हर्षवर्धन के बारे में बताये?...


user
0:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मोदी की जो हर्षवर्धन है वह इंडियन एक्टर है उनका जन्म 1983 में हुआ था और विश्व के लिए और तेलुगू मूवी नई मूवी बनाए हैं जैसे ताकि ताकि ताकि बनाया और बहुत सारा ब्लॉकबस्टर मूवी करना है

modi ki jo harshvardhan hai vaah indian actor hai unka janam 1983 mein hua tha aur vishwa ke liye aur telugu movie nayi movie banaye hain jaise taki taki taki banaya aur bahut saara blockbuster movie karna hai

मोदी की जो हर्षवर्धन है वह इंडियन एक्टर है उनका जन्म 1983 में हुआ था और विश्व के लिए और ते

Romanized Version
Likes  23  Dislikes    views  558
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Prabhat Verma

primary teacher government of bihar

1:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हर्षवर्धन प्राचीन भारत का एक राजा था जिसने उत्तरी भारत में अपना एक सिगरेट साम्राज्य स्थापित किया वह हिंदू सम्राट था जिसने पंजाब छोड़कर से समस्त उतरी भारत पर राज किया सका उनकी मृत्यु के उपरांत व बंगाल को बे जितने में समर्थ हुआ हर्षवर्धन के शासनकाल का इतिहास मदद से प्राप्त दो ताम्रपत्र राजधानी और चीनी यात्री विमान सेवाओं के विवरण और हर्ष एवं बांगड़ रचित संस्कृत का ग्रंथों से प्राप्त है इनके जो शासनकाल रहे वह 606 से 647 ईसवी तक इन्होंने अपने इन्हें निभाने थानेसर से पिंकी चौहान आज कहां थी वह वर्धन वंश के शासक थे इनका जो उत्तर भर्ती इलाका था वह सो वर्णन थे सॉरी उत्तर भारती चौक राजा थे वैसा बार मंत्री तथा पूर्वर्ती जोड़ा जाता है राजवर्धन थे इनके पिता का नाम प्रभाकर वर्धन था बहुत धर्म को मानने वाला शासक था

harshvardhan prachin bharat ka ek raja tha jisne uttari bharat mein apna ek cigarette samrajya sthapit kiya vaah hindu samrat tha jisne punjab chhodkar se samast utari bharat par raj kiya saka unki mrityu ke uprant va bengal ko be jitne mein samarth hua harshvardhan ke shasankal ka itihas madad se prapt do tamrapatra rajdhani aur chini yatri Vimaan sewaon ke vivran aur harsh evam bangad rachit sanskrit ka granthon se prapt hai inke jo shasankal rahe vaah 606 se 647 isvi tak inhone apne inhen nibhane thanesar se pinki Chauhan aaj kahaan thi vaah vardhan vansh ke shasak the inka jo uttar bharti ilaka tha vaah so varnan the sorry uttar bharati chauk raja the waisa baar mantri tatha purvarti joda jata hai rajavardhan the inke pita ka naam prabhakar vardhan tha bahut dharm ko manne vala shasak tha

हर्षवर्धन प्राचीन भारत का एक राजा था जिसने उत्तरी भारत में अपना एक सिगरेट साम्राज्य स्थापि

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  320
WhatsApp_icon
user
0:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गुड मॉर्निंग फ्रेंड आपने प्रॉमिस किया है कि हर्षवर्धन के बारे में बताएं तो प्रेम जी जरूर मैं आपको बताना चाहूंगा फ्रेंड भेजो हर्षवर्धन से जो कि अनशन 90 से 647 ईसवी तक का उनका साम्राज्य का अंत में और जीवन काल का इजहार करता हूं जो महाराजा थे वह भारत प्राचीन भारत में एक राजा था उसने उत्तरी भारत में अपना एक समृद्ध साम्राज्य स्थापित किया था वह हिंदू सम्राट तथा जितने पंजाब छोड़कर से समस्त उत्तरी भारत पर राज्य के शासन के की मृत्यु के उपरांत वह बंगाल को भी जीतने में समोसवा हर्षवर्धन के शासनकाल का इतिहास भाग से प्राप्त होता पात्रों ताम्रपत्र राजस्थान की नई चीनी यात्री युवान सोंग के विवरण और हर्षवर्धन के और हर एवं बाणभट्ट रचित संस्कृत काव्य ग्रंथ में प्राप्त है धन्यवाद

good morning friend aapne promise kiya hai ki harshvardhan ke bare me bataye toh prem ji zaroor main aapko batana chahunga friend bhejo harshvardhan se jo ki anshan 90 se 647 isvi tak ka unka samrajya ka ant me aur jeevan kaal ka izhaar karta hoon jo maharaja the vaah bharat prachin bharat me ek raja tha usne uttari bharat me apna ek samriddh samrajya sthapit kiya tha vaah hindu samrat tatha jitne punjab chhodkar se samast uttari bharat par rajya ke shasan ke ki mrityu ke uprant vaah bengal ko bhi jitne me samosava harshvardhan ke shasankal ka itihas bhag se prapt hota patron tamrapatra rajasthan ki nayi chini yatri yuvan song ke vivran aur harshvardhan ke aur har evam banabhatt rachit sanskrit kavya granth me prapt hai dhanyavad

गुड मॉर्निंग फ्रेंड आपने प्रॉमिस किया है कि हर्षवर्धन के बारे में बताएं तो प्रेम जी जरूर म

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  839
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!