भाजपा के आने से क्या चीज़ ें अच्छी हुई हैं जो कांग्रिस के समय नहीं थीं?...


user
8:06
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अपने में बहुत बड़ा सवाल है ये भाजपा सरकार और कांग्रेस सरकार के बारे में कांग्रेस सरकार जिस जमाने में थी कभी तो यहां पर इनके बड़े क द्वार जो राजनेता थे और उन्होंने एपीजे बताएं कि देश में संसाधनों पर पहला हक माइनारटीज का है उन्होंने परस्पर खाई बना कर रखी सभी समुदाय के लोगों के बीच में और देश जो इतनी बड़ी समस्याएं थी देश में जैसे धारा 370 राम मंदिर का मुद्दा हो ट्रिपल तलाक हो यह सारी चीजें तो कांग्रेस ने इनको खत्म करना ही नहीं चाहती राजनीतिक रोटियां से की है कांग्रेस ने घाटी में धारा 377 नीतियों से बहुत पहले घर जाना चाहिए था कांग्रेस ने ऐसा नहीं किया ट्रिपल तलाक के मुद्दे पर कांग्रेस ने अपनी चुप्पी साधी राम मंदिर मुद्दे पर उन्होंने कभी कोई चर्चा नहीं की जो देश के आंतरिक बड़े मामले थे इन पर सरकार ने नहीं किया कुछ कहीं न कहीं सरकार को इसके बारे में जरूर सोचना चाहिए था लेकिन भाजपा सरकार आने के बाद भाजपा की सरकार सत्ता में आई तो उन्होंने ऐसी जरूर किया ट्रिपल तलाक के मामले पर बात की 370 को हटाया और राम मंदिर का मुद्दा जो इतना पुराना चला रहा था दशकों से चला रहा था उसको उन्होंने समाप्त किया कि जो दोनों समुदाय के लोगों के बीच चर्चा का विषय भी नहीं हुआ करता था लोग बिल्कुल चाह रहे थे वहां पर जो है राम मंदिर बने अभी तक किसी भी सरकारों ने ही चीज खत्म करने का सोचा ही नहीं भाजपा सरकार ने खत्म की और मैं मानता हूं कि परस्पर संबंध बिल्कुल अच्छे हैं सभी समुदाय के लोगों में आपस का उन्होंने कोई फर्क नहीं किया किसी से आज के इस समय में देखा जाए तो भारत कहीं न कहीं एक विश्व गुरु बनने के रास्ते पर अग्रसर हो चुका है 26 11 का हमला देते हुए मैं आपको एग्जांपल देता हूं 2611 के हमले में कांग्रेस की सरकार थी उन्होंने कोई भी करारा जवाब पाकिस्तान को नहीं दिया था उसमें उन्होंने कोई भी जवाब है ना चाइना को नहीं दिया किसी ने भी अगर कभी भी भारत को सीधी लड़का ललकार ने की कोशिश की हो तो उन्होंने उसका जवाब बहुत घुमा कर दिया मैं यही बताना चाहता हूं कि भाजपा की सरकार ने इनका सीने मुंहतोड़ जवाब दिया है सतीश सत्यम समाचार ए दोस्त के साथ दुष्टता का व्यवहार भाजपा की सरकार ने सारी चुनौतियों का सीधे डट के सामना किया है उन्होंने इस वक्त का प्रदर्शन अपना अगर किया है तो कहीं न कहीं शांति वार्ता के साथ हुई बहुत सारी चीजों को समझाने की कोशिश की है देखा जाए कई मामले मामलों में भाजपा की सरकार ने बिल्कुल बहुत ही बेहतर काम किया कांग्रेस की सरकार से जिस तरीके से आदरणीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी विश्व भ्रमण करके भारत का अन्य देशों के साथ मध्य संबंध जितना प्रदान करते आए हैं उसे लगता है कि बिल्कुल भारत आने वाले समय में बहुत आगे ही निकलेगा जिस तरीके से आज के टाइम में उद्योग कल कारखाने लग रहे हैं अलग-अलग योजनाएं आ रही है जिससे संपूर्ण समाज वह लाभान्वित हो रहा है आने वाले समय में यह लगता है कि भारत बिल्कुल एक बहुत बड़ी महाशक्ति बन करेगा और अभी आज की जो पैसे से जिस तरीके से चल रहा है इसमें आदरणीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने जिस तरीके से नेतृत्व किया है भारत का और विश्व में उनको एक बड़े कद्दावर नेता के रूप में माना जा रहा है और पूरे विश्व से अपना लोहा मनवाया जिस तरीके से संबंध उन्होंने स्थापित किए पूरे देशों के साथ में साइड से किसी राजनेता ने किए हो और हमें लगता नहीं कि अभी तक कांग्रेस पार्टी के किसी भी जो प्रधानमंत्री के पद पर रहे हो उन्होंने तरीके काम किया हो और कई मामलों में पाकिस्तान की तरफदारी भी देखी जाए तो बहुत सारी रहते भर्ती है उन्होंने कांग्रेस की सरकार की बहुत सारी रिया की भर्ती है कौन पाकिस्तान के साथ में उसे कई बार माफ कर दिया है उन्होंने जितनी बार भी पाकिस्तान ने छुरा भोंकने का काम किया है भारत के बीच में लेकिन प्रधानमंत्री मोदी जी ने ईद का जवाब पत्थर से दिया है चाहे वह चाइना रहा हो चाइना का चयन बुद्धाराम या पाकिस्तान द्वारा कराया गया कोई अटैक रहा हूं उसका जवाब रोने से उसी भाषा में दिया जिस भाषा में उस समझना चाहते हैं और ग्रामीण क्षेत्रों