शादी के कारण जिंदगी और जो सब के परिवार में कुछ बदलाव होंगे, क्या-क्या बदलाव होंगे?...


user

Dr. Sangeet Sharma

Life Coach(कड़वी लेकिन सच्ची सलाह)/Doctorate

1:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने पूछा कि क्या शादी के कारण जिंदगी और परिवार में बदलाव होंगे और क्या-क्या बदलाव होंगे जी बिल्कुल बदलाव होंगे आपकी लाइफ में एक इंसान नया इंसान एंटर करेगा उसकी नहीं आदतें उसका नया बिहेवियर उसकी नई बिलीफ सिस्टम उसके नए रीति रिवाज सारी चीज नहीं आएगी आपकी लाइफ में आपको अपने जीवन के सांचे को कुछ हद तक उसके हिसाब से डालना पड़ेगा आपको अपने बीवी को कुछ हद तक उसके हिसाब से मॉडिफाई करना पड़ेगा और इसकी वजह से आपके परिवार की जो बनी हुई चीजें हैं अभी जो सेट चली हुई है उनमें भी परिवर्तन होगा यह परिवर्तन गलत नहीं है यह स्वभाविक है क्या परिवर्तन होगा हो सकता है आपके खाने-पीने की आदतें बदलनी पड़े आपको क्योंकि जो इंसान नया आपके लाइफ मेंटर करेगा हो सकता उसकी कुछ और आ जाते हो सकता कपड़े पहनने के ढंग बदलने पड़े हो सकता है सोने का उठने का टाइम आपके डेली रूटीन की चीजें आपके घर का सामान जिस तरह सेट है वह बदलना पड़े छोटी मोटी यह बदलाव आएंगे बड़े बदलाव जाएंगे हो सकता है किसी एक मुद्दे पर आपको अपनी सोच बदल नहीं पढ़े हो सकता है आपको दुनिया के अंत दुनियादारी हैं उसमें अपने आपको अभी तक आप अकेले प्रजेंट करते थे अब आप एक दूसरे इंसान के साथ अपने आप को प्रेजेंट करेंगे बाप 21 हो गए हो तो सारी चीजें बदलती हैं और यह सारा बदला बदला स्वभाविक है इनसे घबराना नहीं चाहिए यह जीवन का नियम है आप अगर शादी करेंगे तो यह बदलाव आएंगे उनके लिए तैयार रखिए अपने दिमाग को भी और अपने आपको भी थैंक्यू वेरी मच

aapne poocha ki kya shaadi ke karan zindagi aur parivar me badlav honge aur kya kya badlav honge ji bilkul badlav honge aapki life me ek insaan naya insaan enter karega uski nahi aadatein uska naya behaviour uski nayi belief system uske naye riti rivaaj saari cheez nahi aayegi aapki life me aapko apne jeevan ke sanche ko kuch had tak uske hisab se dalna padega aapko apne biwi ko kuch had tak uske hisab se madifai karna padega aur iski wajah se aapke parivar ki jo bani hui cheezen hain abhi jo set chali hui hai unmen bhi parivartan hoga yah parivartan galat nahi hai yah swabhavik hai kya parivartan hoga ho sakta hai aapke khane peene ki aadatein badalni pade aapko kyonki jo insaan naya aapke life mentor karega ho sakta uski kuch aur aa jaate ho sakta kapde pahanne ke dhang badalne pade ho sakta hai sone ka uthane ka time aapke daily routine ki cheezen aapke ghar ka saamaan jis tarah set hai vaah badalna pade choti moti yah badlav aayenge bade badlav jaenge ho sakta hai kisi ek mudde par aapko apni soch badal nahi padhe ho sakta hai aapko duniya ke ant duniyaadaari hain usme apne aapko abhi tak aap akele present karte the ab aap ek dusre insaan ke saath apne aap ko present karenge baap 21 ho gaye ho toh saari cheezen badalti hain aur yah saara badla badla swabhavik hai inse ghabrana nahi chahiye yah jeevan ka niyam hai aap agar shaadi karenge toh yah badlav aayenge unke liye taiyar rakhiye apne dimag ko bhi aur apne aapko bhi thainkyu very match

आपने पूछा कि क्या शादी के कारण जिंदगी और परिवार में बदलाव होंगे और क्या-क्या बदलाव होंगे ज

Romanized Version
Likes  75  Dislikes    views  1458
WhatsApp_icon
15 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

DR OM PRAKASH SHARMA

Principal, Education Counselor, Best Experience in Professional and Vocational Education cum Training Skills and 25 years experience of Competitive Exams. 9212159179. dsopsharma@gmail.com

1:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

शादी के बाद जिंदगी में कुछ बदलाव होंगे सबकी परिवार में पीपल गांव में क्या-क्या मनी मनी कि आप पुरुष हैं आपका विभाग व आपके परिवार में बदलाव हुआ आपके घर में आपकी पत्नी आई जो आपके माता-पिता की बहू आपके भाइयों बहनों के लिए भाभी रोगी रिश्तेदारों के लिए विभिन्न मामी टाटा की कोई ना कोई इस तरह के रिश्ते कायम आपके ससुराल में आग लगा दूंगी और किसी की जी जाएंगे किसी के तूफान में किसी के अंडे बहुत से संगीत इस तरह से परिवार में बदलाव आते हैं और यह बदलाव हमेशा सम्मान देने वाली होती है जीवन में कुछ सीखने वाले को सिखाने वाले होते हैं अगर कैसे बहू घर में चिड़िया जाती है तो हर शेर बन जाता है अगर घर की बहू घर में बुरे लक्षण आ जाती है तो सर विनर कौन है

shaadi ke baad zindagi me kuch badlav honge sabki parivar me pipal gaon me kya kya money money ki aap purush hain aapka vibhag va aapke parivar me badlav hua aapke ghar me aapki patni I jo aapke mata pita ki bahu aapke bhaiyo bahnon ke liye bhabhi rogi rishtedaron ke liye vibhinn mami tata ki koi na koi is tarah ke rishte kayam aapke sasural me aag laga dungi aur kisi ki ji jaenge kisi ke toofan me kisi ke ande bahut se sangeet is tarah se parivar me badlav aate hain aur yah badlav hamesha sammaan dene wali hoti hai jeevan me kuch sikhne waale ko sikhane waale hote hain agar kaise bahu ghar me chidiya jaati hai toh har sher ban jata hai agar ghar ki bahu ghar me bure lakshan aa jaati hai toh sir winner kaun hai

शादी के बाद जिंदगी में कुछ बदलाव होंगे सबकी परिवार में पीपल गांव में क्या-क्या मनी मनी कि

Romanized Version
Likes  362  Dislikes    views  5716
WhatsApp_icon
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

3:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

शादी के कारण जिंदगी और जो सब के परिवार में कुछ बदलाव क्या क्या बदलाव किए जो लड़की विवाह करके अपने पति के घर आती है तो दिल तरसाती है वहां पर सूनापन व्याप्त हो जाता है आधी जिंदगी वह अपने मायके में रही है तुम ऐसे में उनके माता-पिता और भाई बहन का ठीक तरह से दुखी महसूस करते हैं चिकनगुनिया के बीच के आगे वह झुक जाते हैं और जो लड़की ससुराल जाती है तो ससुराल का वातावरण को बदलने की क्षमता को रखती है अपने संस्कारों के द्वारा अपने कार्यों के द्वारा और अपनी हाजिरी जो परिवार में ससुराल में हुई है तो उससे पूरे घर का वातावरण सुंदर और मीठा हो सकता है अगर ऊंचा है तो उस परिवार को स्वर्ग बना सकती है घर को अगर वह चाहें तो नहीं बना सकती है डिपेंड करता है उसकी संस्कार उसकी सोच और उसके इरादों पर लेकिन अधिकतर घरों में देखा जाए तो जो भी लड़की से विवाह करके जाती है जो परिवार को स्वर्ग बनाने की भरपूर कोशिश करती है घर परिवार के सभी सभी सदस्यों से सामंजस्य बैठाने की भरपूर कोशिश करती है और नए स्टेशन स्थापित होते हैं मां के रूप में सांसों में मिलती है पिता के रूप में ससुर जी मिलते हैं भाई के रूप में देवर देता है ट्रेन के रूप में मदद मिलती है इस तरह से पूरा एक नया रिश्ता कायम होता है और उसे रिश्ते की गहराई को पाने के लिए वह किस तरह से व्यवहार करती है उन लोगों से उसी के ऊपर पूरे परिवार का वातावरण और सोहन पर होती है शुरुआत में 6 महीने तक तो सब कुछ सही चलता है और 6 महीने के बाद धीमे-धीमे जब सामान्य होने लगता है तब हम संस्कार और कहिए या जो परिवार एक सोच होती है या लड़की की जो सोचो कि वह दिन जीने दिखने लगती है और ठीक परिवार का वातावरण बदल सकता है इसलिए जो बदलाव होते हैं वह 6 महीने तक तो सही होते हैं लेकिन 6 महीने के बाद अगर बदलाव कायम है वह समझना चाहिए कि वह परिवार में स्वर्ग बस रहा है इसलिए हमसे रिलेशन जो होता है जो नए परिवार के सदस्य उनके जो रिश्ते होते हैं उनके साथी उस लड़की को शामिल है इससे सर्दी के कारण जिंदगी और सब के परिवार में बदलाव अच्छा भी होता है कभी-कभी

shaadi ke karan zindagi aur jo sab ke parivar me kuch badlav kya kya badlav kiye jo ladki vivah karke apne pati ke ghar aati hai toh dil tarsati hai wahan par sunapan vyapt ho jata hai aadhi zindagi vaah apne mayke me rahi hai tum aise me unke mata pita aur bhai behen ka theek tarah se dukhi mehsus karte hain chikungunya ke beech ke aage vaah jhuk jaate hain aur jo ladki sasural jaati hai toh sasural ka vatavaran ko badalne ki kshamta ko rakhti hai apne sanskaron ke dwara apne karyo ke dwara aur apni hajiri jo parivar me sasural me hui hai toh usse poore ghar ka vatavaran sundar aur meetha ho sakta hai agar uncha hai toh us parivar ko swarg bana sakti hai ghar ko agar vaah chahain toh nahi bana sakti hai depend karta hai uski sanskar uski soch aur uske iradon par lekin adhiktar gharon me dekha jaaye toh jo bhi ladki se vivah karke jaati hai jo parivar ko swarg banane ki bharpur koshish karti hai ghar parivar ke sabhi sabhi sadasyon se samanjasya baithne ki bharpur koshish karti hai aur naye station sthapit hote hain maa ke roop me shanson me milti hai pita ke roop me sasur ji milte hain bhai ke roop me devar deta hai train ke roop me madad milti hai is tarah se pura ek naya rishta kayam hota hai aur use rishte ki gehrai ko paane ke liye vaah kis tarah se vyavhar karti hai un logo se usi ke upar poore parivar ka vatavaran aur sohan par hoti hai shuruat me 6 mahine tak toh sab kuch sahi chalta hai aur 6 mahine ke baad dhime dhime jab samanya hone lagta hai tab hum sanskar aur kahiye ya jo parivar ek soch hoti hai ya ladki ki jo socho ki vaah din jeene dikhne lagti hai aur theek parivar ka vatavaran badal sakta hai isliye jo badlav hote hain vaah 6 mahine tak toh sahi hote hain lekin 6 mahine ke baad agar badlav kayam hai vaah samajhna chahiye ki vaah parivar me swarg bus raha hai isliye humse relation jo hota hai jo naye parivar ke sadasya unke jo rishte hote hain unke sathi us ladki ko shaamil hai isse sardi ke karan zindagi aur sab ke parivar me badlav accha bhi hota hai kabhi kabhi

शादी के कारण जिंदगी और जो सब के परिवार में कुछ बदलाव क्या क्या बदलाव किए जो लड़की विवाह कर

Romanized Version
Likes  306  Dislikes    views  3118
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

शादी के कारण जिंदगी और जो सब कुछ परिवार के कुछ बदलाव आते हैं तो किसी लड़की शादी के पहले की जो बात किया मारी तो हम हमारे माता पिता जी बहन भाई के लिए पहुंचाते थे उसके बाद में हमारी शादी हो गए तो हमारा प्यार जो होता है जो हमारा मन होता है डिवाइड होता है और इतना भी डिवाइड होता है कि हमारे ज्यादा से ज्यादा ख्याल औरत की तरफ जाता है औरत की तरफ कल जाने के बावजूद हम हमारे माता पिता बहन भाई को थोड़ा दुरावा निर्माण होता है और इसी के कारण जो जो घड़ी-घड़ी बदलाव हो जाते उसकी वजह है क्या मारा मनडा उड़ता है हमने अगर माता-पिता बहन भाई से होते ही बात करके हम बीवी से ही वह अगर यह माहौल में मिक्स कर लिए तो हमारे परिवार के अंदर कोई बदलाव नहीं होने वाला सामंजस्य पीना चाहिए रहना चाहिए खुश रहना चाहिए क्योंकि जिंदगी बहुत कम है

shaadi ke karan zindagi aur jo sab kuch parivar ke kuch badlav aate hain toh kisi ladki shaadi ke pehle ki jo baat kiya mari toh hum hamare mata pita ji behen bhai ke liye pahunchate the uske baad me hamari shaadi ho gaye toh hamara pyar jo hota hai jo hamara man hota hai divide hota hai aur itna bhi divide hota hai ki hamare zyada se zyada khayal aurat ki taraf jata hai aurat ki taraf kal jaane ke bawajud hum hamare mata pita behen bhai ko thoda durawa nirmaan hota hai aur isi ke karan jo jo ghadi ghadi badlav ho jaate uski wajah hai kya mara manada udta hai humne agar mata pita behen bhai se hote hi baat karke hum biwi se hi vaah agar yah maahaul me mix kar liye toh hamare parivar ke andar koi badlav nahi hone vala samanjasya peena chahiye rehna chahiye khush rehna chahiye kyonki zindagi bahut kam hai

