वेट के बारे में बताएं?...


user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऑफिस वाले गेट के बारे में बताइए तो आजकल दो ही तरह का होता है कुछ लोगों की शिकायत होती है कि उनका वेट काफी ज्यादा बढ़ चुका है उन्हें वेट कम करना है और कुछ उनका होता है कि उनका वेट काफी काम करना है तू जिनका वेट ज्यादा है उनका वीडियो किस तरह से हुआ और या जिनका वेट कम है तो उनका वेट कम क्यों कुछ भी खाते हैं तो कहते हैं कि हमारे शरीर को लग ही नहीं रहा है दूसरा चीज जो मोटे लोग होते हैं तो वह कहते हैं कि हम सिर्फ पानी भी पी ले तो हमारा हुए क्या काफी ज्यादा हो जाता है तू 220 का सबसे बड़ा कारण है हमारा रहन-सहन खान-पान और हम कभी भी हम यह अवश्य करते ही नहीं है कि हम किस तरह खानपान कौन सामान पालीराम टाइम टाइम कभी भी थोड़ा थोड़ा उठ कर खा लेते हैं लेकिन हम यह कैलकुलेट नहीं करते क्या टाइम जब कभी कुछ कभी नमकीन ले ली कभी अदर चीज ले लिया कभी कुछ ले लिया कभी कुछ ले लिया तो इनसे बार-बार हमारे अंदर कैलोरी इन हो रही है और कल कलोरी इतनी अगेन हो रही है कि अंदर जमा इकट्ठा हो गई लेकिन नहीं हो पा रही है तो जो खट्टी जो कैलोरी है जो बन रही हो धीरे-धीरे और क्या होता है वो हमारे अंदर पेट के रूप में कन्वर्ट होना शुरू हो जाता है और मोटापा बढ़ जाता है ठीक है तो इस तरह से हम हमारा वेट काफी ज्यादा बढ़ जाता है इस तरह से जब कम रेट का होता है तो सेम यहां पर भी यही स्थिति होते क्या हमारा रहन-सहन खान-पान जो है वह यथास्थिति में है ही नहीं तो हमें अपने रहन-सहन खान-पान और डेली रूटीन को चेंज करना होगा धन्यवाद

office waale gate ke bare me bataiye toh aajkal do hi tarah ka hota hai kuch logo ki shikayat hoti hai ki unka wait kaafi zyada badh chuka hai unhe wait kam karna hai aur kuch unka hota hai ki unka wait kaafi kaam karna hai tu jinka wait zyada hai unka video kis tarah se hua aur ya jinka wait kam hai toh unka wait kam kyon kuch bhi khate hain toh kehte hain ki hamare sharir ko lag hi nahi raha hai doosra cheez jo mote log hote hain toh vaah kehte hain ki hum sirf paani bhi p le toh hamara hue kya kaafi zyada ho jata hai tu 220 ka sabse bada karan hai hamara rahan sahan khan pan aur hum kabhi bhi hum yah avashya karte hi nahi hai ki hum kis tarah khanpan kaun saamaan paliram time time kabhi bhi thoda thoda uth kar kha lete hain lekin hum yah calculate nahi karte kya time jab kabhi kuch kabhi namkeen le li kabhi other cheez le liya kabhi kuch le liya kabhi kuch le liya toh inse baar baar hamare andar calorie in ho rahi hai aur kal kalori itni again ho rahi hai ki andar jama ikattha ho gayi lekin nahi ho paa rahi hai toh jo khatti jo calorie hai jo ban rahi ho dhire dhire aur kya hota hai vo hamare andar pet ke roop me convert hona shuru ho jata hai aur motapa badh jata hai theek hai toh is tarah se hum hamara wait kaafi zyada badh jata hai is tarah se jab kam rate ka hota hai toh same yahan par bhi yahi sthiti hote kya hamara rahan sahan khan pan jo hai vaah yathasthiti me hai hi nahi toh hamein apne rahan sahan khan pan aur daily routine ko change karna hoga dhanyavad

ऑफिस वाले गेट के बारे में बताइए तो आजकल दो ही तरह का होता है कुछ लोगों की शिकायत होती है क

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  172
KooApp_icon
WhatsApp_icon
23 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!