क्या आपको लगता है कि कोचिंग सेंटर छात्रों को परीक्षा पास करने में मदद करते हैं?...


user
Play

Likes  61  Dislikes    views  826
WhatsApp_icon
14 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Manoj Kumar Srivastava

सेवानिवृत्त उपसचिव,स्वास्थ्य, चिकित्सा शिक्षा एवं परिवार कल्याण विभाग, झारखंड रांची

0:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कोचिंग इंस्टिट्यूट सेंटर छात्रों को उत्तीर्ण होने में मदद करते हैं मैं ऐसा नहीं मानता यह एक दशक का काम करते हैं शाहरुख काम करते हैं पढ़ना तो विद्यार्थी को है जो भी छात्र कोचिंग करते हैं वे पूरी तरह से कोचिंग सेंटर की पढ़ाई पर निर्भर ना रहें बल्कि उसको एक सहायक या मार्गदर्शक मांगते हुए अपनी पढ़ाई जमकर करें

coaching institute center chhatro ko uttirna hone me madad karte hain main aisa nahi maanta yah ek dashak ka kaam karte hain shahrukh kaam karte hain padhna toh vidyarthi ko hai jo bhi chatra coaching karte hain ve puri tarah se coaching center ki padhai par nirbhar na rahein balki usko ek sahayak ya margadarshak mangate hue apni padhai jamakar kare

कोचिंग इंस्टिट्यूट सेंटर छात्रों को उत्तीर्ण होने में मदद करते हैं मैं ऐसा नहीं मानता यह ए

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  61
WhatsApp_icon
user

Ahsaas Sharma

CAT Topper (Score - 99.93)

1:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरा मैं खुद तो यही मानता हूं कि मैंने कोचिंग सेंटर जाने से कभी अगर कोई अच्छी तरह उनका लाभ होता है तो कभी किसी को नुकसान नहीं होगा ऐसा मेहमान तो मतलब ऐसा मेरा सोचना है कि यार अगर तुम कोचिंग सेंटर जा रहे हो तुम कितनी देर की बर्फी पर आ जाते बाहर की के साया भी पता है कि उसने 3 घंटे में कैसे सॉल्व किया उसने खुद को चेंज करने के लिए अपनी तुम्हें दे रही है जो अपनी गलती को गलती से खुद सुधारी है वह तुम्हें दे रहा है तो उस में नेट की कोचिंग इंस्टीट्यूट अच्छे होते हैं या जो अच्छी कोचिंग क्यूट रेट लिस्ट में जब जिसमें टाइम में तेरे टाइम हो गया यार तुम्हारे और भी करियर लॉन्चर है या बहुत सारे सबसे तो काफी अच्छे लोगों के लिए जिन को शुरू में तो यह आईडिया नहीं होता सिलेबस में क्या आया कैसे पढ़ना चाहिए या जिनको आइडिया होते फिर भी उनको स्ट्रेटजी बनाने में दिक्कत हो जाएगी मैं कौन से कितने क्वेश्चन के कितने टाइम में करने चाहिए मैंने कौन से टॉपिक ज्यादा पंडित लिए कौन सी कंपनी चाहिए तो तुम टीचर से बात नहीं कर रही है टीचर से पूछ नहीं रहे एनालाइज नहीं कर रहे अपने को प्रैक्टिस कर के तो उस टाइम में तुम सिर्फ पैसे भेज करो कोचिंग में तो अगर तुम ऐसे कैसे कर रहे तो प्लीज कोचिंग मत जाओ पर अगर तुम्हें लगता कोचिंग तुम कोचिंग में जो बोला जाएगा वह ढंग से करोगे तो कोचिंग मेरे को लगता काफी आवश्यक रहते किसी भी विद्यार्थी के लिए क्लियर करने के लिए पेपर