शादी के कारण जिंदगी और जो सब कुछ परिवार के कुछ बदलाव आते हैं तो किसी लड़की शादी के पहले की

Romanized Version
Likes  464  Dislikes    views  5305
WhatsApp_icon
user

Gopal Srivastava

Acupressure Acupuncture Sujok Therapist

0:33
Play

Likes  163  Dislikes    views  3804
WhatsApp_icon
user

Dinesh Mishra

Theosophists | Accountant

1:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

शादी के कारण जिंदगी और सब परिवार में कुछ बदलाव होंगे क्या क्या बदलाव देखिए शादी के बाद में बहुत कुछ बदल जाया करता है यद्यपि इस बदलाव में जिस लड़की की शादी हुई है उसमें बहुत परिवर्तन रा जाया करता है चाहे वह कपड़े की प्रणाली खाओ चाय बोलने के तरीके का हो चाहे सुबह होगा वह और चाय व्यवहार कहां शादी के बाद में व्यक्ति के जिंदगी में हर बार में बदलाव भी आया करते हैं क्योंकि शादी के पूर्व परिवार की स्थिति को चौराहा करती है और शादी के बाद में परिवार की जो स्थिति है वह कुछ दूसरी हो जाया करती है

shaadi ke karan zindagi aur sab parivar me kuch badlav honge kya kya badlav dekhiye shaadi ke baad me bahut kuch badal jaya karta hai yadyapi is badlav me jis ladki ki shaadi hui hai usme bahut parivartan ra jaya karta hai chahen vaah kapde ki pranali khao chai bolne ke tarike ka ho chahen subah hoga vaah aur chai vyavhar kaha shaadi ke baad me vyakti ke zindagi me har baar me badlav bhi aaya karte hain kyonki shaadi ke purv parivar ki sthiti ko chauraha karti hai aur shaadi ke baad me parivar ki jo sthiti hai vaah kuch dusri ho jaya karti hai

शादी के कारण जिंदगी और सब परिवार में कुछ बदलाव होंगे क्या क्या बदलाव देखिए शादी के बाद में

Romanized Version
Likes  209  Dislikes    views  1491
WhatsApp_icon
user

Sapna

Social Worker

6:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है शादी के कारण जिंदगी और सब के परिवार में कुछ बदलाव होंगे वह क्या-क्या बदलाव होंगे तो आप के प्रति कैंसर स्वरूप को बताना चाहूंगी यह शादी के कारण जिंदगी एवं परिवार में बहुत बदलाव होते हैं वह बदलाव शादी होने के बाद शुरू हो जाते हैं शादी के बाद जो शादी के बाद 1 साल नहीं होता तब बच्चे हो जाते हैं फिर बच्चों की परवरिश करने की जिम्मेदारी आ जाती है वह बच्चों की व्यवस्थाएं हम को पढ़ाने की लाने की यह जिम्मेदारी है और यह जो जिम्मेदारी आती है वह माता-पिता दोनों पर आती हैं पहले शादी से पहले एक लड़की होती है उसके बाद वह बहू बनती है पत्नी बनती है मां बनती है ऐसे उसकी जिंदगी में परिवर्तन होते ही रहते हैं पहले कितनी की बेटी और बहन होती है फिर कितनी की बहू और पत्नी मां और जो रिश्ता है वह आगे बढ़ता ही चला जाता है इस तरीके तरीके से शादी की रात जिंदगी में बदलाव होते हैं और बदलाव के साथ परिवार में समस्याएं भी आती हैं वह समस्याएं परिवार की स्थिति को कैसे सुधारा जाए परिवार में जो समस्या हो गई है शादी के बाद बच्चे हो गए उनको पालना है पढ़ाना है उनके रहने की व्यवस्था करना हमको खिलाने उसका कहना है कि वक्ता करना है यह सारी समस्याओं के निराकरण के लिए एक महिला और पुरुष में बहुत बदलाव आ जाते हैं जैसा जीवन हमारा पहले का होता है बेहतर जीवन हमारा आगे नहीं रहता है हमारे परिवार की जो आगे बदलाव होते हैं हमारे परिवार की जो आगे बदलाव होते जाते हैं मम्मी के कारण हमारे जीवन में भी बदलाव होता जाता है महिलाओं को महिलाओं को भी समस्या होती है जिंदगी में परिवार में बदलाव होने से और पुरुषों को भी समस्याएं होती हैं महिलाओं की समस्या यह रहती है कि घर में जो व्यवस्था होनी चाहिए वह व्यवस्था करने के लिए मुझे क्या-क्या कार्य करनी चाहिए और फोटो की जिम्मेदारी होती है कि वह घर की व्यवस्था करने के लिए आमदनी की वक्ता हो इसके लिए उसमें बदलाव आते हैं और वह आमदनी के लिए उत्पादों पहले का जीवन होता है वह पहले जैसा नहीं रहता पहले कुछ तो कोई चिंता नहीं रहती क्योंकि पहले वह यह सोचता है शादी से पहले यह भी मां बाप है मां-बाप देख रहे जब तक मां बाप है उसको यह नहीं पता होता कि आगे मुझे समस्या हो सकती हैं मगर जब शादी हो जाती है तो शादी के बाद हम अकेले नहीं होते हैं हमारे पास पतली हो जाती है बच्चा हो जाते हैं उनकी जिम्मेदारी हमारी जिंदगी में हमारे परिवार में बहुत बदलाव आ जाता है और एक पत्नी होती है जो पहले किसने की बेटी या बहन होती है जब वह बहू और पत्नी और मां बनती है तो उसी के अनुसार उसे अपनी ही बना होता है उसे 1 माह का फर्ज निभाना है एक बहू का भी फर्ज निभाना है और एक पत्नी का भी फर्ज और पट्टा फर्ज निभाते निभाते उसे जो अपने प्रीतम का ख्याल रखना चाहिए तो वह अपना स्वयं का ख्याल ना रखते हुए सबकी होती है लेकिन अपने हित को भूल जाती है यह महिलाओं के जीवन में बदलाव आ जाते हैं और जब जब तक वह बेटी और बहन होती है तो उसे अपनी फिक्र रहती है कि मुझे खाना खाना है मुझे सोना है मुझे पढ़ना है मतलब कोई बंधन नहीं होता उसको जैसा जीवन जीना होता है बेहतर जीवन जीती है मगर शादी के बाद ऐसा नहीं होता है शादी के बाद पूरे परिवार को लेकर चलना पड़ता सब की समस्याओं को ध्यान में रखते हुए तार करना होता है जो हमारा आगे फल जो कर्तव्य होता है उनको हमें निभाना पड़ता है और यही जो कर्तव्य हैं हमारे वह हमारी जिंदगी में एवं हमारे परिवार में बदलाव कर देते हैं शादी के कारण जिंदगी और परिवार में यही बदलाव हो जाती हैं सपना शर्मा

