क्या आपको लगता है कि ऑनलाइन अध्ययन सामग्री छात्रों को उचित मार्गदर्शन प्राप्त करने में मदद करती है?...


user

B San

Entrepreneur | Management | Consultant | Advisor

2:57
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रश्न है क्या आपको लगता है कि ऑनलाइन अध्ययन सामग्री छात्रों को उचित मार्गदर्शन प्राप्त करने में मदद करती है देखे अर्जुन सामग्री ऑनलाइन हो या ऑफलाइन हो अगर वह छात्रों को प्राप्त होती है तो पूर्ण रूप से उचित मार्गदर्शन प्राप्त करते हैं ऑनलाइन के माध्यम में 100000 फेस भी हो सकती है यह मटेरियल भी हो सकता है स्टडी मैटेरियल ऑनलाइन अध्ययन सामग्री को संचित करके तोड़ करके सेव करके ऑफलाइन अध्ययन सामग्री बदला जा सकता है तो ऐसी कोई भिन्नता नहीं है धन सामग्री में की ऑनलाइन अध्यन सामग्री ऑफ एन अध्ययन सामग्री के समकक्ष नहीं है क्यों कहना उचित नहीं होगा अध्ययन सामग्री का मुख्य उद्देश्य अध्ययन की विषय वस्तु प्रस्तुत करना होता है इसकी सारगर्भित जानकारी तथ्यों को प्रस्तुत करना होता है और ऑनलाइन अंजन सामग्री की बात करें तो वह अद्यतन रहती है अपडेट रहती है उसकी स्थिति उस में प्रतिदिन की सूचनाएं घटना जानकारी आपको प्राप्त होती है वह छात्र के बौद्धिक स्तर पर निर्भर करता है कि वह ऑनलाइन अध्ययन सामग्री के माध्यम को सरल आता है या ऑफलाइन अध्यन सामग्री के माध्यम को अपनी सहभागिता के आधार पर sulfate-free आप तो वो पूछे थे

prashna hai kya aapko lagta hai ki online adhyayan samagri chhatro ko uchit margdarshan prapt karne me madad karti hai dekhe arjun samagri online ho ya offline ho agar vaah chhatro ko prapt hoti hai toh purn roop se uchit margdarshan prapt karte hain online ke madhyam me 100000 face bhi ho sakti hai yah material bhi ho sakta hai study material online adhyayan samagri ko sanchit karke tod karke save karke offline adhyayan samagri badla ja sakta hai toh aisi koi bhinnata nahi hai dhan samagri me ki online adhyan samagri of N adhyayan samagri ke samkaksh nahi hai kyon kehna uchit nahi hoga adhyayan samagri ka mukhya uddeshya adhyayan ki vishay vastu prastut karna hota hai iski saragarbhit jaankari tathyon ko prastut karna hota hai aur online anjan samagri ki baat kare toh vaah adyatan rehti hai update rehti hai uski sthiti us me pratidin ki suchnaen ghatna jaankari aapko prapt hoti hai vaah chatra ke baudhik sthar par nirbhar karta hai ki vaah online adhyayan samagri ke madhyam ko saral aata hai ya offline adhyan samagri ke madhyam ko apni sahabhagita ke aadhar par sulfate free aap toh vo pooche the

प्रश्न है क्या आपको लगता है कि ऑनलाइन अध्ययन सामग्री छात्रों को उचित मार्गदर्शन प्राप्त कर

Romanized Version
Likes  24  Dislikes    views  483
WhatsApp_icon
6 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Ahsaas Sharma

CAT Topper (Score - 99.93)