mera main khud toh yahi manata hoon ki maine coaching center jaane se kabhi agar koi achi tarah unka labh hota hai toh kabhi kisi ko nuksan nahi hoga aisa mehmaan toh matlab aisa mera sochna hai ki yaar agar tum coaching center ja rahe ho tum kitni der ki barfi par aa jaate bahar ki ke saya bhi pata hai ki usne 3 ghante mein kaise solve kiya usne khud ko change karne ke liye apni tumhe de rahi hai jo apni galti ko galti se khud sudhari hai vaah tumhe de raha hai toh us mein net ki coaching institute acche hote hain ya jo achi coaching cute rate list mein jab jisme time mein tere time ho gaya yaar tumhare aur bhi career launcher hai ya bahut saare sabse toh kaafi acche logo ke liye jin ko shuru mein toh yah idea nahi hota syllabus mein kya aaya kaise padhna chahiye ya jinako idea hote phir bhi unko strategy banane mein dikkat ho jayegi main kaunsi kitne question ke kitne time mein karne chahiye maine kaunsi topic zyada pandit liye kaun si company chahiye toh tum teacher se baat nahi kar rahi hai teacher se puch nahi rahe analyse nahi kar rahe apne ko practice kar ke toh us time mein tum sirf paise bhej karo coaching mein toh agar tum aise kaise kar rahe toh please coaching mat jao par agar tumhe lagta coaching tum coaching mein jo bola jaega vaah dhang se karoge toh coaching mere ko lagta kaafi aavashyak rehte kisi bhi vidyarthi ke liye clear karne ke liye paper

मेरा मैं खुद तो यही मानता हूं कि मैंने कोचिंग सेंटर जाने से कभी अगर कोई अच्छी तरह उनका लाभ

Romanized Version
Likes  24  Dislikes    views  560
WhatsApp_icon
user
2:05
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

निश्चित रूप से कोचिंग सेंटर परीक्षाओं में छात्रों को बहुत मदद करते हैं लेकिन अब हमारे देश में कुछ ऐसे अच्छे लोग हैं जो ऑनलाइन कोचिंग लगभग सभी परीक्षाओं की मुफ्त देते हैं क्यों कुछ छात्र ऐसे भी हैं जो कभी कोई कोचिंग सेंटर नहीं गए और सफलता हासिल किया जैसे पिछले वर्ष एक कुली का लड़का नहीं खुद रेलवे स्टेशन का कुली आईएस में सिलेक्ट हुआ मुकुल कोचिंग सेंटर ज्वाइन नहीं किया था रेलवे स्टेशन के बुक स्टॉल से कुछ बुक ले लेता था और काम के दौरान कान में वहां अपना किसी धर्मार्थ जो कोचिंग सेंटर है फ्री में कोचिंग देते हैं ऑनलाइन उसमें वह सुना करता था लेकिन मैं ऐसा मानता हूं कि आपको अगर यूपीएससी एससी स्ट एक्ट की पब्लिक सर्विस कमिशन डिफेक्ट होना है तो डेली न्यूज़ पेपर पूरा पढ़ना संपादकीय सहित सबसे आवश्यक है और देश और दुनिया में रोज क्या हो रहा है न्यूज़ सुनते हैं मैं तो आपको इस ला दूंगा बीबीसी लंदन हिंदी वीडियो जरूर सुनिए आप उसमें आपको आपकी भाषा और ज्ञान दोनों में व्यापक बढ़ोतरी होगी तो कोई जरूरी नहीं है कि हर छात्र कोचिंग सेंटर ही जाए लेकिन फिर कोचिंग सेंटर हमको बहुत मदद करती है

nishchit roop se coaching center parikshao me chhatro ko bahut madad karte hain lekin ab hamare desh me kuch aise acche log hain jo online coaching lagbhag sabhi parikshao ki muft dete hain kyon kuch chatra aise bhi hain jo kabhi koi coaching center nahi gaye aur safalta hasil kiya jaise pichle varsh ek kuli ka ladka nahi khud railway station ka kuli ias me select hua mukul coaching center join nahi kiya tha railway station ke book stall se kuch book le leta tha aur kaam ke dauran kaan me wahan apna kisi dharmaarth jo coaching center hai free me coaching dete hain online usme vaah suna karta tha lekin main aisa maanta hoon ki aapko agar upsc SC st act ki public service commission defect hona hai toh daily news paper pura padhna sampadakiy sahit sabse aavashyak hai aur desh aur duniya me roj kya ho raha hai news sunte hain main toh aapko is la dunga bbc london hindi video zaroor suniye aap usme aapko aapki bhasha aur gyaan dono me vyapak badhotari hogi toh koi zaroori nahi hai ki har chatra coaching center hi jaaye lekin phir coaching center hamko bahut madad karti hai

निश्चित रूप से कोचिंग सेंटर परीक्षाओं में छात्रों को बहुत मदद करते हैं लेकिन अब हमारे देश