aapka prashna hai shaadi ke karan zindagi aur sab ke parivar me kuch badlav honge vaah kya kya badlav honge toh aap ke prati cancer swaroop ko batana chahungi yah shaadi ke karan zindagi evam parivar me bahut badlav hote hain vaah badlav shaadi hone ke baad shuru ho jaate hain shaadi ke baad jo shaadi ke baad 1 saal nahi hota tab bacche ho jaate hain phir baccho ki parvarish karne ki jimmedari aa jaati hai vaah baccho ki vyavasthaen hum ko padhane ki lane ki yah jimmedari hai aur yah jo jimmedari aati hai vaah mata pita dono par aati hain pehle shaadi se pehle ek ladki hoti hai uske baad vaah bahu banti hai patni banti hai maa banti hai aise uski zindagi me parivartan hote hi rehte hain pehle kitni ki beti aur behen hoti hai phir kitni ki bahu aur patni maa aur jo rishta hai vaah aage badhta hi chala jata hai is tarike tarike se shaadi ki raat zindagi me badlav hote hain aur badlav ke saath parivar me samasyaen bhi aati hain vaah samasyaen parivar ki sthiti ko kaise sudhara jaaye parivar me jo samasya ho gayi hai shaadi ke baad bacche ho gaye unko paalna hai padhana hai unke rehne ki vyavastha karna hamko khilane uska kehna hai ki vakta karna hai yah saari samasyaon ke nirakaran ke liye ek mahila aur purush me bahut badlav aa jaate hain jaisa jeevan hamara pehle ka hota hai behtar jeevan hamara aage nahi rehta hai hamare parivar ki jo aage badlav hote hain hamare parivar ki jo aage badlav hote jaate hain mummy ke karan hamare jeevan me bhi badlav hota jata hai mahilaon ko mahilaon ko bhi samasya hoti hai zindagi me parivar me badlav hone se aur purushon ko bhi samasyaen hoti hain mahilaon ki samasya yah rehti hai ki ghar me jo vyavastha honi chahiye vaah vyavastha karne ke liye mujhe kya kya karya karni chahiye aur photo ki jimmedari hoti hai ki vaah ghar ki vyavastha karne ke liye aamdani ki vakta ho iske liye usme badlav aate hain aur vaah aamdani ke liye utpado pehle ka jeevan hota hai vaah pehle jaisa nahi rehta pehle kuch toh koi chinta nahi rehti kyonki pehle vaah yah sochta hai shaadi se pehle yah bhi maa baap hai maa baap dekh rahe jab tak maa baap hai usko yah nahi pata hota ki aage mujhe samasya ho sakti hain magar jab shaadi ho jaati hai toh shaadi ke baad hum akele nahi hote hain hamare paas patli ho jaati hai baccha ho jaate hain unki jimmedari hamari zindagi me hamare parivar me bahut badlav aa jata hai aur ek patni hoti hai jo pehle kisne ki beti ya behen hoti hai jab vaah bahu aur patni aur maa banti hai toh usi ke anusaar use apni hi bana hota hai use 1 mah ka farz nibhana hai ek bahu ka bhi farz nibhana hai aur ek patni ka bhi farz aur patta farz nibhate nibhate use jo apne pritam ka khayal rakhna chahiye toh vaah apna swayam ka khayal na rakhte hue sabki hoti hai lekin apne hit ko bhool jaati hai yah mahilaon ke jeevan me badlav aa jaate hain aur jab jab tak vaah beti aur behen hoti hai toh use apni fikra rehti hai ki mujhe khana khana hai mujhe sona hai mujhe padhna hai matlab koi bandhan nahi hota usko jaisa jeevan jeena hota hai behtar jeevan jeeti hai magar shaadi ke baad aisa nahi hota hai shaadi ke baad poore parivar ko lekar chalna padta sab ki samasyaon ko dhyan me rakhte hue taar karna hota hai jo hamara aage fal jo kartavya hota hai unko hamein nibhana padta hai aur yahi jo kartavya hain hamare vaah hamari zindagi me evam hamare parivar me badlav kar dete hain shaadi ke karan zindagi aur parivar me yahi badlav ho jaati hain sapna sharma

आपका प्रश्न है शादी के कारण जिंदगी और सब के परिवार में कुछ बदलाव होंगे वह क्या-क्या बदलाव