2:05
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मतलब मेरे दोस्त हैं जिन्होंने ऑनलाइन ही पढ़ाई करी थी मतलब वैसे भी काफी लोग हैं जिन्होंने ऑनलाइन लेक्चर देते ऑनलाइन वीडियो लेक्चर से पढ़ाई की थी खुद अच्छे अच्छे नंबर है तो ऐसा नहीं कि उसमें भी गई क्योंकि ज्यादातर कुछ तो यह है कि जो कुछ गाइडेंस में ऑनलाइन प्लेटफॉर्म होंगे होंगे कि वहां पर ले रहे होंगे वहां पर तो फिर भी और जो नहीं डरते तो वहां पर तो बहुत अच्छे जानते कि तुम अपने घर बैठे बैठे इंटरनेट पर कर सकते हो पर काफी लेक्चरर्स रिकॉर्डेड होते हैं मतलब काफी लोग ऑनलाइन इसलिए प्रेफर थे ताकि वह अपनी खुद की 1 मिनट पर देख सके कि यार आप मेरे को टाइम मिला तो अब मैंने लेक्चर देख ले क्योंकि रिकॉर्डर लेक्चर है मैं कभी भी देख सकता हूं तो फिर लिखकर तो पड़ी है मैं कभी भी देख लूंगा तो वैसे ही टाइम टेबल में आता है अभी 4 घंटे बैठना रोज के रोज लेक्चर पढ़ने या 2 घंटे बैठकर पढ़ना तो ऑनलाइन में खिलाफ मेरे को तो यही थोड़ा सा डिफरेंस लगता है कि अगर अगर तुम से डलिया बिलासपुर के लिए इतनी रहते यार तेरे लिए अपनी लाइफ में तुम्हारे काम डालते रहते हो अगर तुम वैसे तुम्हारी थोड़ी पर्सनैलिटी है तो फिर ऑनलाइन में तुम्हें दिक्कत हो सकती कि तुम हर चीज को जितना बैकलॉग बनाते रहोगे कि इससे रोगी के बाद में कर लूंगा चल पढ़ाई है पढ़ लूंगा वगैरा वगैरा तो इसलिए मैं ऑनलाइन क्यों यही कहता हूं कि सबसे पहले टाइम टेबल बनाओ और अगर तुम फॉलो करो तो ऑनलाइन थे तो आराम से कट प्ले कर दो मैडम से कॉल करो ढंग से प्रेक्टिस करो कि आज के जो पेपर होता है वह कोई रिटर्न पेपर तो होता नहीं है पेपर में ऑनलाइन होता है तो ऐसा भी नहीं कि अगर तुम ऑनलाइन प्रैक्टिस करोगे तो तुम्हारे को भी पेपर के दौरान दिक्कत होगी बल्कि फायदा ही होगा तो ऑनलाइन प्रेक्टिस करने की आदत है तो मैं तो यह कहूंगा कि ऑनलाइन लाइट अच्छी मिलती है तो आप के थ्रू जाओ या ना क्या आदमी हो गया भाई जी जो कि कैसे आप के फायदे टीचर सेना ने भी काफी रिपीटेड की होते तो टीचर जिंदगी बेकार होते तो अगर तुम ऑनलाइन अच्छी तरह से कर पाओगे

matlab mere dost hain jinhone online hi padhai kari thi matlab waise bhi kaafi log hain jinhone online lecture dete online video lecture se padhai ki thi khud acche acche number hai toh aisa nahi ki usme bhi gayi kyonki jyadatar kuch toh yah hai ki jo kuch guidance mein online platform honge honge ki wahan par le rahe honge wahan par toh phir bhi aur jo nahi darte toh wahan par toh bahut acche jante ki tum apne ghar baithe baithe internet par kar sakte ho par kaafi lecturers recorded hote hain matlab kaafi log online isliye prefar the taki vaah apni khud ki 1 minute par dekh sake ki yaar aap mere ko time mila toh ab maine lecture dekh le kyonki recorder lecture hai kabhi bhi dekh sakta hoon toh phir likhkar toh padi hai kabhi bhi dekh lunga toh waise hi time table mein aata hai abhi 4 ghante baithana roj ke roj lecture padhne ya 2 ghante baithkar padhna toh online mein khilaf mere ko toh yahi thoda sa difference lagta hai ki agar agar tum se daliya bilaspur ke liye itni rehte yaar tere liye apni life mein tumhare kaam daalte rehte ho agar tum waise tumhari thodi personality hai toh phir online mein tumhe dikkat ho sakti ki tum har cheez ko jitna Backlog banate rahoge ki isse rogi ke baad mein kar lunga chal padhai hai padh lunga vagera vagaira toh isliye main online kyon yahi kahata hoon ki sabse pehle time table banao aur agar tum follow karo toh online the toh aaram se cut play kar do madam se call karo dhang se practice karo ki aaj ke jo paper hota hai vaah koi return paper toh hota nahi hai paper mein online hota hai toh aisa bhi nahi ki agar tum online practice karoge toh tumhare ko bhi paper ke dauran dikkat hogi balki fayda hi hoga toh online practice karne ki aadat hai toh main toh yah kahunga ki online light achi milti hai toh aap ke through jao ya na kya aadmi ho gaya bhai ji jo ki kaise aap ke fayde teacher sena ne bhi kaafi repeated ki hote toh teacher zindagi bekar hote toh agar tum online achi tarah se kar paoge

मतलब मेरे दोस्त हैं जिन्होंने ऑनलाइन ही पढ़ाई करी थी मतलब वैसे भी काफी लोग हैं जिन्होंने ऑ

