हमारा एक प्रशन है कि लोग दूसरों में ही कमी क्यों ढूंढते हैं?...


user

Ashwani Thakur

👤Teacher & Advisor🙏

0:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है हमारा एक प्रश्न है कि लोग दूसरे में ही कमी क्यों ढूंढते हैं तो मैं बता दूं बहुत लोगों का जो नीचे होता है वह इस सिया से भरा होता है जी हां दोस्तों जलन से भरा होता है वह लोग जो होते हैं खुद तो कुछ कर नहीं पाते और दूसरे लोगों में कमियां ढूंढते हैं अगर आपके आसपास में भी वैसे लोग हैं तो कृपया उन पर ध्यान ना दें तो उन पर ध्यान देकर अपना जो जीवन है उनको उसको खराब करने की जरूरत नहीं है आप उनको इग्नोर कीजिए वही आपके लिए बहुत अच्छा होगा ठीक है थैंक यू सो मच प्रश्न करने के लिए आप मुझसे और कोई प्रश्न पर्सनली पूछना चाहते हैं तो मेरी आईडी में आकर आप मुझसे डायरेक्ट प्रश्न कर सकते हैं थैंक यू

aapka prashna hai hamara ek prashna hai ki log dusre mein hi kami kyon dhoondhate hain toh main bata doon bahut logo ka jo niche hota hai vaah is sia se bhara hota hai ji haan doston jalan se bhara hota hai vaah log jo hote hain khud toh kuch kar nahi paate aur dusre logo mein kamiyan dhoondhate hain agar aapke aaspass mein bhi waise log hain toh kripya un par dhyan na de toh un par dhyan dekar apna jo jeevan hai unko usko kharab karne ki zarurat nahi hai aap unko ignore kijiye wahi aapke liye bahut accha hoga theek hai thank you so match prashna karne ke liye aap mujhse aur koi prashna personally poochna chahte hain toh meri id mein aakar aap mujhse direct prashna kar sakte hain thank you

आपका प्रश्न है हमारा एक प्रश्न है कि लोग दूसरे में ही कमी क्यों ढूंढते हैं तो मैं बता दूं

Romanized Version
Likes  44  Dislikes    views  979
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्योंकि उनका से सोच रहते हैं जो दूसरे में कमी ढूंढता है क्योंकि इनके में कमियां है हमारे में नहीं है तू किसी में कमी नहीं हमें किसी न होती है तुमको ना देखकर अपने कल के बारे में चर्चा करें तो दूर हो जाए

kyonki unka se soch rehte hain jo dusre mein kami dhundhta hai kyonki inke mein kamiyan hai hamare mein nahi hai tu kisi mein kami nahi hamein kisi na hoti hai tumko na dekhkar apne kal ke bare mein charcha kare toh dur ho jaaye

क्योंकि उनका से सोच रहते हैं जो दूसरे में कमी ढूंढता है क्योंकि इनके में कमियां है हमारे म

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  130
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!