Romanized Version
Likes  102  Dislikes    views  1441
WhatsApp_icon
play
user

Porshia Chawla Ban

Psychologist

4:50

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

शादी के बाद बहुत कुछ बदलाव होते हैं और सिर्फ पुरुष के जीवन में होंगे ऐसा भी नहीं है सिर्फ स्त्री के जीवन में होंगे ऐसा भी नहीं है मायके में होंगे ऐसा भी नहीं है सिर्फ और ससुराल में ही होंगे ऐसा भी नहीं है तो सभी के जीवन में बदलाव आते हैं तो उसे एक से एक एक करके शुरुआत से हम बात करते हैं पहले बात करते हैं पुरुष के जीवन में पुरुष के जीवन में भी बदलाव आता है पहले उसको सिर्फ अपने पेरेंट्स का देखना होता है लेकिन अभी वह जो जो लड़की शादी करके आई है उसका भी पॉइंट ऑफ यू देखना है उसकी फसल देखनी है उसकी वीडियो देखनी है तो बहुत ज्यादा क्लासेज रहते हैं कई बारी मदर और आपकी वाइफ के बीच में या सिस्टर और वाइफ के बीच में तो उसको एक अंपायर का काम करना पड़ता है कई बार सबको साथ में लेकर चलना है तो सबकी विशेषण सबकी ख्वाइश है वह पूरी करनी पड़ती है तो एक कोबॉय के भी पॉइंट ऑफिस से देखा जाए तो पहले वह कभी भी आता था कभी भी चाहता था लेकिन अभी वह आंसरेबल है किसी के लिए तो उसको घर टाइम पर आना पड़ता है अपनी सैलरी का पूरा हिसाब देना पड़ता है उसके ऊपर रिस्पांसिबिलिटीज और वह भी उसको भी मैं चोर भी 11 सेक्टर से किया जाता है यह हो गया एक पक्ष दूसरा होता है वधू यानी जो आपकी लड़की है ब्राइड है अब स्त्री के जीवन में भी बहुत बदलाव आते हैं पहले वह भी बिल्कुल मस्त वाला थी मां सब करके देती थी हाथ में अब वह खुद मां बने और खुद एक पालनकर्ता बने और खुद वह अक्सर को शर्म करें ऐसी उससे अपेक्षा की जाती है तो उसका भी जीवन बदल जाता है पहले सबसे पहले उसको खिलाया जाता था अब सब वह सब को खाना खिला कर फिर कुछ खाती है तो ऐसा भी हर फैमिली में होता है ऐसा नहीं बोल रही हूं मैं लेकिन एक्सप्रेशन सी ऐसी रहती हैं और हमारे इंडियन कल्चर में सुसाइडल नॉर्म्स में यह सब है अब स्त्री को मायके से ज्यादा ससुराल वालों का भी सोचना है उनके भी केयर करना है तो ऐसे अभी न्यू फैमिली मेंबर जब वह आती है तो उसको एडजस्ट करना पड़ता है सबके साथ सब की शोभा को समझ में आ पसंद नापसंद को समझना घर के कायदे कानून नियम सब उसके लिए नए रहते हैं तो उसको लड़के से भी ज्यादा एडजस्ट करना पड़ता है अब तीसरा आता है ससुराल ससुराल वालों को भी एडजस्ट करना पड़ता है क्योंकि एक नया पर्सन घर में आया है उसको समझ मिलकर आना है लेकिन उल्टा भी होता है बहुत बार वह अपने रूल्स एंड रेगुलेशंस और अपने बहुत सारी टर्न्स 39 समझाने में और बताने में लग जाते हैं तो ए कांस्टेंट कंपैरिजन रहता है लड़की की तरफ से भी रहता है कि हमारे यहां तो ऐसा होता है तुम्हारे यहां जैसा होता है और जिससे की प्रॉब्लम क्रिएट होती है तो यही कंपैरिजन स्क्रिएट नहीं करनी चाहिए आप समझ जाइए कि यह घर अलग है वह लगा और अलग रहेगा सेम का भी नहीं हो सकता है जिसमें डाकू करनी है ठीक और एडजेस्टमेंट ससुराल वालों को भी करनी पड़ती है एक्सेप्ट कर लेना स्वीकार कर लेना बहुत अच्छी बात रहती है कि वह घर से आई है तो अलग रहेगी तो कुछ तो अलग रहेगा उसका स्टाइल ऐसे ही आपका स्टाइल तो ससुराल वालों का है वह लग रहेगा तो दोनों को एक दूसरे को समझना है कि यह जो अलग स्टाइल है मारे अलग लाइफ़स्टाइल्स गलत फैमिली का रहन-सहन है तो यह चाय सिंह कास्ट में भी शादी हो तो कुछ ना कुछ अलग तो रहता ही है तो हम कोई दुश्मन तो नहीं पड़ती है साथ रहने के लिए अब आते हैं बदलाव मायके वालों की तरफ तू मायके वालों का जो पहले तो भैया रहता है लड़की के लिए अलग रहता है शादी के बाद मायके वालों का रवैया भी बदल जाता है कैसे किया भी लड़की पर आ गई है अभी शादीशुदा हो गई है तो वह लड़की से मैच्योरिटी वाला भी वे रिस्पेक्ट करते हैं रिस्पांसिबिलिटीज लेने वाला भी ही देर एक्सपेक्ट करते हैं और वह भी चाहते हैं कि उनकी लड़की जो है एडजस्ट हो जाएं खुश रहें और बहुत बार उनकी तरफ से यह जो बहुत ज्यादा इन ग्रेटर केयर है वह बढ़ जाती है तो उससे उसकी ससुराल में या शादी में आप लोग भी क्रिएट हो सकती हैं तो उस लड़की के माता-पिता हैं को ज्यादा दखल नहीं देना चाहिए अपनी लड़की को एडजस्ट होने के लिए टाइम देना चाहिए तो आप देखो उनका भी जो माइंड है उनका भी तो दिमाग है उसमें भी किस तरह के विचार आते हैं और उनके भी जीवन में बहुत बदलाव आते हैं जब लड़की की शादी कर देते हैं तो आप देखोगे जितने भी पार्टीज इन वर्ल्ड हैं वह सभी शादी से अफेक्ट होती हैं सभी के जीवन में बदलाव आते हैं धीरे-धीरे आते हैं और कुछ पॉजिटिव चेंज जाते हैं जो चीजें चेन जिस को एक्सेप्ट नहीं कर पाते हैं वह फिर उनको तकलीफ होती है तो स्वीकार करना डिफरेंस इसको क्यों रहेंगे तुम को स्वीकार करिए क्या लाभ है डिफरेंट करिए धन्यवाद

