क्या आप जानते हैं मानव जीवन का मूल उद्देश्य क्या है?...


user

Gyandeep Kkr

Social Activist

2:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मानव जीवन का मूल उद्देश्य भक्ति करके मोक्ष करवाना होना चाहिए क्योंकि अगर हम मोक्ष प्राप्ति के लिए प्रथम नहीं करेंगे तो ऐसे जंतु बहुत हो चुकी है देखिए मान लीजिए आप आज बहुत सम्राट है आपको गवर्नमेंट जॉब मिल चुकी है आप पढ़ाई में या परिवार की तरफ से या स्वास्थ्य की तरफ से सही है तो यह सोच आप कितने दिन चलेंगे मान लीजिए आप 50 साल और चील के अभी भी इसके तो 470 के लिए चलो सॉरी चिल्ली अच्छी तो मान लेते हैं अगर ऐसे तो यह सोच रही है उसके बाद क्या होगा अगर आप कहते हैं कि किसने देखा अगर मान लो कोई कहता है कि किसने देखा तो ऐसे नहीं सोचना चाहिए जब आप यहां से किसी दूसरे शहर में जाते हैं मालवीय जी आज आपने दिल्ली जाना है तो आप पहले पता करेंगे कि वहां रहने का प्रबंध क्या है 1 दिन भी आप सड़क पर तो नहीं रुक सकते आपको पूरी सिक्योरिटी स्वास्थ्य के लिहाज से या गर्मी सर्दी अकेले हास्य खाने पीने गया चेहरे कैसे चाहिए यह तो आप मानते हैं आप ऐसे तो नहीं कहेंगे कि देखी जाएगी वहां जाती ऐसे नहीं जब इस धरती पर आप ऐसे नहीं सोचते तो अब यह सोचिए आप कितनी बड़ी की मौत के बाद कहां जाएंगे अगर आप कहते हैं कि कुछ नहीं होता आपके पास क्या प्रमाण है कि कुछ नहीं होता ऐसे ऐसे प्रमाण विद्यमान है जो मर कर वापस आई है यह धारण है यह उन लोगों के लिए संकेत है कि मौत के बाद कितना भयंकर जीवन शुरू होता है इससे आप कैसे बच सकते हैं इसके लिए अब आपके बाकी वाला जान मत लीजिए प्रमाण के साथ ज्ञान कर्म कीजिए शुरू में यह समझ नहीं आता परंतु जिसको समझा जाता है चाहे उसको कितने लोग विरोध करें वह उस ज्ञान को अच्छी तरह से या फिर तो आप यह देखिए इस ज्ञान को प्राप्त कैसे कर सकते हैं यह बुक बुक पढ़िए का ज्ञान गंगा संत रामपाल जी की पुस्तक में आ जाएगी 30 दिन में बहुत अच्छी पुस्तक है ऐसी पुस्तक जब आप पढ़ लेंगे तब आपको पता चलेगा कि यह कितनी जरूरी तकलीफ भरनी चाहे कोई नाश्ता करके सबको यह पढ़नी चाहिए फोन नंबर नोट कीजिए इस नंबर पर अपना पूरा नाम पता व फोन नंबर सेंड कीजिए 30 दिन में बुक आपके घर आकर आएगी 74968 01823

manav jeevan ka mul uddeshya bhakti karke moksha karwana hona chahiye kyonki agar hum moksha prapti ke liye pratham nahi karenge toh aise jantu bahut ho chuki hai dekhiye maan lijiye aap aaj bahut samrat hai aapko government mil chuki hai aap padhai mein ya parivar ki taraf se ya swasthya ki taraf se sahi hai toh yah soch aap kitne din chalenge maan lijiye aap 50 saal aur chil ke abhi bhi iske toh 470 ke liye chalo sorry Chilly achi toh maan lete hain agar aise toh yah soch rahi hai uske baad kya hoga agar aap kehte hain ki kisne dekha agar maan lo koi kahata hai ki kisne dekha toh aise nahi sochna chahiye jab aap yahan se kisi dusre shehar mein jaate hain malaviya ji aaj aapne delhi jana hai toh aap pehle pata karenge ki wahan rehne ka prabandh kya hai 1 din bhi aap sadak par toh nahi ruk sakte aapko puri Security swasthya ke lihaj se ya garmi sardi akele hasya khane peene gaya chehre kaise chahiye yah toh aap maante hain aap aise toh nahi kahenge ki dekhi jayegi wahan jaati aise nahi jab is dharti par aap aise nahi sochte toh ab yah sochiye aap kitni badi ki maut ke baad kahaan jaenge agar aap kehte hain ki kuch nahi hota aapke paas kya pramaan hai ki kuch nahi hota aise aise pramaan vidyaman hai jo mar kar wapas I hai yah dharan hai yah un logo ke liye sanket hai ki maut ke baad kitna bhayankar jeevan shuru hota hai isse aap kaise bach sakte hain iske liye ab aapke baki vala jaan mat lijiye pramaan ke saath gyaan karm kijiye shuru mein yah samajh nahi aata parantu jisko samjha jata hai chahen usko kitne log virodh kare vaah us gyaan ko achi tarah se ya phir toh aap yah dekhiye is gyaan ko prapt kaise kar sakte hain yah book book padhiye ka gyaan ganga sant rampal ji ki pustak mein aa jayegi 30 din mein bahut achi pustak hai aisi pustak jab aap padh lenge tab aapko pata chalega ki yah kitni zaroori takleef bharani chahen koi nashta karke sabko yah padhani chahiye phone number note kijiye is number par apna pura naam pata va phone number send kijiye 30 din mein book aapke ghar aakar aayegi 74968 01823

मानव जीवन का मूल उद्देश्य भक्ति करके मोक्ष करवाना होना चाहिए क्योंकि अगर हम मोक्ष प्राप्ति

Romanized Version
Likes  36  Dislikes    views  374
KooApp_icon
WhatsApp_icon
10 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!