में अगर विकास का देखा जाए तो भाजपा सरकार ने बहुत सारी व्यवस्थाएं ऐसी की है बहुत सारी योजनाएं चलाई है कि कांग्रेस के टाइम में नहीं थी कई ऐसी सड़कें थी कई ऐसे राष्ट्रीय राजमार्ग थे जो कि सालों से चले आ रहे हैं और उनका नाम सिर्फ कागजों में था जमीनी स्तर पर आकर के भाजपा सरकार ने उसका काम किया है भाजपा सरकार में ऐसा बिल्कुल देखने को नहीं मिला कोई भी राजनेता परिवारवाद को बढ़ावा दे रहा हो अपना विकास कर रहा हो वह सबका साथ सबका विकास जो उनका नारा था वह लेकर कि वह चले बोतल ऐसे घोटाले कांग्रेस सरकार के टाइम में हुए बहुत सारी ऐसी चीजें थी कांग्रेस के बड़े दिग्गज नेता जिसे लाभान्वित हुए भाजपा की सरकार ने सारी चीजों का पर्दाफाश किया और उनको कटघरे में लाकर खड़ा किया जो जनता का पैसा लूट रहे थे और ग्रामीण स्तरों पर किसानों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर उनकी मूलभूत आवश्यकताओं के लिए उनकी सहायता की मेरा यही मानना है कि कांग्रेस की सरकार और भाजपा की सरकार में जमीन आसमान का अंतर है भाजपा की सरकार ने 70% भारतीय जनता जो कृषि प्रधान देश व प्रदेश में रहती है यहां की 70% जनसंख्या जिसका मुख्य व्यवसाय उनके बारे में सोचा जबकि कांग्रेस के समय में इतना सोचने भर का टाइम किसानों के लिए मजदूरों के लिए किसी के पास नहीं था ना किसी और सरकार ने भी तक सोचा था जिस तरीके से भाजपा की सरकार ने सोचा है तो केंद्र में भाजपा की सरकार ने जिस तरीके से काम किया है राज्य में आकर की कई सारे राज्यों में भाजपा की सरकार है जिस तरीके से काम किया है वह बिल्कुल सराहनीय है और उम्मीद करते हैं कि आगे आने वाले समय में भी इसी तरीके से यह काम करते रहेंगे और जनता का विश्वास बनाए रखेंगे जनता का विश्वास जीते रहेंगे बहुत-बहुत धन्यवाद आपका

apne me bahut bada sawaal hai ye bhajpa sarkar aur congress sarkar ke bare me congress sarkar jis jamane me thi kabhi toh yahan par inke bade k dwar jo raajneta the aur unhone apj bataye ki desh me sansadhano par pehla haq mainartij ka hai unhone paraspar khai bana kar rakhi sabhi samuday ke logo ke beech me aur desh jo itni badi samasyaen thi desh me jaise dhara 370 ram mandir ka mudda ho triple talak ho yah saari cheezen toh congress ne inko khatam karna hi nahi chahti raajnitik rotiyan se ki hai congress ne ghati me dhara 377 nitiyon se bahut pehle ghar jana chahiye tha congress ne aisa nahi kiya triple talak ke mudde par congress ne apni chuppi saadhee ram mandir mudde par unhone kabhi koi charcha nahi ki jo desh ke aantarik bade mamle the in par sarkar ne nahi kiya kuch kahin na kahin sarkar ko iske bare me zaroor sochna chahiye tha lekin bhajpa sarkar aane ke baad bhajpa ki sarkar satta me I toh unhone aisi zaroor kiya triple talak ke mamle par baat ki 370 ko hataya aur ram mandir ka mudda jo itna purana chala raha tha dashakon se chala raha tha usko unhone samapt kiya ki jo dono samuday ke logo ke beech charcha ka vishay bhi nahi hua karta tha log bilkul chah rahe the wahan par jo hai ram mandir bane abhi tak kisi bhi sarkaro ne hi cheez khatam karne ka socha hi nahi bhajpa sarkar ne khatam ki aur main maanta hoon ki paraspar sambandh bilkul acche hain sabhi samuday ke logo me aapas ka unhone koi fark nahi kiya kisi se aaj ke is samay me dekha jaaye toh bharat kahin na kahin ek vishwa guru banne ke raste par agrasar ho chuka hai 26 11 ka hamla dete hue main aapko example deta hoon 2611 ke hamle me congress ki sarkar thi unhone koi bhi karara jawab pakistan ko nahi diya tha usme unhone koi bhi jawab hai na china ko nahi diya kisi ne bhi agar kabhi bhi bharat ko seedhi ladka lalkar ne ki koshish ki ho toh unhone uska jawab bahut ghuma kar diya main yahi batana chahta hoon ki bhajpa ki sarkar ne inka seene muhtod jawab diya hai satish satyam samachar a dost ke saath dushtata ka vyavhar bhajpa ki sarkar ne saari chunautiyon ka sidhe dat ke samana kiya hai unhone is waqt ka