shadi ke baad bahut kuch badlav hote hain aur sirf purush ke jeevan mein honge aisa bhi nahi hai sirf stree ke jeevan mein honge aisa bhi nahi hai mayke mein honge aisa bhi nahi hai sirf aur sasural mein hi honge aisa bhi nahi hai toh sabhi ke jeevan mein badlav aate hain toh use ek se ek ek karke shuruat se hum baat karte hain pehle baat karte hain purush ke jeevan mein purush ke jeevan mein bhi badlav aata hai pehle usko sirf apne parents ka dekhna hota hai lekin abhi vaah jo jo ladki shadi karke I hai uska bhi point of you dekhna hai uski fasal dekhni hai uski video dekhni hai toh bahut zyada classes rehte hain kai baari mother aur aapki wife ke beech mein ya sister aur wife ke beech mein toh usko ek umpire ka kaam karna padta hai kai baar sabko saath mein lekar chalna hai toh sabki visheshan sabki khwaish hai vaah puri karni padti hai toh ek kobay ke bhi point office se dekha jaaye toh pehle vaah kabhi bhi aata tha kabhi bhi chahta tha lekin abhi vaah ansarebal hai kisi ke liye toh usko ghar time par aana padta hai apni salary ka pura hisab dena padta hai uske upar rispansibilitij aur vaah bhi usko bhi main chor bhi 11 sector se kiya jata hai yah ho gaya ek paksh doosra hota hai vadhu yani jo aapki ladki hai bride hai ab stree ke jeevan mein bhi bahut badlav aate hain pehle vaah bhi bilkul mast vala thi maa sab karke deti thi hath mein ab vaah khud maa bane aur khud ek palankarta bane aur khud vaah aksar ko sharm kare aisi usse apeksha ki jaati hai toh uska bhi jeevan badal jata hai pehle sabse pehle usko khilaya jata tha ab sab vaah sab ko khana khila kar phir kuch khati hai toh aisa bhi har family mein hota hai aisa nahi bol rahi hoon main lekin expression si aisi rehti hain aur hamare indian culture mein susaidal narms mein yah sab hai ab stree ko mayke se zyada sasural walon ka bhi sochna hai unke bhi care karna hai toh aise abhi new family member jab vaah aati hai toh usko adjust karna padta hai sabke saath sab ki shobha ko samajh mein aa pasand napasand ko samajhna ghar ke kayade kanoon niyam sab uske liye naye rehte hain toh usko ladke se bhi zyada adjust karna padta hai ab teesra aata hai sasural sasural walon ko bhi adjust karna padta hai kyonki ek naya person ghar mein aaya hai usko samajh milkar aana hai lekin ulta bhi hota hai bahut baar vaah apne rules and reguleshans aur apne bahut saree turns 39 samjhane mein aur batane mein lag jaate hain toh a constant kampairijan rehta hai ladki ki taraf se bhi rehta hai ki hamare yahan toh aisa hota hai tumhare yahan jaisa hota hai aur jisse ki problem create hoti hai toh yahi kampairijan skriet nahi karni chahiye aap samajh jaiye ki yah ghar alag hai vaah laga aur alag rahega same ka bhi nahi ho sakta hai jisme daku karni hai theek aur edajestament sasural walon ko bhi karni padti hai except kar lena sweekar kar lena bahut achi baat rehti hai ki vaah ghar se I hai toh alag rahegi toh kuch toh alag rahega uska style aise hi aapka style toh sasural walon ka hai vaah lag rahega toh dono ko ek dusre ko samajhna hai ki yah jo alag style hai maare alag laifastails galat family ka rahan sahan hai toh yah chai Singh caste mein bhi shadi ho toh kuch na kuch alag toh rehta hi hai toh hum koi dushman toh nahi padti hai saath rehne ke liye ab aate hain badlav mayke walon ki taraf tu mayke walon ka jo pehle toh bhaiya rehta hai ladki ke liye alag rehta hai shadi ke baad mayke walon ka ravaiya bhi badal jata hai kaise kiya bhi ladki par aa gayi hai abhi shaadishuda ho gayi hai toh vaah ladki se maturity vala bhi ve respect karte hain rispansibilitij lene vala bhi hi der expect karte hain aur vaah bhi chahte hain ki unki ladki jo hai adjust ho jaye khush rahein aur bahut baar unki taraf se yah jo bahut zyada in greater care hai vaah badh jaati hai toh usse uski sasural mein ya shadi mein aap log bhi create ho sakti hain toh us ladki ke mata pita hain ko zyada dakhal nahi dena chahiye apni ladki ko adjust hone ke liye time dena chahiye toh aap dekho unka bhi jo mind hai unka bhi toh dimag hai usme bhi kis tarah ke vichar aate hain aur unke bhi jeevan mein bahut badlav aate hain jab ladki ki shadi kar dete hain toh aap dekhoge jitne bhi parties in world hain vaah sabhi shadi se affect hoti hain sabhi ke jeevan mein badlav aate hain dhire dhire aate hain aur kuch positive change jaate hain jo cheezen chain jis ko except nahi kar paate hain vaah phir unko takleef hoti hai toh sweekar karna difference isko kyon rahenge tum ko sweekar kariye kya labh hai different kariye dhanyavad

शादी के बाद बहुत कुछ बदलाव होते हैं और सिर्फ पुरुष के जीवन में होंगे ऐसा भी नहीं है सिर्फ

Romanized Version
Likes  104  Dislikes    views  3485
WhatsApp_icon
user

Shipra Ranjan

Life Coach

1:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

और जो सब के परिवार में कुछ बदलाव होंगे क्या क्या बदलाव होंगे अपना कंप्यूटर छोड़कर जाना होता है शादी के पहले दिन से ही उसके रिस्पांस मिल जाती हैं सारे ससुराल वालों के टेशन जाती हैं कि सारा काम करेगी अपने घर में एक प्रिंसेस की तरह हमेशा से रहा करती थी शायद ही कभी कोई काम करती हो अपने घर में उसको एक जो भी चीज चाहिए होती थी उसे बैठे-बिठाए मिलती रहती थी उसके पास यहां पर आकर बिल्कुल चेंज हो जाता है यहां से सारा काम करना होता है दूसरों का ख्याल रखना सोचने से पहले बोलने से पहले चीजें सामने रखी होनी चाहिए ऐसे कोटेशन होती है सबकी तो सबसे ज्यादा चेंज ईमेल की लाइफ में ही होते हैं लेकिन ऐसा नहीं है कि मैं उसकी लाइफ में कोई नहीं होता है मेल के लिए भी रिस्पांस बलटी पड़ जाती है पहले वह जो अपना रिचार्ज के जो स्वतंत्रता थी मेल कि वह चीज नहीं रह जाती है कि आप कभी भी कुछ भी कहीं भी रख दीजिए कहीं भी चले जाइए कुछ भी खा लीजिए ऐसा नहीं होता है अब आपको अपने पार्टनर के बारे में भी सोचना होता है उसके प्रति भी आपकी कुछ जिम्मेदारियां हैं कुछ ऐसे आप मुंह नहीं मोड़ सकते और सबसे बड़ी बात जो मेरे साथ में होती है उन्हें अपने और अपने वाइफ के बीच में जो कार में बिठाकर के जीवन यापन करना होता है सबसे बड़ा है

aur jo sab ke parivar me kuch badlav honge kya kya badlav honge apna computer chhodkar jana hota hai shaadi ke pehle din se hi uske response mil jaati hain saare sasural walon ke teshan jaati hain ki saara kaam karegi apne ghar me ek Princes ki tarah hamesha se raha karti thi shayad hi kabhi koi kaam karti ho apne ghar me usko ek jo bhi cheez chahiye hoti thi use baithe bithaye milti rehti thi uske paas yahan par aakar bilkul change ho jata hai yahan se saara kaam karna hota hai dusro ka khayal rakhna sochne se pehle bolne se pehle cheezen saamne rakhi honi chahiye aise quotation hoti hai sabki toh sabse zyada change email ki life me hi hote hain lekin aisa nahi hai ki main uski life me koi nahi hota hai male ke liye bhi response balati pad jaati hai pehle vaah jo apna recharge ke jo swatantrata thi male ki vaah cheez nahi reh jaati hai ki aap kabhi bhi kuch bhi kahin bhi rakh dijiye kahin bhi chale jaiye kuch bhi kha lijiye aisa nahi hota hai ab aapko apne partner ke bare me bhi sochna hota hai uske prati bhi aapki kuch zimmedariyan hain kuch aise aap mooh nahi mod sakte aur sabse badi baat jo mere saath me hoti hai unhe apne aur apne wife ke beech me jo car me bithakar ke jeevan yaapan karna hota hai sabse bada hai