Romanized Version
Likes  36  Dislikes    views  582
WhatsApp_icon
user

DR. I.P.SINGH

Doctorate in Literature

4:04
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है कि क्या आपको लगता है कोचिंग सेंटर छात्रों को परीक्षा पास कराने में मदद करता है भैया कोचिंग खोले ही क्यों गए हैं कोचिंग का दो ही तो काम है या तो जिन कक्षाओं में बच्चा कमजोर है उन कक्षाओं में उसकी पढ़ाई अच्छी हो जाए या फिर जो उसके प्रतियोगी परीक्षाएं उसके लिए तैयारी करना तेरी बातें का अध्यापन एक अनुभवों का आदान-प्रदान है यहां अनुभव बांटे जाते हैं अब कोचिंग सेंटर छात्रों को परीक्षा कराने में अगर आपका कहीं संकेत यह नकल आदि कराने में तो इस ईमानदार देश में भ्रष्टाचार कितना आगे तक बढ़ चुका है आप भी जानते हैं प्रधानमंत्री से लेकर के हमारे ख्याल से देश में किसी को छोड़ा तो है नहीं जिसने जेल का उद्घाटन किस व्यक्ति ने किया महान ने उसी जेल में वह बैठ कर के रोटियां तोड़ रहा है इस महान देश में जहां सबकुछ बिकाऊ है पैसे से खरीदा जा सकता है भले ही आदर्शवादी देशों को अब कहने में कई बातें बड़ी अनुचित से लगती हैं लेकिन मैं अब हमारी समझ में ही नहीं आया कि जिस परिवार से हम लोग हैं मां सीता अग्नि परीक्षा लेने के बाद राम जी इतने आदर्शवादी बने की मैया को जंगल में भेज दिया प्रेगनेंसी की अवस्था में फिर भी उम्र ज्यादा पुरुषोत्तम है जिस देश में धर्म युद्ध हुआ और कांच में गीता को रखकर के छोटे भैया को के द्वारा और बड़ा भैया उसको प्रणाम कर रहा है और जिस देश में कुलवधू के वस्त्र उतारे जा रहे हैं अब पहले तो यही नहीं स्पष्ट है कि जब युधिष्ठिर हार गए तो दास बन गए थे और दास का कोई अधिकार नहीं आज भी इस देश में है तो फिर वह पति और कहां से रह गए और भाइयों के भाई कहां से रह गए उन्होंने फिर कैसे दांव पर लगा दिया और वहां इतने धर्माचार्य बैठे हुए क्या देख रहे थे और शिखंडी को आगे करके भीष्म पितामह को मार दिया गया धोखा देकर के चेलों के द्वारा ही और गुरु को मार दिया गया तो कौन सा धर्म युद्ध था अबे इसकी व्याख्या करने की जरूरत है तो अगर कोचिंग कक्षा वाले किसी सेंटर आदि को आपका संकेतक खरीद करके और वहां नकल कराने की कोशिश करते हैं तो हमारे ख्याल से देश में संभव है और होता हो लेकिन हां इतना तो मान के चलें कि कोचिंग कक्षाएं जो सामान्य भी चल रही है अपेक्षाकृत पर अध्ययन का अस्तित्व सुधार रही है और कुछ एक फैशन भी हो गया है कि बच्चे स्कूल में कितनी अच्छी पढ़ाई करें लेकिन अगर वह ट्यूशन नहीं कर तो उसके मन में एक मोनू माली नहीं होता है कि उसने ट्यूशन नहीं किया अलग बिना ट्यूशन के भी पढ़ने वाले बच्चे 34 साल से मैं देख रहा हूं रिकॉर्ड तोड़ रहे हैं और धौलपुर जैसी जगह में मेरे बच्चे बहुत से ऐसे हैं जो घर से भर के 20 भी नहीं ढंग से आती थी और आज बहुत बड़े पोस्टों तक पहुंच गए बहुत बड़ी पोस्ट का मतलब उनके परिवार का अपना अपना फेस नहीं कहूंगा तो वह आईएएस और आईपीएस मंत्री के पद तक पहुंचे कहां पहुंचे हैं वहां उनके परिवार को एक संतुष्टि जरूर मिली है अध्यापक हैं पुलिस में है सेना में हैं किसी कंधे पर एक स्टाल लगा किसी को तो लगा कुछ अशोक तक भी पहुंच गए तो सीधी सी बात है कि एक प्रक्रिया है जो स्वाभाविक रूप से चल रही है और उसमें आपका जो संकेत है उसे भी सत्य माना जाना एमएस का विरोध नहीं करता धन्यवाद

