एक व्यक्ति को अपने लेखन की गुणवत्ता में कैसे सुधार करना चाहिए?...


user

B San

Entrepreneur | Management | Consultant | Advisor

1:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रश्न है एक व्यक्ति को अपने लेखन की गुणवत्ता में कैसे सुधार करना चाहिए लेकिन यहां लेखन की गुणवत्ता के लिए दो प्रमुख कारक हैं पहला है भाषा शैली पर दूसरे भाषा की लिपि भाषा शैली में जिस विषय में लेखन कार्य किया जा रहा है उस विषय की समग्रता होना आवश्यक है और इसके परिणाम स्वरूप आप अपने लेखन शक्ति द्वारा परीक्षण करता को आकर्षित कर सकते हैं जिसमें शब्दों का चयन वाक्यों की रूपरेखा शब्द सीमा का सामान जैसे बना लेना अवश्य के लेखन कला को प्रदर्शित करने के लिए यह समस्त बिंदुओं को ध्यान में रखना आवश्यक है दूसरा भाषा की लिपि किस लिपि में आपके द्वारा लेखन कार्य किया जा रहा है या आप करने की योजना बना रहे हैं उस लिपि की संपूर्णता होना अर्थात शब्दावली का ज्ञान लेखन आकृति आदि का होना विशिष्ट महत्त्व रखता है तो इसी अनुसार व्यक्ति द्वारा अपने लेखन की गुणवत्ता को प्रभावशाली बना सकता बनाया जा सकता है धन्यवाद

prashna hai ek vyakti ko apne lekhan ki gunavatta me kaise sudhaar karna chahiye lekin yahan lekhan ki gunavatta ke liye do pramukh kaarak hain pehla hai bhasha shaili par dusre bhasha ki lipi bhasha shaili me jis vishay me lekhan karya kiya ja raha hai us vishay ki samagrata hona aavashyak hai aur iske parinam swaroop aap apne lekhan shakti dwara parikshan karta ko aakarshit kar sakte hain jisme shabdon ka chayan vaakyon ki rooprekha shabd seema ka saamaan jaise bana lena avashya ke lekhan kala ko pradarshit karne ke liye yah samast binduon ko dhyan me rakhna aavashyak hai doosra bhasha ki lipi kis lipi me aapke dwara lekhan karya kiya ja raha hai ya aap karne ki yojana bana rahe hain us lipi ki sanpoornataa hona arthat shabdavli ka gyaan lekhan akriti aadi ka hona vishisht mahatva rakhta hai toh isi anusaar vyakti dwara apne lekhan ki gunavatta ko prabhavshali bana sakta banaya ja sakta hai dhanyavad

प्रश्न है एक व्यक्ति को अपने लेखन की गुणवत्ता में कैसे सुधार करना चाहिए लेकिन यहां लेखन की

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  89
KooApp_icon
WhatsApp_icon
5 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!