और जो सब के परिवार में कुछ बदलाव होंगे क्या क्या बदलाव होंगे अपना कंप्यूटर छोड़कर जाना होत

Romanized Version
Likes  521  Dislikes    views  6510
WhatsApp_icon
user

Rakesh Tiwari

Life Coach, Management Trainer

1:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है शादी के कारण जिंदगी और जो सब परिवार में कुछ बदलाव होंगे क्या-क्या बदलाव है शादी के कारण आपके परिवार में 1 सदस्य और जुड़ जाएगा जिसका आपके परिवार से खून का संबंध नहीं रहेगा लेकिन आप उस पर प्रति निष्ठावान रहेंगे और वह आपके प्रति निष्ठावान रहे आप जिस तरह से अपने घर वालों के प्रति मां-बाप के प्रति ऐसी भावना आप अपनी पत्नी से शादी के बाद बात करेंगे उसी तरह की भावना पत्नी आपके परिवार के प्रति रखेगी यह मेदर बदलाव होगा दूसरा क्योंकि मां बेटे पर अधिकार समझती है और शादी के बाद बेटे को अपनी मां और पत्नी दोनों के बीच में संतुलन बिठाना पड़ता है आपको भी यह संतुलन बिठाना पड़ेगा यहां मां की के अधिकार की भावना है वह भी हाथ नहीं हो साथ में पत्नी की तस्वीर आप पूरी अकाउंटेबल रहे पूरे उत्तरदाई रहे ऐसा संपन्न परिवार में बनाना पड़ता है यही मेजर बदलाव होंगे आप जीवन में अगर डिसिप्लिन नहीं है तो शादी के बाद छोड़ डिसिप्लिन आ जाता है क्योंकि आप ज्यादा रिस्पांसिबल हो जाते हैं इस समय पर इतना काम करने जाना इस समय पर आना यह सब छोड़ो

aapka prashna hai shadi ke karan zindagi aur jo sab parivar mein kuch badlav honge kya kya badlav hai shadi ke karan aapke parivar mein 1 sadasya aur jud jaega jiska aapke parivar se khoon ka sambandh nahi rahega lekin aap us par prati nisthawan rahenge aur vaah aapke prati nisthawan rahe aap jis tarah se apne ghar walon ke prati maa baap ke prati aisi bhavna aap apni patni se shadi ke baad baat karenge usi tarah ki bhavna patni aapke parivar ke prati rakhegi yah medar badlav hoga doosra kyonki maa bete par adhikaar samajhti hai aur shadi ke baad bete ko apni maa aur patni dono ke beech mein santulan bithana padta hai aapko bhi yah santulan bithana padega yahan maa ki ke adhikaar ki bhavna hai vaah bhi hath nahi ho saath mein patni ki tasveer aap puri accountable rahe poore uttardai rahe aisa sampann parivar mein banana padta hai yahi major badlav honge aap jeevan mein agar discipline nahi hai toh shadi ke baad chod discipline aa jata hai kyonki aap zyada rispansibal ho jaate hain is samay par itna kaam karne jana is samay par aana yah sab chhodo

आपका प्रश्न है शादी के कारण जिंदगी और जो सब परिवार में कुछ बदलाव होंगे क्या-क्या बदलाव है

Romanized Version
Likes  67  Dislikes    views  840
WhatsApp_icon
user

Baljeet Kaur Anand

Motivational Speaker And Counsellor

2:47
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बहुत अच्छा प्रश्न पूछा गया है कि शादी के कारण जिंदगी में परिवारों में क्या क्या बदलाव होंगे क्या क्या बदलाव आएंगे चाहे लड़का हो या लड़की दूल्हा-दुल्हन जो भी हो दोनों के जीवन में दोनों के परिवारों में बदलाव तो जरूर आएंगे क्योंकि आप अब अपना घर छोड़कर अपने मां बाप को कैसे पाला गया है आप की परवरिश कैसे हुई है आपकी आदतें कैसी हैं घर का माहौल कैसा है वह ससुराल के माहौल से काफी अलग होगा तो ढलने में ससुराल के माहौल में ढलने में थोड़ा वक्त लगेगा वहां के तौर तरीके सीखने में थोड़ा वक्त लगेगा आपको और यह भी दूल्हे का परिवार जो होता है या लड़के वालों का परिवार जो होता है उन्हें भी वक्त लगता है किसी ने सदस्यों को अपने परिवार में अपनाने के लिए क्योंकि दोनों तरफ से लोग चाहते हैं कि यह रिश्ता अच्छा संभव हो आपको भी घर जैसा महसूस कराने की उनकी कोशिश होती है वह भी अपने परिवार का रहस्य आपको बताते हैं तौर-तरीके सिखाते हैं आप को अपना बनाते हैं एक नए मेंबर को अपनाने में टाइम लगता है तो दोनों तरफ ही बदलाव आएंगे आपको अपने आप को बहुत रखना है ऐसे समय में देखें अब जवेशन अच्छी रखें देखें सीखे किसको क्या पसंद है वैसा कार्य करें सब की खुशी का ध्यान रखें और अपनी खुशी का भी जरूर ध्यान रखें चाहे लड़का है या लड़की है दोनों अपने आप में अंडरस्टैंडिंग बनाकर रखें अंडरस्टैंड रिश्तो में होना बहुत जरूरी है अगर कुछ कहना चाहते हैं आपके दिमाग में कोई चीज है तो वह बहुत प्रेम से आगे रखे जिसके भी आगे आप रखना चाहते हैं सास के आगे भाई बहनों के आगे देवर देवरानी ओके आगे बहुत प्यार से रखें अपनी बात समझा है किसी का दिल ना दुखाए तो हर रिश्ता संभव है बदलाव आसान है उतना आसान नहीं होता बदलाव लेकिन मुमकिन जरूर है एंड अमित चेंजिंग एक्सेप्ट करने चाहिए तो शादी के बाद जीवन आपका खुशहाली से भरा हो ऐसा ही हम चाहेंगे हमारी मनोकामना यही रहेगी

