ काम करेंगे और देखिए हम सभी जानते हैं कि चीन और भारत में दुनिया की सबसे ज्यादा जनसंख्या पाई जाती है तो अगर यह दोनों कंट्रीज मिलकर काम करेंगे तभी देश का बहुत ज्यादा आप अच्छा हो सकता है देश में बहुत ज्यादा तरक्की हो सकती है उसके अलावा देखिए और चीन के पास ऐसी बहुत सारी चीजें हैं जिसे भारत इस्तेमाल कर सकता है भारत भारत में उसका अच्छा व्यापार हो सकता है वही भारत के पास भी ऐसी कई सारी चीजें हैं जिनका व्यापार वह चीज में कर सकते हैं और उसे काफी है प्रॉफिट कमा सकते हैं देखे दो देशों की बहुत आसपास हैं उनके ट्रांसपोर्टेशन फैसिलिटी बहुत आसानी से मिल जाएगी और एक दूसरे की चीजें एक दूसरे के पास पहुंचाना भी बहुत आसान रहेगा क्योंकि दूरी बहुत कम है तो इसलिए अगर यह दोनों मिलकर काम करते हैं तो वह देश के नहीं बल्कि विश्व में बहुत बड़ी ताकत बन सकते हैं लेकिन हमारे देश में और चीन में काफी ज्यादा मतभेद है और काफी सारी चीजों के ऊपर लड़ाइयां चलती रहती हैं हाल ही में थोड़े दिन पहले डोकलाम में एक आर्मी हमारी दोनों की आर्मी के बीच में भी कुछ लड़ाई हुई थी और उस वक्त भी भारत की विदेश मंत्रियों ने वहां जाकर बात की थी और चीज को शांत किया था यूएन में भी इसके बारे में काफी बात चली थी तो वह मुझे लगता है कि यह बात बिल्कुल सही है मोदी जी की अगर दोनों देश मिलकर काम करते हैं भरोसे के साथ तो एक बहुत अच्छा विश्व में अपना नाम सेट कर सकते हैं

haan ji bilkul yah baat bilkul sahi hai ki yah duniya ka bhavishya tabhi behtar ho payega jab bharat aur china jo ki asia mein hai aur dono kaafi kareeb hai dono countries toh ek saath milkar kaam karenge bharose ke saath kaam karenge aur dekhiye hum sabhi jante hain ki china aur bharat mein duniya ki sabse zyada jansankhya payi jaati hai toh agar yah dono countries milkar kaam karenge tabhi desh ka bahut zyada aap accha ho sakta hai desh mein bahut zyada tarakki ho sakti hai uske alava dekhiye aur china ke paas aisi bahut saree cheezen hain jise bharat istemal kar sakta hai bharat bharat mein uska accha vyapar ho sakta hai wahi bharat ke paas bhi aisi kai saree cheezen hain jinka vyapar vaah cheez mein kar sakte hain aur use kaafi hai profit kama sakte hain dekhe do deshon ki bahut aaspass hain unke transportation facility bahut aasani se mil jayegi aur ek dusre ki cheezen ek dusre ke paas pahunchana bhi bahut aasaan rahega kyonki doori bahut kam hai toh isliye agar yah dono milkar kaam karte hain toh vaah desh ke nahi balki vishwa mein bahut badi takat ban sakte hain lekin hamare desh mein aur china mein kaafi zyada matbhed hai aur kaafi saree chijon ke upar ladaiyan chalti rehti hain haal hi mein thode din pehle Doklam mein ek army hamari dono ki army ke beech mein bhi kuch ladai hui thi aur us waqt bhi bharat ki videsh mantriyo ne wahan jaakar baat ki thi aur cheez ko shaant kiya tha un mein bhi iske bare mein kaafi baat chali thi toh vaah mujhe lagta hai ki yah baat bilkul sahi hai modi ji ki agar dono desh milkar kaam karte hain bharose ke saath toh ek bahut accha vishwa mein apna naam set kar sakte hain

हां जी बिल्कुल यह बात बिल्कुल सही है कि यह दुनिया का भविष्य तभी बेहतर हो पाएगा जब भारत और

