जीवन में हम खुश कैसे रह सकते हैं?...


user
6:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जीवन में हम खुश कैसे रह सकते हैं जीवन में खुश रहने का सबसे पहला सूत्र है स्वस्थ रहें तन से मन से और मस्तिष्क से स्वस्थ रहें तन मन और मस्तिष्क में सामंजस्य रहे एकरूपता रहे इसके लिए प्रातः जल्दी उठे योग और ध्यान करें आधा घंटे आसन 15 मिनट प्राणायाम और 15 मिनट ध्यान जब अभ्यास हो जाए आपका शरीर लचीला हो जाए ध्यान में मन लगने लगे तो इस समय को थोड़ा बड़ा लें यह न्यू है एक स्वस्थ और प्रसन्न जीवन की अगर आपका शरीर आपका मन आपका मस्तिष्क सही धरातल पर हैं आपके शरीर को ऑक्सीजन मिल रही है आपके शरीर में एंड और सेंस बन रहे हैं तो आपको तनाव नहीं होगा दिन भर मूड अच्छा रहेगा और आप आनंदित महसूस करेंगे यह पहला सूत्र दूसरा सूत्र की तरह लगातार बहते रहे कहीं हमें नहीं दिनभर कोई न कोई अच्छे काम करते रहें अगर रुक जाएंगे थम जाएंगे तो आपके मन में निराशा और अवसाद घर कर लेंगे चलते रहे चलते रहे जो काम आपको अच्छे लगे या जो काम आप जीवन में समय कर रहे हैं पढ़ना नौकरी व्यवसाय किसी तरह की तैयारी उसको पूरे तन मन धन से करें उसमें डूब जाए तल्लीन हो जाए दिनभर कुछ ना कुछ गतिविधि करते रहे चलते रहे चलते रहे जीवन चलने का नाम है यह दूसरा शो और तीसरा और अंतिम सूत्र में बताऊंगा अपने परिवार अपने मित्रों से बहुत गहरे संबंध बनाएं आत्मीयता को बढ़ाएं मित्रता प्रेम को कहरा करें और जीवन में हर दिन कोई न कोई भलाई का काम करें भले ही वह बहुत छोटा सा काम हो किसी दुखी इंसान को देख कर मुस्कुरा दें किसी भूखे को एक रोटी दे किसी जरूरतमंद को एक शॉल दे अपना पुराना कपड़ा दें और कुछ भी नहीं तो सबसे मृदु व्यवहार करें मुस्कुराकर व्यवहार करें अपनी वाणी से किसी को आहत ना करे किसी को दुखी ना करें और खुशी का सबसे बड़ा सूत्र है वाणी मन और शरीर इनसे किसी को नुकसान ना पहुंचाएं ऐसी वाणी ना बोले जिससे किसी को हानि पहुंचती हो किसी को ठेस लगती हो किस वक्त होता हो किसी की प्रतिष्ठा को आ जाती हो ऐसे शब्द ना बोले वाणी पर पूरा संयम रखें कल से किसी को दगा ना दे किसी को नुकसान ना पहुंचाएं किसी भी प्रकार का दुष्कर्म ना करें एक चींटी तक को अपने हाथों से न मारे एक मच्छर तक को ना मारे कन से हमेशा संयमित व्यवहार करें कोई भी दुष्कर्म ना करें और मन में किसी के प्रति कोई गलत विचार न लाएं कोई करना किसी तरह का बुरा विचार किसी को नुकसान पहुंचाना किसी को हानि पहुंचाना किसी को परेशान करना किसी को नीचा देखना किसी का बुरा करना यह कभी ना करें यह बातें कर ले तो कभी भी आप जीवन में दुख ही नहीं होंगे हमेशा सुखी रहेंगे आपका जीवन आनंदमय होगा जो भले काम करता है उसके जीवन में आनंद ही आनंद है सुख ही सुख है और जो थोड़ा भी गलत काम करता है चाहे वह वाणी से हो चाहे शरीर से हो चाहे मन से हमेशा विचलित रहता है परेशान रहता है दुख अनुभव करता है बुराइयां उसके पीछे पड़ी रहती है उसके मन को दिन रात का छुट्टी रहती है तो बी हैप्पी खुश रहो खुशहाल रहो आपका जीवन आनंदमय हो

