योग किस योगी का योगदान है?...


user

Naresh rana

Yoga Trainer

0:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार दोस्तों मैं आपका फ्रेंड योगा ट्रेनर मुझे सोना आपका सवाल है कि जो योगी का योगदान है वह दोस्तों अब जो है योग का प्रणेता जो है आदि योगी अर्थ यानी कि भगवान शिव को माना जाता है जो कि योग के प्रणेता हैं आदियोगी भगवान शिव योग के प्रथम प्रणेता है जिनसे योग उत्पन्न हुआ है इसीलिए उन्हें आदि योगी भी कहा जाता है उसके पश्चात हिरण्यगर्भ को योग प्रचारक माना जाता है

namaskar doston main aapka friend yoga trainer mujhe sona aapka sawaal hai ki jo yogi ka yogdan hai vaah doston ab jo hai yog ka praneta jo hai aadi yogi arth yani ki bhagwan shiv ko mana jata hai jo ki yog ke praneta hain adiyogi bhagwan shiv yog ke pratham praneta hai jinse yog utpann hua hai isliye unhe aadi yogi bhi kaha jata hai uske pashchat hiranyagarbh ko yog prachar mana jata hai

नमस्कार दोस्तों मैं आपका फ्रेंड योगा ट्रेनर मुझे सोना आपका सवाल है कि जो योगी का योगदान है

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  138
WhatsApp_icon
12 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Vijay Sharma

Yoga Trainer (P.G.D.Y.)

0:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

महर्षि पतंजलि ही इसके असली माने जाने योग्य माने जाते हैं फैशन 220e के अंतर्गत उन्होंने एक समय योग ग्रंथ की रचना की थी उस काम का योग सूत्र जिसमें 195 सूत्र होते हैं

maharshi patanjali hi iske asli maane jaane yogya maane jaate hain fashion 220e ke antargat unhone ek samay yog granth ki rachna ki thi us kaam ka yog sutra jisme 195 sutra hote hain

महर्षि पतंजलि ही इसके असली माने जाने योग्य माने जाते हैं फैशन 220e के अंतर्गत उन्होंने एक

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  242
WhatsApp_icon
user

Kailash Babu

Yoga Trainer

0:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

योग सबसे पहले हिरण्यगर्भ नामक योगी ने इस संसार को दिया उन्होंने आदिनाथ को योग की विद्या सिखाई आदिनाथ का मतलब होता है जिसका ना कोई अंत है ना ही कोई शुरुआत उन्होंने फिर दूसरे योगी लोगों को मच्छिंद्रनाथ गोरखनाथ जी को इस संसार में योग प्रचार प्रसार के लिए भेजा और उसके पहले महर्षि पतंजलि ने योग को बहुत सारी जगह फैला हुआ था जो पुराणों में वेदों में उनको इकट्ठा करके एक जगह संस्कृत किया और उनको पूरे संसार को दिया जग से योग का प्रचार प्रसार बहुत ज्यादा बढ़ गया उसके बाद बहुत सारे योगी लोग हुए जिन्होंने संसार में योग की विद्या का प्रचार प्रसार किया इनमें बहुत सारे योगियों के नाम है उनको आप जान सकते हो

yog sabse pehle hiranyagarbh namak yogi ne is sansar ko diya unhone adinath ko yog ki vidya sikhai adinath ka matlab hota hai jiska na koi ant hai na hi koi shuruat unhone phir dusre yogi logo ko macchindranath gorakhnath ji ko is sansar me yog prachar prasaar ke liye bheja aur uske pehle maharshi patanjali ne yog ko bahut saari jagah faila hua tha jo purano me vedo me unko ikattha karke ek jagah sanskrit kiya aur unko poore sansar ko diya jag se yog ka prachar prasaar bahut zyada badh gaya uske baad bahut saare yogi log hue jinhone sansar me yog ki vidya ka prachar prasaar kiya inmein bahut saare yogiyon ke naam hai unko aap jaan sakte ho

योग सबसे पहले हिरण्यगर्भ नामक योगी ने इस संसार को दिया उन्होंने आदिनाथ को योग की विद्या सि

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  231
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार दोस्तों आपका दोस्त आपका योगा फ्रेंड विश्वदेव आपने पूछा योग किसी योगी का योगदान है यूं तो साक्षात परमात्मा का योगदान है क्योंकि आप यूं कब आया यू गया तब तक इंसान है इंसान के साथ तक जाऊंगा गया और हमारे ऋषि ने उसके पर शोध किया जो के ऊपर और तू प्रमाणित किया योग आपके लिए आप योग करें स्वस्थ रहें खुश रहें मस्त रहें और लेकर आया कब लेकर आया यह बात की बात है सबसे पहले बात यह है कि योगा गया है तो आप उसको अपना लें आप रोज करें स्वस्थ रहें बचपन से जवानी की ओर जवानी दे फिर जवानी क्यों करता है वह कभी बूढ़ा नहीं होता जो