Romanized Version
Likes  30  Dislikes    views  553
WhatsApp_icon
user

Rakesh Tiwari

Life Coach, Management Trainer

1:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न क्या आपको लगता है कि ऑनलाइन अध्ययन सामग्री छात्रों को उचित मार्गदर्शन प्राप्त करने में मदद करती है निश्चित रूप से आगे बढ़ना चाहते हैं और जो चाहते हैं उनके लिए ऑनलाइन पुलिस रिपोर्ट ऑनलाइन एक्टिवेशन ज्यादा असर करता है सामग्री में जो हम दूर क्लास रूम टीचिंग लाइन इन दोनों आना चाहिए

aapka prashna kya aapko lagta hai ki online adhyayan samagri chhatro ko uchit margdarshan prapt karne me madad karti hai nishchit roop se aage badhana chahte hain aur jo chahte hain unke liye online police report online activation zyada asar karta hai samagri me jo hum dur class room teaching line in dono aana chahiye

आपका प्रश्न क्या आपको लगता है कि ऑनलाइन अध्ययन सामग्री छात्रों को उचित मार्गदर्शन प्राप्त

Romanized Version
Likes  262  Dislikes    views  1906
WhatsApp_icon
user

DR. I.P.SINGH

Doctorate in Literature

2:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है कि क्या आपको लगता काम लाइन अध्ययन सामग्री छात्रों को उचित मार्गदर्शन प्राप्त करने में मदद करती है बिल्कुल करते मित्र ऐसा है कि छात्रों की मदद तो वह सारी सामग्री करती जो ज्ञानवर्धक हो और क्षति हुई पुस्तकें या छपे हुए नोट्स या लिखित नोट से जो फोटो स्टेट से प्राप्त की जाती वही लोग तो ऑनलाइन भी किए जाते हैं मैं स्वयं यूट्यूब पर हूं और यूट्यूब पर मेरे 100 से ज्यादा वीडियो चल रहे हैं और उसे हजारों बच्चों ने पसंद किया है और करीब करीब 3000 घंटे मेरे वीडियो को देख चुके हैं लोग उसमें वही मैटर है जो मैं क्लास में लिखाया करता हूं तो हमारे ख्याल से यह सुनकर मन से निकालने का ऑनलाइन जो सामग्री होती है वह घटिया स्तर की होती है यह प्रभाव नहीं होती है यह जरूर है कि ऑनलाइन में जो मैटर चल रहा है उसमें कुछ ऐसे भी लोग हैं जो व्यावसायिक दृष्टि से लिख रहे हो ना लग जाए कम है या चाहे ज्यादा है और उनका मैटर जो है वह ऑनलाइन चल रहा है तो यह तो हो सकता है कि लिखने वालों की मजबूरी हो कि वह अपनी जीविका के लिए या अपनी एस के लिए लिख रहे हो लेकिन मित्र ऑनलाइन सामग्री जो है वह काफी अच्छी है और विशेष करके आप पर नेट पर जाकर के खोजें तो थोड़ा साफ में बौद्धिक सामर्थ्य होनी चाहिए एक-एक कभी पर एक एक विषय पर एक एक सुंदर पर एक एक टॉपिक पर सैकड़ों वीडियो दिल्ली पड़े हैं अब उसमें से आप आदेश करिए और हंस वाली वह मानसिकता की मोती चुगे पानी छोड़ दीजिए तो निश्चित रूप से मदद करती हूं आपको मदद लेनी चाहिए सूरत से जो बच्चे हैं जो कोटा या दिल्ली या जय ऐसी करने से स्थानीय अन्य सीटों की जो स्थान है जो वहां नहीं जा करके पढ़ सकते हो ऑनलाइन पढ़ सकते हैं और आने वाले समय में तो राजस्थान सरकार कॉलेज एजुकेशन में व्यवस्था करने जा रही शुरुआत भी हो गई है कि बहुत से टॉपिक ऑनलाइन ही पढ़ाई जाएंगे थैंक यू

