प्रेरणा आपको काम को शुरू करने में सहायता होती है जबकि आदत आपको काम को करते रहने में सहायता करती है, क्या सही है?...


user

Dr. Swatantra Jain

Psychotherapist, Family & Career Counsellor and Parenting & Life Coach

2:20
Play

Likes  566  Dislikes    views  6299
WhatsApp_icon
8 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
0:35
Play

Likes  267  Dislikes    views  2177
WhatsApp_icon
user

Rahul garg

consultant

1:10
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अजीत प्रीत ना जाने कि इस परीक्षण आपको काम शुरू करने में सहायक होती है बिल्कुल अगर आप किसी काम को करने के लिए इंस्पायर्ड नहीं है अगर आपको पता ही नहीं है कि इस काम को करने के बाद मुझे क्या रिजल्ट मिलेंगे मेरी सिचुएशन में क्या इंप्रूवमेंट होगी और मैं कहां पहुंच पाउंगा तो आप उस का मौका भी स्टार्ट नहीं करोगे और जो आदत होती अगर एक बार काम करने की आदत लग गई तो वह बहुत ही बन जाता है आपके लिए से के एग्जांपल मैं खुद ही आ जाऊंगा आपको अपनी सेहत सुधार नहीं है तो आपने देखा टीवी के अंदर या फिर कोई भी सोशल मीडिया पर अगर कोई एक्टर है हमारी रणवीर सिंह है वो दिल्ली सुबह 2 किलोमीटर दौड़ लगाता है और उससे उसकी जो फ्लाइट परसेंट भेजो कम हो गई है उसकी बॉडी काफी अच्छी लगने लगी है तो आप क्या करते हो आप एक दोस्ती रणवीर सिंह से प्रेरणा लेकर सुबह रोड की दौड़ लगाना स्टार्ट कर देते हो और 1 महीने में आप देखते हो कि अब आप को स्विच की जरूरत नहीं पड़ती है वरना आपको पहले वीडियो चलाकर देखनी पड़ती थी आप सोचना पड़ता था अब आपकी आदत बन गई आप सुबह 4:00 बजे उठते हो और अपना दौड़ पर निकल जाते हो बहुत सही बात है जिसने भी कहिए ली बहुत अच्छे कोई चलता आपको अगर ऐसे ही क्वेश्चन स्कैन टेस्ट यहां से जानना चाहते हैं तो बने रहे मेरे साथ फॉलो करें मुझे आज

ajit prateet na jaane ki is parikshan aapko kaam shuru karne mein sahayak hoti hai bilkul agar aap kisi kaam ko karne ke liye inspired nahi hai agar aapko pata hi nahi hai ki is kaam ko karne ke baad mujhe kya result milenge meri situation mein kya improvement hogi aur main kahaan pohch paunga toh aap us ka mauka bhi start nahi karoge aur jo aadat hoti agar ek baar kaam karne ki aadat lag gayi toh vaah bahut hi ban jata hai aapke liye se ke example main khud hi aa jaunga aapko apni sehat sudhaar nahi hai toh aapne dekha TV ke andar ya phir koi bhi social media par agar koi actor hai hamari ranveer Singh hai vo delhi subah 2 kilometre daudh lagaata hai aur usse uski jo flight percent bhejo kam ho gayi hai uski body kaafi achi lagne lagi hai toh aap kya karte ho aap ek dosti ranveer Singh se prerna lekar subah road ki daudh lagana start kar dete ho aur 1 mahine mein aap dekhte ho ki ab aap ko switch ki zarurat nahi padti hai varna aapko pehle video chalakar dekhni padti thi aap sochna padta tha ab aapki aadat ban gayi aap subah 4 00 baje uthte ho aur apna daudh par nikal jaate ho bahut sahi baat hai jisne bhi kahiye li bahut acche koi chalta aapko agar aise hi question scan test yahan se janana chahte hai toh bane rahe mere saath follow kare mujhe aaj

अजीत प्रीत ना जाने कि इस परीक्षण आपको काम शुरू करने में सहायक होती है बिल्कुल अगर आप किसी