namaskar doston aapka dost aapka yoga friend vishwadev aapne poocha yog kisi yogi ka yogdan hai yun toh sakshat paramatma ka yogdan hai kyonki aap yun kab aaya you gaya tab tak insaan hai insaan ke saath tak jaunga gaya aur hamare rishi ne uske par shodh kiya jo ke upar aur tu pramanit kiya yog aapke liye aap yog kare swasthya rahein khush rahein mast rahein aur lekar aaya kab lekar aaya yah baat ki baat hai sabse pehle baat yah hai ki yoga gaya hai toh aap usko apna le aap roj kare swasthya rahein bachpan se jawaani ki aur jawaani de phir jawaani kyon karta hai vaah kabhi budha nahi hota jo

नमस्कार दोस्तों आपका दोस्त आपका योगा फ्रेंड विश्वदेव आपने पूछा योग किसी योगी का योगदान है

Romanized Version
Likes  47  Dislikes    views  599
WhatsApp_icon
user

Girijakant Singh

Founder/ President Yog Bharati Foundation Trust

0:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न आयोग के सहयोगी का योगदान है वैसे तो युवक आरंभ आयोग जो हमें मिला है वह महायोगी शिव के द्वारा मिला है इसका ज्ञान इसके अलावा महर्षि पतंजलि ने इसको सूत्रपात किया पतंजलि योग सूत्र की रचना की इसमें हमें अष्टांग मार्ग पर पद किया उन्होंने यम नियम आसन प्राणायाम प्रत्याहार धारणा ध्यान समाधि बाकी आज योग जो हम तक पहुंचा है उसके लिए अनेकों ऋषि मनीषियों ने हमें योगदान दिया है

aapka prashna aayog ke sahyogi ka yogdan hai waise toh yuvak aarambh aayog jo hamein mila hai vaah mahayogi shiv ke dwara mila hai iska gyaan iske alava maharshi patanjali ne isko sutrapaat kiya patanjali yog sutra ki rachna ki isme hamein ashtanga marg par pad kiya unhone yum niyam aasan pranayaam pratyahar dharana dhyan samadhi baki aaj yog jo hum tak pohcha hai uske liye anekon rishi manishiyon ne hamein yogdan diya hai

आपका प्रश्न आयोग के सहयोगी का योगदान है वैसे तो युवक आरंभ आयोग जो हमें मिला है वह महायोगी

Romanized Version
Likes  188  Dislikes    views  2688
WhatsApp_icon
user

Yog Guru Amit Agrawal Rishiyog

Yoga Acupressure Expert

0:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपको कितने योग किस योगी का योगदान है प्रश्न पढ़कर लगता है कि आप योग के प्रतिपादक यह योग के जूते दाता हैं उनका नाम जानना चाहते हैं तो योग्य है महर्षि पतंजलि का है महर्षि पतंजलि ने अष्टांग योग दिया और योग उन्हीं की देन है कार्य

aapko kitne yog kis yogi ka yogdan hai prashna padhakar lagta hai ki aap yog ke pratipadak yah yog ke joote data hain unka naam janana chahte hain toh yogya hai maharshi patanjali ka hai maharshi patanjali ne ashtanga yog diya aur yog unhi ki then hai karya

आपको कितने योग किस योगी का योगदान है प्रश्न पढ़कर लगता है कि आप योग के प्रतिपादक यह योग के

Romanized Version
Likes  300  Dislikes    views  3763
WhatsApp_icon
user

Yog Guru Gyan Ranjan Maharaj

Founder & Director - Kashyap Yogpith

1:07
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जातक आपका क्वेश्चन है योग किस योगी का योगदान है देखिए योगी किसी योगी का योगदान महर्षि पातंजल बहुत बड़े योगी थे जिनका योग में सर्वोत्तम योगदान है महर्षि पतंजलि को योग ऋषि की उपाधि मिली थी और महर्षि पतंजलि योग के जनक कहलाते हैं इसलिए महर्षि पतंजलि योग के सबसे बड़े योगी हुए हमारे भारतवर्ष में हमारे हिंदुस्तान में जो कि ईसा पूर्व युग की स्थापना की गई और युग की खोज की गई जिसका नाम अजय भारती पतंजलि योग संस्थान योगी रामदेव जी उस नाम से मर के पातंजल के नाम पर ही स्वामी रामदेव जी ने अपने योग संस्था का नाम रखा है बहुत ही पुराना योग पद्धति है हमारे देश का धन्यवाद

jatak aapka question hai yog kis yogi ka yogdan hai dekhiye yogi kisi yogi ka yogdan maharshi patanjal bahut bade yogi the jinka yog mein sarvottam yogdan hai maharshi patanjali ko yog rishi ki upadhi mili thi aur maharshi patanjali yog ke janak kehlate hain isliye maharshi patanjali yog ke sabse bade yogi hue hamare bharatvarsh mein hamare Hindustan mein jo ki isa purv yug ki sthapna ki gayi aur yug ki khoj ki gayi jiska naam ajay bharati patanjali yog sansthan yogi ramdev ji us naam se mar ke patanjal ke naam par hi swami ramdev ji ne apne yog sanstha ka naam rakha hai bahut hi purana yog paddhatee hai hamare desh ka dhanyavad

