क्या अंग्रेजी मीडिया की तुलना में हिंदी मीडिया का स्कोप कम है?...


user

Neha Baid

Editor

2:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आखिरी नहीं ओरिजिनल लैंग्वेज और मैं अब मसूरी में काम करती थी जब हम लोगों ने बहुत कोशिश किया था ऑन हिंदी तमिल एंड आवास मिशन कश्मीर में कश्मीर के मुख राशि के बारे में काम करेगा लेकिन अगर आप रिस्पांस नहीं सकते हो और अगर आप कोई नहीं कर सकता को करना चाहिए लेकिन नाम नहीं कर पाती सिनेमा इंग्लिश में करती हूं किसी इन इंडिया और होना भी चाहिए क्योंकि नेक्स्ट एसे इंग्लिश स्पीकिंग पापुलेशन यहां पर बहुत काम है आप और मैं बात करता था लेकिन बहुत नाम और उनकी नहीं उनकी भाषा में बहुत खूब बहुत गुंजाइश है घटना के बाद लोगों को पशु करना चाहिए ना तो बोलती रहती थी अगर आपको इंसान अपनी मम्मी को बोलती थी कि बहुत साफ है अभी 60 साल की हो गई लेकिन कोई न्यूज़ पेपर में काम कर लो आप ही कर सकते हो और आप गुड अट पटना

aakhiri nahi original language aur main ab masoori mein kaam karti thi jab hum logo ne bahut koshish kiya tha on hindi tamil and aawas mission kashmir mein kashmir ke mukh rashi ke bare mein kaam karega lekin agar aap response nahi sakte ho aur agar aap koi nahi kar sakta ko karna chahiye lekin naam nahi kar pati cinema english mein karti hoon kisi in india aur hona bhi chahiye kyonki next essay english speaking population yahan par bahut kaam hai aap aur main baat karta tha lekin bahut naam aur unki nahi unki bhasha mein bahut khoob bahut gunjaiesh hai ghatna ke baad logo ko pashu karna chahiye na toh bolti rehti thi agar aapko insaan apni mummy ko bolti thi ki bahut saaf hai abhi 60 saal ki ho gayi lekin koi news paper mein kaam kar lo aap hi kar sakte ho aur aap good attack patna

आखिरी नहीं ओरिजिनल लैंग्वेज और मैं अब मसूरी में काम करती थी जब हम लोगों ने बहुत कोशिश किया

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  372
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आज आपके प्रश्न क्या अंग्रेजी मीडिया की तुलना में हिंदी मीडियम किसको कम है तो ऐसा नहीं है मैं तो यह कहूंगा कि लोग जो है आज वर्तमान शिक्षा पद्धति में अंग्रेजी को लाना केंद्र सरकार के बहुत बड़ा गलत फैसला है कोई भी देश अगर कोई विकसित हुआ है तो वह अपने बनाए मतलब अपने घर की चीजों से आगे निकला है और आगे बढ़ा है तभी विकसित हुआ है आप चीन जापान मलेशिया जहां जाए वहां उनकी खुद की भाषा है आज हमारे भारत में हम हिंदी भाषी हैं लेकिन हमारे भारत के अन्य राज्य के लोग हैं यह साउथ इंडियन जो हिंदी का विरोध करते हैं यह बहुत गलत है ऐसा नहीं होना चाहिए आज हम अपने बच्चों को हिंदी भी सही शिक्षा नहीं दे रहे हैं अंग्रेजी को बीच में ला रहे हैं कभी केंद्र सरकार द्वारा जवाहर नवोदय विद या फिर का केंद्रीय विद्यालय में जर्मन फ्रेंच भाषाओं को लाना कितना न्याय करते हैं बच्चों के जीवन में किसी भी किसी भी प्रकार की घुसा देना और मीडियम कैसा भी हो सबसे पहला बच्चा पढ़ने वाला हो तभी विकास करेगा भाषाओं की तुलना अंग्रेजी मीडियम या हिंदी मीडियम यूपीएससी नहीं देखा जाता है आप जब आईएएस या आईपीएस मानते हैं तो आपका मीडियम नहीं देखा जाता है आप करेंगे देखा जाता है उसके हिसाब से आज तक मैं तो नहीं देखा हूं आईएस बनते हुए की इंग्लिश मीडियम के बच्चे नहीं सके ऐसा नहीं अधिकतर राजा अधिकांश लोग आते हैं तो राज्य सरकार के बच्चे आते हैं गरीब मजदूर वर्ग के बच्चे आते हैं पढ़कर के बड़े-बड़े कान्वेंट स्कूल सीनियर स्कूल में पढ़ने वाले बच्चे बहुत कम हो जाते हैं और यह जोक महामारी जो धारणा धारणा बनी हुई है कि अंग्रेजी मीडियम हिंदी मीडियम में पढ़ा है भले ही बच्चों को अंग्रेजी पढ़ाने की कोशिश करें अंग्रेजी केवल बोलने की भाषा होनी चाहिए लेकिन पढ़ाने का मीडिया में जो होना चाहिए वह हिंदी होना चाहिए और अंग्रेजी की स्पोकन दीजिए या बनवाने की कोशिश करवाएं कई ऐसे हो चुके हैं तो बच्चा ग्रेजी बोलेगा उसको कोई दिक्कत नहीं है कैसा भी हो नौकरी कर रहेगा तो नौकरी करेगा लेकिन अच्छे इंसान भी बनाने की कोशिश करें मीडियम पर नहीं जाइए धन्यवाद