aapka prashna hai ki kya aapko lagta kaam line adhyayan samagri chhatro ko uchit margdarshan prapt karne me madad karti hai bilkul karte mitra aisa hai ki chhatro ki madad toh vaah saari samagri karti jo gyanavardhak ho aur kshati hui pustakein ya chhape hue notes ya likhit note se jo photo state se prapt ki jaati wahi log toh online bhi kiye jaate hain main swayam youtube par hoon aur youtube par mere 100 se zyada video chal rahe hain aur use hazaro baccho ne pasand kiya hai aur kareeb kareeb 3000 ghante mere video ko dekh chuke hain log usme wahi matter hai jo main class me likhaya karta hoon toh hamare khayal se yah sunkar man se nikalne ka online jo samagri hoti hai vaah ghatiya sthar ki hoti hai yah prabhav nahi hoti hai yah zaroor hai ki online me jo matter chal raha hai usme kuch aise bhi log hain jo vyavasayik drishti se likh rahe ho na lag jaaye kam hai ya chahen zyada hai aur unka matter jo hai vaah online chal raha hai toh yah toh ho sakta hai ki likhne walon ki majburi ho ki vaah apni jeevika ke liye ya apni S ke liye likh rahe ho lekin mitra online samagri jo hai vaah kaafi achi hai aur vishesh karke aap par net par jaakar ke khojen toh thoda saaf me baudhik samarthya honi chahiye ek ek kabhi par ek ek vishay par ek ek sundar par ek ek topic par saikadon video delhi pade hain ab usme se aap aadesh kariye aur hans wali vaah mansikta ki moti chuge paani chhod dijiye toh nishchit roop se madad karti hoon aapko madad leni chahiye surat se jo bacche hain jo quota ya delhi ya jai aisi karne se sthaniye anya seaton ki jo sthan hai jo wahan nahi ja karke padh sakte ho online padh sakte hain aur aane waale samay me toh rajasthan sarkar college education me vyavastha karne ja rahi shuruat bhi ho gayi hai ki bahut se topic online hi padhai jaenge thank you

आपका प्रश्न है कि क्या आपको लगता काम लाइन अध्ययन सामग्री छात्रों को उचित मार्गदर्शन प्राप्

Romanized Version
Likes  63  Dislikes    views  635
WhatsApp_icon
user

Race academy maneesh

Competitive Exam Expert (Youtube- Race Academy Maneesh)https://www.youtube.com/channel/UCEwGqvTOdzZnbc70zgFiJYQ

1:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए आपका क्वेश्चन है क्या आपको लगता है कि ऑनलाइन अध्यन सामग्री छात्रों को उचित मार्गदर्शन प्राप्त करने में मदद करती है कि आपको कैसे पता है कि जो ऑनलाइन में पढ़ा नहीं पढ़ा रहा है वह अच्छा पढ़ा पढ़ा है आपके पास किताब है तो आप किताबों से बड़े हो आपको पता चल जाए कि हमने किताबों से पढ़े पड़ा है कोई पूछेगा तो बता दो कि यह देखो मेरी किताब में अगर एनसीईआरटी किताब है तो आप उसमें भी कर सकते हैं कि मैंने यह पड़ा है मेरा सवाल कैसे गलत हुआ है आपने कैसे कुछ गलत बनाया है कि गलत टाइप किया है आप ऑनलाइन किससे बात करेंगे वह क्या पढ़ा रहा है आपको क्या पता आप ऑनलाइन देखिए थोड़ा उसकी बात वही चीज आपको उसमें लेकर किताबों में तो आपको समझ में आ जाएगी कैसे हैं क्वेश्चन आते हैं तो मेरा कहने का मतलब है कि जो आप बता रहे हो आपका नंबर दे सकती हो थोड़ा बहुत बात करती है कि उनको पता है कैसे बनाते हो पढ़ाते हैं वह वह भी जो एकदम परेशान किए हुए हैं पहले तो उनको पता होता है आपसे ज्यादा पता होता है तो थोड़ा है बाकी तो मेरे प्यार से नहीं लगता ऑनलाइन जो है इतना अच्छा बाद कभी क्योंकि कई लोग हैं उनकी डिग्री नहीं पता है पढ़ा रहे हैं कितना पढ़े यह भी नहीं कोई सर्टिफिकेट तुमको देखा नहीं किसी ने तो निकाल से सब्सिडी कीजिए लेकिन तुलना जरूर कीजिए दोनों में कि कौन सही कौन बेहतर है

