क्या हमारी रेलवे की व्यवस्था सुधर सकती है कभी?...


user

Roshan

Journalist

0:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

रेलवे स्टेशन की गाड़ी और मुंबई जैसे शहरों में लोक सर में बहुत दर्द है इसलिए उसके लिए कुछ तो हितेश उपासना करनी चाहिए

railway station ki gaadi aur mumbai jaise shaharon mein lok sir mein bahut dard hai isliye uske liye kuch toh hitesh upasana karni chahiye

रेलवे स्टेशन की गाड़ी और मुंबई जैसे शहरों में लोक सर में बहुत दर्द है इसलिए उसके लिए कुछ त

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  471
WhatsApp_icon
5 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user
1:01

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां बिलकुल दुपट्टे का ध्यान दो बिकनी चला था रेलवे स्टेशन आपको अभी देखते हैं पहले आप देखते थे काफी गंदे लोगों के लिए rpsc.in अच्छी तरह के तभी काम करती है कि कर मैसेज करते हो पहले आप देखे काफी सुविधाजनक हो चुका है

ji haan bilkul dupatte ka dhyan do bikini chala tha railway station aapko abhi dekhte hain pehle aap dekhte the kafi gande logon ke liye rpsc in achi tarah ke tabhi kaam karti hai ki kar massage karte ho pehle aap dekhe kafi suvidhajanak ho chuka hai

जी हां बिलकुल दुपट्टे का ध्यान दो बिकनी चला था रेलवे स्टेशन आपको अभी देखते हैं पहले आप देख

Romanized Version
Likes  21  Dislikes    views  759
WhatsApp_icon
user

Bhaskar Saurabh

Politics Follower | Engineer

1:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

किसी भी चीज़ में सुधार हो सकता है बस जरूरत इस बात की है कि सरकार और रूम कितने गंभीर हैं किसी समस्या को लेकर और यही चीज भारतीय रेलवे पर भी लागू होती है हमारी रेलवे की हालत इतनी खराब हो चुकी है कि शायद ही कोई ट्रेन सही समय से चलती है और बिना लेट हुए अपने गंतव्य स्थान तक पहुंच जाती है कुछ प्रीमियम ट्रेन है जैसे की राजधानी एक्सप्रेस यहां से शताब्दी एक्सप्रेस ही सही समय पर चलती है इसके अलावा भारतीय रेल सुरक्षित भी नहीं है कई बार ट्रेनों का एक्सीडेंट हो जाता है और ट्रेन में लूटपाट की घटनाएं भी रहते हैं तो यह सब दिखाता है जो ट्रेन में लोग यात्रा कर रहे हैं वह अपने आप को कभी भी पूर्ण रूप से सुरक्षित महसूस नहीं करते हैं तो सरकार को इस विषय में सोचना चाहिए और जल्दी कुछ स्ट्रिक्ट एक्शन लेना चाहिए ताकि भारतीय रेलवे की जो दयनीय स्थिति आज हो गई है उसमें सुधार लाया जाए और रेल यात्रियों को जरूरी सुख सुविधाएं मिल सके रेलवे में मिलने वाला खाना बहुत ज्यादा खराब होता है और कई बार है कि खाने में टॉयलेट के पानी का इस्तेमाल किया जा रहा है तू इससे यह दिखता है कि यात्रियों के स्वास्थ्य के साथ किस प्रकार से रेलवे खिलवाड़ कर रही है और कई बार रेलवे का खाना खाकर यात्री बीमार भी पड़ जाते हैं तो इन सारी चीजों से रेलवे को सबक सीखना चाहिए जल्दी इसमें सुधार लाने की कोशिश करनी चाहिए तो मुझे लगता है कि अगर कोई सरकार सही तरीके से रेलवे की दशा सुधारने के लिए प्रयास करें तो भविष्य में चलकर हमारी भारतीय रेल की जो कंडीशन है आज उसमें सुधार जरूर हो सकेगा अभी मोदी जी ने जापान से बुलेट ट्रेन चलाने के लिए लोन ले लिया है लेकिन मुझे लगता है कि अभी हमारे देश में बुलेट ट्रेन से ज्यादा इस चीज की जरूरत थी कि जो वर्तमान भारतीय रेल है उसकी दशा में सुधार लाया जाए सही समय से अगर ट्रेन में चलने लगेगी तो लोग उसे ज्यादा खुश होंगे ना कि बुलेट ट्रेन से