aaj aapke prashna kya angrezi media ki tulna me hindi medium kisko kam hai toh aisa nahi hai main toh yah kahunga ki log jo hai aaj vartaman shiksha paddhatee me angrezi ko lana kendra sarkar ke bahut bada galat faisla hai koi bhi desh agar koi viksit hua hai toh vaah apne banaye matlab apne ghar ki chijon se aage nikala hai aur aage badha hai tabhi viksit hua hai aap china japan malaysia jaha jaaye wahan unki khud ki bhasha hai aaj hamare bharat me hum hindi bhashi hain lekin hamare bharat ke anya rajya ke log hain yah south indian jo hindi ka virodh karte hain yah bahut galat hai aisa nahi hona chahiye aaj hum apne baccho ko hindi bhi sahi shiksha nahi de rahe hain angrezi ko beech me la rahe hain kabhi kendra sarkar dwara jawahar navodaya with ya phir ka kendriya vidyalaya me german french bhashaon ko lana kitna nyay karte hain baccho ke jeevan me kisi bhi kisi bhi prakar ki ghusa dena aur medium kaisa bhi ho sabse pehla baccha padhne vala ho tabhi vikas karega bhashaon ki tulna angrezi medium ya hindi medium upsc nahi dekha jata hai aap jab IAS ya ips maante hain toh aapka medium nahi dekha jata hai aap karenge dekha jata hai uske hisab se aaj tak main toh nahi dekha hoon ias bante hue ki english medium ke bacche nahi sake aisa nahi adhiktar raja adhikaansh log aate hain toh rajya sarkar ke bacche aate hain garib majdur varg ke bacche aate hain padhakar ke bade bade convent school senior school me padhne waale bacche bahut kam ho jaate hain aur yah joke mahamari jo dharana dharana bani hui hai ki angrezi medium hindi medium me padha hai bhale hi baccho ko angrezi padhane ki koshish kare angrezi keval bolne ki bhasha honi chahiye lekin padhane ka media me jo hona chahiye vaah hindi hona chahiye aur angrezi ki spoken dijiye ya banwane ki koshish karvaaein kai aise ho chuke hain toh baccha greji bolega usko koi dikkat nahi hai kaisa bhi ho naukri kar rahega toh naukri karega lekin acche insaan bhi banane ki koshish kare medium par nahi jaiye dhanyavad

आज आपके प्रश्न क्या अंग्रेजी मीडिया की तुलना में हिंदी मीडियम किसको कम है तो ऐसा नहीं है म

