भारत में जातिवाद इता कब से शुरू हुई?...


play
user
0:55

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत में जातिवाद कितना कब से शुरू हुआ भारत सनातन धर्म में जो वेद बताया गए हैं जिसे कहा जाता है ईश्वर द्वारा लिखा गया है उसके बाद मनु मनु महाराज द्वारा लिखा गया लेकिन वह चुकी बहुत सही लिखा गया था लेकिन बाद में जितने भी आक्रमणकारी आए हुए सभी अपने लाभ के लिए कुछ बिकाऊ ब्राह्मण से उसमें संशोधन करवा दिया अपने भाषा में ट्रांसलेट कर आया जिसमें उन को नीचा दिखाने के लिए उसमें कंफ्यूजन क्रिएट करने के लिए मिलावट की गई तभी से जातिवाद लोगों के मन में घर कर गई और ऊंच-नीच का काम समाज में आने लगा लेकिन भारतीय संविधान जो विश्व में सबसे बड़ा लिखित संविधान है उसके आने के बाद जातिवाद रंगबाज लिंगभेद सब समाप्त हो गए

bharat me jaatiwad kitna kab se shuru hua bharat sanatan dharm me jo ved bataya gaye hain jise kaha jata hai ishwar dwara likha gaya hai uske baad manu manu maharaj dwara likha gaya lekin vaah chuki bahut sahi likha gaya tha lekin baad me jitne bhi aakramanakari aaye hue sabhi apne labh ke liye kuch bikau brahman se usme sanshodhan karva diya apne bhasha me translate kar aaya jisme un ko nicha dikhane ke liye usme confusion create karne ke liye milavat ki gayi tabhi se jaatiwad logo ke man me ghar kar gayi aur unch neech ka kaam samaj me aane laga lekin bharatiya samvidhan jo vishwa me sabse bada likhit samvidhan hai uske aane ke baad jaatiwad rangabaj lingabhed sab samapt ho gaye

भारत में जातिवाद कितना कब से शुरू हुआ भारत सनातन धर्म में जो वेद बताया गए हैं जिसे कहा जात

Romanized Version
Likes  38  Dislikes    views  867
KooApp_icon
WhatsApp_icon
1 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!