bahut accha prashna poocha gaya hai ki shadi ke karan zindagi mein parivaron mein kya kya badlav honge kya kya badlav aayenge chahen ladka ho ya ladki dulha dulhan jo bhi ho dono ke jeevan mein dono ke parivaron mein badlav toh zaroor aayenge kyonki aap ab apna ghar chhodkar apne maa baap ko kaise pala gaya hai aap ki parvarish kaise hui hai aapki aadatein kaisi hain ghar ka maahaul kaisa hai vaah sasural ke maahaul se kaafi alag hoga toh dhalne mein sasural ke maahaul mein dhalne mein thoda waqt lagega wahan ke taur tarike sikhne mein thoda waqt lagega aapko aur yah bhi duulhe ka parivar jo hota hai ya ladke walon ka parivar jo hota hai unhe bhi waqt lagta hai kisi ne sadasyon ko apne parivar mein apnane ke liye kyonki dono taraf se log chahte hain ki yah rishta accha sambhav ho aapko bhi ghar jaisa mehsus karane ki unki koshish hoti hai vaah bhi apne parivar ka rahasya aapko batatey hain taur tarike sikhaate hain aap ko apna banate hain ek naye member ko apnane mein time lagta hai toh dono taraf hi badlav aayenge aapko apne aap ko bahut rakhna hai aise samay mein dekhen ab javeshan achi rakhen dekhen sikhe kisko kya pasand hai waisa karya kare sab ki khushi ka dhyan rakhen aur apni khushi ka bhi zaroor dhyan rakhen chahen ladka hai ya ladki hai dono apne aap mein understanding banakar rakhen understand rishto mein hona bahut zaroori hai agar kuch kehna chahte hain aapke dimag mein koi cheez hai toh vaah bahut prem se aage rakhe jiske bhi aage aap rakhna chahte hain saas ke aage bhai bahnon ke aage devar devrani ok aage bahut pyar se rakhen apni baat samjha hai kisi ka dil na dukhaya toh har rishta sambhav hai badlav aasaan hai utana aasaan nahi hota badlav lekin mumkin zaroor hai and amit changing except karne chahiye toh shadi ke baad jeevan aapka khushahali se bhara ho aisa hi hum chahenge hamari manokamana yahi rahegi

बहुत अच्छा प्रश्न पूछा गया है कि शादी के कारण जिंदगी में परिवारों में क्या क्या बदलाव होंग

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  171
WhatsApp_icon
user

Mohammad Bilal

Accountant

1:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सवाल है शादी के कारण जिंदगी और जो सब के परिवार में कुछ बदलाव होंगे क्या क्या बदलाव होंगे आप भी जानना चाहते हैं शादी के बाद देखिए यदि आप मेल है तो अलग बदलाव पलक सोच फीमेल है तो अलग बदलाव अलग सोच पहले हम फीमेल की बात कर दें यदि आप यदि कोई फीमेल है और वह शादी होकर अपने पति के घर अगर जा रही है तो वह अपना घर-परिवार छोड़ दी है किसी के भरोसे उस उम्मीद पर ही मेरी जिंदगी में मुझे अच्छा मिलेगा खुशी मिलेगी मैं अच्छे से रहूंगी मुझे अच्छे से रखेंगे ससुराल वाले घर के लोग इस तरह के तमाम सारे ख्याल रहते हैं फीमेल में और जब मेल की बात आती है तो उसके घर परिवार के लोगों की उम्मीदें आशाएं इच्छाएं और सोच यह सब सिर्फ बनने लगती है इसीलिए बनने लगती है कि आप अभी तक मां बाप भाई बहन

sawaal hai shadi ke karan zindagi aur jo sab ke parivar mein kuch badlav honge kya kya badlav honge aap bhi janana chahte hain shadi ke baad dekhiye yadi aap male hai toh alag badlav palak soch female hai toh alag badlav alag soch pehle hum female ki baat kar de yadi aap yadi koi female hai aur vaah shadi hokar apne pati ke ghar agar ja rahi hai toh vaah apna ghar parivar chod di hai kisi ke bharose us ummid par hi meri zindagi mein mujhe accha milega khushi milegi main acche se rahungi mujhe acche se rakhenge sasural waale ghar ke log is tarah ke tamaam saare khayal rehte hain female mein aur jab male ki baat aati hai toh uske ghar parivar ke logo ki ummeeden ashaen ichhaen aur soch yah sab sirf banne lagti hai isliye banne lagti hai ki aap abhi tak maa baap bhai behen

सवाल है शादी के कारण जिंदगी और जो सब के परिवार में कुछ बदलाव होंगे क्या क्या बदलाव होंगे आ

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  157
WhatsApp_icon
user

Manoj Singh

Journalist

0:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे शादी के कारण कुछ बदलाव नहीं होता है आपके ऊपर जिम्मेदारियां आ जाती हैं उन जिम्मेदारियों का निर्वहन करते रहें आपको कोई बदलाव नजर नहीं आएगा और बदलाव तो ऐसे भी होते रहेगा अगर आपका भी नहीं भी करेंगे तो भी बदलाव होते समय की गति तो बढ़ते रहती है उसके साथ था हो सकता है बढ़ती जाती हैं और आदमी की जरूरत कम देसी होते रहती है इसलिए उसका शादी से कोई तात्पर्य नहीं है हां आपको अपनी अहमियत बनाए रखना है

mujhe shadi ke karan kuch badlav nahi hota hai aapke upar zimmedariyan aa jaati hain un jimmedariyon ka nirvahan karte rahein aapko koi badlav nazar nahi aayega aur badlav toh aise bhi hote rahega agar aapka bhi nahi bhi karenge toh bhi badlav hote samay ki gati toh badhte rehti hai uske saath tha ho sakta hai badhti jaati hain aur aadmi ki zarurat kam desi hote rehti hai isliye uska shadi se koi tatparya nahi hai haan aapko apni ahamiyat banaye rakhna hai

मुझे शादी के कारण कुछ बदलाव नहीं होता है आपके ऊपर जिम्मेदारियां आ जाती हैं उन जिम्मेदारियो

Romanized Version
Likes  53  Dislikes    views  252
WhatsApp_icon
user

Devendra Dwivedi

Business Owner

0:47
Play

Likes  44  Dislikes    views  786
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

योगिता जी के बाद लड़के के पास जिम्मेदारियों का बोझ था बढ़ता जाता है लड़का भी क्या करें बिचारा शादी होने के बाद वो अपने खर्चे की मम्मी पापा का देखिए उसके बाद बच्चे हो जाते हैं उनके अंदर हो 322234 चपरासी कॉलेज की फीस तारीफ करता ही नहीं करते हैं वह फर्जी फिर बढ़िया बस मेरा स्टाइल

yogita ji ke baad ladke ke paas jimmedariyon ka bojh tha badhta jata hai ladka bhi kya kare bichara shadi hone ke baad vo apne kharche ki mummy papa ka dekhiye uske baad bacche ho jaate hain unke andar ho 322234 chaprasi college ki fees tareef karta hi nahi karte hain vaah farji phir badhiya bus mera style

योगिता जी के बाद लड़के के पास जिम्मेदारियों का बोझ था बढ़ता जाता है लड़का भी क्या करें बिच

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  143
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!