छायावादी काव्यधारा की दो प्रवृत्तियां क्या हैं?...


user

Akash singh

At School

0:12
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो एक क्वेश्चन है कि छायावादी काव्यधारा की दो प्रवृत्तियों का उल्लेख कीजिए तो पहली पहला प्रकृति का मानवीकरण दूसरा सौंदर्य भावना

hello ek question hai ki chhayavadi kavyadhara ki do parvirtiyon ka ullekh kijiye toh pehli pehla prakriti ka manavikaran doosra saundarya bhavna

हेलो एक क्वेश्चन है कि छायावादी काव्यधारा की दो प्रवृत्तियों का उल्लेख कीजिए तो पहली पहला

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  317
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारी जो छायावादी काव्यधारा है उसकी पहली प्रवृत्ति है प्रकृति चित्रण और दूसरा है श्रंगार वाद संवाद में विलासिता प्रेम सौंदर्य का चित्रण किया गया है उत्तरकाशी में प्रकृति का मनोरम चित्रण किया गया है

hamari jo chhayavadi kavyadhara hai uski pehli pravritti hai prakriti chitran aur doosra hai shringar vad samvaad mein vilasita prem saundarya ka chitran kiya gaya hai Uttarkaashi mein prakriti ka manoram chitran kiya gaya hai

हमारी जो छायावादी काव्यधारा है उसकी पहली प्रवृत्ति है प्रकृति चित्रण और दूसरा है श्रंगार व

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  70
WhatsApp_icon
user
0:12
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नारी के प्रति सम्मान और प्रकृति का मानवीकरण एक शाहाबाद की दो ऐसी विशेषता है जिनको कभी नहीं भूला जा सकता यही मुख्य विशेषताएं

nari ke prati sammaan aur prakriti ka manavikaran ek shahabad ki do aisi visheshata hai jinako kabhi nahi bhula ja sakta yahi mukhya visheshtayen

नारी के प्रति सम्मान और प्रकृति का मानवीकरण एक शाहाबाद की दो ऐसी विशेषता है जिनको कभी नहीं

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  76
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!