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  107
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Manish Singh

VOLUNTEER

1:24

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी बिल्कुल मोदी जी ने सही कहा क्योंकि जो चाइना है वह अपनी पहले से ही वह क्षेत्री सुपर पावर है यानी कि एशिया का सुपर पावर से माना जाता और भारत उसी राह में आगे बढ़ रहा है सुपर पावर बनने के रामनगर दो हंसों का पाठ जीत पहले से अधिक होने वाला सुपर पावर एक दूसरे से वक्त वक्त पर टकराते रहेंगे तो कभी भी जो इस हफ्ते का जो है वह कभी भी नहीं हो पाएगा और चीन अगर चीन की जो अपनी हरकतों से अगर वह बाज नहीं आता है जैसे कि यह जमीन विवाद और जो बहुत सारी चीजों पर काम करता है वह भारत के घर से बाहर नहीं आता तू कभी पॉसिबल भी नहीं हो पाएगा कि चाइना और इंडिया कभी दोस्त बनकर हमेशा सर आप आए और अगर ऐसा नहीं होता है यह दुश्मन के नहीं रह पाते हैं तो इस एरिया में सैयां के अंदर कभी भी शांत नहीं फैलेगा दूसरी बात जो है चाइना की बुरी बात की चाइना खुद तो अपने देश के अंदर कभी भी बुरी शक्तियों को बर्दाश्त नहीं करता लेकिन बाहर आतंक फैलाने के लिए चाइना बहुत सारे देशों को मदद करता है जैसे कि पाकिस्तान की मोबाइल करता है फिर नॉर्थ कोरिया की कोशिश करता तो इन सबसे भी चाइना को पहले दूर हटना पड़ेगा इन सब की मदद करनी भी चाइना को छोड़नी पड़ेगी तभी चाइना की दूसरी लिस्ट और भारत के साथ दोस्ती हो पाएगी और तभी सब मिलजुल के एक साथ विकास करेंगे वरना अगर भारत एक सुपर पावर बन जाता उसके लेवल का आ जाता है तो और चाइना सुधरता नहीं है तो उसके लिए मुश्किल से बात हो सकती है उसके लिए भी और हमारे लिए भी

ji bilkul modi ji ne sahi kaha kyonki jo china hai vaah apni pehle se hi vaah kshetri super power hai yani ki asia ka super power se mana jata aur bharat usi raah mein aage badh raha hai super power banne ke ramnagar do hanso ka path jeet pehle se adhik hone vala super power ek dusre se waqt waqt par takaraate rahenge toh kabhi bhi jo is hafte ka jo hai vaah kabhi bhi nahi ho payega aur china agar china ki jo apni harkaton se agar vaah baaj nahi aata hai jaise ki yah jameen vivaad aur jo bahut saree chijon par kaam karta hai vaah bharat ke ghar se bahar nahi aata tu kabhi possible bhi nahi ho payega ki china aur india kabhi dost bankar hamesha sir aap aaye aur agar aisa nahi hota hai yah dushman ke nahi reh paate hai toh is area mein saiyan ke andar kabhi bhi shaant nahi failega dusri baat jo hai china ki buri baat ki china khud toh apne desh ke andar kabhi bhi buri shaktiyon ko bardaasht nahi karta lekin bahar aatank felane ke liye china bahut saare deshon ko madad karta hai jaise ki pakistan ki mobile karta hai phir north korea ki koshish karta toh in sabse bhi china ko pehle dur hatna padega in sab ki madad karni bhi china ko chhodni padegi tabhi china ki dusri list aur bharat ke saath dosti ho payegi aur tabhi sab miljul ke ek saath vikas karenge varna agar bharat ek super power ban jata uske level ka aa jata hai toh aur china sudharata nahi hai toh uske liye mushkil se baat ho sakti hai uske liye bhi aur hamare liye bhi

जी बिल्कुल मोदी जी ने सही कहा क्योंकि जो चाइना है वह अपनी पहले से ही वह क्षेत्री सुपर पावर

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  139
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!