तुलसीदास जी के भाव पक्ष, कला पक्ष और छंद अलंकार के बारे में बताएं?...


play
user

Ajay kumar

Teacher

1:44

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका वजन तुलसीदास के भाव पक्ष कला पक्ष और छंद अलंकार के बारे में बताइए तुलसीदास गोस्वामी तुलसीदास का जन्म 1511 ईस्वी में हिंदी साहित्य के महान कवि थे इनका नाम सोरों शूकर क्षेत्र वर्तमान में कासगंज एटा उत्तर प्रदेश में हुआ था कुछ विद्वान इनका जन्म राजापुर जिले आधा में भी मानते हैं कुछ विद्वान तुलसीदास का जन्म गोंडा जिले के और शुक्र खेत में गोभी मानते हैं और इनके आदि कॉल आदि काफी रामायण के रचयिता महर्षि बाल्मीकि का अवतार भी माना जाता है श्री रामचरितमानस का कथन रामायण से किया गया था रामचरितमानस ग्रंथ और इसे उत्तर भारत में बड़े भक्तिकालीन बाप से पढ़ा जाता है तुलसीदास जी की मृत्यु हुई थी और यह हिंदू धर्म के थे हम अगर बात करें तो इसमें रामलाल नाचू उनके अलावा रामा ज्ञान कृष्ण जानकी मंगल रामचरितमानस सत्य सावित्री मंगल गीता वाले विनय पत्रिका सिर संगीता वाली बरवै रामायण दोहा वाली और कविता वाली शामिल है ओके

aapka wajan tulsidas ke bhav paksh kala paksh aur chhand alankar ke bare me bataiye tulsidas goswami tulsidas ka janam 1511 isvi me hindi sahitya ke mahaan kavi the inka naam soron shukar kshetra vartaman me kasganj etah uttar pradesh me hua tha kuch vidhwaan inka janam rajapur jile aadha me bhi maante hain kuch vidhwaan tulsidas ka janam gonda jile ke aur shukra khet me gobhi maante hain aur inke aadi call aadi kaafi ramayana ke rachiyata maharshi balmiki ka avatar bhi mana jata hai shri ramcharitmanas ka kathan ramayana se kiya gaya tha ramcharitmanas granth aur ise uttar bharat me bade bhaktikalin baap se padha jata hai tulsidas ji ki mrityu hui thi aur yah hindu dharm ke the hum agar baat kare toh isme ramlal nachu unke alava rama gyaan krishna janki mangal ramcharitmanas satya savitri mangal geeta waale vinay patrika sir sangeeta wali brvei ramayana doha wali aur kavita wali shaamil hai ok

आपका वजन तुलसीदास के भाव पक्ष कला पक्ष और छंद अलंकार के बारे में बताइए तुलसीदास गोस्वामी त

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  186
KooApp_icon
WhatsApp_icon
1 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!