aapka prashna hai ki kya aapko lagta hai coaching center chhatro ko pariksha paas karane me madad karta hai bhaiya coaching khole hi kyon gaye hain coaching ka do hi toh kaam hai ya toh jin kakshaon me baccha kamjor hai un kakshaon me uski padhai achi ho jaaye ya phir jo uske pratiyogi parikshaen uske liye taiyari karna teri batein ka adhyapan ek anubhavon ka aadaan pradan hai yahan anubhav bante jaate hain ab coaching center chhatro ko pariksha karane me agar aapka kahin sanket yah nakal aadi karane me toh is imaandaar desh me bhrashtachar kitna aage tak badh chuka hai aap bhi jante hain pradhanmantri se lekar ke hamare khayal se desh me kisi ko choda toh hai nahi jisne jail ka udghatan kis vyakti ne kiya mahaan ne usi jail me vaah baith kar ke rotiyan tod raha hai is mahaan desh me jaha sabkuch bikau hai paise se kharida ja sakta hai bhale hi aadarshvaadi deshon ko ab kehne me kai batein badi anuchit se lagti hain lekin main ab hamari samajh me hi nahi aaya ki jis parivar se hum log hain maa sita agni pariksha lene ke baad ram ji itne aadarshvaadi bane ki maiya ko jungle me bhej diya pregnancy ki avastha me phir bhi umar zyada purushottam hai jis desh me dharm yudh hua aur kanch me geeta ko rakhakar ke chote bhaiya ko ke dwara aur bada bhaiya usko pranam kar raha hai aur jis desh me kulavadhu ke vastra utare ja rahe hain ab pehle toh yahi nahi spasht hai ki jab yudhishthir haar gaye toh das ban gaye the aur das ka koi adhikaar nahi aaj bhi is desh me hai toh phir vaah pati aur kaha se reh gaye aur bhaiyo ke bhai kaha se reh gaye unhone phir kaise dav par laga diya aur wahan itne dharmacharya baithe hue kya dekh rahe the aur shikhandi ko aage karke bhishma pitamah ko maar diya gaya dhokha dekar ke chailo ke dwara hi aur guru ko maar diya gaya toh kaun sa dharm yudh tha abe iski vyakhya karne ki zarurat hai toh agar coaching kaksha waale kisi center aadi ko aapka sanketak kharid karke aur wahan nakal karane ki koshish karte hain toh hamare khayal se desh me sambhav hai aur hota ho lekin haan itna toh maan ke chalen ki coaching kakshaen jo samanya bhi chal rahi hai apekshakrit par adhyayan ka astitva sudhaar rahi hai aur kuch ek fashion bhi ho gaya hai ki bacche school me kitni achi padhai kare lekin agar vaah tuition nahi kar toh uske man me ek monu maali nahi hota hai ki usne tuition nahi kiya alag bina tuition ke bhi padhne waale bacche 34 saal se main dekh raha hoon record tod rahe hain aur dhaulpur jaisi jagah me mere bacche bahut se aise hain jo ghar se bhar ke 20 bhi nahi dhang se aati thi aur aaj bahut bade poston tak pohch gaye bahut badi post ka matlab unke parivar ka apna apna face nahi kahunga toh vaah IAS aur ips mantri ke pad tak pahuche kaha pahuche hain wahan unke parivar ko ek santushti zaroor mili hai adhyapak hain police me hai sena me hain kisi kandhe par ek stall laga kisi ko toh laga kuch ashok tak bhi pohch gaye toh seedhi si baat hai ki ek prakriya hai jo swabhavik roop se chal rahi hai aur usme aapka jo sanket hai use bhi satya mana jana ms ka virodh nahi karta dhanyavad

आपका प्रश्न है कि क्या आपको लगता है कोचिंग सेंटर छात्रों को परीक्षा पास कराने में मदद करता