kisi bhi cheez mein sudhaar ho sakta hai bus zaroorat is baat ki hai ki sarkar aur room kitne gambhir hain kisi samasya ko lekar aur yahi cheez bharatiya railway par bhi laagu hoti hai hamari railway ki halat itni kharaab ho chuki hai ki shayad hi koi train sahi samay se chalti hai aur bina let hue apne gantavya sthan tak pahunch jaati hai kuch premium train hai jaise ki raajdhani express yahan se shatabdi express hi sahi samay par chalti hai iske alava bharatiya rail surakshit bhi nahi hai kai baar traino ka accident ho jata hai aur train mein lutpat ki ghatnayen bhi rehte hain toh yah sab dikhaata hai jo train mein log yatra kar rahe hain vaah apne aap ko kabhi bhi purn roop se surakshit mahsus nahi karte hain toh sarkar ko is vishay mein sochna chahiye aur jaldi kuch strict action lena chahiye taki bharatiya railway ki jo dayaniye sthiti aaj ho gayi hai usmein sudhaar laya jaaye aur rail yatriyon ko zaroori sukh suvidhaen mil sake railway mein milne vala khana bahut zyada kharaab hota hai aur kai baar hai ki khane mein toilet ke paani ka istemal kiya ja raha hai tu isse yah dikhta hai ki yatriyon ke swasthya ke saath kis prakar se railway khilwad kar rahi hai aur kai baar railway ka khana khakar yatri bimar bhi pad jaate hain toh in saree chijon se railway ko sabak sikhna chahiye jaldi isme sudhaar lane ki koshish karni chahiye toh mujhe lagta hai ki agar koi sarkar sahi tarike se railway ki dasha sudhaarne ke liye prayas karen toh bhavishya mein chalkar hamari bharatiya rail ki jo condition hai aaj usmein sudhaar zaroor ho sakega abhi modi ji ne japan se bullet train chalane ke liye loan le liya hai lekin mujhe lagta hai ki abhi hamare desh mein bullet train se zyada is cheez ki zaroorat thi ki jo vartmaan bharatiya rail hai uski dasha mein sudhaar laya jaaye sahi samay se agar train mein chalne lagegi toh log use zyada khush honge na ki bullet train se

किसी भी चीज़ में सुधार हो सकता है बस जरूरत इस बात की है कि सरकार और रूम कितने गंभीर हैं कि

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  132
WhatsApp_icon
user

विकास सिंह

दिल से भारतीय

0:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारी रेलवे की व्यवस्था बिल्कुल सुधर सकती है लेकिन इस व्यवस्था को सुधारने से पहले हमें अपने आप को सुधारना होगा कि किन लोगों का जो सोच है हमारे देश का रेलवे की संपत्ति हमारी संपत्ति है और उसे अपने शब्दों से भी गए गुजरे तरीके से हम लोग इस्तेमाल करते हैं रेलवे का टाइम टेबल तो रेलवे के जो वह लोग हैं रेलवे के दो स्टाफ संकेत और सुधारा जा सकता है पर रेलवे के अंदर की जो व्यवस्था है वह हम लोगों के द्वारा ही पाया जाता है हम लोग कभी भी नाचते कैसे सोच यूज़ करते हैं नाचे तरीके से साफ-सफाई रखते हैं हमारी और भी तो साथ में 10 लोग जाते हैं ट्रेन में उनका फायदा मिलेगा तो बिल्कुल व्यवस्था में सुधार हो सकता है हमें अपने आप को बदलना होगा

hamari railway ki vyavastha bilkul sudhar sakti hai lekin is vyavastha ko sudhaarne se pehle hamein apne aap ko sudharna hoga ki kin logon ka jo soch hai hamare desh ka railway ki sampatti hamari sampatti hai aur use apne shabdon se bhi gaye gujare tarike se hum log istemal karte hain railway ka time table toh railway ke jo vaah log hain railway ke do staff sanket aur sudhara ja sakta hai par railway ke andar ki jo vyavastha hai vaah hum logon ke dwara hi paya jata hai hum log kabhi bhi naachte kaise soch use karte hain nache tarike se saaf safaai rakhte hain hamari aur bhi toh saath mein 10 log jaate hain train mein unka fayda milega toh bilkul vyavastha mein sudhaar ho sakta hai hamein apne aap ko badalna hoga

