भारतीय राजनीति में क्या नहीं बदला है?...


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारतीय राजनीति में क्या नहीं बदला है अच्छा प्रश्न है भारतीय राजनीति में जातिवाद एकता अभी तक नहीं बदला है आशा करता हूं आप इस जवाब से सहमत एवं संतुष्ट होंगे

bharatiya raajneeti me kya nahi badla hai accha prashna hai bharatiya raajneeti me jaatiwad ekta abhi tak nahi badla hai asha karta hoon aap is jawab se sahmat evam santusht honge

भारतीय राजनीति में क्या नहीं बदला है अच्छा प्रश्न है भारतीय राजनीति में जातिवाद एकता अभी त

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  150
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

2:06
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारतीय राजनीति में स्वार्थपरता कभी नहीं बदलती है भारत के राजनीतिक नब्बे परसेंट स्वार्थी हैं 90 क्वेश्चन भारती पॉलीटिकल पार्टीज होती हैं इनकी पॉलीटिशियंस वासी हैं यह लोग अवसरवादी हैं यह लोग सत्ता सुख प्राप्त करने के लिए राजनीति में आते हैं यह लोग धन कमाने के लिए राजनीति में आते हैं और धन कमाना ही इनका मूल उद्देश्य यदि इनमें से कोई भी आपको यह कहता है कि मैं समाज सेवा करने के लिए आया हूं मैं देश सेवा करने के लिए आया हूं तो यह सरासर झूठ है सफेद झूठ है जो कि आज राजनीति व्यवसाय बन चुकी है आज के नेताओं को देखते हैं आप को किसी पार्टी में कोई इच्छा नहीं है दम बबलू नेता रातोंरात बदल देते हैं सब का सुख प्राप्त करने के लिए सप्ताह से धन कमाने के लिए अपना प्रभाव बढ़ाने के लिए यह रातों-रात पार्टी बदल लेते हैं उनका स्तर तो भारतीय अनीता स्तंभ उत्पन्न करना है भारतीय राजनीतिज्ञों का है यह रंग बदलने वाले हमारे बड़े दुर्भाग्य का विषय है यह शुभ सुता के पात की राजनीति माया है तुम तो से पहले की जो राजनीति थी वह वाकई देश सेवा करने वाले होते थे उस समाजसेवक लिया तिथे मी सम देश के नागरिकों के लिए सेवा संहिता करने के लिए राजनीति राजनीति में आते थे बाकी जानकारी चाहिए वाकई परोपकारी थे उनका वह अपने पूरे जीवन को देश के लोगों के लिए समर्पित कर देते थे जबकि सुता के बाद में व्यक्तिगत स्वार्थ इतने हावी हो गए हैं कि आज किस राजनेता और आज की राजनीति सबसे अधिक गणित गंदी चिकली यह तो केवल अपने व्यक्तिगत स्वार्थों के लिए रोज पार्टी बदलते हैं गंदी राजनीति करते हैं

bharatiya raajneeti mein swarthaparata kabhi nahi badalti hai bharat ke raajnitik nabbe percent swaarthi hain 90 question bharati political parties hoti hain inki politicians waasi hain yah log avasaravadi hain yah log satta sukh prapt karne ke liye raajneeti mein aate hain yah log dhan kamane ke liye raajneeti mein aate hain aur dhan kamana hi inka mul uddeshya yadi inme se koi bhi aapko yah kahata hai ki main samaj seva karne ke liye aaya hoon main desh seva karne ke liye aaya hoon toh yah sarasar jhuth hai safed jhuth hai jo ki aaj raajneeti vyavasaya ban chuki hai aaj ke netaon ko dekhte hain aap ko kisi party mein koi iccha nahi hai dum babaloo neta ratonrat badal dete hain sab ka sukh prapt karne ke liye saptah se dhan kamane ke liye apna prabhav badhane ke liye yah raatoon raat party badal lete hain unka sthar toh bharatiya anita stambh utpann karna hai bharatiya rajaneetigyon ka hai yah rang badalne waale hamare bade durbhagya ka vishay hai yah shubha suta ke pat ki raajneeti maya hai tum toh se pehle ki jo raajneeti thi vaah vaakai desh seva karne waale hote the us samajsevak liya tithe me some desh ke nagriko ke liye seva sanhita karne ke liye raajneeti raajneeti mein aate the baki jaankari chahiye vaakai paropakaaree the unka vaah apne poore jeevan ko desh ke logo ke liye samarpit kar dete the jabki suta ke baad mein vyaktigat swarth itne haavi ho gaye hain ki aaj kis raajneta aur aaj ki raajneeti sabse adhik ganit gandi chikli yah toh keval apne vyaktigat swarthon ke liye roj party badalte hain gandi raajneeti karte hain

भारतीय राजनीति में स्वार्थपरता कभी नहीं बदलती है भारत के राजनीतिक नब्बे परसेंट स्वार्थी है

Romanized Version
Likes  92  Dislikes    views  1835
WhatsApp_icon
user

Lokesh Yogi

Education

0:06
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारतीय राजनीतिक पार्टियों में भ्रष्टाचार कभी नहीं बदलता

bharatiya raajnitik partiyon mein bhrashtachar kabhi nahi badalta

भारतीय राजनीतिक पार्टियों में भ्रष्टाचार कभी नहीं बदलता

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  134
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!