jeevan mein hum khush kaise reh sakte hain jeevan mein khush rehne ka sabse pehla sutra hai swasthya rahein tan se man se aur mastishk se swasthya rahein tan man aur mastishk mein samanjasya rahe ekrupta rahe iske liye pratah jaldi uthe yog aur dhyan kare aadha ghante aasan 15 minute pranayaam aur 15 minute dhyan jab abhyas ho jaaye aapka sharir lachila ho jaaye dhyan mein man lagne lage toh is samay ko thoda bada le yah new hai ek swasthya aur prasann jeevan ki agar aapka sharir aapka man aapka mastishk sahi dharatal par hain aapke sharir ko oxygen mil rahi hai aapke sharir mein and aur sense ban rahe hain toh aapko tanaav nahi hoga din bhar mood accha rahega aur aap anandit mehsus karenge yah pehla sutra doosra sutra ki tarah lagatar bahte rahe kahin hamein nahi dinbhar koi na koi acche kaam karte rahein agar ruk jaenge tham jaenge toh aapke man mein nirasha aur avsad ghar kar lenge chalte rahe chalte rahe jo kaam aapko acche lage ya jo kaam aap jeevan mein samay kar rahe hain padhna naukri vyavasaya kisi tarah ki taiyari usko poore tan man dhan se kare usme doob jaaye tallinn ho jaaye dinbhar kuch na kuch gatividhi karte rahe chalte rahe chalte rahe jeevan chalne ka naam hai yah doosra show aur teesra aur antim sutra mein bataunga apne parivar apne mitron se bahut gehre sambandh banaye atmiyata ko badhaye mitrata prem ko kahra kare aur jeevan mein har din koi na koi bhalai ka kaam kare bhale hi vaah bahut chota sa kaam ho kisi dukhi insaan ko dekh kar muskura de kisi bhukhe ko ek roti de kisi jaruratmand ko ek Shawl de apna purana kapda de aur kuch bhi nahi toh sabse mridu vyavhar kare muskurakar vyavhar kare apni vani se kisi ko aahat na kare kisi ko dukhi na kare aur khushi ka sabse bada sutra hai vani man aur sharir inse kisi ko nuksan na paunchaye aisi vani na bole jisse kisi ko hani pohchti ho kisi ko thes lagti ho kis waqt hota ho kisi ki prathishtha ko aa jaati ho aise shabd na bole vani par pura sanyam rakhen kal se kisi ko daga na de kisi ko nuksan na paunchaye kisi bhi prakar ka dushkarm na kare ek chinti tak ko apne hathon se na maare ek macchar tak ko na maare kan se hamesha sanyamit vyavhar kare koi bhi dushkarm na kare aur man mein kisi ke prati koi galat vichar na laye koi karna kisi tarah ka bura vichar kisi ko nuksan pahunchana kisi ko hani pahunchana kisi ko pareshan karna kisi ko nicha dekhna kisi ka bura karna yah kabhi na kare yah batein kar le toh kabhi bhi aap jeevan mein dukh hi nahi honge hamesha sukhi rahenge aapka jeevan anandamay hoga jo bhale kaam karta hai uske jeevan mein anand hi anand hai sukh hi sukh hai aur jo thoda bhi galat kaam karta hai chahen vaah vani se ho chahen sharir se ho chahen man se hamesha vichalit rehta hai pareshan rehta hai dukh anubhav karta hai buraiyan uske peeche padi rehti hai uske man ko din raat ka chhutti rehti hai toh be happy khush raho khushahal raho aapka jeevan anandamay ho

जीवन में हम खुश कैसे रह सकते हैं जीवन में खुश रहने का सबसे पहला सूत्र है स्वस्थ रहें तन से

Romanized Version
Likes  52  Dislikes    views  521
KooApp_icon
WhatsApp_icon
7 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!