Romanized Version
Likes  76  Dislikes    views  578
WhatsApp_icon
user

Abdullah Qureshi

Assistant Professor

1:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लो जी बहुत अच्छा सवाल है कि कोचिंग सेंटर जो है वह छात्रों को परीक्षा पास करने में मदद करते हैं नहीं करते करते हैं ऐसी बात नहीं है यह तो नहीं कहेंगे कि नहीं करते बिल्कुल परंतु खाली वही करते हो केवल वही ऑफिसर बना रहे हो या परीक्षा पास कर रहे हो तो ऐसा तो कभी है ही नहीं मेरे तो बहुत निजी अनुभव है इन सब मामलों को लेकर क्योंकि मैं तो खुद एक अध्यापक बातों को बहुत अच्छे से जानता हूं यह मान कर चलिए 20% का जो रोल है ना जो भूमिका वह है कोचिंग की ओन्ली फॉर आपको गाइड करना नोट्स प्रोवाइड करवा देना और एक थोड़ा सा केक आईडिया दे देना बाकी किस कोई भी एग्जाम आपको चाहिए से लेकर से नीचे कोई चपरासी बनने का एग्जाम मेहनत तो आपको करनी होती है पढ़ाई आपको करनी होती है ज्ञान हासिल आपको करना होता है कंपटीशन का पाठ आपको बनना होता है कोचिंग ए फिर वहां पर केवल और केवल कमर्शियल परपज से ज्यादा टिकी रहती है तो अगर आपको लगता है पहले दिन से नोट तुम्हें बहुत अच्छे से पढ़ सकता हूं चीजों को मैं अपने स्तर पर बहुत अच्छे से समझ सकता हूं तो यकीनन आपको कोचिंग सेंटर में नहीं जाना चाहिए और आप अपने स्तर पर भी पढ़ाई करके और किसी भी परीक्षा को पास कर सकते सिविल सर्विस एग्जाम की जरूरत है करना चाहते हो तो बेशक आप जाइए आप वहां पर जा सकते हैं कोई दिक्कत नहीं

lo ji bahut accha sawaal hai ki coaching center jo hai vaah chhatro ko pariksha paas karne me madad karte hain nahi karte karte hain aisi baat nahi hai yah toh nahi kahenge ki nahi karte bilkul parantu khaali wahi karte ho keval wahi officer bana rahe ho ya pariksha paas kar rahe ho toh aisa toh kabhi hai hi nahi mere toh bahut niji anubhav hai in sab mamlon ko lekar kyonki main toh khud ek adhyapak baaton ko bahut acche se jaanta hoon yah maan kar chaliye 20 ka jo roll hai na jo bhumika vaah hai coaching ki only for aapko guide karna notes provide karva dena aur ek thoda sa cake idea de dena baki kis koi bhi exam aapko chahiye se lekar se niche koi chaprasi banne ka exam mehnat toh aapko karni hoti hai padhai aapko karni hoti hai gyaan hasil aapko karna hota hai competition ka path aapko banna hota hai coaching a phir wahan par keval aur keval commercial purpose se zyada tiki rehti hai toh agar aapko lagta hai pehle din se note tumhe bahut acche se padh sakta hoon chijon ko main apne sthar par bahut acche se samajh sakta hoon toh yakinan aapko coaching center me nahi jana chahiye aur aap apne sthar par bhi padhai karke aur kisi bhi pariksha ko paas kar sakte civil service exam ki zarurat hai karna chahte ho toh beshak aap jaiye aap wahan par ja sakte hain koi dikkat nahi

लो जी बहुत अच्छा सवाल है कि कोचिंग सेंटर जो है वह छात्रों को परीक्षा पास करने में मदद करते

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  129
WhatsApp_icon
user

Race academy maneesh

Competitive Exam Expert (Youtube- Race Academy Maneesh)https://www.youtube.com/channel/UCEwGqvTOdzZnbc70zgFiJYQ

1:03
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखी आपने पूछा है कि कुछ नेता छात्रों को परीक्षा पास करने में मदद करते हैं बिल्कुल 50% मेरा मानना है 50% वह आपको लाइन पकड़ आते हैं प्लेटफार्म देते हैं कैसे कुछ ना दे वह बताते हैं कौन से क्लियर कर आते आप घर बैठे कर लोगे लेकिन वह स्पीड आपके पास नहीं है कि ग्रुप में जो पढ़ोगे 50 लोगों के बीच में तो वहां पर टेस्ट होगा टेस्ट करोगे तो टेस्ट में आपको एक प्रतिस्पर्धा का सामना करना पड़ेगा तो आपको यह पता चलेगा कि मैं कितना आगे हूं किससे आगे हो यह पता चलेगा घर में बैठकर आपको यह नहीं पता चलेगा कि हम कितने बड़े विद्वान हैं वहां जाओगे तब सब पता चल जाएगी हां कितने पानी में है हम तो कोच्ची बहुत बहुत जरूरी नहीं है लेकिन आज जरूरी है आपको यह पता चलना चाहिए आप कोचिंग भी जाते हो तो कोई बात नहीं आप उसके सी कोचिंग क्या किसी भी कोचिंग टेस्ट चालू करो उस पर रहेंगे बनाओ अपने आप को देखो हम कितने पानी में है कितना हमको आता है तो जरूरी नहीं है कोचिंग सेंटर में हो आप रितिका बस

