में बहुत परेशान हूँ, मुझे सरकारी नौकरी कब तक मिल सकती है?...


play
user

Sagar Bhalla

Jhansi ki rani , Rani Laxmibai

0:35

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

किसी भी मंजिल तक पहुंचने के लिए उसे कठिनाई है तो आती है कोई भी रास्ता मतलब सीधा नहीं होता आसान नहीं होता और बिजनेस में भी एक लाइन है बिजनेस नॉट बी कंसीडर बेड ऑफ रोजेज तेरा जो भी आपने मंजिल प्राप्त करनी है जैसे गवर्नमेंट जॉब आपने प्राप्त करनी है तो उसमें भी परेशानी आएगी आपको उन परेशानियों से निपटकर ही आगे जाना पड़ेगा आगे बढ़ना पड़ेगा

kisi bhi manjil tak pahuchne ke liye use kathinai hai to aati hai koi bhi rasta matlab sidhaa nahi hota aasan nahi hota aur business mein bhi ek line hai business not be kansidar bed of roses tera jo bhi aapne manjil prapt karni hai jaise government aapne prapt karni hai to usamen chahiye bhi pareshani aayegi aapko un pareshaniyo se nipatkar hi aage jana padega aage badhana padega

किसी भी मंजिल तक पहुंचने के लिए उसे कठिनाई है तो आती है कोई भी रास्ता मतलब सीधा नहीं होता

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  158
KooApp_icon
WhatsApp_icon
2 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!