रात में मेट्रो चलन क्या सही है? अगर हाँ तो सरकार क्यों नहीं कर रही ऐसा?...


play
user

Girish Soni

Indian Politician

1:02

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए रात को मेट्रो डिपेंड करता है बिजनेस के ऊपर रात को बैठो चलाना कहां कहां से यह किस किस रूट पर चल चाहिए जैसे एयरपोर्ट एयरपोर्ट पर आवाजाही बनी रहती है तो एयरपोर्ट रूट चलाएं जो रूट चला सकते हैं उस रूप को चलाएं अननेसेसरी उनको रातों में लाएं उनको बिजनेस नहीं मिलेगा तो ठीक नहीं है वैसे मेट्रो मैप कुछ नॉलेज के लिए बता दूं मेट्रो के अंदर पैसेंजर्स की संख्या घट रही है रीजन यह है कि इसको संसाधन ना बनाकर चौक की चीज बना दिया गया इसे तभी आप चौक में जाइए अरे मेट्रो है दिल्ली का आप हमें उसके अंदर आप रेगुलर सफर करते तो मैं तो आज की डेट में महंगा पड़ता है तो यह एक बहुत बड़ी कमी रही है किस का किराया बढ़ा दिया गया मेरा मानना यह कुछ ज्यादा बिजनेस मिलेगा आपको ज्यादा प्रॉफिट मिलेगा इसका थोड़ा किराया कम कर दिया जाता है लेकिन अपनी अपनी पॉलिसी है केंद्र सरकार के ऊपर है जैसा भी चाहे वैसा करें उससे पता लगाया आंकड़े यही कैसे

dekhiye raat ko metro depend karta hai business ke upar raat ko baitho chalana kahaan kahaan se yah kis kis root par chal chahiye jaise airport airport par avajahi bani rehti hai toh airport root chalaye jo root chala sakte hain us roop ko chalaye unnecessary unko raatoon mein laye unko business nahi milega toh theek nahi hai waise metro map kuch knowledge ke liye bata doon metro ke andar passengers ki sankhya ghat rahi hai reason yah hai ki isko sansadhan na banakar chauk ki cheez bana diya gaya ise tabhi aap chauk mein jaiye are metro hai delhi ka aap hamein uske andar aap regular safar karte toh main toh aaj ki date mein mehnga padta hai toh yah ek bahut badi kami rahi hai kis ka kiraaya badha diya gaya mera manana yah kuch zyada business milega aapko zyada profit milega iska thoda kiraaya kam kar diya jata hai lekin apni apni policy hai kendra sarkar ke upar hai jaisa bhi chahen waisa kare usse pata lagaya aankade yahi kaise

देखिए रात को मेट्रो डिपेंड करता है बिजनेस के ऊपर रात को बैठो चलाना कहां कहां से यह किस किस

Romanized Version
Likes  20  Dislikes    views  508
KooApp_icon
WhatsApp_icon
4 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!