dekhi aapne poocha hai ki kuch neta chhatro ko pariksha paas karne me madad karte hain bilkul 50 mera manana hai 50 vaah aapko line pakad aate hain platform dete hain kaise kuch na de vaah batatey hain kaun se clear kar aate aap ghar baithe kar loge lekin vaah speed aapke paas nahi hai ki group me jo padhoge 50 logo ke beech me toh wahan par test hoga test karoge toh test me aapko ek pratispardha ka samana karna padega toh aapko yah pata chalega ki main kitna aage hoon kisse aage ho yah pata chalega ghar me baithkar aapko yah nahi pata chalega ki hum kitne bade vidhwaan hain wahan jaoge tab sab pata chal jayegi haan kitne paani me hai hum toh kochi bahut bahut zaroori nahi hai lekin aaj zaroori hai aapko yah pata chalna chahiye aap coaching bhi jaate ho toh koi baat nahi aap uske si coaching kya kisi bhi coaching test chaalu karo us par rahenge banao apne aap ko dekho hum kitne paani me hai kitna hamko aata hai toh zaroori nahi hai coaching center me ho aap ritika bus

देखी आपने पूछा है कि कुछ नेता छात्रों को परीक्षा पास करने में मदद करते हैं बिल्कुल 50% मेर

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  413
WhatsApp_icon
user

Aman

Motivation Speaker Lifeline

0:29
Play

Likes  5  Dislikes    views  117
WhatsApp_icon
user
0:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गाइडलाइन बहुत जरूरी होती है डायरेक्शन इज मोस्ट इंपोर्टेंट बैंक किस दिशा हमारी गति से ज्यादा महत्वपूर्ण होती है और कोचिंग सेंटर एक दिशा देने का कार्य करते हैं बिना दिशा के हम कितने भी गतिशील क्यों ना हो लक्ष्य को नहीं प्राप्त करेंगे इसलिए लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए दिशा का होना बहुत जरूरी है कोचिंग सेंटर वास्तव में हमें दिशा देने का हार करते हैं और इससे हमें परीक्षा में काफी सहायता मिलती है

guideline bahut zaroori hoti hai direction is most important bank kis disha hamari gati se zyada mahatvapurna hoti hai aur coaching center ek disha dene ka karya karte hain bina disha ke hum kitne bhi gatisheel kyon na ho lakshya ko nahi prapt karenge isliye lakshya ko prapt karne ke liye disha ka hona bahut zaroori hai coaching center vaastav me hamein disha dene ka haar karte hain aur isse hamein pariksha me kaafi sahayta milti hai

गाइडलाइन बहुत जरूरी होती है डायरेक्शन इज मोस्ट इंपोर्टेंट बैंक किस दिशा हमारी गति से ज्याद