pradarshan apna agar kiya hai toh kahin na kahin shanti varta ke saath hui bahut saari chijon ko samjhane ki koshish ki hai dekha jaaye kai mamle mamlon me bhajpa ki sarkar ne bilkul bahut hi behtar kaam kiya congress ki sarkar se jis tarike se adaraniya pradhanmantri narendra modi ji vishwa bhraman karke bharat ka anya deshon ke saath madhya sambandh jitna pradan karte aaye hain use lagta hai ki bilkul bharat aane waale samay me bahut aage hi niklega jis tarike se aaj ke time me udyog kal karkhane lag rahe hain alag alag yojanaye aa rahi hai jisse sampurna samaj vaah labhanvit ho raha hai aane waale samay me yah lagta hai ki bharat bilkul ek bahut badi mahashakti ban karega aur abhi aaj ki jo paise se jis tarike se chal raha hai isme adaraniya pradhanmantri narendra modi ji ne jis tarike se netritva kiya hai bharat ka aur vishwa me unko ek bade kaddavar neta ke roop me mana ja raha hai aur poore vishwa se apna loha manvaya jis tarike se sambandh unhone sthapit kiye poore deshon ke saath me side se kisi raajneta ne kiye ho aur hamein lagta nahi ki abhi tak congress party ke kisi bhi jo pradhanmantri ke pad par rahe ho unhone tarike kaam kiya ho aur kai mamlon me pakistan ki tarafadari bhi dekhi jaaye toh bahut saari rehte bharti hai unhone congress ki sarkar ki bahut saari riya ki bharti hai kaun pakistan ke saath me use kai baar maaf kar diya hai unhone jitni baar bhi pakistan ne chhura bhonkane ka kaam kiya hai bharat ke beech me lekin pradhanmantri modi ji ne eid ka jawab patthar se diya hai chahen vaah china raha ho china ka chayan buddharam ya pakistan dwara karaya gaya koi attack raha hoon uska jawab rone se usi bhasha me diya jis bhasha me us samajhna chahte hain aur gramin kshetro me agar vikas ka dekha jaaye toh bhajpa sarkar ne bahut saari vyavasthaen aisi ki hai bahut saari yojanaye chalai hai ki congress ke time me nahi thi kai aisi sadaken thi kai aise rashtriya rajmarg the jo ki salon se chale aa rahe hain aur unka naam sirf kagazo me tha zameeni sthar par aakar ke bhajpa sarkar ne uska kaam kiya hai bhajpa sarkar me aisa bilkul dekhne ko nahi mila koi bhi raajneta parivaarvaad ko badhawa de raha ho apna vikas kar raha ho vaah sabka saath sabka vikas jo unka naara tha vaah lekar ki vaah chale bottle aise ghotale congress sarkar ke time me hue bahut saari aisi cheezen thi congress ke bade diggaj neta jise labhanvit hue bhajpa ki sarkar ne saari chijon ka pardafash kiya aur unko katghare me lakar khada kiya jo janta ka paisa loot rahe the aur gramin staron par kisano ke saath kandhe se kandha milakar unki mulbhut avashayaktaon ke liye unki sahayta ki mera yahi manana hai ki congress ki sarkar aur bhajpa ki sarkar me jameen aasman ka antar hai bhajpa ki sarkar ne 70 bharatiya janta jo krishi pradhan desh va pradesh me rehti hai yahan ki 70 jansankhya jiska mukhya vyavasaya unke bare me socha jabki congress ke samay me itna sochne bhar ka time kisano ke liye majduro ke liye kisi ke paas nahi tha na kisi aur sarkar ne bhi tak socha tha jis tarike se bhajpa ki sarkar ne socha hai toh kendra me bhajpa ki sarkar ne jis tarike se kaam kiya hai rajya me aakar ki kai saare rajyo me bhajpa ki sarkar hai jis tarike se kaam kiya hai vaah bilkul sarahniya hai aur ummid karte hain ki aage aane waale samay me bhi isi tarike se yah kaam karte rahenge aur janta ka vishwas banaye rakhenge janta ka vishwas jeete rahenge bahut bahut dhanyavad aapka

अपने में बहुत बड़ा सवाल है ये भाजपा सरकार और कांग्रेस सरकार के बारे में कांग्रेस सरकार जिस

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  126
KooApp_icon
WhatsApp_icon
9 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!