BEd और DEd में क्या अंतर है?...


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

B.Ed यानी बैचलर ऑफ एजुकेशन जिसे शिक्षा शास्त्री कहते हैं B.Ed मैरी हाई स्कूल और प्लस टू को पढ़ाने की डिग्री है और डीएलएड यानी कि डिप्लोमा इन एलीमेंट्री एजुकेशन प्राथमिक शिक्षा में पढ़ाने के लिए डी एल एड का कोर्स ही मान्य होता है प्रारंभिक कक्षाओं में डीएलएड कोर्स वाले नियुक्त होते हैं हालांकि फिलहाल जो व्यवस्था चल रही है उसमें क्लास 125 में पढ़ाने के लिए आपके पास इंटरमीडिएट की डिग्री हो साथ में डी एल एड की डिग्री हो आरसी 21216 के लिए आप B.ed प्लस बी ए हॉबी ए प्लस बी एड और 10 टू 12 यानी इंटरमीडिएट को पढ़ाने के लिए पीजी प्लस बी एड की डिग्री हो उससे आगे अगर आप पढ़ाना चाहते हैं ग्रेजुएशन कोर्स को तो वहां पर आप पीएचडी हो पीजी के ऊपर पीएचडी हो और साथ में अगर आप 125 को पढ़ाना चाहते हैं तो सीटेट या जिस स्टेट का हो वहां का टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट दोपहर ना होता 125 के लिए अलग और 18 के लिए अलग माध्यमिक कक्षाओं में पढ़ाने के लिए नया प्लस टू होटल कपड़ा ना हो उसके लिए बहुत सारे स्टेट स्टेट उसमें भी ला दिए हैं टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट बहुत अरे बेटा भी उसमें बहाली की एक अलग प्रक्रिया निकालते हैं जिसे टीजीटी और पीजीटी कहा जाता है ट्रेंड ग्रैजुएट टीचर और पोस्ट ग्रेजुएट टीचर उसकी अलग से वैकेंसी आती है उसका एग्जाम वगैरह लेते हैं बोलो तो निश्चित रूप से डीएलएड का मतलब होता है डिप्लोमा इन एलीमेंट्री एजुकेशन और B.Ed का मतलब होता है बैचलर इन एजुकेशन डिप्लोमा कोर्स करके अब 125 को पढ़ा सकते हैं यह डिग्री इंटरमीडिएट के बाद मिल जाएगी आपको जबकि B.Ed करने के लिए कम से कम ग्रेजुएशन की डिग्री आपके पास हुआ वापस नाटक हूं अभी B.Ed कर सकते हैं धन्यवाद

B Ed yani bachelor of education jise shiksha shastri kehte hai B Ed marry high school aur plus to ko padhane ki degree hai aur dled yani ki diploma in elimentri education prathmik shiksha mein padhane ke liye d el aid ka course hi manya hota hai prarambhik kakshaon mein dled course waale niyukt hote hai halaki filhal jo vyavastha chal rahi hai usme class 125 mein padhane ke liye aapke paas intermediate ki degree ho saath mein d el aid ki degree ho RC 21216 ke liye aap B d plus be a hobby a plus be aid aur 10 to 12 yani intermediate ko padhane ke liye PG plus be aid ki degree ho usse aage agar aap padhana chahte hai graduation course ko toh wahan par aap phd ho PG ke upar phd ho aur saath mein agar aap 125 ko padhana chahte hai toh CTET ya jis state ka ho wahan ka teacher eligibility test dopahar na hota 125 ke liye alag aur 18 ke liye alag madhyamik kakshaon mein padhane ke liye naya plus to hotel kapda na ho uske liye bahut saare state state usme bhi la diye hai teacher eligibility test bahut are beta bhi usme bahali ki ek alag prakriya nikalate hai jise tgt aur pgt kaha jata hai trend graduate teacher aur post graduate teacher uski alag se vacancy aati hai uska exam vagera lete hai bolo toh nishchit roop se dled ka matlab hota hai diploma in elimentri education aur B Ed ka matlab hota hai bachelor in education diploma course karke ab 125 ko padha sakte hai yah degree intermediate ke baad mil jayegi aapko jabki B Ed karne ke liye kam se kam graduation ki degree aapke paas hua wapas natak hoon abhi B Ed kar sakte hai dhanyavad

B.Ed यानी बैचलर ऑफ एजुकेशन जिसे शिक्षा शास्त्री कहते हैं B.Ed मैरी हाई स्कूल और प्लस टू को

Romanized Version
Likes  34  Dislikes    views  1226
KooApp_icon
WhatsApp_icon
6 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!