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  197
WhatsApp_icon
user

Amit Mishra

Teacher/Life advisor/Trainer/Network Marketing/Direct Selling Business

2:00
Play

Likes  6  Dislikes    views  70
WhatsApp_icon
user

Aashish

Author

4:05
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए जो कोचिंग सेंटर है वह अपने किस तरह से पढ़ा रहा है सबसे पहले है कि हां वह परीक्षा को पास करने में मदद दे जाता है क्योंकि वह आप पर निर्भर करता है जो मदद हुए इसलिए दिलाता है कि वह आपका दिल करता है जब रिवीजन होता है तो आपका चेक और क्लियर हो जाता है जब आप स्कूल जाते हैं अगर स्कूल जा रहे हैं स्कूल जाकर और अपने ध्यान दे रहे हैं पढ़ रहे हैं वैसे कोई जरूरी नहीं है कोचिंग जाना ही जरूरी है बशर्ते आप पर डिपेंड करता है कि जो हम स्कूल में सीखे जो हम पढ़े उसी आकर घर पर याद करें कोचिंग में भी जा रहे हैं तो जब हम पढ़ा रहे हैं और उसको पर याद करके नहीं जाएंगे नहीं बनाएंगे तो उसको कोई जरूर नहीं है यह नहीं कि कोचिंग में जाएंगे तो हम को बोल के पिया देंगे ऐसी बात नहीं है वह हमारा संघर्ष हमारा मेहनत ही अच्छा रिजल्ट दे सकता है अच्छा मेरा प्रणाम ला सकता है एबी सुने होंगे कि कोचिंग जाता था 4 को कोचिंग करता था बच्चा वह फेल हो गया एक सरकारी स्कूल में जाकर बेचारा हो जो हमारे गवर्नमेंट के स्कूल है उसी में से अच्छा नंबर लाया उसका वह संघर्ष पर उसका वह मेहनत पर पैसा देखने को मिला जो अपना पढ़ाई की बदौलत प्लेटफार्म बनाया उसका संघर्ष था उसका था कि नहीं हम यह नहीं कि हम जा रहे हैं गोरमेंट स्कूल में तो हम किसी से कहें कुछ गवर्नमेंट के स्कूल में जाकर जो अपने आप को विश करने लगते हैं और कुछ अभी ऐसे प्रॉब्लम है कि सरकार जो टीचर के बहुत कमी हो चुकी है इस बात को भी एक्सेप्ट कर रहा हूं लेकिन ऐसा नहीं है कि अगर बच्चे लोग पढ़ने वाले होते हैं अब जब पूछने वाले होते हैं तो वह लोग जो भी पिक्चर है वह बच्चों को करो प्रेम को प्रेम करते हैं अच्छी तरह से समझाने की चेष्टा करते हैं लेकिन आज बच्चे में ठंडक बहुत ज्यादा हो चुका है इस बात को मैं शिफ्ट करता हूं कि कुछ बच्चे अगर बम सर के कहना नहीं मानते हैं सर को आधा रिस्पेक्ट देना आज लोग भूल गए हैं तो उनको मंकी फिश पहुंचती है अपने आप में उसने क्या मैं एक टीचर ने बच्चों को करें हमसे अच्छा व्यवहार नहीं करता है इसलिए करता है उनको मजाक बना लेता है तो उनको भी पढ़ाने में इतना जिगरा से नहीं पढ़ा पाते हैं तुम्हें सभी स्टूडेंट से रिक्वेस्ट करता हूं कि आप लोग अपने को बड़े को आदर दे जवाब हम अपने को बड़े क्वादर जब देते हैं तो हमें आदर देते हैं प्यार से बुलाते हैं अब बड़े को भी अपनी पिक छोटी को जो हैं उनको प्यार से बुलाए आधारित कीजिए छोटे भी आपको आदर देंगे मैं एक स्टूडेंट हूं मैं अपनी एक स्टूडेंट हूं इसलिए यह बात नहीं मानेगा कि कोचिंग वाले हैं पास कराने में मदद करते हैं ऐसी भावनाओं को आप लोग कदापि नहीं रखें इसके लिए जय हिंद जय भारत आप लोग का प्यार बना हुआ रहे अब लोग के साथ में झूले झूले रहा हूं ठीक रखते हैं ओके बाय आप लोग पढ़िए आगे बढ़िए हम लोग पढ़ेंगे बढ़ेंगे हमारा दे बिहार में बढ़ेगा

dekhiye jo coaching center hai vaah apne kis tarah se padha raha hai sabse pehle hai ki haan vaah pariksha ko paas karne me madad de jata hai kyonki vaah aap par nirbhar karta hai jo madad hue isliye dilata hai ki vaah aapka dil karta hai jab revision hota hai toh aapka check aur clear ho jata hai jab aap school jaate hain agar school ja rahe hain school jaakar aur apne dhyan de rahe hain padh rahe hain waise koi zaroori nahi hai coaching jana hi zaroori hai basharte aap par depend karta hai ki jo hum school me sikhe jo hum padhe usi aakar ghar par yaad kare coaching me bhi ja rahe hain toh jab hum padha rahe hain aur usko par yaad karke nahi jaenge nahi banayenge toh usko koi zaroor nahi hai yah nahi ki coaching me jaenge toh hum ko bol ke piya denge aisi baat nahi hai vaah hamara sangharsh hamara mehnat hi accha result de sakta hai accha mera pranam la sakta hai ab sune honge ki coaching jata tha 4 ko coaching karta tha baccha vaah fail ho gaya ek sarkari school me jaakar bechaara ho jo hamare government ke school hai usi me se accha number laya uska vaah sangharsh par uska vaah mehnat par paisa dekhne ko mila jo apna padhai ki badaulat platform banaya uska sangharsh tha uska tha ki nahi hum yah nahi ki hum ja rahe hain garment school me toh hum kisi se kahein kuch government ke school me jaakar jo apne aap ko wish karne lagte hain aur kuch abhi aise problem hai ki sarkar jo teacher ke bahut kami ho chuki hai is baat ko bhi except kar raha hoon lekin aisa nahi hai ki agar bacche log padhne waale hote hain ab jab poochne waale hote hain toh vaah log jo bhi picture hai vaah baccho ko karo prem ko prem karte hain achi tarah se samjhane ki cheshta karte hain lekin aaj bacche me thandak bahut zyada ho chuka hai is baat ko main shift karta hoon ki kuch bacche agar bomb sir ke kehna nahi maante hain sir ko aadha respect dena aaj log bhool gaye hain toh unko monkey fish pohchti hai apne aap me usne kya main ek teacher ne baccho ko kare humse accha vyavhar nahi karta hai isliye karta hai unko mazak bana leta hai toh unko bhi padhane me itna jigra se nahi padha paate hain tumhe sabhi student se request karta hoon ki aap log apne ko bade ko aadar de jawab hum apne ko bade kwadar jab dete hain toh hamein aadar dete hain pyar se bulate hain ab bade ko bhi apni pic choti ko jo hain unko pyar se bulaye aadharit kijiye chote bhi aapko aadar denge main ek student hoon main apni ek student hoon isliye yah baat nahi manega ki coaching waale hain paas karane me madad karte hain aisi bhavnao ko aap log kadapi nahi rakhen iske liye jai hind jai bharat aap log ka pyar bana hua rahe ab log ke saath me jhule jhule raha hoon theek rakhte hain ok bye aap log padhiye aage badhiye hum log padhenge badhenge hamara de bihar me badhega