जातक आपका क्वेश्चन है योग किस योगी का योगदान है देखिए योगी किसी योगी का योगदान महर्षि पातं

Romanized Version
Likes  52  Dislikes    views  1410
WhatsApp_icon
user

Akash Mishra

Yoga Expert | Author | Naturopathist | Acupressure Specialist |

1:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

योग के योगी का योगदान है महर्षि पतंजलि योग के प्रणेता माने जाते हैं योग दर्शन के प्रणेता माने जाते हैं उन्होंने आतंकियों को सूत्र का निर्माण किया था जिसमें प्राचीन जो योग की हत्या थी उसमें वेदों उपनिषदों महाकाव्य और अन्य जितने भी ग्रंथ के उन में योग का जो बिखरा हुआ शुरू महर्षि पतंजलि ने उसे 195 मोतियों की एक सुंदर माला में पिरो महर्षि पतंजलि ने योग का स्वरूप दर्शाया था उसके उपरांत कैसे गोरखनाथ मछंदर नाथ जी ने और घेरंड ऋषि ने योग को बताने का कितना योगदान किया था तो यह आपके अशोक नाम से है तो कृपया उस चैनल को सब्सक्राइब शेयर लाइक और कमेंट करें थैंक यू सो मच

yog ke yogi ka yogdan hai maharshi patanjali yog ke praneta maane jaate hain yog darshan ke praneta maane jaate hain unhone atankiyo ko sutra ka nirmaan kiya tha jisme prachin jo yog ki hatya thi usme vedo upnishadon mahakavya aur anya jitne bhi granth ke un mein yog ka jo bikhra hua shuru maharshi patanjali ne use 195 motiyon ki ek sundar mala mein piro maharshi patanjali ne yog ka swaroop darshaya tha uske uprant kaise gorakhnath machandar nath ji ne aur gherand rishi ne yog ko batane ka kitna yogdan kiya tha toh yah aapke ashok naam se hai toh kripya us channel ko subscribe share like aur comment kare thank you so match

योग के योगी का योगदान है महर्षि पतंजलि योग के प्रणेता माने जाते हैं योग दर्शन के प्रणेता

Romanized Version
Likes  27  Dislikes    views  196
WhatsApp_icon
user

अमित चौधरी

Yoga Instructor & Therapist www.Acuved.Com

0:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

योग के बारे में वैसे तो हमारे वेदों में है गीता में दिया गया है लेकिन योग पूरी तरह से महर्षि पतंजलि ने योग दर्शन में बताया है जिसमें उन्होंने अष्टांग योग के बारे में बताया है जैसे यम नियम आसन प्राणायाम धारणा ध्यान समाधि और योग दर्शन को पढ़कर कोई भी व्यक्ति योग के बारे में अच्छी तरह से जान सकता है

yog ke bare mein waise toh hamare vedo mein hai geeta mein diya gaya hai lekin yog puri tarah se maharshi patanjali ne yog darshan mein bataya hai jisme unhone ashtanga yog ke bare mein bataya hai jaise yum niyam aasan pranayaam dharana dhyan samadhi aur yog darshan ko padhakar koi bhi vyakti yog ke bare mein achi tarah se jaan sakta hai

योग के बारे में वैसे तो हमारे वेदों में है गीता में दिया गया है लेकिन योग पूरी तरह से महर्

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  130
WhatsApp_icon
user
0:10
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यूके सबसे बड़ी योगी भगवान शंकर है उसके बाद महर्षि पतंजलि है

UK sabse badi yogi bhagwan shankar hai uske baad maharshi patanjali hai

यूके सबसे बड़ी योगी भगवान शंकर है उसके बाद महर्षि पतंजलि है

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  152
WhatsApp_icon
user

Prem Kumar

Business Owner

0:29
Play

Likes  13  Dislikes    views  204
WhatsApp_icon
user

Rajkumar

Student

0:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

योग का ज्ञान आदि योगी भगवान शिव के द्वारा दिया गया था भगवान शिव को ही आदियोगी कहा जाता है उन्होंने ही योग की मुद्रा और योग का विभाजन करके भक्तों को प्रदान किया था

yog ka gyaan aadi yogi bhagwan shiv ke dwara diya gaya tha bhagwan shiv ko hi adiyogi kaha jata hai unhone hi yog ki mudra aur yog ka vibhajan karke bhakton ko pradan kiya tha

योग का ज्ञान आदि योगी भगवान शिव के द्वारा दिया गया था भगवान शिव को ही आदियोगी कहा जाता है

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  100
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!