डिप्रेशन किसे कहते हैं?...


user

Prof (Dr) S. S. Prasad.

Psychiatrist ,Medical Practice & Teaching Faculty.

5:57
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार जी मैं सेल्फ डॉ एसएस प्रसाद सेक्रेटरी आप ने प्रश्न किया है डिप्रेशन किसे कहते हैं डिप्रेशन बोलचाल की भाषा में इसके मीनिंग में ही मायने छुपा हुआ है डिप्रेसो जाना मत जाना किसका-किसका दब जाना जो भावनाएं हमारे अंदर में है वह दब जाती है यह भावनाएं हमारा इमोशन है मासिक जो किए कैलीगरी है मशीनों को दो भागों में बांटा गया है न्यूरोसिस साइकोसिस सर कोशिश कैटेगरी में आता है जो इमोशनल डिसऑर्डर के तहत में अकाउंट की जाती है इसके अंदर में ग्रुप ऑफ़ एंजाइटी बहुत से भावनाओं का हनन होना डिप्रेस हो जाना उसको दवा देना डिप्रेशन कहलाता है जैसे आपने अपनी चाहत को दबा दिया अपने प्यार को दबा दिया अपनी इच्छा को दबा दिया अपने कार्य को दबा दिया अपने आप को दबा दिया इसके लिए अपने व्यापार अपने फैमिली या किसी प्रेशर के द्वारा जब उसका हनन करते हैं भावनाओं का सुपर नेचुरल है अब डिप्रेशन में जाएंगे जिसके मेडिकल की भाषा में देश से अपॉइंटमेंट लव भी बोलते हैं प्यार में निराशा प्यार भी जब आप सफल होता है इंसान या उसकी भावनाओं का कद्र नहीं होती है उसको प्रचार ना दिया जाता है उसको दीपरेशन बोलते हैं और इसमें जो लोग होते हैं गुस्सा ज्यादा आने लगता है सेक्स की कमी होने लगती है नींद या तो ज्यादा आएगा या कम आएगा भूख या तो ज्यादा आएगा या कम होगा शरीर में का जो रौनक है चेहरे का जो इंप्रेशन है जो खुशी है वह समाप्त हो जाती है उसके जितने भी भावनाएं है वह धीरे-धीरे दब जाती है और इंसान एक डेड बॉडी की तरह हो जाता है कोई भी अगर देखता है उस आदमी को गिफ्ट दे दी को तो करता है तुझे क्या हो गया है इतनी उदास क्यों रहते हो तुम्हारी चेहरे के डाउनलोड क्यों उड़ गई है तुम कमजोर क्यों हो रहे हो तुम्हारी वजन क्यों कम की चली जा रही है सारी बातें उसके शरीर में डिवेलप होने लगता है भूख कम ज्यादा नींद कम होना किसी तरह का एडमिशन भी हो जाता है डिप्रेशन में कोई ड्रक्स भी लेने लगता है कारण तो उसकी नींद नहीं आएगी तो नशा करेगा नींद करेगा और कभी-कभी किसी केस में भी देखा गया है जब या अपने चरम सीमा पर चला जाता तो आदमी सुसाइडलिटी नसीब हो जाता है डिप्रेशन का जो है एटीट्यूड होता है उस उस आइटम ही होता है सुबह श्वेता है इधर मेरे जीवन की सारी खुशियां आएं समाप्त हो गई है तो जी के क्या करेंगे जी के क्या करेंगे जब उसके दिमाग मत देखो प्रॉब्लम हो जाती है तो अपनी जीवन लीला को समाप्त कर लेता है तो सबसे बड़ी बात है कि उसके अंदर में जो इमोशन है उस समाप्त हो जाता लॉस आफ इमोशन टोटल लॉस ऑफ इमोशन का डिप्रेशन हो जाना समाप्त नहीं होता है दी प्रदेश कर्जा दब जाता है जो पूरा 977 होता है हेलो सिनेशन बोलते हैं लेकिन यहां पर शिवदव जाती है थोड़ी डरती है तो जो भी हमारे अंदर में इमोशन के अंदर में जो भी चीजें है खुशी है नफरत है चाहत है सेक्सुअल डिजायर है खान-पान है भूख है नींद है हैप्पीनेस है चेहरे का जो स्टेशन है शरीर का जो चार्मी है कुछ समाप्त हो जाता इसे अच्छे मानसिक रोग विशेषज्ञ से साइको चला बी प्लस सी दवाओं के द्वारा हम पूर्ण रूप से ठीक कर सकते हैं धन्यवाद दिनों का शुक्र है