देखिए जो कोचिंग सेंटर है वह अपने किस तरह से पढ़ा रहा है सबसे पहले है कि हां वह परीक्षा को

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  97
WhatsApp_icon
user
Play

Likes  3  Dislikes    views  75
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो नमस्कार मित्रों मेरा नाम जितेंद्र ठाकुर है और कोचिंग सेंटर में जाने से बहुत लाभ होते हैं कोचिंग सेंटर में आप जाएं बड़ी सिंसियर होकर आप टीचर के प्रश्न सुने उत्तर दें अपना और टीचर को प्रश्न करें उनसे उत्तर लें और कोचिंग सेंटर जाने के सबसे बड़ा फायदा है आप वहां पर सिंसियर होकर पढ़ाई करते हैं और सिंसियर होकर पढ़ाई करना भी चाहिए और घर आकर हमें कोचिंग सेंटर और अपने कॉलेज स्कूल के जो भी होमवर्क करता उसे बड़े ध्यान से करना चाहिए और जो होमवर्क हम डाउट्जन स्कूल में क्लियर नहीं कर सकते वह हम कोचिंग में बड़ी आसानी से क्लियर शक कर सकते हैं और मैं बता दूं कि मैं भी एक छोटी कक्षा नौवीं और दसवीं की कोचिंग सेंटर चलाता हूं जो फ्री निशुल्क निशुल्क फ्री कोचिंग सेंटर चलाता हूं और इसमें सबसे बड़े बच्चों का फायदा यह होता है कि जो बच्चे गरीब है पढ़ नहीं सकते फीस नहीं दे सकते हैं उनके लिए मैं कुछ पढ़ाता हूं और उसमें वह बच्चे सभी बिल्कुल सिंसियर होकर बड़ी सजाता से कोचिंग पढ़ते हैं और कोचिंग सेंटर से हमेशा फायदा ही होता है इसलिए कोशिश करना चाहिए और कोचिंग में जाकर हमें सिंसियर होकर फाइल करने चाहिए और थैंक यू

hello namaskar mitron mera naam jitendra thakur hai aur coaching center me jaane se bahut labh hote hain coaching center me aap jayen badi sinsiyar hokar aap teacher ke prashna sune uttar de apna aur teacher ko prashna kare unse uttar le aur coaching center jaane ke sabse bada fayda hai aap wahan par sinsiyar hokar padhai karte hain aur sinsiyar hokar padhai karna bhi chahiye aur ghar aakar hamein coaching center aur apne college school ke jo bhi homework karta use bade dhyan se karna chahiye aur jo homework hum dautjan school me clear nahi kar sakte vaah hum coaching me badi aasani se clear shak kar sakte hain aur main bata doon ki main bhi ek choti kaksha nauveen aur dasavi ki coaching center chalata hoon jo free nishulk nishulk free coaching center chalata hoon aur isme sabse bade baccho ka fayda yah hota hai ki jo bacche garib hai padh nahi sakte fees nahi de sakte hain unke liye main kuch padhata hoon aur usme vaah bacche sabhi bilkul sinsiyar hokar badi sajata se coaching padhte hain aur coaching center se hamesha fayda hi hota hai isliye koshish karna chahiye aur coaching me jaakar hamein sinsiyar hokar file karne chahiye aur thank you

हेलो नमस्कार मित्रों मेरा नाम जितेंद्र ठाकुर है और कोचिंग सेंटर में जाने से बहुत लाभ होते

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  70
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऑनलाइन बिल्कुल सही कहा

online bilkul sahi kaha

ऑनलाइन बिल्कुल सही कहा

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  74
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!