dekhiye aapka question hai kya aapko lagta hai ki online adhyan samagri chhatro ko uchit margdarshan prapt karne me madad karti hai ki aapko kaise pata hai ki jo online me padha nahi padha raha hai vaah accha padha padha hai aapke paas kitab hai toh aap kitabon se bade ho aapko pata chal jaaye ki humne kitabon se padhe pada hai koi puchhega toh bata do ki yah dekho meri kitab me agar ncert kitab hai toh aap usme bhi kar sakte hain ki maine yah pada hai mera sawaal kaise galat hua hai aapne kaise kuch galat banaya hai ki galat type kiya hai aap online kisse baat karenge vaah kya padha raha hai aapko kya pata aap online dekhiye thoda uski baat wahi cheez aapko usme lekar kitabon me toh aapko samajh me aa jayegi kaise hain question aate hain toh mera kehne ka matlab hai ki jo aap bata rahe ho aapka number de sakti ho thoda bahut baat karti hai ki unko pata hai kaise banate ho padhate hain vaah vaah bhi jo ekdam pareshan kiye hue hain pehle toh unko pata hota hai aapse zyada pata hota hai toh thoda hai baki toh mere pyar se nahi lagta online jo hai itna accha baad kabhi kyonki kai log hain unki degree nahi pata hai padha rahe hain kitna padhe yah bhi nahi koi certificate tumko dekha nahi kisi ne toh nikaal se subsidy kijiye lekin tulna zaroor kijiye dono me ki kaun sahi kaun behtar hai

देखिए आपका क्वेश्चन है क्या आपको लगता है कि ऑनलाइन अध्यन सामग्री छात्रों को उचित मार्गदर्श

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  244
WhatsApp_icon
user

MADHUKANT KUMAR

IAS Officer

1:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऑनलाइन अध्ययन सामग्री भी उन छात्रों को जो कहीं जॉब में बिजी हैं या कहीं कंट्री साइड एरिया में है जहां शिक्षा सुविधा उपलब्ध नहीं है तो वैसे कैंडिडेट चली ऑनलाइन अध्ययन सामग्री अच्छी व्यवस्था है ऑनलाइन क्लासेस उनके लिए अच्छी व्यवस्था है वह ऑनलाइन क्लासेस करें उस उसने ऑनलाइन में अच्छे से अच्छे बैटरी सेवर टीचर्स का में लेक्चर मिल जाता है जो हमें संबंधित है छोटे शहरों या गांव में नसीब नहीं होते हैं या फिर जॉब करते हुए यदि बड़े शहर में भी हैं तो हमें जॉब करते हुए नसीब नहीं होता तो अच्छा है ऑनलाइन अध्ययन सामग्री से भी आपको उचित मार्गदर्शन मिलेगा क्वालिटी टू सेम रहेगी जो टाउन में कर रहे हैं उनके लिए जो गांव में कर रहे हैं उनके लिए क्वालिटी में कोई अंतर नहीं है ऑनलाइन अध्यन सामग्री से भी आप सेलेक्ट होंगे इसमें सबसे बेटा आपकी है आप कितना मेहनत करते हैं लेक्चर को कितना देखते हैं एक बार में दिल लेक्चर नहीं समझ में आती है तो उसको दोबारा देखें तिबारा देखें और ऑनलाइन है एक पैकेट यह भी है कि एक कोर्स को तीन चार पांच छह मिल कर भी देख सकते हैं डिस्कशन कर सकते हैं आपस में बैटरी से समझ सकते हैं बढ़िया है इससे भी आपको अच्छा मार्गदर्शन मिलेगा आप लोग करें ऑनलाइन स्टडी और ऑनलाइन मैट्रियल मंगा लें क्लासेस लें क्लास नोट्स तैयार करें और अच्छे से पढ़ें

online adhyayan samagri bhi un chhatro ko jo kahin job me busy hain ya kahin country side area me hai jaha shiksha suvidha uplabdh nahi hai toh waise candidate chali online adhyayan samagri achi vyavastha hai online classes unke liye achi vyavastha hai vaah online classes kare us usne online me acche se acche battery sevar teachers ka me lecture mil jata hai jo hamein sambandhit hai chote shaharon ya gaon me nasib nahi hote hain ya phir job karte hue yadi bade shehar me bhi hain toh hamein job karte hue nasib nahi hota toh accha hai online adhyayan samagri se bhi aapko uchit margdarshan milega quality to same rahegi jo town me kar rahe hain unke liye jo gaon me kar rahe hain unke liye quality me koi antar nahi hai online adhyan samagri se bhi aap select honge isme sabse beta aapki hai aap kitna mehnat karte hain lecture ko kitna dekhte hain ek baar me dil lecture nahi samajh me aati hai toh usko dobara dekhen tibara dekhen aur online hai ek packet yah bhi hai ki ek course ko teen char paanch cheh mil kar bhi dekh sakte hain discussion kar sakte hain aapas me battery se samajh sakte hain badhiya hai isse bhi aapko accha margdarshan milega aap log kare online study aur online maitriyal Manga le classes le class notes taiyar kare aur acche se padhen

ऑनलाइन अध्ययन सामग्री भी उन छात्रों को जो कहीं जॉब में बिजी हैं या कहीं कंट्री साइड एरिया

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  61
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!