ज्योतिष के गुरु कौन हैं?...


user
1:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार मैं ईशान त्रिपाठी सीईओ एंड फाउंडर आफ जूलॉजी डॉट कॉम लिखित ज्योतिष में जो है ज्योतिष वह पहले तो मैं आपको बताना चाहूंगा कि ज्योतिष जो है वह हमें वेदों से प्राप्त हुआ है इसलिए ज्योतिष को भी चार भागों में बांटा गया है वेदों के अनुसार रिग वैदिक ज्योतिष अथर्ववेद ज्योतिष शाम वैदिक ज्योतिष और कैसे रुकते तो यह 4 तरह के ज्योतिषी वेदों से लिए गए हैं इसी के अनुसार ज्योतिष की अधिक चर्चा की जाए तो इसमें टोटल 20 प्रवर्तक ओं को माना गया है ठीक इसी प्रकार यदि वस्तु की चर्चा की जाए तो वास्तव में भी 20 प्रवर्तक माने गए हैं ज्योतिष और वास्तु के कुछ कुछ प्रवर्तक जो हैं वह एम है लगभग एक ही प्रवर्तक आरती माया को स्पष्ट करना चाहूंगा प्रवर्तक का अर्थ होता है आगे बढ़ाने व तो इस प्रकार से ज्योतिष को पहले वेदों से निकाल कर एक जगह संकलित किया गया और फिर इन प्रवर्तक ओं ने 20 समर्थकों ने उन्हें धीरे-धीरे ज्योतिष को आगे बढ़ाएं धन्यवाद

namaskar main ishan tripathi ceo and founder of zoology dot com likhit jyotish me jo hai jyotish vaah pehle toh main aapko batana chahunga ki jyotish jo hai vaah hamein vedo se prapt hua hai isliye jyotish ko bhi char bhaagon me baata gaya hai vedo ke anusaar rig vaidik jyotish atharvaved jyotish shaam vaidik jyotish aur kaise rukte toh yah 4 tarah ke jyotishi vedo se liye gaye hain isi ke anusaar jyotish ki adhik charcha ki jaaye toh isme total 20 pravartak on ko mana gaya hai theek isi prakar yadi vastu ki charcha ki jaaye toh vaastav me bhi 20 pravartak maane gaye hain jyotish aur vastu ke kuch kuch pravartak jo hain vaah M hai lagbhag ek hi pravartak aarti maya ko spasht karna chahunga pravartak ka arth hota hai aage badhane va toh is prakar se jyotish ko pehle vedo se nikaal kar ek jagah sankalit kiya gaya aur phir in pravartak on ne 20 samarthakon ne unhe dhire dhire jyotish ko aage badhaye dhanyavad

नमस्कार मैं ईशान त्रिपाठी सीईओ एंड फाउंडर आफ जूलॉजी डॉट कॉम लिखित ज्योतिष में जो है ज्योति

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  79
KooApp_icon
WhatsApp_icon
2 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!