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  107
WhatsApp_icon
user
2:57
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गुड इवनिंग फ्रेंड्स गार्डन ट्रेड क्वेश्चन एंड नॉट सेटिस्फाइड वीडियो क्योंकि हिंदी हमारी राष्ट्रभाषा है और मैं आपसे अगर यह कहूं कि अगर आपकी संस्कृत अच्छी है आप अच्छा बोलते हैं तो आप वाचन के श्रेणी में जा सकते हैं आपको वाचनालय या विभिन्न प्रकार के संस्थानों में मौका मिल सकता है आप अपने व्यक्ति का यूएन आप मीडिया सेक्टर में भी संस्कृत के वाचक बन सकते हैं शुद्ध हिंदी का ज्ञान होने की वजह से आप उसमें भी सुधार कर सकते हैं तो देखिए यह आपकी हमारी सोच है कि हिंदी और अंग्रेजी में लोगों के साथ ऐसा भेदभाव होता है लेकिन रियलिटी यह है कि आप उस उक्त क्षेत्र में कितना परफेक्ट है आप अगर हिंदी आपको हिंदी कितनी आती है आप जज कीजिए कि हम हम हिंदी जानते हैं तो हमें ऐसे कितने शब्द हैं हैं कि जो हिंदी के हम कम हमको कन्फ्यूजन करते हैं जैसे सारगर्भित उपालंभ है ना और विडंबना ही सारे के सारे शब्द हैं जिनका अर्थ है हमको जानना चाहिए तो क्या हम यह सभी चीजों के अर्थ जानते हैं जो शुद्ध हिंदी में होते हैं वर्तनी लेखिका बहुत सारे ऐसे हिंदी में जिसको हम सुनकर अचंभित हो जाते हैं कि रिहा किया गया है प्रक्षालन प्रवर्तनी दोस्तों अगर मैं आपसे बात करूं कि हम दो लोग बाइक बाइक बोलते हैं उसके हिंदी क्या है तो आप सोच में पड़ जाएंगे लेकिन भाई की को हिंदी में पूरा वर्दी नहीं बोलते हैं कितना अजीब क्या आपने कभी सुना हो सकता है आप जानती हूं अंदर घोस्ट इन मैसेल्फ फ्रेंड लेकिन कहने का मतलब यह है कि आप हिंदी अगर जानकारी रखना चाहते हैं तो हिंदी में आप पहले पारंगत हो यह बेस्ट हुई है पहले और इंग्लिश जो है इंग्लिश में अगर आना चाहते हो तो आप इंग्लिश में बेस्ट वन इंग्लिश हिंदी के बीच में आप ना तो इधर करेंगे ना तो उधर करेंगे आप मेरी बातों को अन्यथा मत लीजिएगा फ्रेंड्स मैं आपके अच्छे के लिए बोल रहा हूं और अपनी साड़ी वाट की के माध्यम से बताना चाहता हूं कि आप जो भी भाषा का चुनाव कर जो भी माध्यम का चुनाव करते हैं वह मायने नहीं रखता है मायने यह रखता है कि आप उस माध्यम में कितनी जानकारी रखते हैं कितने आफ स्किल्ड हैं व्हाट इस द मैटर थैंक यू फ्रेंड्स

good evening friends garden trade question and not setisfaid video kyonki hindi hamari rashtrabhasha hai aur main aapse agar yah kahun ki agar aapki sanskrit achi hai aap accha bolte hain toh aap vachan ke shreni me ja sakte hain aapko vachanalay ya vibhinn prakar ke sansthano me mauka mil sakta hai aap apne vyakti ka un aap media sector me bhi sanskrit ke vachak ban sakte hain shudh hindi ka gyaan hone ki wajah se aap usme bhi sudhaar kar sakte hain toh dekhiye yah aapki hamari soch hai ki hindi aur angrezi me logo ke saath aisa bhedbhav hota hai lekin reality yah hai ki aap us ukth kshetra me kitna perfect hai aap agar hindi aapko hindi kitni aati hai aap judge kijiye ki hum hum hindi jante hain toh hamein aise kitne shabd hain hain ki jo hindi ke hum kam hamko confusion karte hain jaise saragarbhit upalambh hai na aur widambana hi saare ke saare shabd hain jinka arth hai hamko janana chahiye toh kya hum yah sabhi chijon ke arth jante hain jo shudh hindi me hote hain vartani lekhika bahut saare aise hindi me jisko hum sunkar achambhit ho jaate hain ki riha kiya gaya hai prakshalan pravartani doston agar main aapse baat karu ki hum do log bike bike bolte hain uske hindi kya hai toh aap soch me pad jaenge lekin bhai ki ko hindi me pura wardi nahi bolte hain kitna ajib kya aapne kabhi suna ho sakta hai aap jaanti hoon andar ghost in maiself friend lekin kehne ka matlab yah hai ki aap hindi agar jaankari rakhna chahte hain toh hindi me aap pehle paarangat ho yah best hui hai pehle aur english jo hai english me agar aana chahte ho toh aap english me best van english hindi ke beech me aap na toh idhar karenge na toh udhar karenge aap meri baaton ko anyatha mat lijiega friends main aapke acche ke liye bol raha hoon aur apni saree watt ki ke madhyam se batana chahta hoon ki aap jo bhi bhasha ka chunav kar jo bhi madhyam ka chunav karte hain vaah maayne nahi rakhta hai maayne yah rakhta hai ki aap us madhyam me kitni jaankari rakhte hain kitne of Skilled hain what is the matter thank you friends

गुड इवनिंग फ्रेंड्स गार्डन ट्रेड क्वेश्चन एंड नॉट सेटिस्फाइड वीडियो क्योंकि हिंदी हमारी रा

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  205
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!