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  197
WhatsApp_icon
user

Porshia Chawla Ban

Psychologist

0:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जय बिल्कुल सही है क्योंकि जो हमारी मृत्य हैं जो टेंडेंसीज है जो आदतें हैं वह हमसे कंटिन्यूटी में ऑटोमेटिकली रिफ्लेक्स में काम करवाती हैं तो किसी भी चीज में निरंतरता वह आदत जाती है लेकिन जब शुरुआत हुई थी उस चीज की तो उसके पीछे प्रेरणा थी जिसे अगर किसी ने ठान लिया है कि उसे वजन कम करना है और वह मॉर्निंग वॉक पर जाएगा ऐसा उसने सोचा है तो यह प्रेरणा है यह करने की उसको हेल्दी होना है फिट होना है लेकिन अब अगर वह निरंतरता से कुछ समय तक यह काम करेगा उसकी आदत में शामिल होगा तब हम बोलेंगे कि हां अभी वह आदत है उसकी 1 साल हो गया देखो वह जरूर जाता ही है वक्त वहां फिर वह मोटे शायद उतना इंपॉर्टेंट नहीं रहेगा क्योंकि इसी से प्रेरित हुआ था रीजन क्या थी अब उसकी आदत में शुमार हो गया है इसलिए अब वह जाता है धन्यवाद

jai bilkul sahi hai kyonki jo hamari mritya hain jo tendensij hai jo aadatein hain vaah humse kantinyuti mein atometikli reflex mein kaam karwati hain toh kisi bhi cheez mein nirantarata vaah aadat jaati hai lekin jab shuruat hui thi us cheez ki toh uske peeche prerna thi jise agar kisi ne than liya hai ki use wajan kam karna hai aur vaah morning walk par jaega aisa usne socha hai toh yah prerna hai yah karne ki usko healthy hona hai fit hona hai lekin ab agar vaah nirantarata se kuch samay tak yah kaam karega uski aadat mein shaamil hoga tab hum bolenge ki haan abhi vaah aadat hai uski 1 saal ho gaya dekho vaah zaroor jata hi hai waqt wahan phir vaah mote shayad utana important nahi rahega kyonki isi se prerit hua tha reason kya thi ab uski aadat mein shumaar ho gaya hai isliye ab vaah jata hai dhanyavad

जय बिल्कुल सही है क्योंकि जो हमारी मृत्य हैं जो टेंडेंसीज है जो आदतें हैं वह हमसे कंटिन्यू

Romanized Version
Likes  190  Dislikes    views  6318
WhatsApp_icon
user

Megh Achaarya

vastu Expert,Motivational Speaker Meditation Studio.

1:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां यह कथन बिल्कुल पूरी तरह से सत्य है लेकिन इसको कथनी में और करनी में जैसे कि कहा जाता है कटनी में और करनी में बहुत अंतर होता है तो इसी तरह से जवाब किसी के प्रति आपको प्रेरणा मिलती जब आप किसी से प्रेरणा लेकर के काम शुरू कर दें यहां पर प्रेरणा से अर्थ थोड़ा सा अलग है मित्रों देखिए अगर आपने किसी क्रिकेटर को देखकर के प्रेरणा और आप पर ही बनने के लिए चल पड़े तो यह प्रेरणा नहीं है यह एक कॉपी कॉपी किया सिंगर को देखा तो आपकी वही बनने के लिए आप उसी से प्रेरणा लेकर उसी के नक्शे कदम पर चलना यह प्रेरणा नहीं करना है कि आपने किसी की अच्छी कहानी सुनी या अच्छी स्टोरी देखी अच्छी पिक्चर देखी अच्छा कोई मैच देखा या किसी क्रिकेटर की अच्छी स्टोरी देखी और उससे प्रेरणा लेकर आपने अपने भौतिक जीवन के अंदर अपने एक लक्ष्य को निर्धारित किया अपने खुद के लक्ष्य को उस पर चलना शुरू इसको हम प्रेरणा कह सकते हैं उसके बाद जवाब प्रेरणा ले लेते हैं प्रेरणा लेने के बाद आप उसको अपने जीवन में उतारने का प्रयत्न करते हैं कोशिश करते हैं और जब आप उस कोशिश को कंटिन्यू के 1 महीना 2 महीना करना शुरू कर देते हैं तो वह एक आपकी आदत बन जाती है और जब आप उसकी आदत को साथ में लेते हुए आगे बढ़ते हैं तो लिस्ट की सफलता आपको मिलती तो यह कथन पूरी तरह से उचित है धन्यवाद मेरी शुभकामनाएं आपके साथ

