सतत पोषणीय विकास किसे कहते हैं?...


user

Naresh Kumar

writer, GK Expert, Career Counselor

1:10
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सतत पोषणीय विकास का अर्थ है संसाधनों का इस तरीके से उपयोग करना हमारी आवश्यकताओं की पूर्ति हो जाए और जो हमारी आने वाली पीढ़ी है उसके लिए भी संसाधन बचे रह सकें और 7 संसाधनों का विवेकपूर्ण ढंग से इस्तेमाल करना सतत पोषणीय विकास कहलाता है जो हमारे संसाधन हैं वह सीमित हमारी पॉपुलेशन दिनों दिन बढ़ती जा रही है तो मैं संसाधनों को एक ही बार में प्रयोग करके खत्म नहीं करना है हमें उनका कितना इस्तेमाल करना है ताकि हमारी आवश्यकता पूरी हो जाए और हमारी आने वाली जनरेशन है उसके लिए भी वह बचे हुए जल है हमें उतना ही जल इस्तेमाल करना है जितना हमें जरूरी हो गई छूट नहीं बिजली है जितने भी संसाधने में उनका विवेकपूर्ण ढंग से इस्तेमाल करना है कि संसाधन को व्यर्थ में वेस्ट नहीं करना है अगर उसकी जरूरत ना हो वह तो आप उतना ही उसकी जिग्नेश की जरूरत है जरूरत ना हो तो उसकी इस्तेमाल ना कीजिए यह सतत रोशनी विकास

satat poshniya vikas ka arth hai sansadhano ka is tarike se upyog karna hamari avashayaktaon ki purti ho jaaye aur jo hamari aane wali peedhi hai uske liye bhi sansadhan bache reh sake aur 7 sansadhano ka vivekpurn dhang se istemal karna satat poshniya vikas kehlata hai jo hamare sansadhan hain vaah simit hamari population dino din badhti ja rahi hai toh main sansadhano ko ek hi baar me prayog karke khatam nahi karna hai hamein unka kitna istemal karna hai taki hamari avashyakta puri ho jaaye aur hamari aane wali generation hai uske liye bhi vaah bache hue jal hai hamein utana hi jal istemal karna hai jitna hamein zaroori ho gayi chhut nahi bijli hai jitne bhi sansadhane me unka vivekpurn dhang se istemal karna hai ki sansadhan ko vyarth me west nahi karna hai agar uski zarurat na ho vaah toh aap utana hi uski jignesh ki zarurat hai zarurat na ho toh uski istemal na kijiye yah satat roshni vikas

सतत पोषणीय विकास का अर्थ है संसाधनों का इस तरीके से उपयोग करना हमारी आवश्यकताओं की पूर्ति

Romanized Version
Likes  30  Dislikes    views  1184
KooApp_icon
WhatsApp_icon
2 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

Related Searches:
satat poshniya vikas ; सतत पोषणीय विकास क्या है ; satat poshniya vikas kya hai ; सतत पोषणीय विकास ; satat posani vikas ; satat poshniya vikas se aap kya samajhte hain ; सतत पोषणीय विकास किसे कहते हैं ; satat poshniya vikas kise kahate hain ; satat posani vikas kya hai ; सतत पोषणीय विकास से आप क्या समझते हैं ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!