लोग डरते क्यों हैं?...


user

Yogesh Saroha

Counseling Psychologist

1:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लोगों के खिलाफ पास वाले लोग इसलिए डरते हैं क्योंकि लोग अपने आप को कमजोर समझते हैं अगर वह अपने आप को मजबूत बना ले तो उनको डर नहीं लगेगा सी भी चीज में हम अगर कुछ नहीं आता है तो हम लोग भी अगर वह सब कुछ आता है तो हम कॉन्फिडेंस के साथ उस चीज का सामना कर लेते हैं जिससे कि हम डरते नहीं डर भी निकलो निकलो नहीं लोगों को लगता है जिसको है कोई आता नहीं है अगर हमें इस चीज को जानना है इसको प्राप्त करने के बारे में सीखे कोई जान जानकारी प्लीज के बारे में अगर हम जिस चीज का पता है तो हमें क्यों डर लगेगा ऐसी कोई मनुष्य में किसी बिंदु सेवा में पहली बार मिलते तो घंटा लगता है अगर मुझसे बात अगले तीन-चार बिल्ली तो फिर क्या डर लगेगा नहीं लगेगा ना क्योंकि इसके बारे में पता लग जाऊंगा कैसा किस टाइप का क्या है वही चीज है कि हम डर तक तब तक डर लगता तब तक निकले उसके बारे में कुछ लोग इतना नहीं चाहते हैं लड़के सारे जीना चाहते हैं अपने आप को किसी का लेवल पर पाना चाहते हैं अगर हम अपने आप को इतना समझा ले कि हां यह मैं कर सकता हूं मुझे चीज का कोई डर नहीं है मेरे को आता है तो हम ऑटोमेटिक कि इस डर को भूल जाएंगे मरना भी डर भी नहीं पाएंगे

logon ke khilaf paas waale log isliye darte hain kyonki log apne aap ko kamjor samajhte hain agar vaah apne aap ko majboot bana le toh unko dar nahi lagega si bhi cheez mein hum agar kuch nahi aata hai toh hum log bhi agar vaah sab kuch aata hai toh hum confidence ke saath us cheez ka samana kar lete hain jisse ki hum darte nahi dar bhi niklo niklo nahi logo ko lagta hai jisko hai koi aata nahi hai agar hamein is cheez ko janana hai isko prapt karne ke bare mein sikhe koi jaan jaankari please ke bare mein agar hum jis cheez ka pata hai toh hamein kyon dar lagega aisi koi manushya mein kisi bindu seva mein pehli baar milte toh ghanta lagta hai agar mujhse baat agle teen char billi toh phir kya dar lagega nahi lagega na kyonki iske bare mein pata lag jaunga kaisa kis type ka kya hai wahi cheez hai ki hum dar tak tab tak dar lagta tab tak nikle uske bare mein kuch log itna nahi chahte hain ladke saare jeena chahte hain apne aap ko kisi ka level par paana chahte hain agar hum apne aap ko itna samjha le ki haan yah main kar sakta hoon mujhe cheez ka koi dar nahi hai mere ko aata hai toh hum Automatic ki is dar ko bhool jaenge marna bhi dar bhi nahi payenge

लोगों के खिलाफ पास वाले लोग इसलिए डरते हैं क्योंकि लोग अपने आप को कमजोर समझते हैं अगर वह अ

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  216
WhatsApp_icon
5 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Kapil

Bearings

0:27
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लोग डरते इसलिए है क्योंकि लोग जैसा सोचते हैं वैसा ही मॉल उनके आसपास उत्पन्न हो जाता है इसके बारे में सोचा ही नहीं डर की संभावनाएं पैदा ही नहीं होंगी निर्णय इसके बारे में एक दोहा भी सूची दास ने कहा कि तुलसी भरोसे राम के निर्भय होकर सोए अनहोनी होली होली होली

log darte isliye hai kyonki log jaisa sochte hain waisa hi mall unke aaspass utpann ho jata hai iske bare mein socha hi nahi dar ki sambhavnayen paida hi nahi hongi nirnay iske bare mein ek doha bhi suchi das ne kaha ki tulsi bharose ram ke nirbhay hokar soye anahoni holi holi holi

लोग डरते इसलिए है क्योंकि लोग जैसा सोचते हैं वैसा ही मॉल उनके आसपास उत्पन्न हो जाता है इसक

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  168
WhatsApp_icon
user
0:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

व्यक्तियों के डरने का एक ही कारण है वह अपने आप पर आत्मविश्वास नहीं रखते और दूसरों की कही बातों को सच मानते हैं जबकि दूसरों की कही बातें पूरी तरह सही नहीं होती हड़ताल डरने का कारण यही है कि आदमी को विश्वास रखना चाहिए दूसरों की बातों पर ध्यान नहीं देना चाहिए मुझे सच नाम आना चाहिए आपका दिन शुभ हो

vyaktiyon ke darane ka ek hi karan hai vaah apne aap par aatmvishvaas nahi rakhte aur dusro ki kahi baaton ko sach maante hain jabki dusro ki kahi batein puri tarah sahi nahi hoti hartal darane ka karan yahi hai ki aadmi ko vishwas rakhna chahiye dusro ki baaton par dhyan nahi dena chahiye mujhe sach naam aana chahiye aapka din shubha ho

व्यक्तियों के डरने का एक ही कारण है वह अपने आप पर आत्मविश्वास नहीं रखते और दूसरों की कही ब

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  129
WhatsApp_icon
user
0:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लोग इसलिए डरते हैं क्योंकि उसके माइंड में भयभीत हो जाता है बार-बार उसको सफेद करते नहीं नहीं कर पाऊंगा नहीं कर पाए लेकिन यह बहुत आसान है

log isliye darte hain kyonki uske mind mein bhayabhit ho jata hai baar baar usko safed karte nahi nahi kar paunga nahi kar paye lekin yah bahut aasaan hai

लोग इसलिए डरते हैं क्योंकि उसके माइंड में भयभीत हो जाता है बार-बार उसको सफेद करते नहीं नही

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  120
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

डरते हैं तो घर से निकलते क्यों हैं

darte hain toh ghar se nikalte kyon hain

डरते हैं तो घर से निकलते क्यों हैं

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  149
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!