ji haan yah kathan bilkul puri tarah se satya hai lekin isko kathni mein aur karni mein jaise ki kaha jata hai katni mein aur karni mein bahut antar hota hai toh isi tarah se jawab kisi ke prati aapko prerna milti jab aap kisi se prerna lekar ke kaam shuru kar de yahan par prerna se arth thoda sa alag hai mitron dekhiye agar aapne kisi cricketer ko dekhkar ke prerna aur aap par hi banne ke liye chal pade toh yah prerna nahi hai yah ek copy copy kiya singer ko dekha toh aapki wahi banne ke liye aap usi se prerna lekar usi ke nakshe kadam par chalna yah prerna nahi karna hai ki aapne kisi ki achi kahani suni ya achi story dekhi achi picture dekhi accha koi match dekha ya kisi cricketer ki achi story dekhi aur usse prerna lekar aapne apne bhautik jeevan ke andar apne ek lakshya ko nirdharit kiya apne khud ke lakshya ko us par chalna shuru isko hum prerna keh sakte hain uske baad jawab prerna le lete hain prerna lene ke baad aap usko apne jeevan mein utarane ka prayatn karte hain koshish karte hain aur jab aap us koshish ko continue ke 1 mahina 2 mahina karna shuru kar dete hain toh vaah ek aapki aadat ban jaati hai aur jab aap uski aadat ko saath mein lete hue aage badhte hain toh list ki safalta aapko milti toh yah kathan puri tarah se uchit hai dhanyavad meri subhkamnaayain aapke saath

जी हां यह कथन बिल्कुल पूरी तरह से सत्य है लेकिन इसको कथनी में और करनी में जैसे कि कहा जाता

Romanized Version
Likes  44  Dislikes    views  418
WhatsApp_icon
user

Kankan Sarmah

Psychologist

1:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्लेन आपको काम को शुरू करने में सहायता होती है जबकि आदत आपको काम को करते रहने में सहायता करती है क्या यह सही है जो यह बात बिल्कुल सही है क्योंकि जब तक आप को प्रेरणा नहीं मिलेंगे प्रेरणा मतलब क्या होता है वही होता है कुछ काम करने का निश्चय किया नहीं जाता है तो उस काम के अंदर आपको जुड़े रहना बहुत इंपॉर्टेंट है और आप जिस हिसाब से जुड़े रहेंगे वह है आपकी आदत यानी कि अगर आपकी आदत पॉजिटिव है तो व्यस्त ले आपका हुक्म भी पॉजिटिव होगा क्योंकि आप जिस हिसाब से करेंगे वही आप का नतीजा है और अगर आपका जो आदेश को गलत तरीका है यानी कि सही नहीं है आप लापरवाही रहते हैं और फिर जिस हिसाब से आपको करना था वह आप नहीं दे पा रहे हैं आपको 7 घंटे या 5 घंटे के अंदर उसको निपटाना है लेकिन आपको लग रहा है 10 घंटा 12 घंटा तो आप सभी ग्रुप से आपको दिखाई देंगे इसलिए दोस्तों आदत इंपॉर्टेंट है एटीट्यूड बहुत इंपॉर्टेंट है तो इन चीजों को ध्यान में रखते हुए हमें आगे बढ़ना जरूरी है जिसे बात है ठंडे पानी ठंडे और शीतल दस्तूर होता है उस पानी पर आप अपना चेहरा देख सकते हैं लेकिन जब गर्म पानी है जहां से आपका बात नहीं कर रहे हैं यानी कि वापस निकल रहे हैं गर्म है और थे टेंपरेचर ज्यादा है वहां पर आपकी एक परछाई भी आप नहीं देख पाओगे या नेक काम करने का जो तरीका है वह उसे ढंग से नहीं आएंगे और इधर भी वहीं रुक नहीं आपको दिखाई देंगे तो इसलिए दोस्तों आपको अपने आदत को ध्यान में रखना जरूरी है और आपका जो प्रेरणा है उनको भी ध्यान में रखना जरूरी है इन दोनों को एक तालमेल करके अब जिस हिसाब से उनको करेंगे उसी हिसाब से आप का नतीजा आपके सामने रहेगा धन्यवाद