namaskar ji main self Dr. SS prasad secretary aap ne prashna kiya hai depression kise kehte hain depression bolchal ki bhasha me iske meaning me hi maayne chupa hua hai dipreso jana mat jana kiska kiska dab jana jo bhaavnaye hamare andar me hai vaah dab jaati hai yah bhaavnaye hamara emotion hai maasik jo kiye kailigari hai machino ko do bhaagon me baata gaya hai nyurosis psychosis sir koshish category me aata hai jo emotional disorder ke tahat me account ki jaati hai iske andar me group of anxiety bahut se bhavnao ka hanan hona depress ho jana usko dawa dena depression kehlata hai jaise aapne apni chahat ko daba diya apne pyar ko daba diya apni iccha ko daba diya apne karya ko daba diya apne aap ko daba diya iske liye apne vyapar apne family ya kisi pressure ke dwara jab uska hanan karte hain bhavnao ka super natural hai ab depression me jaenge jiske medical ki bhasha me desh se appointment love bhi bolte hain pyar me nirasha pyar bhi jab aap safal hota hai insaan ya uski bhavnao ka kadra nahi hoti hai usko prachar na diya jata hai usko dipreshan bolte hain aur isme jo log hote hain gussa zyada aane lagta hai sex ki kami hone lagti hai neend ya toh zyada aayega ya kam aayega bhukh ya toh zyada aayega ya kam hoga sharir me ka jo raunak hai chehre ka jo impression hai jo khushi hai vaah samapt ho jaati hai uske jitne bhi bhaavnaye hai vaah dhire dhire dab jaati hai aur insaan ek dead body ki tarah ho jata hai koi bhi agar dekhta hai us aadmi ko gift de di ko toh karta hai tujhe kya ho gaya hai itni udaas kyon rehte ho tumhari chehre ke download kyon ud gayi hai tum kamjor kyon ho rahe ho tumhari wajan kyon kam ki chali ja rahi hai saari batein uske sharir me develop hone lagta hai bhukh kam zyada neend kam hona kisi tarah ka admission bhi ho jata hai depression me koi draks bhi lene lagta hai karan toh uski neend nahi aayegi toh nasha karega neend karega aur kabhi kabhi kisi case me bhi dekha gaya hai jab ya apne charam seema par chala jata toh aadmi susaidaliti nasib ho jata hai depression ka jo hai attitude hota hai us us item hi hota hai subah shweta hai idhar mere jeevan ki saari khushiya aaen samapt ho gayi hai toh ji ke kya karenge ji ke kya karenge jab uske dimag mat dekho problem ho jaati hai toh apni jeevan leela ko samapt kar leta hai toh sabse badi baat hai ki uske andar me jo emotion hai us samapt ho jata loss of emotion total loss of emotion ka depression ho jana samapt nahi hota hai di pradesh karja dab jata hai jo pura 977 hota hai hello sineshan bolte hain lekin yahan par shivadav jaati hai thodi darti hai toh jo bhi hamare andar me emotion ke andar me jo bhi cheezen hai khushi hai nafrat hai chahat hai sexual desire hai khan pan hai bhukh hai neend hai Happiness hai chehre ka jo station hai sharir ka jo charmi hai kuch samapt ho jata ise acche mansik rog visheshagya se psycho chala be plus si dawaon ke dwara hum purn roop se theek kar sakte hain dhanyavad dino ka shukra hai

नमस्कार जी मैं सेल्फ डॉ एसएस प्रसाद सेक्रेटरी आप ने प्रश्न किया है डिप्रेशन किसे कहते हैं

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  315
KooApp_icon
WhatsApp_icon
12 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

Related Searches:
depression kise kahate hain ; डिप्रेशन किसे कहते हैं ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!