हमारी रेलवे की व्यवस्था बिल्कुल सुधर सकती है लेकिन इस व्यवस्था को सुधारने से पहले हमें अपन

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  148
WhatsApp_icon
user

Pragati

Aspiring Lawyer

1:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हमारी देश की रेलवे व्यवस्था बिल्कुल सुधर सकती है क्योंकि देखिए और किसी भी चीज़ में सुधार के लिए सिर्फ एक सोच की जरूरत होती है एक मेहनत करने की जरूरत होती है तो देखिए रेलवे की व्यवस्था है रेलवे में जो भी चीजें हैं उन सब के सुधार के लिए हमेशा तत्पर प्रयास किए जा रहे हैं और आप को देखे तो वर्तमान में भी एक नई तरीका लांच कर आ गया है जिसमें आप यह देख सकते क्या आप की जो अब वेटिंग टिकट है आप भी यह रिजर्वेशन अगेंस्ट कैंसिलेशन यानी आरएसी टिकट है उसकी कंफर्म होने के कितने चांस है एक नई एल्बम एल्गोरिथ्म लांच की गई है और रेलवे द्वारा इसमें आपको पता चल पाएगा क्या आप की टिकट कंफर्म होगी भी कि नहीं था क्या पहले से ही इस चीज का आईडिया लगा ले कि आपके लिए दूसरे क्या ऑप्शन सो सकते हैं ट्रेवल करने के लिए इस आप को टिकट नहीं मिल रहा है तू और यदि हमारे देश में बहुत सारे ऐसे लोग हैं जो दिल्ली रेलवे से ट्रैवल करते हैं और रेलवे से उनको बहुत ज्यादा सुविधाजनक होती है तो इसीलिए हमारे देश मैं आज रेलवे मिनिस्ट्री है वह तत्पर प्यार करती प्रयास करती रहती है ताकि लोगों के लिए सुविधाजनक चीजें बना सके और रेलवे पर सुधार कर सकें और बिल्कुल ऐसा आप जो कह रहे हैं कि रेलवे सुधार कभी हो सकता है तो जी हां वह बिल्कुल हो सकता है और उसके लिए प्रयास भी किए जा रहे हैं

ji hamari desh ki railway vyavastha bilkul sudhar sakti hai kyonki dekhiye aur kisi bhi cheez mein sudhaar ke liye sirf ek soch ki zaroorat hoti hai ek mehnat karne ki zaroorat hoti hai toh dekhiye railway ki vyavastha hai railway mein jo bhi cheezen hain un sab ke sudhaar ke liye hamesha tatpar prayas kiye ja rahe hain aur aap ko dekhe toh vartmaan mein bhi ek nayi tarika launch kar aa gaya hai jisme aap yah dekh sakte kya aap ki jo ab waiting ticket hai aap bhi yah reservation against cancellation yani RAC ticket hai uski confirm hone ke kitne chance hai ek nayi album algorithm launch ki gayi hai aur railway dwara isme aapko pata chal payega kya aap ki ticket confirm hogi bhi ki nahi tha kya pehle se hi is cheez ka idea laga le ki aapke liye dusre kya option so sakte hain travel karne ke liye is aap ko ticket nahi mil raha hai tu aur yadi hamare desh mein bahut saare aise log hain jo delhi railway se travel karte hain aur railway se unko bahut zyada suvidhajanak hoti hai toh isliye hamare desh main aaj railway ministry hai vaah tatpar pyar karti prayas karti rehti hai taki logon ke liye suvidhajanak cheezen bana sake aur railway par sudhaar kar sakein aur bilkul aisa aap jo keh rahe hain ki railway sudhaar kabhi ho sakta hai toh ji haan vaah bilkul ho sakta hai aur uske liye prayas bhi kiye ja rahe hain

जी हमारी देश की रेलवे व्यवस्था बिल्कुल सुधर सकती है क्योंकि देखिए और किसी भी चीज़ में सुधा

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  109
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!