plane aapko kaam ko shuru karne mein sahayta hoti hai jabki aadat aapko kaam ko karte rehne mein sahayta karti hai kya yah sahi hai jo yah baat bilkul sahi hai kyonki jab tak aap ko prerna nahi milenge prerna matlab kya hota hai wahi hota hai kuch kaam karne ka nishchay kiya nahi jata hai toh us kaam ke andar aapko jude rehna bahut important hai aur aap jis hisab se jude rahenge vaah hai aapki aadat yani ki agar aapki aadat positive hai toh vyast le aapka hukm bhi positive hoga kyonki aap jis hisab se karenge wahi aap ka natija hai aur agar aapka jo aadesh ko galat tarika hai yani ki sahi nahi hai aap laparwahi rehte hai aur phir jis hisab se aapko karna tha vaah aap nahi de paa rahe hai aapko 7 ghante ya 5 ghante ke andar usko niptana hai lekin aapko lag raha hai 10 ghanta 12 ghanta toh aap sabhi group se aapko dikhai denge isliye doston aadat important hai attitude bahut important hai toh in chijon ko dhyan mein rakhte hue hamein aage badhana zaroori hai jise baat hai thande paani thande aur shital dastoor hota hai us paani par aap apna chehra dekh sakte hai lekin jab garam paani hai jaha se aapka baat nahi kar rahe hai yani ki wapas nikal rahe hai garam hai aur the temperature zyada hai wahan par aapki ek parchai bhi aap nahi dekh paoge ya neck kaam karne ka jo tarika hai vaah use dhang se nahi aayenge aur idhar bhi wahi ruk nahi aapko dikhai denge toh isliye doston aapko apne aadat ko dhyan mein rakhna zaroori hai aur aapka jo prerna hai unko bhi dhyan mein rakhna zaroori hai in dono ko ek talmel karke ab jis hisab se unko karenge usi hisab se aap ka natija aapke saamne rahega dhanyavad

प्लेन आपको काम को शुरू करने में सहायता होती है जबकि आदत आपको काम को करते रहने में सहायता क

Romanized Version
Likes  236  Dislikes    views  2695
WhatsApp_icon
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

1:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रेरणा को काम को शुरू करने में सहायता होती है जबकि आदत आपको काम करते रहने में सहायता करती है क्या सही जी सही अगर अगर सही हो तो क्योंकि कहना जो है हम किसी से प्रेरणा लेते हैं मोटिवेट होते हैं इस पर होते हैं तो हमें काम करने की शुरू करने की हमें इच्छा होती है और हम प्रयास करते हैं और किसी काम को बुद्धि पूर्वक और मेहनत पूर्वक कार्य शुरू करने के बाद जब वह हम काम करते हैं और उसे हम आदत बना लें कि यह काम हम कर रहे हैं पूर्व टीमवर्क है उसे बोरियत महसूस ना करें और हमेशा आत्मविश्वास से लगे रहें अपना बेस्ट ऑफर से हम काम करते रहे उसको आदत के रूप में शिकार का रूटीन लाइफ में जैसे हमको काम करना है वह सदस्य करें और इंटरेस्ट देखकर करें और हम पहले से ही बना ले तो जरूर काम करने में सफलता प्रदान करती है यह सही बात है धन्यवाद

prerna ko kaam ko shuru karne mein sahayta hoti hai jabki aadat aapko kaam karte rehne mein sahayta karti hai kya sahi ji sahi agar agar sahi ho toh kyonki kehna jo hai hum kisi se prerna lete hain motivate hote hain is par hote hain toh hamein kaam karne ki shuru karne ki hamein iccha hoti hai aur hum prayas karte hain aur kisi kaam ko buddhi purvak aur mehnat purvak karya shuru karne ke baad jab vaah hum kaam karte hain aur use hum aadat bana le ki yah kaam hum kar rahe hain purv teamwork hai use boriyat mehsus na kare aur hamesha aatmvishvaas se lage rahein apna best offer se hum kaam karte rahe usko aadat ke roop mein shikaar ka routine life mein jaise hamko kaam karna hai vaah sadasya kare aur interest dekhkar kare aur hum pehle se hi bana le toh zaroor kaam karne mein safalta pradan karti hai yah sahi baat hai dhanyavad

प्रेरणा को काम को शुरू करने में सहायता होती है जबकि आदत आपको काम करते रहने में सहायता करती

Romanized Version
Likes  96  Dislikes    views  1746
WhatsApp_icon
user

Henaa

Study

0:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो एंड गुड मॉर्निंग टू डेजर्ट मैसेज भेजना आपको काम को शुरू करने में हेल्प होती है जिस की आदत आपको काम को करते रहने में सहायता करती है क्या यह सही है यह सब ऑफ दिस इज द हंड्रेड परसेंट प्राइस

hello and good morning to desert massage bhejna aapko kaam ko shuru karne mein help hoti hai jis ki aadat aapko kaam ko karte rehne mein sahayta karti hai kya yah sahi hai yah sab of this is the hundred percent price

हेलो एंड गुड मॉर्निंग टू डेजर्ट मैसेज भेजना आपको काम को शुरू करने में हेल्प होती है जिस की

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  210
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!